Mercury Transit

बुध का मकर राशि में गोचर का अन्य राशियों पर प्रभाव | Impact of mercury transit
13 Jan,2020
से
31 Jan,2020

बुध ग्रह विचारों, मानसिकता और बुद्धि को प्रभावित करने वाला होता है। बुध जब भी किसी राशि पर गोचर करता है, तो वह उस राशि के साथ साथ कुछ अन्य राशियों को भी प्रभावित करता है, जिसके बारे में हम आपको आपके राशि के अनुसार बताने वाले हैं। गोचर काल/Mercury transit के दौरान बुध सभी राशियों को मिले जुले परिणाम देता है।

बुध का मकर राशि गोचर प्रभाव/Impact of mercury transit on Capricorn

बुध एक मजबूत ग्रह है तथा सभी राशियों प्रभावित करने वाला होता है। बुध किसी भी राशि पर बड़ा प्रभाव डाल सकता है। इस ग्रह का गोचर आपके सोचने के तरीके को बदल सकता है, आपके आत्मविश्वास को बढ़ाता है, आपके संचार कौशल में वृद्धि करता है और आपके दिमाग को एक आशावादी दृष्टिकोण भी देने में सहायक बनता है। मकर राशि में बुध के जाने पर आप व्यावहारिक रूप से आगे बढ़ना सिखाता है।

चलिए जानते हैं कि बुध का मकर राशि में गोचर से आपके राशि पर क्या प्रभाव पड़ सकता है।

बुध के मकर राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit दशम भाव पर होगा। इस राशि के प्रभाव के चलते आप काम और लोगों के सहयोग द्वारा आगे बढ़ सकते हैं। इस समय के दौरान आप संघर्षशील अधिक रह सकते हैं। आपके लिए जरूरी है की आप सकारात्मकता के साथ कार्यों को करें क्योंकि आपका यह दृष्टिकोण ही जीवन में शुभता प्रदान करने में सक्षम होगा। आपकी कुंडली का दसवां भाव आपकी आजीविका, कर्म और प्रसिद्धि को दर्शाता है। आपके दशम भाव में बुध के प्रभाव से इस दौरान आप अपने कार्यालय या कार्यस्थल की राजनीति से जुड़ सकते हैं। परिवार में सुख, मान-सम्मान के लिए आप काफी प्रयासशील रह सकते हैं। आप कुछ असाधारण रूप से अच्छा कर सकते हैं, जो कि आपकी मेहनत और बुद्धि के कारण हो सकता है। आपके बॉस और वरिष्ठ आपकी प्रशंसा कर सकते हैं। व्यवसाय करने वाले लोगों के पास अपने नए विचारों को शुरू करने का सबसे अच्छा समय है, या उन्हें अपने बिजनेस के विस्तार के अत्यधिक अवसर मिल सकते हैं। परिवार के साथ एक उत्कृष्ट और खुशहाल रिश्ता बनाने में आप सफलता पाएंगे।  

बुध के मकर राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Taurus

बुध का प्रभाव भाग्य भाव को प्रभावित करने वाला होता है। इस समय नए लोगों के साथ मिल जुल कर रहना आपके लिए काफी सकारात्मक साबित हो सकता है और आपके सहकर्मी भी अप्रत्याशित रूप से आपके काम की सराहना कर सकते हैं, आपका पारिवारिक जीवन/Family life शांतिपूर्ण रह सकता है। भाई-बहन आपकी अधिकांश चीजों में आपका साथ देंगे, जो आपके काम के लिए भी काफी फायदेमंद साबित होगा। आपका संचार कौशल कई लोगों को आकर्षित करेगा जो आगे चल कर आपके लिए उपयोगी हो सकता है। आपको अति आत्मविश्वास से बचने की जरूरत है। बुध का मकर राशि में गोचर के प्रभाव से आपकी राशि पर पिता के साथ संबंधों में सुधार दिखाता है। आप अपनी वित्तीय स्थिति में कुछ बदलावों को लेकर चलना चाहेंगे। अपने परिवार, विशेष रूप से अपने पिता से मजबूत समर्थन प्राप्त कर सकते हैं। दांपत्य जीवन/Married life में साथी के साथ कुछ यात्रा का अवसर होगा और संतान के प्रति आप प्रेम व सहयोग बनाए रखेंगे।    

बुध के मकर राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Gemini

मिथुन राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय आठवें भाव/Eight house पर होगा। मिथुन राशि बुध के स्वामित्व की राशि है और ऐसे में यह समय आपके लिए कई मामलों में महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। उस समय आपके निर्णयों एवं विचारों में अस्थिरता का भाव अधिक रह सकता है। गोचर के कारण, यह आपकी शारीरिक चुनौतियों में वृद्धि को दर्शाता है, और आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहना चाहिए क्योंकि मानसिक तनाव तथा खान पान में लापरवाही के चलते सेहत पर असर देखने को मिलेगा। आर्थिक स्थिति में कुछ लाभ मिल सकता है, पर साथ ही खर्चों की अधिकता के चलते बहुत अधिक बचत कर पाना अभी संभव न हो पाए। किसी पूजा-पाठ एवं धार्मिक स्थिति किसी प्रकार की अन्य धार्मिक चीजों से जुड़ने और इनसे लाभ प्राप्ति का भी अवसर दिखाई देता है। आपका बोलचाल का लहजा तीव्र हो सकता है, इसलिए इस समय पर कटु शब्दों का उपयोग करने से बचें तथा उचित एवं अनुकूल तथ्यों को ध्यान में रखते हुए काम करना बेहतर होगा। 

बुध के मकर राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Cancer

कर्क राशि वालों के लिए बुध का गोचर सप्तम भाव पर होगा। गोचर के दौरान आपकी कुंडली के सप्तम भाव के बुध से प्रभावित होने के कारण आपके जीवन में प्रेम, विवाह साझेदारी जैसे विषयों एवं सामाजिक प्रतिष्ठा इत्यादि पर असर देखने को मिल सकता है। इस समय के दौरान आप व्यस्त भी अधिक रह सकते हैं। आपको कुछ नए डील पर काम करने का विचार होगा इसके अलावा दीर्घकालिक साझेदारी और  बिजनेस में निवेश तथा नई चीजों को लेकर आगे बढ़ना चाहेंगे। इस गोचर के दौरान व्यक्तियों को अपने काम या व्यवसाय के मामले में अतिरिक्त लाभ प्राप्त हो सकता है। विदेशी कार्यों एवं संचार संसाधनों से लाभ की संभावना भी इस समय पर बनती दिखाई देती है। कारोबार से जुड़े लोग अपने काम में विस्तार को पाएंगे और कुछ सफलता मिलने से आप आशावादी होंगे। मीडिया और मार्केटिंग के माध्यम से आप अच्छा नेटवर्क भी प्राप्त कर सकते हैं। जीवन साथी के साथ आपसी समझ बढ़ेगी, लेकिन ध्यान रखें की बाहरी व्यक्ति द्वारा निजी जीवन में हस्तक्षेप न होने पाए अन्यथा कोई समस्या खड़ी हो सकती है। आपके भाई-बहन के साथ भी संबंध सुधरेंगे, और आपको उनकी तरफ से उचित मदद और सहयोग मिल सकता है। 

बुध के मकर राशि में गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Leo

सिंह राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर छठे भाव पर होगा। इस स्थान पर बुध का गोचर आपकी मेहनत में वृद्धि करने वाला हो सकता है। इसके अलावा कुछ प्रतियोगिताओं में भाग लेने का भी अवसर मिलेगा। कानूनी गतिविधियों, बहस और तर्कों से भी आप प्रभावित रह सकते हैं। इस दौरान किसी वाद-विवाद या कोर्ट केस में सफलता मिलने की संभावना भी अच्छी है। किसी न किसी कारण आप अपने खर्चों में धीरे-धीरे वृद्धि देख सकते हैं। आय में कमी आ सकती है, इसलिए आपको अपने खर्चों पर ध्यान देना चाहिए तथा अपने खर्चों पर नियंत्रण रखने की कोशिश करनी चाहिए। आपको निश्चित रूप से एक अच्छा परिणाम मिलेगा, और आपका आत्मविश्वास बढ़ सकता है। किसी वाद-विवाद में न पड़ना अनुकूल रहेगा तथा किसी भी प्रकार के व्याकुलता से दूर रहना ही बेहतर है। काम के क्षेत्र में आप अपनी मेहनत द्वारा अपने लिए बेहतर स्थान अर्जित कर पाएंगे। जो लोग काम की तलाश में हैं उनके काम बन सकते हैं। 

