धनु राशि का प्रेम मिलान । Sagittarius love Compatibility

Sagittarius Love Compatibility

वैदिक ज्योतिष के अनुसार धनु राशि का सबसे उपयुक्त मेल मेष, सिंह, तुला और कुंभ राशि के साथ के साथ माना जाता है। 

धनु राशि का मेष से मिलान/Sagittarius Love Compatibility with Aries 

धनु और मेष राशि का मिलान विभिन्न आयामों पर एक दूसरे के अनुकूल माना जाता है। मेष राशि वालों को अपने रिश्ते के लिए ख़ासा गंभीर माना जाता है। जबकि धनु राशि वाले रिश्ते में मौज मस्ती को कायम रखने के लिए जाने जाते हैं। दोनों का राशि चिन्ह अग्नि होने की वजह से उनके रिश्ते में रोमांस और रोमांच दोनों का तड़का होता है। मेष राशि वाले जहां अंतरंग रिश्ते को बेहतर बनाने की कोशिश में रहते हैं, वहीं धनु राशि वाले रिश्ते में आत्मिकता कायम रखने के लिए प्रयासरत रहते हैं। मेष राशि का गंभीर और धनु राशि का मस्ती भरा स्वभाव दोनों के रिश्ते को बिल्कुल पूर्ण बनाता है। यह दोनों ही रिश्ते में सच्चाई और पारदर्शिता रखना पसंद करते हैं। उनके बीच आने वाली किसी भी तरह की परेशानी को दोनों साथ मिलकर समझदारी से सुलझाने का प्रयास करते हैं। 

धनु राशि का वृषभ से मेल/Sagittarius Love Compatibility with Taurus 

इन दोनों राशियों के मेल को एक दूसरे के अनुकूल नहीं माना जाता है। दोनों ही स्वभाव से बचकाने होते हैं और रिश्ते को लेकर दोनों में कोई गंभीरता नहीं होती। उन दोनों के लिए ही एक दूसरे की पसंद-नापसंद और जरूरतों को समझना काफी मुश्किल हो जाता है। वे अपने पार्टनर से जिस प्यार और सम्मान की उम्मीद रखते हैं उसे पूरा करने में सफल नहीं हो पाते। हालांकि धनु राशि वाले रिश्ते को कायम रखने के लिए वृषभ राशि वाले की सभी बचकानी हरकतों को नजरअंदाज कर देते हैं लेकिन उसके बावजूद भी दोनों का रिश्ता सफल नहीं हो पाता है। वृषभ राशि वाले अपनी जरूरतों को लेकर बेहद स्वार्थी होते हैं। उनका यह अंदाज धनु राशि वालों को रास नहीं आता है। बहरहाल देखा जाय तो दोनों अगर एक बंधन में बंध भी जाए तो उनके बीच की परेशानियां कभी खत्म नहीं हो सकती है। 

धनु राशि का मिथुन से मिलान/Sagittarius Love Compatibility with Gemini 

यह दोनों ही राशि वाले एक दूसरे के साथ अपने रिश्ते को बहुत ही खुले विचार के होते हैं। वे एक दूसरे की तरफ बेहद अजीब ढंग से आकर्षित रहते हैं। दोनों के अंतरंग रिश्ते बेहद रूमानी और रचनात्मकता से परिपूर्ण माना जा सकता है। हालांकि दोनों के रिश्ते की यह सच्चाई उनके बीच तालमेल के ना होने का कारण बन सकती है। उन्हें एक दूसरे को समझने में परेशानी हो सकती है। धनु और मिथुन राशि वालों को अपने रिश्ते को लंबे समय तक चलाने के लिए एक दूसरे से बातचीत और विचारों के आदान प्रदान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। अंतरंगता की बात अगर छोड़ दें तो दोनों के बीच आत्मिकता और भावनात्मकता की काफी कमी होती है। इस वजह से उनके बीच शारीरिक रिश्ता तो बन सकता है लेकिन मानसिक रूप से दोनों एक दूसरे के साथ नहीं जुड़ पाते। इसलिए उनका एक साथ किसी रिश्ते में होना दोनों के लिए मुश्किल भरा हो सकता है। 

