तुला राशि में सूर्य/ SUN IN LIBRA SIGN

Sun in Libra Sign

सभी 12 राशियां कुल 4 भागों में बंटी हुई है। हर राशि का अपना एक अलग स्वभाव है। ऐसे ही तुला राशि वाले शुक्र ग्रह द्वारा शासित वायु राशियों में से एक है। तुला राशि की बुद्धि को कभी भी कम करके नहीं आंका जा सकता। यह लोग आलोचनात्मक विचारक होते हैं और लगभग किसी भी विवाद में अपने तर्कों को चतुराई से पूर्ण कर सकते हैं। वह जन्मजात राजनयिक और न्याय के लिए लड़ने वाले होते हैं। लेकिन जैसे ही सूर्य उनकी राशि में आते हैं, वैसे ही तुला राशि के लोगों को कुछ नया देखने को मिलता है। चलिए समझते हैं कि तुला राशि में सूर्य/Sun in Libra के होने का क्या प्रभाव पड़ता है।

सूर्य का तुला राशि में होने से आपके ऊपर प्रभाव | Impact of Sun in Libra

तुला राशि वाले व्यक्ति अस्थिर मनोदशा वाले, अधिकता में आनंद लेने वाले, विभिन्न महिलाओं के साथ संपर्क रखने वाले और स्वयं पर भरोसा ना करने वाले होते हैं। चंद्रमा के सूर्य का कारक होने पर, विभिन्न महिलाओं के साथ संपर्क रखने की प्रवृत्ति में तीव्रता आती है। ऐसे व्यक्ति दुर्भाग्यशाली, धोखेबाज और असंतुष्ट होते हैं तथा इन्हें सरकारी साधनों द्वारा सताए जाने की संभावनाएं बनी रहती हैं तथा शनि का कारक इन चीजों को विकराल बना सकता है। सूर्य के उदित पक्ष में होने के  विभिन्न नकारात्मक प्रभाव होते हैं - व्यक्ति अपने बच्चों से वंचित हो जाता है और गरीबी का अनुभव करता है। कुंडली में 10° डिग्री पर तुला राशि में ढलता या घटता हुआ सूर्य, कुंडली/Kundli के भीतर सभी अलग-अलग संभावनाओं का संकेत देने के साथ ही, बृहस्पति की युति का ग्रह योग में अच्छे परिणाम दे सकता है।

आप हमारी वेबसाइट से “सभी राशियों में सूर्य की स्थिति के अनुसार ज्योतिष के बारह भाव क्या दर्शाते हैं?” से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 

ज्योतिष रहस्य