मीन राशि का प्रेम मिलान । Pisces love Compatibility

Pisces Love Compatibility

दिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मीन राशि का सबसे अनुकूल मेल वृषभ, कर्क, वृश्चिक और मकर राशि के साथ माना जाता है। 

मीन राशि का मेष से मिलान/Pisces Love Compatibility with Aries 

मीन और मेष राशि वालों के बीच एक मजबूत रिश्ता बनना मुश्किल हो सकता है। यह दोनों ही अपने रिश्ते में भौतिक अनुभवों को ज्यादा महत्व देते हैं इस वजह से उनके बीच आत्मिक जुड़ाव होना काफी मुश्किल हो जाता है। इस कारण से उनके बीच अंतरंग रिश्ता बनने में भी काफी परेशानी हो सकती है। वे एक दूसरे की जरूरत से ज्यादा अपनी जरूरतों को अहमियत देते हैं। इस कारण भी दोनों के बीच पारस्परिक लगाव या प्रेम स्थापित नहीं हो पाता है। मेष राशि वाले शारीरिक जुड़ाव को ज्यादा अहमियत देते हैं जबकि मीन राशि वालों के लिए भावनात्मक जुड़ाव ज्यादा अहमियत रखता है। मेष राशि वाले मीन राशि वालों को अपनी इच्छाओं को जाहिर करने का अवसर नहीं देते है। दोनों के स्वभाव में भी काफी अंतर होने की वजह से उनके बीच सही तालमेल नहीं बैठ पाता है। यह दोनों राशियों के बीच कभी भी एक परिपूर्ण रिश्ता नहीं बन पाता है। मीन राशि वालों का मेष राशि वालों पर विश्वास कर पाना थोड़ा मुश्किल होता है। उन्हें एक संतुलित रिश्ते की तलाश होती है जिसमें प्यार के साथ ही दोनों पार्टनर एक दूसरे पर विश्वास भी कर सकें। ऐसा उनके रिश्ते में होना संभव नहीं हो पाता है। लिहाजा इन दोनों राशि को एक दूसरे के अनुकूल नहीं माना जाता है। 

मीन राशि का वृषभ से मिलान/Pisces Love Compatibility with Taurus  

मीन और वृषभ राशि वाले अपने रिश्ते में आनंद और सुख को ज्यादा महत्व देते हैं। जहां वृषभ राशि वाले आपस में प्यार बढ़ाने के लिए हर तरीका अपनाने के लिए तैयार रहते हैं, वहीं ,मीन राशि वाले दोनों के बीच संतुलन बनाए रखने के साथ ही रिश्ते को मजबूत बनाने का काम करते हैं। वृषभ राशि शुक्र ग्रह द्वारा शासित होती है जो रहस्य, भोग-विलास, और संतुष्टि का प्रतीक माना जाता है। इसका सकारात्मक प्रभाव उनके रिश्ते पर भी पड़ता है। वे एक दूसरे में इस तरह से खोए रहते है कि उन्हें दुनिया की कोई फ़िक्र नहीं होती। एक दूसरे में लीन होते हुए वे अपने रिश्ते के परम सुख का आनंद ले सकते हैं। हालांकि मीन राशि वाले जल्द ही सपनों की दुनिया से निकलकर तथ्यात्मक दुनिया में लौट आते हैं। यह उन्हें जीवन में संतुलन बनाए रखने में सहायता करता है। मीन और वृषभ राशि वालों के बीच बहुत ही गहरा भावनात्मक जुड़ाव होता है, इस वजह से चाहते हुए भी उनका एक दूसरे से अलग होना संभव नहीं होता। उनके बीच यदि किसी बात को लेकर मनमुटाव भी होता है तो वे जल्द ही एक दूसरे को मना लेते हैं। दोनों ज्यादा देर एक दूसरे से बात किए बिना नहीं रह सकते हैं। बहरहाल मीन राशि का वृषभ के साथ एक सफल रिश्ता बन सकता है। 