धनु राशि का कर्क से मिलान/Sagittarius Love Compatibility with Cancer 

इन दोनों राशि वालों का एक दूसरे के प्रति आकर्षण ना के बराबर होता है। दोनों स्वभाव में ही नहीं बल्कि सोच में भी एक दूसरे के बिल्कुल विपरीत होते हैं। दोनों एक दूसरे की भावनात्मक जरूरतों को भी पूरा करने में असफल हो सकते हैं। वे अपने रिश्ते में सच्चाई को सबसे ज्यादा अहमियत देते हैं। अगर वे एक दूसरे की भावनात्मक जरूरतों को समझ लें, तो उनके बीच काफी बेहतर अंतरंग रिश्ता कायम हो सकता है। कर्क राशि के ऊपर बृहस्पति का व्यापक प्रभाव होने के कारण वो धनु राशि वाले को स्पेशल महसूस करा सकते हैं। लेकिन उनके रिश्ते में गहराई न होने से कर्क राशि वाले परेशान हो सकते हैं। उनके बीच एक सफल रिश्ता तभी स्थापित हो सकता है जब दोनों एक दूसरे की अपेक्षाओं को पूरा करने में सक्षम हों। धनु राशि वाले को अंतरंग रिश्ते की तलाश होती है जबकि कर्क को आत्मिक।  

धनु राशि का सिंह से मिलान/Sagittarius Love Compatibility with Leo  

यह राशि एक दूसरे के साथ बेहद रूमानी और गंभीर रिश्ता साझा करते हैं। एक रिश्ते में रचनात्मकता लाता है तो दूसरा उसे टिकाऊ बनाने का प्रयास करता है। वे रिश्ते में आत्मिकता और प्यार दोनों का तालमेल बनाए रखने के लिए परस्पर रूप से काम करते हैं। धनु और सिंह एक दूसरे को भरपूर भावनात्मक सुरक्षा का एहसास दिलाते हैं। वे एक साथ होते हुए हमेशा एक दूसरे को आगे बढ़ने में मदद करते हैं, और एक दूसरे का सम्मान करते हैं। जुनून को उनके रिश्ते का अहम तत्व माना जाता है। दोनों एक साथ अपने रिश्ते का भरपूर आनंद लेने के लिए जाने जाते हैं। एक साथ मस्ती मजाक करते हुए भी वो रिश्ते की गरिमा और सम्मान को कभी धूमिल नहीं होने देते। एक मजबूत और खूबसूरत रिश्ता बनाने के लिए दोनों को एक आदर्श जोड़ी के रूप में देखा जा सकता है।  

धनु राशि का कन्या से मिलान/Sagittarius Love Compatibility with Virgo

यह दोनों राशियां जिंदगी में काफी ज्यादा मौज मस्ती के लिए जानी जाती हैं। कन्या राशि को बहुत ज्यादा नियमबद्ध और विश्लेषणात्मक माना जाता है। इसके बावजूद भी धनु राशि के साथ उनका मेल काफी हद तक संतुष्टि वाला माना जाता है। दोनों एक दूसरे के साथ मजबूत रिश्ता बनाने का प्रयास करते हैं। दोनों के अंतरंग रिश्ते की बात करें तो,यहां भी वे एक दूसरे के साथ एक संतुष्टि पूर्ण रिश्ता कायम करने में काफी हद तक कामयाब हो सकते हैं। कन्या का राशि चिन्ह पृथ्वी है जबकि धनु का अग्नि। कन्या राशि वाले अपने रिश्ते में संतुलन बनाए रखने के लिए हर तरह की कोशिश करते हैं, लेकिन धनु राशि वालों की तरफ से कोई ना कोई चूक हो ही जाती है। कन्या राशि वाले अपने रिश्ते को बेहद आराम से समय लेकर बढ़ाना पसंद करते हैं। दूसरी तरफ धनु राशि वाले रिश्ते को आगे बढ़ाने के लिए जल्दबाजी करते हैं जिससे कन्या राशि वालों को थोड़ी असुविधा हो सकती है। इससे उनके अंतरंग रिश्ते भी बिगड़ सकते हैं। यह दोनों ही राशियां कुछ समय के बाद एक दूसरे के साथ बोरियत महसूस कर सकते हैं। वे दोनों ही अपने रिश्ते में विशेष जगह की तलाश में रहते हैं। कन्या और धनु को अपने रिश्ते को बेहतर रूप से चलाने के लिए एक दूसरे की इच्छाओं को महत्व देना जरूरी है। 

