सप्तवर्ग का विश्लेषण  332

सप्तवर्ग का विश्लेषण

रु. 51000.00

 

पूरे आकाश को 12 समान राशियों में विभाजित किया गया है, प्रत्येक भाग को राशि कहा जाता है। अब, प्रत्येक राशि या राशि को "वर्ग" नामक बहुत छोटे अंशों में विभाजित किया जाता है। इन वर्गों को विभिन्न वर्ग कुंडलियों में दर्शाया जाता है। किसी व्यक्ति के जीवन के बारे में सबसे सटीक भविष्यवाणियां प्राप्त करने में वर्ग कुंडली का उपयोग किया जाता है। बृहत पाराशर होरा शास्त्र ने वर्ग कुंडलियों को बहुत अधिक महत्व देते हुए कहा है कि कोई भी भविष्यवाणी बिना वर्ग कुंडली का उपयोग किये अधूरी है।  किसी भी सटीक ज्योतिषीय गड़ना के लिए वर्ग कुंडलियों को पढ़ना बहुत ही आवश्यक है। प्रत्येक वर्ग कुंडली का एक विशिष्ट उद्देश्य होता है और वह जीवन के एक महत्वपूर्ण हिस्से को दर्शाती है। जीवन के विभिन्न भागों जैसे पढाई, शादी, संपत्ति, वाहन, संतान आदि के लिए पराशर जी ने अलग-अलग वर्ग कुंडलियों का उल्लेख किया है। 

 

बिना इस विशिष्ट कुंडली के अध्ययन किये जीवन के उस विशिष्ट पहलु की गहन व सटीक जांच नहीं की जा सकती है। वर्ग कुंडली, जन्म कुंडली के हर घर का अधिक सटीक और माइक्रोस्कोपिक चित्रण प्राप्त करने में मदद करते हैं। यह हर भाव की बारीकीयों को पड़ने व समझने का ऋषियों द्वारा सुझाया हुआ बहुत ही सटीक विश्लेषण है।

  

सात वर्गों के सामूहिक विश्लेषण सप्तवर्गीय विश्लेषण कहा जाता है। सात वर्ग कुंडलियों में हर एक ग्रह की स्थिति का सूक्ष्मता से विश्लेषण करने पर ही एक अनुभवी ज्योतिषी आपके जीवन की सटीक विवेचना कर सकता है।  वर्ग कुंडली साधारणतया एक अनुभवी ज्योतिषी द्वारा ही की जा सकती है क्योंकि इसके लिए अत्यधिक अनुभव व ज्ञान की आवशयकता है। सप्तवर्गीय विश्लेषण में प्रत्येक ग्रह सात बार निरिक्षण की प्रक्रिया से गुजरता है जो उस ग्रह की 100 % सही तस्वीर आपके सामने रखने के लिए अत्यंत श्रेष्ठ स्थिति है। इस प्रकार, यह न केवल जन्म कुंडली बल्कि जन्म कुंडली से ही निकले 7 सूक्ष्म वर्गों का विस्तृत विवरण है।  वर्ग कुंडलियों क अध्यन से जीवन में निरंतर आ रही परेशानियों और असफलताओं के पीछे के कारणों को समझने में मदद मिलती है। सप्तवर्गीय विश्लेषण निश्चित रूप से जीवन के रहस्य को सुलझाने में मदद करता है जो कभी-कभी आपको अपने पिछले जन्मों तक को भी समझने में मदद कर सकता है!

 

सप्तवर्ग में शामिल हैं

  1. जन्म कुंडली - शरीर और संपूर्ण व्यक्तित्व 

  2. होरा कुंडली - जातक का धन और भौतिकवादी संचय

  3. द्रेष्काण कुंडली - भाई बहन और उनका जीवन, उनके साथ आपके संबंध

  4. सप्तमांश कुंडली - संतान और संतान से प्राप्त सुख

  5. नवमांश कुंडली - वैवाहिक जीवन और जीवनसाथी। यह जन्म कुंडली के बाद सबसे प्रमुख वर्ग कुंडली है

  6. दशमांश कुंडली - करियर, पेशा, व्यवसाय और कार्य

  7. द्वादशांश कुंडली - माता-पिता, उनका स्वास्थ्य और आपके जीवन में सहयोग

  8. विशांश कुंडली - अवचेतन मन की कार्यपद्धति व आध्यात्मिक क्रियाएं 

 

इन सप्तवर्ग कुंडलियों में प्रत्येक ग्रह की जाँच मूलत्रिकोण, स्वामी, मित्र और उच्च राशि में स्थिति के अनुसार की जाती है। इन उल्लिखित राशियों में अपनी स्थिति के आधार पर, एक ग्रह एक अंश में उपस्थित माना जाता है जिसका विश्लेषण जातक के जीवन में इसकी भूमिका को समझने के लिए किया जाता है। यह इन सभी 7 कुंडलियों में भावों, स्वामी, कारक, राशि स्वामी, और अन्य से संबंधित जीवन के हर पहलू का गहन अध्ययन किया जाता है। यह जातक को जीवन की समस्याओं या संबंधित निर्णयों के बारे में एक सूक्ष्म दृष्टिकोण प्राप्त करने में अत्यंत सहायक है। 7 कुंडलियों में ग्रह की स्थिति के आधार पर, यह निम्नलिखित में से किसी एक अंश में हो सकता है -

  1. किमसुकांश 

  2. व्यंजनांश 

  3. चामरांश

  4. मुकुट अंश   

  5. छत्र अंश 

  6. कुंडलांश

  7. मुकुट अंश   

कोई भी ग्रह इनमें से किसी भी राशि में स्थित होने से फल देने में बहुत बलवान हो जाता है। डॉ बजरंगी जी इन 7 वर्गों में न केवल एक में बल्कि सामूहिक रूप से सभी ग्रहों की स्थिति का गहराई से विश्लेषण करते हैं। यह निश्चित रूप से जीवन की समस्याओं और उन्हें ठीक करने के तरीकों का गहन अध्ययन है। सप्तवर्ग विश्लेषण के सामूहिक परिणाम के आधार पर भविष्यवाणी करने के लिए बहुत अधिक ज्ञान और विशेषज्ञता की आवश्यकता होती है। सप्तवर्ग पढ़ने से जातक को मदद मिलती है-

  1. जीवन में समस्याओं का मूल कारण पता करना 

  2. जीवन के मजबूत और कमजोर क्षेत्रों को समझना 

  3. करियर और स्वास्थ्य में अच्छे और बुरे समय का सबसे सटीक अनुमान प्राप्त करना 

  4. कर्म सुधार आवश्यकताओं के बारे में जानना 

  5. पिछले जीवन के कर्म और वर्तमान जीवन में उनके परिणामों को समझना 

  6. जीवन को समृद्ध बनाने के ज्योतिषीय तरीकों को समझना 

  7. जन्म समय सुधार यदि कोई हो

आप हमारी वेबसाइट से कर्मा एस्ट्रो ऐप, कुंडली मिलान, ज्योतिष और मुकदमाबाल ज्योतिषभाग्य संहिता के बारे में भी पढ़ सकते हैं।