बुध के मकर राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Virgo

कन्या राशि वालों के लिए बुध का गोचर इनके पंचम भाव पर होगा। इस स्थान पर बुध का होना, शिक्षा, प्रेम संबंधों दोस्ती, बौद्धिक विचारों एवं संतान से संबंधित पक्षों को प्रभावित करने वाला होगा। कन्या राशि बुध के स्वामित्व की राशि है इस प्रकार से यह कई मामलों में सकारात्मक प्रभाव भी देगा और आगे बढ़ने के कुछ नए मौके मिल सकते हैं। बौद्धिक विचारों में सुधार होगा और कुछ नई चीजों के इन्वेंशन की राह भी आपके लिए आसान रह सकती है। छात्र शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे परिणाम प्राप्त कर सकते हैं। उच्च शिक्षा एवं कुछ प्रतियोगिताओं में शामिल होंगे। प्रेम संबंधों/Love relationship से जुड़े मामलों में जो लोग अपने पार्टनर से प्यार करते हैं, उन्हें एक-दूसरे को जानने और करीब आने के लिए अधिक समय मिल सकता है। एक दूसरे पर विश्वास और भरोसे की स्थिति को मजबूती भी प्राप्त होगी। संतान पक्ष की ओर से पेरेंट्स को कुछ अच्छे परिणाम भी मिल पाएंगे। इस समय कुछ भ्रमण के अवसर भी आपके पास होंगे, जिनका उपयोग आप अपने दोस्तों के साथ रह कर भी कर सकते हैं। व्यवसाय से जुड़े लोगों को अपने व्यवसाय का विस्तार करने का अवसर मिल सकता है। आप सामाजिक क्षेत्र में भी आगे बढ़ सकते हैं। 

बुध के मकर राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर इनके चतुर्थ भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय पर घरेलू स्तर पर आप अधिक व्यस्त भी रह सकते हैं। काम काज में आपको कुछ अच्छे लाभ के मौके मिल सकते हैं। व्यापारियों को अपने काम में बाहर जाने और नए डील तय करने का अवसर मिलेगा। आपकी विचारधारा में भी इस समय बदलाव देखने को मिल सकता है। किसी की सहायता द्वारा आप सही निर्णय लेने में सक्षम हो सकते हैं।  आपको समाज में एक विशेष स्थान प्राप्त करने में साथी और परिवार का सहयोग काम करेगा। परिवार के वरिष्ठों के साथ संबंधों में सुधार देखने को मिलेगा। कर्मचारियों के लिए यह गोचर/Mercury transit काफी फायदेमंद और अनुकूल साबित होगा। हो सकता है कि आप अपने कार्यों को पूरा करने में अधिक समय ले रहे हों, और उसके कारण आपका मन थोड़ा बेचैन हो सकता है, इसलिए चिंता न करें अपनी एकाग्रता बनाए रखें सफलता प्राप्त होगी। घर पर किसी नए वस्तु को भी लाने की संभावनाएं अधिक बनती हैं। 

बुध के मकर राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Scorpio

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव पर होगा। बुध ग्रह का इस स्थान पर होना आपकी कार्य कुशलता को बढ़ाने वाला होगा। आप मार्केटिंग या मीडिया से जुड़े कामों में अपना अच्छा नेटवर्क स्थापित कर सकते हैं। आप अपनी सभी महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने में सक्षम होंगे। आप अपनी नीतियों द्वारा सफलता भी प्राप्त कर सकते हैं। आपको संचार और वाणी के माध्यम से लाभ मिलने की अच्छी संभावना देखने को मिल सकती है। अपने भाई बहनों के साथ आप कहीं घूमने जाने का प्लान बना सकते हैं, कुछ बातों में आपकी उनके साथ बहस भी हो सकती है लेकिन एक दूसरे का साथ आप जरूर देंगे। आपकी मेहनत ही आपकी सफलता का कारण बनेगी। आपके लिए उपयुक्त होगा की अपने साथ काम कर रहे लोगों के साथ व्यर्थ की उलझनों से बचें और मिलकर काम करें अपने हर सहयोगी के साथ अच्छा व्यवहार करना आपको आने वाले समय के लिए सकारात्मक परिणाम देने वाला होगा। 

बुध के मकर राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव पर होगा। बुध के इस स्थान पर होने के कारण आप अपनी वाणी और अपनी अभिव्यक्ति को लेकर कुछ अधिक स्वतंत्र दिखाई दे सकते हैं। आपके खाने-पीने की आदतों पर भी इस समय बदलाव देखने को मिल सकता है।  आपकी बोलने की क्षमता अधिकांश लोगों को आकर्षित कर सकती है। आप इस समय एक अच्छे वक्ता के रूप में भी उभर सकते हैं। आपके बात करने का तरीका आकर्षक होगा। व्यक्तित्व में बदलाव के कारण आप अपने कार्य को तेजी से कर पाएंगे और आर्थिक रूप से अपनी स्थिति में सुधार कर पाने में भी सफल हो सकते हैं। आपको कड़ी मेहनत पर ध्यान देना चाहिए और ईमानदारी से काम करना उपयुक्त होगा क्योंकि शॉर्टकट के द्वारा परेशानी हो सकती है। आपको अपने खाने के तरीके का ध्यान रखना होगा अन्यथा सेहत पर लापरवाही असर भी डालेगी। धन के मामले में बड़ा लाभ कमाने के कई मौके मिलेंगे। आपके स्वास्थ्य के संबंध में आपकी स्थिति खराब हो सकती है, हालांकि यदि आप उचित देखभाल करते हैं और कुछ भी करने में जल्दबाजी नहीं करते हैं तो आप सुरक्षित रहेंगे। परिवार से संबंध सामान्य रहेंगे

बुध के मकर राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Capricorn

इस समय पर बुध का गोचर मकर राशि पर होने के कारण वैचारिक चीजों को अधिक मजबूती मिल सकती है। यह समय आपके निर्णयों पर महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। जब बुध मकर राशि में होता है, तो यह इस राशि के लोगों के दिमाग को बहुत व्यवस्थित तरीके से सोचने पर मजबूर करता है, आपका ध्यान उस पर भी रह सकता है जिसे वह प्राप्त करना चाहते हैं। अपने कार्यों को पूरा करने से विचलित करना चुनौतीपूर्ण होता है। इस गोचर के दौरान आप हमेशा व्यावहारिक रहेंगे और अपने व्यवसाय पर ध्यान केंद्रित करेंगे। आप को संवाद करने का तरीका हमेशा व्यावहारिक और तार्किक रह सकता है। बातचीत में हमेशा कुछ प्रासंगिकता रह सकती है। बुध के गोचर का उनके बिजनेस, करियर, शिक्षा, प्रेम और वैवाहिक जीवन से संबंधित होता है। जीवन पर बहुत प्रभाव पड़ेगा और काम में नए लोगों का सहयोग अधिक रह सकता है। 

बुध के मकर राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Aquarius

कुंभ राशि वालों के लिए बुध के गोचर का प्रभाव द्वादश भाव पर होगा। आपके घर पर इस ग्रह का प्रभाव आपको मिले जुले परिणाम देने वाला हो सकता है। आपका बारहवां भाव/Twelfth house व्यय का भाव कहलाता है, ऐसे में आपके खर्चों की अधिकता तो बनी रह सकती है। आपको इस समय पर आध्यात्मिक ऊर्जा और किसी गुरु इत्यादि समक्ष व्यक्ति का सानिध्य भी प्राप्त हो सकता है। विदेश बिजनेस/Foreign business के माध्यम से लाभ कमाने के मौके मिल सकते हैं। छात्र अपनी उच्च शिक्षा के लिए लम्बी दूरी की यात्रा कर सकते हैं। किसी ऑनलाइन संपर्क के माध्यम द्वारा नए दोस्तों से भी जुड़ सकते हैं। यह समय आप अपने प्रेम संबंधों को लेकर कुछ गुप्त रहना चाहेंगे अपने प्यार के मामले को किसी के समक्ष खोलना या जाहिर न करना चाहें। काम के क्षेत्र में आपकी व्यस्तता अधिक रह सकती है। अपने कर्मचारियों का बहुत अधिक सहयोग न मिल पाए लेकिन बाहरी संपर्क का लाभ मिल सकता है। स्वास्थ्य का ध्यान बनाए रखने की जरूरत होगी इस समय पर संतान पक्ष को लेकर भी आपके चिंता रह सकती है। शत्रुओं से सावधान रहें और एकाग्रता को बनाए रखें। 

बुध के मकर राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव पर होगा। बुध के इस स्थान पर होने से लाभ के अवसर तो मिलेंगे पर साथ ही खर्चों की अधिकता भी रह सकती है। आय के मामले में गोचर आपके जीवन के लिए अनुकूल रह सकता है। आय में वृद्धि हो सकती है, और अपनी इच्छाओं और आराम की कामना को पूरा करने का यह सबसे अच्छा समय होगा। आप अपनी पसंद की वस्तुओं की खरीदारी में भी लगे रह सकते हैं। संपत्ति की खरीद फरोख्त से जुड़े काम बेहतर मुनाफा दे सकते हैं। आप अपने व्यवसाय में अत्यधिक लाभ देख पाएंगे, साथ ही व्यवसाय के विस्तार के लिए भी आप काम कर सकते हैं। जीवनसाथी के साथ मिलकर चीजों को व्यवस्थित कर पाने में आप अधिक व्यस्त रह सकते हैं। आपका साथी भाग्यशाली होने के साथ-साथ आपके लिए फायदेमंद भी रह सकता है। स्टार्टअप शुरू करने  या नए व्यवसाय की योजना बनाने के लिए अच्छा समय होगा। समाज में आपकी छवि बढ़ेगी और साथ ही आपका सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। सोशल मीडिया से जुड़ना आपके लिए बहुत फायदेमंद होगा और यह अवधि आपको अपनी सामाजिक गतिविधियों से प्रसिद्धि दिला सकती है।

