वृषभ राशि में केतु की स्थिति

वैदिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार वृषभ राशि को शुक्र ग्रह द्वारा शासित  राशि माना गया है। यह एक स्त्रीलिंग ग्रह है जिसका केतु के साथ एक सौम्य संबंध है। वृषभ राशि वाले आजादी से जीने में यकीन रखते हैं, उन्हें आजाद पंछी की तरह खुलकर जिंदगी जीने का शौक होता है और इस वजह से कई बार उनकी जिंदगी में उथल -पुथल भी आ सकती है या हलचल भी हो सकती है। हालांकि वृषभ राशि का पृथ्वी तत्व उन्हें जमीन से जोड़े रखता है और हर एक स्थिति को अच्छी तरह से हैंडल करने की काबिलियत भी देता है। इस वजह से कहीं न कहीं व्यक्ति की जिंदगी में सुगमता आ सकती है और वे मुश्किल से मुश्किल स्थिति का भी अच्छी तरह से सामना करने के लिए पूरी तरह से खुद को तैयार कर सकते हैं। 

दूसरी तरफ केतु का संदेही स्वभाव और अस्थिर मिज़ाज वृषभ राशि के लोगों के शांत और ईमानदार स्वभाव को बेचैनी में तब्दील कर सकता है और उन्हें अच्छे और बुरे में फर्क करने से भरसक रोक सकता है। ऐसी स्थिति में वृषभ राशि वाले काफी बड़बोले और बातचीत में ढ़ीठ प्रवृति के हो सकते हैं। हालांकि अक्सर ऐसा देखा जाता है कि, वृषभ राशि वाले बेहद शांत स्वभाव के इंट्रोवर्ट व्यक्तित्व वाले होते हैं। इस राशि वालों को अपने जीवन में विलासिता (लक्ज़री) और भौतिक सुख सुविधाओं की काफी चाह होती है लेकिन इसे पाने के लिए केतु की उपस्थिति में उन्हें काफी कठिन मेहनत करनी पड़ सकती है।  यदि केतु की स्थिति से इस राशि के लोगों के जीवन में सकारात्मक प्रभाव की बात करें तो केतु वृषभ राशि वालों को एक विचारशील सोच प्रदान करता है। इससे व्यक्ति को अपने अच्छे बुरे में फर्क करने में काफी सहायता मिल सकती है। 

इसके साथ ही यह ज्योतिषीय स्थिति वृषभ राशि वालों को शिथिल और उनके राशि चिन्ह बैल की तरह जिद्दी भी बना देती है। उनका यह स्वभाव विशेष रूप से उनके प्रेम जीवन और वैवाहिक जीवन में मुसीबतें उत्पन्न कर सकता है। व्यक्ति इन रिश्तों में एक सरल और मधुर संबंध बनाए रखने में विफल हो सकता है। केतु के प्रभाव से व्यक्ति अपने करीबी रिश्तों में अनैतिक निर्णय भी ले सकता है, हालांकि वे इन रिश्तों के प्रति काफी भावुक और करुणा की भावना भी रख सकते हैं। ऐसी स्थिति में उन्हें अच्छे और बुरे दोनों तरह के प्राप्त हो सकते हैं। वृषभ राशि में केतु की उपस्थिति होने से व्यक्ति का अपने परिवार वालों के साथ भी काफी कठिन और समस्याग्रस्त रिश्ता बन सकता है। 

आप हमारी वेबसाइट से सभी भावों में केतु के प्रभावग्रहों के गोचर के बारे में भी पढ़ सकते हैं। साथ ही आप हमारी वेबसाइट से जन्मकुंडली, लव या अरेंज मैरिज में चुनाव, व्यवसायिक नामों के सुझावस्वास्थ्य ज्योतिषनौकरी या व्यवसाय के चुनाव के बारे में भी पढ़ सकते हैं।

ज्योतिष रहस्य