मीन राशि का मिथुन से मिलान/Pisces Love Compatibility with Gemini 

मिथुन राशि वालों के लिए रिश्ते में रचनात्मकता का होना विशेष मायने रखता है। मीन राशि वाले इस मामले में उनके साथ सामंजस्य बिठा पाने में असफल रहते हैं इस वजह से दोनों के बीच एक मजबूत रिश्ता स्थापित होने में परेशानी आ सकती है। यह दोनों राशि क्रमशः बुध और बृहस्पति ग्रह द्वारा शासित माने जाते हैं, यह उनके बीच बनने वाले तालमेल को काफी ज्यादा प्रभावित कर सकता है। हालांकि, उनके बीच संतुलन न बन पाने का एक कारण दोनों का एक दूसरे से विपरीत सोच और स्वभाव का होना भी माना जा सकता है। मीन राशि वालों के लिए रिश्ते में प्यार और अंतरंगता दोनों का होना आवश्यक है, जबकि मिथुन राशि वाले बिना प्यार के भी रिश्ता निभाने में माहिर माने जाते हैं। इस कारण से भी उनके रिश्ते में संतुलन नहीं बैठ पाता है। इसके साथ ही यदि मीन राशि वालों का दिल एक बार टूट जाए तो उनके लिए दोबारा उस रिश्ते को निभा पाना मुश्किल हो सकता है। मीन और मिथुन राशि वालों को अपने रिश्ते को निभाने के लिए एक दूसरे को बेहतर तरीके से जानने की कोशिश करनी चाहिए। साथ ही उन्हें एक दूसरे की इच्छाओं और पसंद का भी ख़्याल रखना चाहिए। 

मीन राशि का कर्क से मिलान/Pisces Love Compatibility with Cancer 

मीन और कर्क राशि वालों के रिश्ते को प्यार और रोमांस के लिए जाना जाता है। उनके बीच का अंतरंग रिश्ता भी दोनों के भावनात्मक जुड़ाव पर निर्भर करता है। यह दोनों ही अपने रिश्ते की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देते हैं, वे एक दूसरे के साथ ज्यादा से ज्यादा वक़्त बिताना पसंद करते हैं। कर्क राशि वाले खासतौर से अपने रिश्ते में भावनाओं को विकसित करने के साथ ही शारीरिक जुड़ाव बनाने पर काम करते हैं। कर्क राशि वाले अपने पार्टनर का ख्याल रखने में माहिर माने जाते हैं। मीन राशि वाले उनके इस स्वभाव से बेहद प्रभावित हो सकते हैं। वे भी अपने पार्टनर की तारीफ करने और उन्हें हर संभव सुख देने का पूरा प्रयत्न करते हैं। यह उनके रिश्ते को और भी ज्यादा रूमानी और खूबसूरत बनाता है। हालांकि, कभी कभार मीन राशि वालों का आलसी स्वभाव कर्क राशि वालों के लिए परेशानी का कारण बन सकता है। दोनों के रिश्ते से यदि इस एक चीज को हटा दिया जाए तो उनका रिश्ता बिल्कुल सार्थक और आदर्श साबित हो सकता है।   

