बारहवें भाव में चंद्रमा/ Moon in 12th House

Moon in 12th House

बारहवें भाव में चंद्रमा/Moon in the twelfth House वाले लोग बहुत भावुक होते हैं। ज्यादातर, वह इस बात से जागरूक नहीं होते कि वह किस समय, क्या और कैसा महसूस करते हैं। हालांकि, संवेदनाओं का स्तर ऊंचा होने पर भी, उन्हें अपनी भावनाओं की गहनता को समझना चुनौतीपूर्ण लगता है। इस कारण  वह स्वयं को दबा हुआ महसूस करते हैं और भावनात्मक स्तर अपनी आवश्यकताओं को ठीक से व्यक्त नहीं कर पाते हैं। इस भाव वाले लोग टैरो कार्ड रीडर और तंत्र-मंत्र जैसी गतिविधियों में विश्वास रखते हैं। अपने घर से अधिक प्रेम होने के कारण, घर में रहना और घरेलू कार्यों को करना पसंद है तथा ऐसे लोगों को नियमों की सीमाओं से कोई समस्या नहीं होती।

बारहवें भाव के चंद्रमा का प्रभाव/ Impact of Moon in the Twelfth House

संकोची स्वभाव वाले यह लोग रोमांटिक तौर पर मौन स्वभाव वाले होते हैं। चंद्रमा की इस स्थिति के कारण, ऐसे व्यक्तियों के व्यक्तित्व में गोपनीय संबंध विकसित हो सकते हैं क्योंकि यह नहीं चाहते कि लोगों को इनके संबंधों के बारे में पता चले। यही कारण है कि वह अपने सभी सभी संबंधों को गोपनीय रखते हैं।

अत्यधिक तीव्र भावनाएं/ Overwhelming feelings

बारहवें भाव में स्थित चंद्रमा/Moon in the twelfth House, अचेतन और अवचेतन मानसिकता को प्रभावित करता है, जो अक्सर दोनों के बीच कशमकश का कारण बन जाता है, जिससे व्यक्ति जीवन में होने वाली घटनाओं के संबंध में भ्रमित हो जाते हैं। हालांकि, चंद्रमा की ऊर्जा उन्हें उचित समय पर भावनात्मक बना सकती है। अधिकतर समय, प्रत्येक चीज को अंत में प्राप्त करने की भावना उन्हें स्तब्ध कर सकती है। बारहवें भाव में चंद्रमा के स्थित होने से व्यक्ति अपने ऊर्जा की तीव्रता को संभाल नहीं पाते, इसलिए इन व्यक्तियों को रचनात्मकता को संतुलित करने की आवश्यकता होती है।

संवेदनशीलता/ Presence of empathy

भावुक व्यक्तित्व होने के कारण, ऐसे लोग मानसिक रूप से  संवेदनशील होते हैं। यह लोग, दूसरों की भावनाओं को समझने और मन को पढ़ने की विशेष योग्यता और  शक्ति भी रखते हैं तथा इनका अत्यधिक सहज ज्ञान इन्हें  आगे चलकर आरोग्यकारी बनने में मदद करता है। समाधान - उन्मुख और दूसरों के मदद करने की व्यवहार के कारण इन लोगों से दूसरों को अपनी समस्याओं के बारे में बात करना सरल लगता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि जिनकी कुंडली में चंद्रमा बारहवें भाव में होता है,वह हमेशा जरूरतमंद लोगों की सहायता के लिए उपलब्ध रहते हैं। हालांकि, ऐसे व्यक्ति यह सब काम तभी कर सकते हैं जब वह आंतरिक तौर पर शांत हो। दूसरों की तरह, उनके भी जीवन में समस्याएं होती हैं, लेकिन वह हर जगह संतुलन बनाए रखने की प्रवृत्ति रखते हैं।