बुध ग्रह का कुंभ राशि में गोचर/mercury transit in Aquarius
31 Jan,2020
से
06 Apr,2020

वैदिक ज्योतिष के अनुसार, गोचर का हर व्यक्ति पर प्रभाव पड़ता है और हर व्यक्ति को इसके बारे में अवश्य जान लेना चाहिए। यदि आपको प्रभाव के बारे में पता होगा तो आप आने वाली समस्या के खिलाफ डट कर खड़े होंगे। कुंभ राशि में बुध की स्थिति मानसिकता में बदलाव और नई चीजों के साथ जुड़ने की आपकी क्षमता पर भी असर डालती है। बुध का कुंभ राशि में गोचर/Mercury transit in Aquarius के दौरान लोगों का किसी नई और बड़ी कंपनी में जाने का मौके प्राप्त होते है। जो लोग विज्ञान, शिक्षण कार्य, योजनाओं को बनाने वाले कामों से जुड़े हुए हैं उनके लिए यह समय सफलता भी देने वाला बनता है। विदेशी एवं दूर स्थलों से जुड़े काम में भी लाभ और सहयोग प्राप्त होगा। 

अपनी राशि अनुसार जानिए कि इस गोचर का आपके ऊपर क्या प्रभाव पड़ने वाला है।

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Aries

मेष राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर एकादश स्थान पर होगा, इसके प्रभाव से आपको कुछ नए आय प्राप्ति के साधन मिल सकते हैं। नई योजनाएं भी इस दौरान शुरू हो सकती हैं। आप सामाजिक एवं अन्य कार्यों से जुड़ कर उपलब्धि को भी प्राप्त कर पाने में सक्षम हो सकते हैं। महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने का समय है। यह गोचर/Transit आपकी क्षमताओं को समृद्ध करने वाला होगा। आपको अपनी दक्षता में एक वृद्धि भी देखने को मिल सकती है। इस गोचर के दौरान आपकी कड़ी मेहनत और बौद्धिकता के द्वारा अच्छे लाभ को पाने में सक्षम होंगे। वेतन में वृद्धि होने के संकेत भी इस समय पर मिल सकते हैं। कुछ मामलों में छात्रों को बड़ी सफलता मिल सकती है छात्र अपनी शिक्षा के साथ साथ आर्थिक स्थिति के लिए काम करेंगे जिसमें उन्हें अनुकूल परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। आपके व्यक्तित्व में भी बदलाव आ सकता है। आपके आत्मविश्वास में उल्लेखनीय वृद्धि होगी और वे अपने प्रियजनों के प्रति अपनी भावना व्यक्त करने में भी आप सक्षम होंगे। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर दसवें भाव/Tenth House पर होगा। इस स्थान पर बुध के होने से कार्य क्षेत्र व आर्थिक क्षेत्र में बदलाव देखने को मिल सकता है। कुछ नए इन्वेस्टमेंट से जुड़े काम होंगे। इस समय नौकरी और कारोबार से जुड़ी गतिविधियों में शामिल होंगे। इस समय पर काम के क्षेत्र में होने वाली नीतियों का आप पर असर पड़ेगा। आप किसी न किसी रुप में अपने लोगों का सहयोग पा सकते हैं। अधिकारियों की ओर से मिलने वाले काम में विस्तार और कुछ सख्ती भी होगी लेकिन चीजें बेहतर रहेगी। व्यावसायिक स्थिति में सफलता और सुधार का संकेत भी इस समय पर देखने को मिल सकता है। जो लोग काम की तलाश में होंगे उन्हें इस समय काम मिलने की अच्छी संभावना होगी। यह गोचर आपके नौकरी पेशा जीवन में बहुत प्रभावशाली होगा जहां आप अपने ज्ञान और कर्मठता के आधार पर सर्वोत्तम क्षमताओं को दिखा पाएंगे और खुद में भी बदलाव का अनुभव करेंगे। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Gemini

मिथुन राशि के लोगों/Gemini people के लिए बुध का गोचर नवम भाव पर होगा। बुध मिथुन राशि के स्वामी हैं इस कारण से बुध मिथुन राशि पर प्रबल प्रभाव रखते हैं। इस गोचर के दौरान, आपका भाग्य अधिक प्रभावित होगा और आपको कई नए कामों में आगे बढ़ने के लिए प्रयास करने की आवश्यकता होगी। आस पास के लोगों का सहयोग मिलेगा लेकिन इस समय आप अपनी मेहनत द्वारा अच्छी सफलता पा सकते हैं। कुछ मामलों में परिवार की ओर से पूर्ण सहयोग न मिले लेकिन किसी वरिष्ठ द्वारा दिए गए दिशा निर्देश आपके लिए बहुत सहायक बनेंगे। जो लोग काम की तलाश में हैं उन्हें अवसर मिल सकते हैं। इसी के साथ उच्च शिक्षा एवं किसी शोध कार्यों से जुड़े होने पर आपको इसका लाभ भी प्राप्त होगा। इस समय धन एवं संपत्ति से जुड़े मामलों में काफी लाभ मिल सकता है। कई मामलों में भाग्य आपके पक्ष में रहेगा। आपको घर के कार्यों एवं अपना घर बदलने में भी सफलता मिल सकती है। समाज में आपकी प्रसिद्धि और सम्मान में वृद्धि होगी। आप भावनात्मक रूप से भी अपने पिता के करीब होंगे, और आपके पिता लाभ कमाने में बहुत सहायक और सहायक हो सकते हैं। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर अष्टम भाव/Eighth house पर होगा। आपके काम के क्षेत्र में परिश्रम एवं प्रयास की अधिकता रह सकती है। धनार्जन से अधिक व्यय रहने से बचत प्रभावित हो सकती है। इस समय पर स्वास्थ्य एवं घरेलू मुद्दों पर अधिक धन व्यय हो सकता है। बुध का गोचर इस समय में कुछ उतार-चढ़ाव दिखा सकता है। इस दौरान आपको स्वयं को आप कुछ अधिक मेहनत करने के लिए तैयार कर सकते हैं, हालांकि इस समय फल प्राप्ति में कमी का अनुभव होगा लेकिन आगे आने वाले समय के लिए यह कोशिशें बेहतर परिणाम दे सकती हैं। कुछ यात्राएं अधिक रह सकती  हैं और इसके लिए आपको कुछ अवांछित खर्चे उठाने पड़ सकते हैं। भाई-बहनों की ओर से आप थोड़ा चिंतित भी रह सकती हैं। आप लोगों में कुछ विवाद की स्थिति भी उभर सकती हैं ऎसे में शांति व धैर्य के साथ समस्याओं को हल करना उचित होगा।  

बुध के कुंभ राशि में गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Leo

सिंह राशि लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय पर सप्तम भाव/Seventh house को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर/transit के दौरान अपने जीवनसाथी के साथ भावनात्मक और मानसिक रूप से करीब आने का मौका मिल सकता है। बुध सिंह राशि के लिए धन और लाभ भाव का स्वामित्व पाता है ऐसे में बुध एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। प्रेम संबंधों में एक दूसरे के सहयोग को पाने में आप सफल होंगे। नए मार्ग खोजने में आप सफल रह सकते हैं। सामाजिक रूप से आप लोगों के मध्य महत्वपूर्ण स्थान को पाते हैं। इस समय पर परिवार व किसी अपने पर धन अधिक खर्च हो सकता है। आपके व्यावसायिक कौशल/Business skill को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी कुछ नई नीतियों को अब आप अपने काम में शामिल कर सकते हैं। कुछ नए मसौदों से एक बड़ा लाभ अर्जित कर पाने में भी सफल हो सकते हैं। काम के क्षेत्र में नए विचार आपको अपने बिजनेस को बढ़ाने में मदद करेंगे। कुछ अनचाहे खर्चों के चलते परेशान हो सकते हैं, इसलिए अपने निवेश और बचत पर ध्यान बना कर रखना अनुकूल होगा।

बुध के कुंभ राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Virgo 

कन्या राशि का स्वामी ग्रह बुध होता है और ऐसे में यह समय कन्या राशि के लिए काफी महत्वपूर्ण हो जाता है। यह इस समय आपके कर्म एवं आपके कार्यों को दर्शाता है। आप अपनी मेहनत द्वारा कार्यों को करने की योग्यता प्राप्त करने के प्रयासों में लगे रहते हैं।  इसका अर्थ है कि बुध का कन्या राशि में गोचर आपके जीवन में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। बुध का कुम्भ राशि में गोचर आपके छठे भाव में होने से आपके शत्रुओं, रोग व आर्थिक स्थिति पर इसका विशेष प्रभाव देखने को मिल सकता है। इस समय आपको अपने स्वास्थ्य को लेकर सावधान रहने की आवश्यकता होगी। मौसम में होने वाले बदलाव आप को प्रभावित कर सकते हैं। काम के क्षेत्र में आपको कड़ी मेहनत करनी होगी सफलता प्राप्ति के लिए काफी संघर्ष रह सकता है। इस समय पर आप के लिए जरूरी है कि व्यर्थ की बातों में खुद को उलझाने से बचें। कोई कानूनी गतिविधियों में भी आपकी भागीदारी हो सकती है। लापरवाही से बचने की जरूरत होगी क्योंकि किसी भी प्रकार की अज्ञानता आपको खतरे में डाल सकती है। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Libra