मीन राशि का सिंह से मिलान/Pisces Love Compatibility with Leo 

यह दोनों राशि वालों के बीच अच्छा और बुरा दोनों तरह का रिश्ता बन सकता है। सिंह राशि वालों को काफी हद तक स्वार्थी माना जाता है, वे अपने पार्टनर की भावनाओं और इच्छाओं को ज्यादा तवज्जो नहीं देते हैं। इस कारण से मीन राशि वाले उन्हें नापसंद कर सकते हैं, दूसरी तरफ सिंह राशि वाले उन्हें मजबूत व्यक्तित्व के नहीं मानते। इस वजह से उनके रिश्ते में संतुलन नहीं बन पाता है। हालांकि, अलग स्वभाव के होने के बावजूद भी उनके बीच प्यार हो सकता है और वे एक दूसरे की तरफ आकर्षित हो सकते हैं। यह बात अलग है कि उनका रिश्ता ज्यादा दिनों तक चलेगा या नहीं इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता। यह पूरी तरह से दोनों का एक दूसरे के प्रति परस्पर बर्ताव पर निर्भर करता है। सिंह राशि वाले कुछ मामलों में थोड़े आक्रमक बर्ताव अख्तियार कर सकते हैं, यह मीन राशि वालों को उनसे दूर कर सकता है। इस वजह से दोनों का साथ में रहना लगभग मुश्किल हो सकता है। मीन राशि वाले अपने रिश्ते को काफी हद तक गुप्त रखना पसंद करते हैं जबकि सिंह राशि वाले अपने रिश्ते को दुनिया के साथ साझा करना पसंद करते हैं। इस वजह से भी दोनों के बीच दूरियां आ सकती है। 

मीन राशि का कन्या से मिलान/Pisces Love Compatibility with Virgo 

मीन और कन्या के स्वभाव में काफी अंतर होने के बावजूद भी वे एक दूसरे की तरफ आकर्षित हो सकते हैं। मीन राशि वाले कन्या राशि वालों के शर्मीले और तर्कसंगत स्वभाव को अच्छी तरह से समझते हैं और इस वजह से उनके साथ रिश्ता बनाने से डरते भी हैं। वे दोनों एक दूसरे के साथ सहज तो रहते हैं लेकिन अपने रिश्ते को आगे बढ़ाने से डरते हैं। हालांकि उनके बीच एक गहरा अंतरंग रिश्ता जरूर स्थापित हो सकता है। दोनों के बीच विश्वास की कमी होने की वजह से भी वे एक दूसरे के साथ गहराई से नहीं जुड़ पाते हैं। मीन राशि वालों का दिलफेंक अंदाज कन्या राशि वालों को रास नहीं आता। उन्हें रिश्ते में गंभीरता पसंद है जबकि मीन राशि वालों को मौज मस्ती और एक दूसरे के साथ खूब सारा समय बिताना। इस वजह से कन्या राशि वाले उन्हें अपने रिश्ते के प्रति बिल्कुल भी गंभीर नहीं समझते। उन्हें मीन राशि वालों के साथ एक बंधन में बंधना अपना समय बर्बाद करना महसूस होता है। यह उनके रिश्ते को खोखला बनाता है और इसलिए दोनों के बीच सही तालमेल बन पाना मुश्किल हो जाता है। 

मीन राशि का तुला से मिलान/Pisces Love Compatibility with Libra 

इन दोनों राशि वालों के बीच कुछ भी सामान्य नहीं होता। वायु और पानी राशि चिन्ह के होने के कारण वे एक दूसरे से बहुत जुदा होते हैं। लेकिन एक दूसरे के साथ होते हुए वे हमेशा एक दूसरे का ख्याल रखते हैं। उनपर शुक्र का प्रभाव होने के कारण दोनों के बीच एक ख़ास अंतरंग रिश्ता स्थापित हो सकता है। दोनों एक दूसरे के साथ काफी सौम्यता और सरलता से पेश आते हैं। इस कारण से उन्हें एक दूसरे को जानने का मौका तो जरूर मिलता है लेकिन वे एक दूसरे से जुड़ नहीं पाते। तुला राशि वाले अपने साथी में रिश्ते को लेकर जुनून, आत्मविश्वास और प्रेम की तलाश करते हैं। दूसरी तरफ मीन राशि वालों को अपने पार्टनर में सज्जनता, करुणा और सौम्यता की तलाश होती है। तुला राशि वाले रिश्ते में आगे बढ़ने के लिए जल्दबाजी दिखा सकते हैं जो मीन राशि वालों को काफी अजीब लग सकता है। मीन राशि वाले अपने साथी से जान पहचान बढ़ने के बाद ही रिश्ते को आगे बढ़ाने का सोच सकते हैं। बहरहाल देखा जाए तो उनके बीच एक संतुलित रिश्ता बन पाना काफी मुश्किल भरा हो सकता है। 