धनु राशि का तुला से मिलान/Sagittarius Love Compatibility with Libra 

 इन दोनों राशियों को एक दूसरे के बेहद अनुकूल माना जाता है। धनु और तुला दोनों का ही एक दूसरे के साथ गहरा आत्मिक और भावनात्मक जुड़ाव होता है। एक रिश्ते में बंधे होने के बावजूद भी दोनों एक दूसरे पर किसी भी तरह का दवाब नहीं रखते। वे हमेशा एक दूसरे को आगे बढ़ने का भरपूर मौका देते हैं। इसके साथ ही वे रिश्ते को सुरक्षित रखने के लिए भी हमेशा एक दूसरे का सहयोग करते हैं। एक दूसरे के साथ का आनंद लेते हुए दोनों को एक आदर्श जोड़े के रूप में देखा जा सकता है। शुक्र और बृहस्पति ग्रह द्वारा शासित यह दोनों राशियां एक रूमानी अंतरंग रिश्ता भी साझा करते हैं। दोनों ही अपने रिश्ते में खुशियां बरक़रार रखने के लिए हमेशा अग्रसर रहते हैं। बृहस्पति के प्रभाव के कारण तुला राशि वालों को काफी गंभीर किस्म का माना जाता है, यह उनके रिश्ते में धैर्यता और दृढ़ता बनाने के लिए सहायक हो सकता है। इसके साथ ही साथ शुक्र की स्थिति के कारण उनके रिश्ते में प्यार, रोमांस और जुनून की प्रचुरता होती है। बहरहाल देखा जाए तो दोनों का रिश्ता काफी हद तक एक दूसरे के अनुकूल होता है। 

धनु राशि का वृश्चिक राशि से मिलान/Sagittarius Love Compatibility with Scorpio 

धनु और वृश्चिक राशि वालों के बीच एक अच्छी समझ होती है। व्यक्तिगत रूप से दोनों काफी मजबूत चरित्र के होते हैं। यह उन्हें पर्याप्त आत्मविश्वास, स्वतंत्रता और रचनात्मकता प्रदान करता है। धनु राशि वालों का आज़ाद ख़्याल वृश्चिक राशि वालों के लिए एक विशेष तोहफा साबित हो सकता है। हालांकि एक समय के बाद धनु राशि वाले वृश्चिक राशि वालों की नियत पर शक करने लगते हैं और इससे दोनों के रिश्ते में काफी समस्याएं उत्पन्न हो सकती है। उन्हें वृश्चिक राशि वालों की गंभीरता का सम्मान करना चाहिए और दूसरी तरफ वृश्चिक राशि वालों को भी उनके प्यार की हद को समझना चाहिए। दोनों को ही अपने रिश्ते में संतुलन कायम रखने के लिए आपस में अपने विचारों को जरूर साझा करना चाहिए। दोनों के रिश्ते में भावनाओं की कमी होने की वजह से इसका असर उनके अंतरंग रिश्ते पर भी पड़ सकता है। देखा जाए तो उन्हें एक दूसरे का साथ पाने के लिए काफी ज्यादा जद्दोजहद करनी पड़ सकती है।  इस रिश्ते में प्यार बनाए रखने के लिए दोनों को एक दूसरे की सुनने होगी और हर परिस्थिति में एक दूसरे का साथ देना होगा। 

धनु राशि का धनु से मिलान/Sagittarius Love Compatibility with Sagittarius  

इन दोनों राशि वालों के बीच एक मजबूत बंधन होना काफी मुश्किल हो सकता है। इसका कारण दोनों के स्वभाव में जमीन आसमान का अंतर हो सकता है। इस वजह से दोनों का रिश्ता लंबे समय तक चलना मुश्किल सकता है। दोनों ही काफी गहरी सोच वाले होते हैं जिस वजह से वो अपने रिश्ते को लेकर सजग तो रहते हैं लेकिन एक दूसरे का दबाव नहीं झेल पाते। अंतरंग रिश्ते की बात करें तो उनके बीच ऐसा रिश्ता बन तो सकता है लेकिन बिना किसी आत्मिकता के ज्यादा दिन चल नहीं सकता। चूँकि धनु राशि वाले स्वभाव से काफी लचीले और हर परिस्थिति में ढल जाने वाले होते हैं, लेकिन दोनों एक ही राशि के होने की वजह से उनके बीच गलतफहमियां पैदा हो सकती है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार दोनों की निकटता खासतौर से उनके बौद्धिक जुड़ाव पर निर्भर करती है। उन्हें एक दूसरे के साथ भावनात्मक रूप से जुड़ने में परेशानी हो सकती है। दोनों के बीच प्यार तो हो सकता है लेकिन वो भावना के स्तर पर एक दूसरे से किसी भी तरह का जुड़ाव महसूस नहीं कर सकते हैं। इसका प्रभाव उनके अंतरंग रिश्ते पर व्यापक रूप से पड़ सकता है। वे एक दूसरे की इच्छाओं और भावनाओं को ठीक से समझ नहीं पाते जिस वजह से उनका रिश्ता टूटने की कगार पर भी पहुंच सकता है। 