तुला राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय पंचम भाव/Fifth house पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति का प्रभाव आपको अलग विचारधारा तथा आत्मज्ञान की प्राप्ति करने में सक्षम बनाता है। जो लोग किसी कला या रचनात्मक गतिविधियों में संलग्न हैं उनके लिए अच्छे अवसर होंगे स्वयं को बेहतर सिद्ध करने के। बाहरी लोगों का संपर्क आपकी छवि एवं मानसिकता को प्रभावित करने वाला होगा। बुध तुला राशि के नवम और बारहवें भाव का स्वामी है, ऐसे में भाग्य के विस्तार को सहायता मिलती है और विदेश द्वारा लाभ मिलने की संभावना बनती है। यह समय आध्यात्मिक क्षेत्र में नए लोगों का साथ भी देता है। आपके काम के क्षेत्र में कुछ वरिष्ठजनों द्वारा प्राप्त दिशा निर्देश काम आ सकता है।  नौकरीपेशा जीवन में पद प्राप्ति और स्थान प्राप्ति के संकेत भी इस समय पर मिल सकते हैं। आपकी मेहनत आपको एक अच्छी छवि बनाने का मौका देने वाली हो सकती है। प्यार एवं संबंधों में आप साथी का सहयोग मिल सकता है। छात्रों को उच्च शिक्षा हेतु आपके प्रयास सकारात्मक दिशा में होंगे। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए यह समय सुख स्थान पर बुध का गोचर होना घरेलू मसलों तथा काम के क्षेत्र पर असर डालने वाला होगा। नए काम शुरू होंगे तथा किसी कारणवश आपको कुछ समय के लिए काम से अवकाश भी लेना पड़ सकता है। अभी काफी भागदौड़ भी बनी रह सकती है। वाहन। वस्त्र इत्यादि का सुख इस समय मिल सकता है। काम के क्षेत्र में कुछ अचानक से होने वाले बदलाव इस समय हो सकते हैं। कुछ नई जिम्मेदारियों को भी आप अभी देख पाएंगे। लेखन-संचार से जुड़े लोग अपने काम में तेजी से कर पाने में सक्षम होंगे। आपके विरोधियों की गुप्त राजनीति आपके लिए थोड़ा कठिन परिस्थितियों को उत्पन्न करने वाली भी होगा। वित्त या व्यावसायिक क्षेत्र में अचानक से लाभ मिलने के योग भी हैं, लेकिन ध्यान रखें की किसी शॉर्टकट से अभी खुद को बचाएं अन्यथा सफलता अधिक देर तक टिक नहीं पाएगी। परिवार का सहयोग और प्रेम आपके लिए काफी सहायक होगा। आप पर इस समय जिम्मेदारियां भी बहुत अधिक रह सकती हैं। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Sagittarius

धनु राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव/third house पर होगा। आपके भीतर कुछ नया काम करने की इच्छा जाग सकती है और आप इस समय अपनी अभिरुचि को अधिक महत्व देना चाहेंगे। बातचीत की कुशलता द्वारा नए संबंधों का निर्माण भी होगा। कुछ अच्छे लाभ संचार के माध्यम से भी आप अर्जित कर सकते हैं। आपका परिश्रम इस समय अच्छे परिणाम देने वाला होगा। अपने साथियों का प्रेम व सहयोग आप पा सकते हैं, लेकिन कुछ लोग आपसे थोड़ी दूरी भी बनाने की कोशिश कर सकते हैं इसलिए अपनी बातचीत में जितना प्यार से आगे बढ़ेंगे उतना रिश्तों के लिए अच्छा होगा। आपको कुछ घूमने-फिरने के मौके भी मिल पाएंगे। काम या घरेलू स्तर पर आप यात्राओं में व्यस्त रह सकते हैं।  यात्रा का लाभ मिल सकता है, यह आपकी आर्थिक स्थिति के लिए भी लाभदायक हो सकता है। आपके छोटे भाई-बहनों के साथ आपके संबंध बेहतर होंगे अगर किसी कारण से कोई नाराजगी बनी हुई थी तो वो अब कम होती दिखाई देगी।  

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा, बुध आपके लिए छठे भाव का स्वामी/Sixth house lord भी बनता है। ऐसे में आप को कार्य एवं आर्थिक पक्ष को बेहतर बनाने के लिए कोशिशों को तेज रखना होगा। आपको किसी कानूनी कार्यवाही में कुछ सकारात्मक परिणाम देखने को मिल सकता है। आपके दोस्त आपकी सहायता में आगे रह सकते हैं। आप अपने संचार कौशल में सुधार देख पाएंगे। आपको किसी प्रकार की संपत्ति का लाभ भी मिल सकता है। आप परिवार में किसी व्यक्ति का आगमन हो सकता है और उनके साथ आप अपने रिश्तों को लेकर काफी सजग भी दिखाई देंगे। आप इस समय सोशल मीडिया से जुड़े कामों में भी अधिक समय गुजार सकते हैं। आप किसी के साथ संवाद इत्यादि में गलत शब्दों से बचें अन्यथा कोई गलतफहमी आपके काम में रुकावट डाल सकती है। आप किसी वाद-विवाद में फंस सकते हैं। आपको अचानक से लाभ की प्राप्ति होगी तथा अगर आपने किसी को पैसा उधार में दिया हुआ है तो आपको उधार इत्यादि दिया हुआ धन भी इस समय पर प्राप्त हो सकता है। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Aquarius

कुंभ राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय राशि पर ही होगा। बुध कुंभ राशि वालों के लिए पंचम और अष्टम भाव के स्वामी/Eighth house lord बनते हैं। इस समय आपको मिले-जुले फल प्राप्त होने वाला है। बुध का गोचर/Mercury transit आपके लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह आपकी ही राशि में हो रहा है इसलिए अभी आप कुछ नई योजनाओं को लागू करने का विचार कर सकते हैं। आध्यात्मिक विषयों की ओर आप अधिक आकर्षित हो सकते हैं। अपने विचारों में विशिष्ट परिवर्तन देख पाएंगे। जो छात्र या लोग शोध से जुड़े कामों में लगे हुए हैं उनको उत्कृष्ट परिणाम प्राप्त हो सकते हैं।  काम में कुछ नए बदलाव भी इस समय पर किए जा सकते हैं। विचारों की गहराई बढ़ेगी तथा सोचने की क्षमता में वृद्धि के साथ ही आप किसी भी विषय पर स्थिति के बारे में ठीक से जानने के बाद ही अपनी राय देना चाहेंगे। प्यार को लेकर आप किसी के प्रति अधिक आकर्षित महसूस कर सकते हैं। अपने प्यार का इजहार करने में भी आप अब आगे बढ़ सकते हैं। इस समय पर जीवन में साथी का सहयोग आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होगा। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Pisces

मीन राशि के लोगों के लिए बुध का द्वादश भाव में गोचरस्थ होगा। इस स्थान पर स्थित बुध के प्रभाव द्वारा किसी बाहरी चीजों द्वारा आपका जीवन अधिक प्रभावित रह सकता है। आप अपने घर से दूर जाकर कहीं रहने का विचार कर सकते हैं। इसके साथ ही जो लोग काम की तलाश में है, उन्हें इस समय काम मिलेगा, लेकिन इसके साथ ही काम के चलते यात्राएं भी अधिक रह सकती हैं। इस समय आपके लिए जरुरी है की साझेदारी से जुड़े कामों में आपको आगे बढ़ने से पूर्व सभी प्रकार की शर्तों को एवं स्थिति को समझ लेना चाहिए। आर्थिक स्थिति इस समय खर्च के चलते दबाव में भी रह सकती है। आप अपने ऊपर भी अधिक धन व्यय कर सकते हैं और यह किसी भी कारणों से हो सकता है। अपने स्वास्थ्य को लेकर भी आपको सजग रहना चाहिए। आप खानपान में बदलाव की स्थिति सेहत को प्रभावित कर सकती है। इसके साथ ही जीवन साथी के स्वास्थ्य की चिंता भी आप को परेशान कर सकती है। इस समय पर विदेश यात्रा और स्थान परिवर्तन से जुड़े कामों में कुछ सफलता मिल सकती है। 