मीन राशि का वृश्चिक से मिलान/Pisces Love Compatibility with Scorpio 

मीन और वृश्चिक राशि वाले रिश्ते में भावुकता को ज्यादा अहमियत देते हैं। इससे दोनों के बीच सही तालमेल बनने में काफी मदद मिलती है। अपने रिश्ते को लेकर दोनों काफी हद तक एक जैसी सोच रखते हैं, इससे उनके बीच का रिश्ता समय के साथ मजबूत हो सकता है। हालांकि वृश्चिक राशि वाले बहुत ज्यादा अपनी भावनाओं को नहीं व्यक्त कर पाते हैं, इससे मीन राशि वालों को उन्हें समझने में दिक्कत आ सकती है। जबकि दूसरी तरफ मीन राशि वाले अपनी भावनाओं को अपने साथी से साझा करने से हिचकते नहीं हैं। वृश्चिक राशि वालों को उन्हें जानने में परेशानी नहीं होती और वे मीन राशि वालों के साथ ज्यादा सुरक्षित भी अनुभव करते हैं। लेकिन अक्सर वृश्चिक राशि वाले उनकी भावनाओं को बेहतर तरीके से नहीं समझ पाते, और उन्हें अनदेखा कर देते हैं। इससे मीन राशि वाले काफी आहत हो सकते हैं, लेकिन एक मजबूत प्रेम संबंध में होने की वजह से वो ज्यादा देर एक दूसरे से अलग नहीं रह सकते। वृश्चिक राशि वालों को रिश्ते में समझदारी बनाए रखने के लिए भी जाना जाता है। कुल मिलाकर देखा जाए यह दोनों राशि वाले अपने रिश्ते को बेहतर तरीके से निभा सकते हैं। 

मीन राशि का धनु से मिलान/Pisces Love Compatibility with Sagittarius 

इन दोनों राशि वालों के बीच मौज मस्ती से भरपूर रिश्ता बन सकता है। मीन और धनु दोनों ही बेहद कलात्मक और अपने रिश्ते के प्रति ईमानदार होते हैं। लेकिन इसके बाद भी उनके रिश्ते में उतार चढ़ाव आते रहते हैं। इस वजह से दोनों को अपने रिश्ते को लेकर निराशा हो सकती है। मीन राशि वाले अमूमन छोटी बातों को भी बहस का विषय बना देते हैं, धनु राशि वालों को उनका यह स्वभाव बचकाना लग सकता है। आए दिन होने वाली बहस की वजह से उनका रिश्ता काफी कमजोर होने लगता है जो आगे चलकर दोनों के अलगाव का कारण भी बन सकता है। धनु राशि वाले मुख्य रूप से मीन राशि वालों के वादा खिलाफी की वजह से रिश्ते को बोझ समझने लगते हैं। इस कारण से उनके बीच काफी ज्यादा गलत फहमियां उत्पन्न हो सकती है जो उनके रिश्ते को हानि पहुंचा सकती है। देखा जाए तो यदि यह दोनों राशि वाले अपनी तरफ से थोड़ा और प्रयास करें तो उनके बीच का बंधन मजबूत हो सकता है और वे एक साथ खुश रह सकते हैं। 