धनु राशि का मकर से मेल/Sagittarius Love Compatibility with Capricorn 

इन दोनों राशियों के मेल को एक दूसरे के अनुकूल ना के बराबर माना जाता है। रिश्ते को लेकर धनु और मकर राशि का दृष्टिकोण एक दूसरे से बिल्कुल विपरीत माना जाता है। मकर राशि वाले स्वभाव से थोड़े कोमल होते हैं उन्हें धनु राशि वालों का स्वभाव काफी ठेस पहुंचा सकता है। मकर राशि वाले लंबे चलने वाले गहरे रिश्ते की तलाश में रहते हैं और उनकी इस आशा को धनु राशि वाले पूरी नहीं कर पाते हैं। वे किसी चीज को लेकर एक दूसरे के रवैये को पूरी तरह से समझ नहीं पाते हैं। शारीरिक जुड़ाव के प्रति मकर राशि वालों का ढ़ीला अंदाज धनु राशि वालों के लिए किसी अचंभे से कम नहीं होता है। उनकी इच्छाएं भी एक दूसरे से बिल्कुल अलग होती है, इस वजह से भी उनके बीच सही तालमेल नहीं बैठ पाता है। किसी भी रिश्ते को जीवित रखने के लिए दो लोगों के बीच जिस ख़ास जुड़ाव की आवश्यकता होती है वह उनके बीच नहीं है। धनु और मकर राशि वालों को रिश्ते में संतुलन बनाए रखने के लिए एक दूसरे को समझने की जरूरत है। इसके साथ ही उन्हें अपने अहंकार को किनारे रख एक दूसरे की भावनाओं को भी खासतौर से समझना चाहिए और अपने रिश्ते को पर्याप्त वक़्त देना चाहिए। 

धनु राशि का कुंभ से मिलान/Sagittarius Love Compatibility with Aquarius 

धनु और कुंभ राशि वालों के बीच एक गहरा आत्मिक रिश्ता होता है। वो एक दूसरे की तरफ बहुत जल्दी और लंबे समय के लिए आकर्षित हो सकते हैं। दोनों के बीच के प्रेम की गहराई का एहसास उनके आसपास रहने वाले लोग भी कर सकते हैं। एक दूसरे के साथ रिश्ते में बंधने के बाद दोनों के लिए शारीरिक जुड़ाव से ज्यादा भावनात्मक जुड़ाव मायने रखता है। उनके लिए सबसे बड़ी संतुष्टि एक दूसरे का साथ रहना होता है, यह दोनों के रिश्ते को और भी खूबसूरत और मजबूत बनाने में सहायक है। धनु राशि वाले रिश्ते की गर्माहट को बरक़रार रखने के लिए हमेशा कुछ ना कुछ नया करते रहते हैं। दूसरी तरफ कुंभ राशि वाले भी उन्हें ख़ास महसूस करवाने के लिए नए इंतजाम करने से पीछे नहीं हटते। एक दूसरे से थोड़े अलग होने के बावजूद भी वो अपने रिश्ते की डोर को हमेशा संभाले रहते हैं। धनु और कुंभ राशि वाले रिश्ते में उतार चढ़ाव आने के बाद भी एक दूसरे के साथ डटकर खड़े नजर आते हैं। दोनों के बीच के प्यार और जुनून में दरार आना इतना आसान नहीं होता है। उनका रिश्ता जन्म जन्मांतर का माना जाता है। 

धनु का मीन राशि के साथ मिलान/Sagittarius Love Compatibility with Pisces 

धनु और मीन राशि एक दूसरे से काफी अलग होने के बावजूद भी एक मस्ती भरा रिश्ता साझा करते हैं। उनके बीच की कलात्मकता का कोई जवाब नहीं है, वे अपने रिश्ते में हर उस चीज का प्रयोग करते हैं जिससे उनका रिश्ता मजबूत बनता है। हालांकि इसके बाद भी दोनों के विचारों में अंतर होने की वजह से उनके बीच वैचारिक मतभेद हो सकते हैं। दोनों ही राशियां बृहस्पति ग्रह द्वारा शासित होती हैं, धनु और मीन दोनों ही रिश्ते में तर्कसंगतता और विश्वास को बेहद महत्व देते हैं। किसी एक द्वारा भी उठाया गया एक गलत कदम उनके रिश्ते को तार-तार कर सकता है। इससे दोनों के अंतरंग रिश्ते भी काफी हद तक प्रभावित हो सकते हैं। एक बार मतभेद होने पर दोनों इस विषय पर हद से ज्यादा सोचने लगते हैं, यह उनके बीच की दरार को और गहरा बना सकता है। मीन राशि वालों को अपने रिश्ते में संतुलन और बेपनाह प्यार की तलाश रहती है। धनु राशि वालों से उन्हें वह प्यार और विश्वास हासिल नहीं हो पाता है। बहरहाल यह उनके रिश्ते के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकता है। उन्हें अपने रिश्ते की गरिमा को बरक़रार को बनाए रखने के लिए एक दूसरे के साथ भावनात्मक जुड़ाव बनाने का प्रयास करना चाहिए।