बुध का मेष राशि में गोचर का प्रभाव
25 Apr,2020
से
08 May,2020

बुध का गोचर बहुत तेजी वाला होता है। बुध का मेष राशि में होना बौद्धिकता में प्रखरता देने वाला होगा। चीजों को करने में गहराई के साथ साथ कुशलता और साहस भी अब अहम भूमिका अदा करेगी। इस समय बातों से अधिक कार्यवाही पर विचार हो सकता है। मेष राशि मंगल के स्वामित्व की राशि है जिसे अग्नि तत्व युक्त राशियों में गिना जाता है और मंगल की इस स्थान पर स्थिति व्यक्ति के मनोभावों में बदलाव दिखाती है। साथ ही फैसले प्रभावशाली रूप में दूसरों पर असर भी डालते हैं। बुध के द्वारा मेष राशि के लोगों की तर्क शक्ति उत्तम हो सकती है और साथ साथ कला कौशल में निखार देखने को मिल सकता है। किसी भी कार्य को करने में व्यक्ति बेहतर परिणाम प्राप्त करने के लायक बन सकता है। वाणी के प्रभाव द्वारा दूसरों पर अपनी छाप छोड़ने में भी सक्षम होगा। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर लग्न भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव के चलते आपके भीतर सामान्य लोगों से हटकर काम करने की इच्छा जागृत हो सकती है। यदि किसी ऐसे काम से जुड़े हुए हैं, जिसमें प्रतिभा का प्रदर्शन करने की आवश्यकता है तो उस स्थान पर बहुत अच्छा कार्य करने में सफल भी रह सकते हैं। साहस और शौर्य में इजाफा होगा। अपने निर्णयों में काफी अडिग रह सकते हैं। नेतृत्व करने की कुशलता तो होगी पर अब अपनी बातों द्वारा भी इसे चमका पाएंगे। आपके वक्तव्यों को दूसरों द्वारा ध्यान प्राप्त होगा और उस पर लोगों का विश्वास भी बढ़ेगा। वैवाहिक जीवन में प्रेम और सहयोग प्राप्त होगा। इस समय रोमांस आपके रिश्ते को ताजगी देने का कार्य भी कर सकता है। स्वास्थ्य के लिहाज से खानपान में लापरवाही परेशानी खड़ी कर सकती है। कार्यक्षेत्र में प्रगति के मौके भी आपके पास होंगे। अवसरों का लाभ उठाने के लिए समय अनुकूल रह सकता है। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit द्वादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय खर्चों की अधिकता रह सकती है, इसके साथ ही किसी बड़े निवेश करने भी विचार भी इस समय मन में आ सकता है। परिवार में काम को लेकर आपकी भागदौड़ बनी रह सकती है, परिश्रम अधिक रहने वाला है। नौकरी अथवा व्यापार में बाहरी संपर्क या दूरस्थ स्थानों से लाभ की प्राप्ति का भी योग बनता है। काम के क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा भी अधिक रहने वाली है, इसलिए जल्दबाजी के निर्णय लेने से बचना होगा। इस समय अपनी नीतियों को दूसरों से छुपा कर रखने की आवश्यकता होगी। कानूनी मसलों पर सलाह काम आएगी और जितना चीजों में स्थिरता बनाएंगे उतना लाभ मिलेगा। जीवन साथी के साथ कुछ मतभेद उभर सकते हैं या फिर प्रेम संबंधों में थोड़ी अनबन की स्थिति भी परेशानी का सबब बन सकती है। यह समय खुद पर ध्यान देने का होगा और दु:साहसिक कार्यों से बचने की आवश्यकता होगी। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव/Eleventh house को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव से आप को पद प्राप्ति हो सकती है। अतिरिक्त आय के साधनों के मिलने का भी योग इस समय पर आपके लिए फायदे का सौदा सिद्ध हो सकता है। जो लोग संचार इत्यादि के क्षेत्र से जुड़े हुए हैं, उन्हें अपने काम में बेहतर अवसर प्राप्त हो सकते हैं। परिवार में लोगों के साथ थोड़ा अनबन हो सकता है, लेकिन कुल मिलाकर स्थिति आपके नियंत्रण में होगी। अपने प्रेम द्वारा आप दूसरों को अपनी ओर आकर्षित करने में भी सक्षम होंगे। प्यार के मामले में आप काफी उत्सुक रहेंगे एवं नए संबंधों की ओर झुकाव भी रह सकता है। इस समय पर अपने मित्रों के साथ घूमने फिरने के मौके मिल सकते हैं। छात्रों को अपनी पढ़ाई में अच्छे अंक लाने का मौका भी प्राप्त होगा। एकाग्रता बढ़ेगी तथा सकारात्मक रुप से आगे बढ़ पाएंगे। 


मेष राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on cancer

कर्क राशि के लिए बुध दशम भाव को प्रभावित करने वाले हैं। बुध के कर्म भाव/Karma House को प्रभावित करने के कारण काम में बदलाव दिखाई दे सकता है। काम में आपकी व्यस्तता अधिक रह सकती है, लेकिन सहकर्मियों की ओर से बहुत अधिक सहयोग शायद न मिल पाए। इस समय पर वरिष्ठ अधिकारियों को संतुष्ट कर पाना आसान काम नहीं होगा, लेकिन आप अपनी कार्यकुशलता एवं शैली से उन्हें प्रभावित करने में सक्षम होंगे। यह समय आपके काम से जुड़ी यात्राओं की ओर भी संकेत करता है। परिवार को बहुत अधिक समय न दे पाने के कारण थोड़ा मन परेशान हो सकता है, लेकिन अपनी जिम्मेदारियों को निभाने में आप आगे रहेंगे। बाहरी संपर्क द्वारा काम में लाभ के मौके भी बनेंगे। इसके साथ ही मेहनत अधिक रहने वाली है। माता का सहयोग आपके लिए बहुत सकारात्मक रहेगा और रिश्तों में मजबूती बनी रहेगी। 


मेष राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव//Effect of Mercury transit in Aries on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर इनके नवम भाव/Ninth house पर प्रभाव डालने वाला होगा। बुध के कारण आपकी आध्यात्मिक उन्नति के साथ-साथ आपके सामाजिक क्षेत्र का विकास भी होगा। इस समय पर लोगों के साथ संपर्क बनेंगे। इस समय पर पिता का सहयोग आपको अपने काम में बेहतर प्रयास करने का अवसर देगा। सकारात्मक विचारों का आदान-प्रदान करेंगे। मेहनत द्वारा इनकम के स्रोत भी अच्छे होंगे। पारिवारिक जीवन में अपनों का सहयोग काम आएगा। इस समय पर भाई बंधुओं की ओर से कुछ सकारात्मक समाचार भी प्राप्त हो सकते हैं। धार्मिक क्षेत्र से जुड़ी यात्राएं अधिक हो सकती हैं। शिक्षा एवं अन्य चीजों पर खर्च अधिक रह सकता है। दांपत्य जीवन में किसी का आगमन रिश्तों में कुछ परेशानी खड़ी कर सकता है लेकिन आपके द्वारा लिए गए निर्णय इस स्थिति से बचने में सहायक भी होंगे। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर अष्टम भाव/Eighth house को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के इस गोचर द्वारा स्थिति मिले जुले परिणामों को दर्शाने वाली रह सकती है। कुछ लाभ मिल सकते हैं, लेकिन अचानक से उनमें व्यवधान की स्थिति भी उभर सकती है। इस समय पर संभल कर काम करने की सलाह दी जाती है। कोई भी जरुरी काम को करने से पूर्व सभी चीजों का ध्यान रखने की आवश्यकता होगी, जिससे की कोई कमी परेशानी का कारण न बन पाए। यह समय चुनौतीपूर्ण रह सकता है। बुध का आठवें भाव में गोचर के प्रभाव/Effect of mercury transit in eighth house के कारण स्वास्थ्य का भी ध्यान रखने की आवश्यकता होगी साथ ही खान-पान को संतुलित बनाए रखने की आवश्यकता होगी। इस समय पर काम काज में कुछ रुकावटें उभर सकती हैं जिसके कारण आत्मविश्वास कमजोर हो सकता है, कुछ लोगों का सहयोग काम आ सकता है लेकिन फिर भी इस समय पर दूसरों पर अधिक भरोसा करने से बचना ही उचित होगा। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Libra

आपकी राशि के लिए बुध सप्तम भाव/Seventh house पर प्रभाव डालने वाला होगा। बुध के प्रभाव द्वारा जीवन में प्रेम व उत्साह बना रह सकता है। रिश्तों को लेकर आप अधिक विचारशील रहेंगे। प्रेम संबंध हों या वैवाहिक जीवन दोनों में ही प्रेम की स्थिति को पा सकते हैं ध्यान रखना होगा की बहुत अधिक जल्दबाजी से बचें। कुछ  चीजों में आपके द्वारा की गई जिद परेशानी भी खड़ी कर सकती है। इस समय मित्रों का सहयोग मिलेगा और कुछ वस्तुओं की खरीद भी कर सकते हैं। साझेदारी से जुड़े कामों में कुछ लाभ प्राप्ति का अवसर भी दिखाई देता है, इसके अलावा नए काम को शुरू करने के बारे में भी विचार बन सकता है। आर्थिक रूप से बचत पर प्रभाव पड़ सकता है जिसका मुख्य कारण खर्चों के कारण ही होगा। करियर और कारोबार के क्षेत्र में नए आईडिया इस समय काम कर सकते हैं। मनोकूल परिणाम पाने के लिए संघर्ष होगा, पर सफलता के भी संकेत मिल सकते हैं। 