मीन राशि का मकर से मिलान/Pisces Love Compatibility with Capricorn 

मीन और मकर राशि के बीच एक गहरा आत्मिक संबंध बन सकता है। एक रिश्ते की तर्कसंगतता को बनाए रखते हैं तो दूसरा प्यार और विश्वास कायम करने में माहिर होते हैं। यह दोनों के रिश्ते को और भी ज्यादा आकर्षक बनाता है और उनके बीच प्रेम का संचार करता है। चूंकि दोनों ही एक दूसरे को हर तरह से पसंद करते हैं, लिहाजा उनके बीच एक ख़ास अंतरंग रिश्ता भी बन सकता है। अपने रिश्ते में संतुलन बनाए रखने के लिए वो एक दूसरे की इच्छाओं और भावनाओं को ख़ासा महत्व देते हैं। इसके साथ ही अगर वे साथ में ज्यादा वक़्त बिताये तो उनके बीच एक मजबूत विश्वसनीय रिश्ता कायम हो सकता है। मीन और मकर हमेशा एक दूसरे को प्रोत्साहित करते हैं जिससे उनके आत्मविश्वास में कभी भी कमी नहीं आती। मीन राशि वाले अपने पार्टनर के प्रति प्रेम और स्नेह दिखाना पसंद करते हैं। इससे मकर राशि वाले और भी उनकी तरफ जल्दी आकर्षित होते हैं। दोनों को एक दूसरे की ऐसी आदत लग जाती है कि, वो चाहकर भी एक दूसरे से दूर नहीं जा सकते। वे एक दूसरे के साथ बेहद स्नेही और आनंदमयी रिश्ता साझा करते हैं। 

मीन राशि का कुंभ से मिलान/Pisces Love Compatibility with Aquarius 

इन दोनों राशि वालों को आपस में एक उत्तेजक जीवन साझा करने के लिए जाना जाता है। हालांकि वे किसी मजबूत बंधन में तो नहीं बंध पाते लेकिन उनके बीच एक भावनात्मक रिश्ता जरूर बन जाता है। मीन राशि वाले अपने पार्टनर के साथ मानसिक जुड़ाव पर ज्यादा ध्यान देते हैं, उनके लिए शारीरिक जुड़ाव होना इतना आसान नहीं होता। कुंभ राशि वाले शारीरिक जुड़ाव को पहली प्राथमिकता देते हैं, इसलिए अक्सर मीन राशि वाले उनके साथ असहज महसूस कर सकते हैं। रिश्ते के प्रति नीरसता दिखाने की वजह से मीन राशि वाले उन्हें एक समय के बाद उबाऊ भी समझने लगते हैं। लेकिन यदि वे चाहे तो अपने रिश्ते में कुछ बदलाव कर उसे सफल भी बना सकते हैं। कुंभ राशि वालों को विशेष रूप से इस रिश्ते को निभाने के लिए मीन राशि वालों के साथ अपने विचारों को साझा करना चाहिए और उनके विचारों को सुनना चाहिए। उनके बीच एक मजबूत रिश्ता तभी बन सकता है जब दोनों एक दूसरे का परस्पर सहयोग करें और एक दूसरे के साथ ज्यादा समय व्यतीत करें। 

मीन राशि का मीन से मिलान/Pisces Love Compatibility with Pisces 

एक ही राशि के होने की वजह से दोनों को एक दूसरे के करीब आने में वक़्त लग सकता है। चूंकि दोनों की सोच और इच्छाएं एक सी होती है, इसलिए उनके बीच प्रेम का रिश्ता बनने में काफी दिक्कतें आ सकती है। दोनों भावनात्मक रूप से तो एक दूसरे से जुड़ सकते हैं लेकिन उनके बीच प्यार का रिश्ता बनने में वक़्त लग सकता है। चूंकि उन्हें एक दूसरे की पूरी जानकारी होती है इसलिए वे एक दूसरे से किसी भी चीज की पहल करने से कतराते हैं। वे एक दूसरे की कमजोरियों को उजागर करने से भी घबराते हैं। एक ही राशि के होने के कारण वे एक दूसरे की इच्छाओं को पूरा करने में असफल रहते हैं। उन्हें एक साथ जुड़ने में हमेशा इस बात का डर रहता है कि कहीं उन्हें धोखा ना मिले। एक दूसरे के बारे में ज्यादा जानकारी उन्हें एक दूसरे से दूर भी ले जाती है। उनके बारे में यह कहा जा सकता है कि, वे अगर एक कदम पास आएंगे तो चार कदम एक दूसरे से दूर भी होंगे। उनके बीच दोस्ती का रिश्ता बनना आसान है लेकिन प्रेम के मामले में वे एक दूसरे से दूर रहना ही पसंद करते हैं।