कष्टप्रद वैवाहिक जीवन/ Troublesome Married Life

वैवाहिक जीवन के संदर्भ में, इन व्यक्तियों का वैवाहिक जीवन संतोषप्रद नहीं होता। मैरिड लाइफ में यौन इच्छा का अभाव और आत्मीयता की कमी होने के कारण गर्भ धारण और संतान उत्पत्ति के अलावा, भविष्य में बच्चों की शिक्षा और विवाह भी एक चुनौतीपूर्ण कार्य साबित हो सकता है। इन लोगों को असाधारण रूप से धैर्य रखने की आवश्यकता होती है।

आर्थिक मोर्चा/ Financial Front 

आर्थिक मोर्चे पर, धन की कमी होने से आर्थिक स्थिति में कमी आ सकती है। आय के प्रमुख स्रोत द्वारा, वांछित और आवश्यक धन प्राप्त करने में सक्षम नहीं होने की संभावनाएं रहती हैं। धन की हानि से उत्पन्न मानसिक दबाव के कारण तनाव, आंशिक पागलपन और मिर्गी जैसी समस्या सामने आ सकती है। इन लोगों के जीवन में तनाव गंभीर रूप ले सकता है तथा स्वास्थ्य और आर्थिक स्थिरता से संबंधित भारी खर्च, जुर्माना, सजा, चोरी और हीन भावना का डर जैसी समस्या उत्पन्न हो सकते हैं।

संबंधपरक संबंध/ Relational Bondings

बारहवां भाव पिता, भाई-बहनों और व्यक्तिगत विवाहेतर जैसे संबंधों से संबंधित होता है। वैवाहिक जीवन में संतोष की कमी के कारण विवाह के बाहर भी संबंध भी हो सकते हैं।

बारहवें भाव से संबंधित ध्यान में रखने योग्य कुछ पहलू:

• राशि

• उस राशि के स्वामी,

• जन्म कुंडली/Janam kundli और नवमांश कुंडली/Navamsa kundli में राशि की स्थिति।

चंद्रमा के स्वामित्व वाली कर्क राशि के दूसरे, पांचवें, छठे या आठवें भाव में और चंद्रमा के बारहवें भाव में स्थित होने पर, यह तनाव और अव्यवस्थित मनोदशा को जन्म देकर, व्यक्ति को चंचल-चित्त, ईर्ष्यालु और जीवनसाथी और उसकी उपलब्धियों के प्रति गलत बनाता है।

चंद्रमा के धनु राशि में सूर्य, मंगल या शनि द्वारा शासित राशि में स्थित होने पर, इस तथ्य को जाने बिना कि व्यक्ति की गलती है या नहीं, कानूनी लड़ाई में शामिल होने की प्रबल संभावना के साथ ही, कानूनी मुकदमों के कारण पूछताछ या जांच जैसी संभावनाएं बन सकती हैं।

बारहवें भाव में चंद्रमा से संबंधित अन्य समस्याएं :/ Other issues related to the Moon in the twelfth House

१. शराब की लत

२. वैवाहिक जीवन में समस्या

३. विवाह के बाहर संबंध से व्यक्ति की छवि पर असर।

४. अवैध संबंध के कारण अत्यधिक मानसिक तनाव।

५. विरोधी हमेशा हानि की योजना बनाते हैं।

ध्यान देने वाली बात यह है कि बारहवें भाव का चंद्रमा/ Moon in the twelfth House अनुकूल परिणाम बहुत कम देता है, और किसी अन्य ग्रह के बारहवें भाव में आ जाने पर, स्थिति अधिक कठिन और नियंत्रण से बाहर हो जाती है। यदि आपको पता चलता है कि आपकी कुंडली के बारहवें भाव में चंद्रमा है तो मैं आपको एक ही सलाह दूंगा कि एक अच्छे वैदिक ज्योतिषी से अपनी कुंडली की जांच कराएं।

सभी भावों में चंद्रमा के प्रभाव और ग्रहों के गोचर और इसके प्रभावों के बारे में और पढ़ें।

ज्योतिष रहस्य