 

मेष राशि में मंगल के गोचर का  वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का गोचर छठे भाव/Sixth House को प्रभावित करने वाला होगा। यह समय आपकी काम करने की नीतियों में बदलाव भी संभव है, अपने विरोधियों की ओर से सावधानी बरतें इसके साथ ही काम के क्षेत्र में सहकर्मियों की ओर से सहयोग की कमी रह सकती है। जल्दबाजी में किए हुए काम से परेशानी हो सकती है। कुछ मामलों में सफलता वैसे न मिल पाए जैसा सोचा होगा लेकिन इस बात से निराश न हों क्योंकि स्थिति आपके पक्ष की रहेगी।  पैतृक संपत्ति द्वारा लाभ प्राप्त हो सकता है। परिवार में कुछ लोगों का व्यवहार चिंता बढ़ा सकता है। इस समय आप भी कुछ चिड़चिड़ाहट में रह सकते हैं, इसलिए वाद-विवाद से बचें तथा बातों को लम्बा खींचने से बचें। किसी प्रकार की चोट लगने का भय भी सता सकता है, त्वचा पर दाने इत्यादि भी उभर सकते हैं अधिक मसालेदार भोजन के बदले संतुलित भोजन अधिक फायदेमंद होगा। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर पंचम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। पंचम भाव/Fifth House पर बुध का प्रभाव आपकी कार्यकुशलता में वृद्धि देने वाला हो सकता है। नई चीजों को करने में आप आगे रह सकते हैं, प्रतियोगिताओं में आप सफलता भी प्राप्त कर सकते हैं। बाहरी संपर्क से फायदा मिल सकता है। छात्र नए संस्थानों में अपने लिए आवेदन इत्यादि की प्रक्रिया को अभी कर सकते हैं। उच्च शिक्षा के लिए भी मार्ग प्रशस्त होंगे। रिश्तों में एक दूसरे का सहयोग पाएंगे। प्यार के मामले में भाग्य का सहयोग मिल सकता है जिस कारण रिश्तों में मजबूती भी बनेगी। स्वयं में सकारात्मक पाएंगे तथा उसी के माध्यम से रचनात्मक एवं कला से जुड़े काम अच्छी सफलता दिलाने वाले होंगे। जो लोग रंगमंच से जुड़े हुए हैं उन्हें इस समय बेहतर परिणाम प्राप्त हो सकते हैं।

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Capricorn

इस समय आप दूसरों को आकर्षित कर पाने में भी सफल होंगे। आप का जोश व उत्साह दूसरों को प्रभावित करने वाला होगा, आपका संचार कौशल मजबूत रह सकता है। कुछ सामाजिक क्षेत्र में आपके काम की भूमिका को प्रशंसा भी प्राप्त हो सकती है। इस समय पर घर की साज-सज्जा पर भी ध्यान जा सकता है। कुछ नई वस्तुओं को खरीदने का मन बना सकते हैं। यह समय खर्च अधिक रहेगा लेकिन साथ ही काम में अतिरिक्त आय की प्राप्ति होने से स्थिति संतुलित रह सकती है। प्यार में साथी से दूरी रह सकती है काम की व्यस्तता व घरेलू जिम्मेदारियों के चलते स्वयं के लिए अधिक समय न मिल पाए। दांपत्य जीवन में जीवन साथी के स्वास्थ्य के चलते थोड़ी परेशानी हो सकती है।

 

मेष राशि में बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव/Third House को प्रभावित करने वाला होगा। बुध का तीसरे भाव पर प्रभाव होने के कारण उत्सुकता अधिक रह सकती है, घरेलू व काम के क्षेत्र में तेजी का समय रह सकता है। भागदौड़ अधिक रह सकती है। भाई बहनों के साथ कुछ झगड़ा हो सकता है लेकिन जल्दी सुलझ भी जाएगा। काम के क्षेत्र में इस समय दूसरों के साथ  सलाह मशवरा कर लेना अनुकूल होगा। यह समय कान से जुड़े रोग व कंधों की तकलीफ परेशान कर सकती है। इस समय वाहन का उपयोग करते समय तेजी का ध्यान रखें एवं वाहन की रखरखाव पर भी ध्यान देने की जरूरत है। माता की ओर से आपको प्रेम और सहयोग प्राप्त हो सकता है। बच्चों को लेकर घूमने फिरने का प्लान अभी शायद कुछ अधिक समय ले सकता है।  

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Pisces

मीन राशि वालों के लिए बुध का गोचर द्वितीय भाव को प्रभावित करने वाला होगा। धन भाव पर बुध का गोचर कई मामलों में प्रभावशाली रह सकता है। इस समय पर चुनौतियों का सामना करने की भी अच्छी कुशलता आप में हो सकती है। यह समय आप अपनी वाणी से दूसरों को प्रभावित करने में सक्षम हो सकते हैं। इस समय पर स्वास्थ्य कुछ प्रभावित रह सकता है। हार्मोनल बदलाव एवं सर्दी जुकाम बना रह सकता है। एलर्जी से होने वाले रोग भी परेशान कर सकते हैं। बैंक इत्यादि से जुड़े काम इस समय पर आप कर सकते हैं। कामकाज में अचानक से कुछ बदलाव भी रह सकता है, ऐसे में थोड़ी परेशानी होगी लेकिन जल्दी ही स्थिति नियंत्रण में आने लगेगी। धन लाभ के अवसर भी मिल सकते है, किसी को दिया हुआ धन भी प्राप्त हो सकता है।

बुध का मीन राशि में गोचर का क्या होगा प्रभाव | Mercury transit in Pisces
07 Apr,2020
से
24 Apr,2020

मीन राशि में बुध/Mercury transit in Pisces की स्थिति को बहुत अधिक अनुकूल नहीं माना गया है। ज्योतिष शास्त्र के नियमों के अनुसार मीन राशि में बुध कमजोर होता है और अपनी नीचस्थ में स्थित होता है। बृहस्पति के साथ बुध के संबंध भी अनुकूलता की कमी को दर्शाते हैं। बुध के गोचर का प्रभाव विभिन्न क्षेत्रों पर पड़ता है, जिसमें संचार, व्यापार, साझेदारी, वाणी  शामिल हैं, और यह याद रखने की क्षमता को भी प्रभावित कर सकता है। इसके अलावा, लेखांकन/Writing, विपणन/marketing और विश्लेषणात्मक/analysing कौशल ज्यादातर प्रभावित होते हैं। मीन राशि मोक्ष या शांति, विदेश जाने की संभावना, स्वास्थ्य, फिटनेस, ध्यान एकाग्रता जैसी बातों से प्रभावित होती है। इस समय पर बुध मीन राशि में रहकर मिले जुले प्रभावों को देता है। 

बुध के मीन राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit द्वादश भाव पर होगा। कुंडली का यह स्थान व्यय भाव का प्रतिनिधित्व करता है, और बुध इस स्थिति में प्रेम, संबंधों, शिक्षा, नीतियों इत्यादि बातों को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय पर कुछ ऐसे प्रभाव देखने को मिल सकते हैं जो आपके अनुरूप न हो पाएं तथा कुछ नकारात्मक प्रभाव भी डाल सकता है। इस दौरान लोगों को कई उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ता है। खर्चों में अधिकता तो होगी ही लेकिन साथ में एकाग्रता और ध्यान की कमी भी परेशान कर सकती है। चीजों को संभाल पाना कुछ मुश्किल हो सकता है। किसी गुरु का सानिध्य पाना चाहें या फिर किसी ऐसी संस्था से जुड़ना चाहें जो आपके आत्मिक विकास में सहायक बने। बाहरी संपर्क से लाभ पाने के लिए अभी संघर्ष बना रहेगा। इस समय पर संतान के स्वास्थ्य को लेकर माता-पिता चिंता कर सकते हैं। लोगों को भी अपने स्वास्थ्य का उचित ध्यान रखना होगा क्योंकि ग्रहों की चाल के प्रभाव के कारण, स्वास्थ्य में गिरावट देखी जा सकती है।अनिद्रा, मानसिक तनाव या त्वचा संबंधी रोग परेशान कर सकते हैं। 

बुध के मीन राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Taurus

वृषभ राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर एकादश भाव में होगा। बुध के इस स्थान पर होने के कारण आपके आर्थिक स्तर एवं परिवार एवं सामाजिक परिप्रेक्ष्य पर इसका असर अधिक दिखाई देगा। आप अपनी योजनाओं को लेकर उत्सुक होंगे लेकिन अभी लाभ प्राप्ति का स्तर कुछ धीमा रह सकता है। आपके पूर्व में किए गए कामों से आपको कुछ सकारात्मक परिणाम मिल सकते हैं लेकिन इस समय आर्थिक स्थिति को लेकर आप प्रयास भी अधिक करेंगे। इस समय परिवार और संतान पक्ष पर अधिक धन व्यय होता दिखाई देगा। अपने भाई बंधुओं के लिए भी आप अपनी ओर से कुछ न कुछ सहायक बन सकते हैं। सामाजिक स्तर पर आप कम भागीदारी लेना चाहें क्योंकि इस समय आप पर अन्य जिम्मेदारियां भी अधिक रह सकती हैं। मित्रों के साथ आप काफी मेलजोल कर सकते हैं कुछ नई चीजों की प्लानिंग भी आप इस समय पर करेंगे। इस समय आपके लिए जरूरी है कि अपनी बचत पर नजर बना कर आगे बढ़ा जाए अभी किया गया उचित निवेश आगे चलकर अच्छे परिणाम दे पाने में सहायक होगा। 
बुध के मीन राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Gemini

बुध का ये प्रभाव आपके लिए कई नई कार्यशैली को लाने वाला होगा। बुध ग्रह की दृष्टि चौथे भाव पर होगी जिसके कारण काम और परिवार को लेकर आप अधिक व्यस्त रह सकते हैं। आप घर के निर्माण से जुड़े कामों को कर पाएंगे। आप इस समय अपने सहकर्मियों के साथ मिलकर बहुत अधिक सहयोग न मिल पाएं। बुध का प्रभाव आपके करियर, संबंध, व्यवसाय आदि पर भी दिखाई देता है। आपको व्यवसाय के क्षेत्र में प्रयास अधिक करने की आवश्यकता होगी। इस समय आप कुछ सही निर्णय लेने में सक्षम होंगे, जो आपके भविष्य के लिए बहुत अनुकूल हो सकता है। आपको अति आत्मविश्वास से बचाना होंगे जो आपके काम में व्याकुलता को परेशानी देता है। इसके अलावा आप अपने परिवार के साथ एक यादगार समय बिताने में भी सफल हो सकते हैं। आपके परिवार के कुछ सदस्य आपके विरोध में भी खड़े रह सकते हैं इसलिए आपके लिए जरूरी होगा की आप सजग रह कर काम करें। 

बुध के मीन राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit नवम भाव पर होगा। इस समय पर आपके भाग्य स्थान पर बुध की स्थिति काफी प्रभावशाली होगी। आपको इस समय पर धन का व्यय आध्यात्मिक स्थिति पर होगा। गोचर के कारण ग्रह अपनी स्थिति द्वारा आप पर परिवार को लेकर काफी दबाव रह सकता है। आपको विदेश यात्रा का अवसर मिलेगा लेकिन खर्चों की अधिकता को दिखाती है। उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाने का प्रयास कर रहे छात्र किसी कारणवश मेहनत कर सकते हैं। राजनीति से जुड़े लोगों के लिए नए विकल्प सामने रह सकते हैं। पार्टनरशिप में चल रहे काम थोड़ा सुस्त हो सकते हैं या आपको अपने भागीदारों से बहुत अधिक सहयोग न मिल पाए। भागदौड़ अधिक रह सकती है। लेकिन इस समय पर लाभ प्राप्ति के लिए कोशिशें बनाए रखनी जरूरी होगी धीरे धीरे लाभ के अवसर आपके समक्ष होंगे। संचार से जुड़े काम में आप अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं तथा नई विचारों को भी सामने ला सकते हैं। अभिरुचियों के साथ आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा।  बाहरी लोगों के सतह संपर्क बनेगा ऑनलाइन दोस्ती और मीडिया में आप ज्यादा रुचि ले सकते हैं 

बुध के मीन राशि में गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Leo

सिंह राशि वालों के लिए बुध का गोचर आठवें भाव/Eighth house पर होगा। इस स्थान पर आप काफी प्रभावशाली होंगे। इस राशि के व्यक्ति इस अवधि में अपनी सफलता को लेकर आप काफी गंभीर रह सकते हैं। आप सामाजिक दायरे में भी काफी व्यस्त होंगे। आपके भीतर नई चीजों को जानने की इच्छा भी होगी। आप इस समय आध्यात्मिक गुढ़ विद्या को लेकर भी काफी उत्सुक दिखाई देंगे। आप अपने जीवन को एक नई दिशा दे सकते हैं। लेखन से जुड़े काम व शोध से जुड़े काम अच्छे रह सकते हैं। इस समय पर अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें कुछ कटुता या व्यंग्य का प्रभाव आपके बोलचाल में देखा जा सकता है। आपके आस-पास के लोग आपकी बातों को लेकर संजीदा रह सकते हैं। सामाजिक कार्यों और अन्य कार्यक्रमों को करने में भी रुचि होगी। भाई-बहनों के साथ आप सहयोग को पा सकते हैं। आपके लिए जरूरी होगा की सतर्क रहें और अपनी मुखर प्रतिभा को नियंत्रण में रखें अन्यथा बहुत अधिक मुखर होना आपको खतरे में भी डाल सकता है। काम के क्षेत्र में उतार-चढ़ाव बने रह सकते हैं।  

बुध के मीन राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Virgo

कन्या राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर प्रभाव काफी महत्वपूर्ण होगा, क्योंकि इस समय कन्या राशि का स्वामी बुध सप्तम भाव पर होगा। इस समय आप काम के क्षेत्र में और अपने आप में बदलावों को देख पाएंगे। कन्या राशि को पर इस गोचर का अनुकूल प्रभाव पड़ सकता है। साझेदारी में काम को लेकर अब आप कुछ उत्साहित होंगे, लेकिन आप इसमें अपने कार्यस्थल पर सुधार देखेंगे और गोचर का प्रभाव आपको अनुकूल परिणाम देगा।  इस राशि के लोगों को प्रमोशन/Job promotion मिलने के योग हैं। यहां तक कि, आपको वेतन वृद्धि भी मिलेगी जिससे आपके खर्चे कम होंगे। व्यवसाय को लेकर सजग होकर फैसले ले सकते हैं। अपने सभी ऋणों को चुकाने का अवसर मिल सकता है। सेहत के मामले में थोड़ा ध्यान रखने की आवश्यकता होगी, नियमित व्यायाम करना सेहत और मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छा होगा। अपने जीवन साथी के साथ संबंध मजबूत करने में सफल रहेंगे और उनकी सलाह आपके लिए काफी फायदेमंद रह सकती है। कुछ बातों में तनाव हो सकता है और निराशा का सामना करना पड़ सकता है लेकिन स्थिति में नियंत्रित रहेगी। 

बुध के मीन राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव//Effect of mercury transit in Pisces on Libra

तुला राशि वालों के लिए बुध का गोचर बुध ग्रह आपके छठे भाव में विराजमान आपके छठे भाव में गोचर के कारण आपको सफलता प्राप्त करने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है। काम के स्थान पर सहकर्मियों के साथ तालमेल की कमी भी परेशान कर सकती है। इससे आप काम को लेकर चिंता अधिक रह सकती है, आमदनी के लिए कोशिशें बनी रह सकती हैं। स्वास्थ्य को लेकर ध्यान बनाए रखने की आवश्यकता होगी। अपने आहार में लापरवाही और गलत लत के चलते किसी कारण से परेशानी में आ सकते हैं। आपको किसी भी प्रकार के तर्क-वितर्क या बहस में शामिल न होने का प्रयास करना चाहिए क्योंकि इस समय विवाद होने की समस्या सामने आ सकती है। दोस्तों के साथ आप काफी व्यस्त रह सकते हैं और इसी समय आप बाहरी लोगों के संपर्क में भी आ सकते हैं। इस समय पर दांपत्य जीवन में स्थिति थोड़ी मुश्किल रह सकती है दूसरों के चलते आपका रिश्ता इस समय प्रभावित हो सकता है। 

बुध के मीन राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Scorpio

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर पंचम भाव पर होगा। बुध आपके आठवें और ग्यारहवें भाव के स्वामी बनते हैं। इस समय पर आप कुछ अधिक उत्साहित रह सकते हैं, शिक्षा के क्षेत्र में स्थिति कुछ कमजोर हो सकती है। इस गोचर का परिणाम आपके प्रेम जीवन के संबंध में काफी अनुकूल और प्रतिकूल स्थिति होगी। अपने साथी के साथ समय बिताने का मौका भी मिल सकता है। इस समय पर अपनी जिद में भी आप अधिक रह सकते हैं इस कारण कुछ गलतफहमियां पैदा हो सकती हैं। छात्रों को अपनी पढ़ाई को लेकर तनाव रहेगा और प्रतिस्पर्धा भी अधिक रह सकती है। बच्चों को लेकर और उनके स्वभाव के चलते कुछ चिंता रह सकती है। लॉटरी, शेयर बाजार से जुड़े काम में अधिक धन लगाना अनुकूल नहीं होगा। इस समय दूसरों को उधार देने से बचना चाहिए। कई स्रोतों से कमाई के मार्ग खुल सकते हैं। इस समय पर कड़ी मेहनत और समर्पण आपको सफलता की ओर ले जाएगा।

बुध के मीन राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Sagittarius 

धनु राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर चतुर्थ भाव/Fourth house पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति के कारण आप अपने ओर आस पास के लोगों की स्थिति को लेकर अधिक सोच विचार में रह सकते हैं।  इस गोचर के दौरान लाभ मिल सकता है और अपने काम के क्षेत्र में भी कुछ लोगों का सहयोग आगे बढ़ाने में सहायक बन सकता है। इस समय पर आपको सलाह अधिक मिल सकती है। नौकरी पेशा वाले अपने-अपने क्षेत्रों में कुछ बदलाव देख पाएंगे तथा इस समय साझेदारी से बने हुए काम कुछ नए स्तर पर आगे बढ़ सकता है। काम के लिए आपके कर्मचारियों द्वारा आपकी प्रशंसा भी हो सकती है। वेतन वृद्धि या पदोन्नति मिलने का भी मौका मिलेगा। इस समय परिवार में किसी व्यक्ति के द्वारा चीजों में बदलाव करने की आवश्यकता होगी। कुछ वैवाहिक मामलों के चलते भी रिश्ते में लोगों का हस्तक्षेप रह सकता है। घरेलू स्तर पर आर्थिक स्थिति भी थोड़ी खर्च की अधिकता के चलते प्रभावित भी होगी। भाई-बहनों के साथ संबंध अनुकूल रह सकते हैं। आपका साथी कुछ आगे बढ़कर फैसले भी ले सकता है। इस समय आपका स्वास्थ्य स्थिर रहेगा, लेकिन घर पर किसी ओर की चिंता थोड़ी परेशान कर सकती है। 

बुध के मीन राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Capricorn

मकर राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर तृतीय स्थान/third house पर होगा। इस स्थान पर बुध का प्रभाव आपके विकास में वृद्धि करने वाला होगा यह स्थिति जीवन के विभिन्न क्षेत्रों पर दिखाई देगी। आप आत्मविश्वास से भरे हो सकते हैं अपनी इच्छाओं को पूरा करने के लिए भी आप आगे रह कर काम करना चाहें। इस समय कुछ भ्रमण के योग बनेंगे। अचानक से ही परिवार के साथ या फिर अकेले ही यात्रा इत्यादि पर जाने का मौका मिल सकता है। 

भाग्य का सहयोग भी इस समय आपकी प्रतिभा को बढ़ाने का अवसर देगा। संचार एवं लेखन से जुड़े काम कर रहे लोगों को कुछ बेहतर अवसर मिल सकते हैं। बुद्धि व स्मरण शक्ति अच्छी होगी शिक्षा को लेकर एकाग्रता अब काम आएगी और जीवन के विभिन्न पहलुओं में सफलता प्राप्त करने की आपकी कोशिशों को सकारात्मकता भी प्राप्त हो सकती है। काम के दौरान अपने सहकर्मियों के साथ आपके मतभेद अधिक रह सकते हैं लेकिन अपनी सुनियोजित योजनाओं द्वारा आप उन पर नियंत्रण कर पाने में भी सक्षम होंगे। 

बुध के मीन राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Aquarius

कुंभ राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव/Second house पर होगा। इस समय आप नए मित्र बनाएंगे और आपकी वाक कुशलता दूसरों को प्रभावित करने वाली होगी। यह समय आपके जीवन पर सकारात्मक और नकारात्मक दोनों प्रभाव डाल सकता है। आपके पिता या किसी बड़े के साथ आपके विवाद कुछ शांत होंगे और उनकी ओर से सहयोग को पा सकते हैं। किसी पुराने काम में चला आ रहा विलंब अब दूर हो सकता है। घर पर लोगों के साथ कुछ सौहार्दपूर्वक समय बिताने का भी अवसर मिल सकता है। अपने प्यार को लेकर आप अभी किसी अपने के समक्ष दिल की बात भी रख सकते हैं, वैसे ऐसा करने में उन्हें कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा लेकिन फिर भी आप हर उठने वाले विवाद को दूर करने का एक तरीका खोज ही लेंगे। इस समय धैर्य के साथ काम करना उचित होगा। आर्थिक क्षेत्र में लाभ का अवसर मिलेगा अपने बचत को लेकर भी आप कुछ काम कर सकते हैं। कुछ अप्रत्याशित स्रोतों से लाभ मिलने की प्रबल सम्भावना भी बनती है। दोस्त और परिवार आपका सहयोग कर सकते हैं बस इस समय अपने गुप्त शत्रुओं से सावधान रहने की जरूरत होगी। स्वास्थ्य के लिहाज से गले और त्वचा से संबंधित रोग परेशानी दे सकते हैं। 

बुध के मीन राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/ /Effect of mercury transit in Pisces on Pisces

मीन राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर/Mercury transit इनकी राशि पर ही होगा। बुध का प्रभाव इन्हें वैचारिक क्षेत्र में कई नई चीजों से रुबरु कराने वाला हो सकता है। इस समय आप स्वयं को लेकर भी काफी सोच विचार में रह सकते हैं। कुछ नई वस्तुओं की खरीद फरोख्त कर सकते हैं साथ ही अपने रहन सहन में बदलाव भी कर सकते हैं। इस समय स्वास्थ्य को लेकर भी आप में चिंता रह सकती है इसलिए उचित स्वास्थ्य सेवा लेने की सलाह दी जाती है। नौकरी के क्षेत्र में अपने प्रतिद्वंद्वियों से सुरक्षित न रह पाएं कुछ प्रतिस्पर्धा अथवा गुप्त शत्रुओं द्वारा तनाव बना रह सकता है। नौकरी बदलने की योजना बना रहे हैं, तो अभी कुछ और समय की प्रतीक्षा करना बेहतर होगा। अपने काम को लेकर सावधान रहना चाहिए क्योंकि उनके प्रतिद्वंद्वी आपकी छवि खराब करने का प्रयास कर सकते हैं। वैवाहिक जीवन में आपको अपने साथी पर उचित ध्यान देने की आवश्यकता होगी जिससे एक-दूसरे को बेहतर तरीके से जानने में मदद मिलेगी।

बुध‌ ‌का‌ ‌मिथुन‌ ‌राशि‌ ‌में‌ ‌गोचर‌/Impact of Mercury transit in Gemini‌ on other zodiac sign
24 May,2020
से
01 Aug,2020

बुध‌ ‌का‌ ‌मिथुन‌ ‌राशि‌ ‌में‌ ‌गोचर‌/Mercury transit in Gemini करना शुभता एवं प्रभावशाली ‌स्थिति‌ ‌को‌ ‌दर्शाता‌ ‌है।‌ ‌मिथुन‌ ‌राशि‌ ‌बुध‌ ‌के‌ ‌स्वामित्व‌ ‌की‌ राशि है। इस कारण से जब बुध मिथुन राशि में गोचर करते हैं तो बुध के गुणों में विस्तार होता है। ‌बौद्धिकता‌ ‌एवं‌ कलात्मक अभिव्यक्ति ‌को‌ ‌मजबूती‌ ‌प्राप्त‌ ‌होती‌ ‌है।‌

मिथुन राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव/Third House पर होगा। बुध के गोचर द्वारा आपके आत्मविश्वास और इच्छाशक्ति में वृद्धि होगी। इस गोचर के आप को सकारात्मक फल देखने को मिल सकते हैं। आप कुछ अच्छे कार्य करने में सफल होंगे। छात्र अपनी पढ़ाई में ध्यान केंद्रित कर पाएंगे, नई चीजों को सीखने के प्रति अधिक इच्छुक दिखाई देंगे। आपकी मेहनत और प्रयास ही सफलता की राह पर ले जाने में सहायक बनेंगे। नौकरीपेशा लोगों के लिए यह समय स्थिरता और बेहतर वातावरण में काम करने का मौका दिलाने वाला हो सकता है। वरिष्ठ अधिकारियों की ओर से प्रशंसा प्राप्त हो सकती है। काम को समय पर पूरा कर पाने में सक्षम भी होंगे। जीवनसाथी के साथ कुछ अच्छा समय  बिताने के अवसर प्राप्त हो सकते हैं। स्वास्थ्य के लिहाज से समय सामान्य रह सकता है। अपनी ऊर्जा का उपयोग जिम या खेल जैसी कुछ शारीरिक गतिविधियों में कर सकते हैं। धनार्जन के अच्छे स्रोत प्राप्त कर सकते हैं।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Taurus

वृषभ राशि के लिए इस समय बुध का गोचर दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। आर्थिक क्षेत्र में आगे बढ़ने के बेहतर अवसर रहेंगे, यह गोचर लाभ कमाने के कुछ महत्वपूर्ण मौके लेकर आएगा। इस अवधि में आपके व्यवसाय, करियर, स्वास्थ्य, परिवार और अन्य से संबंधित चीजों में बदलाव की स्थिति देखने को मिल सकती है। संपत्ति के माध्यम से भी लाभ प्राप्ति का योग बना हुआ है और यदि कोई संपत्ति से जुड़ा विवाद है तो वह सुलझ सकता है। धनार्जन होने की अच्छी संभावना इस समय पर बनी रहने वाली है। जीवन साथी/Life partner के साथ तर्क-वितर्क रह सकता है लेकिन उनकी ओर से आपको कई मामलों में सहायता भी प्राप्त हो सकती है। अपनी योजनाओं को अभी किसी के साथ साझा करने से बचना ही बेहतर होगा। कार्यक्षेत्र में कुछ नए प्रस्ताव मिल सकते हैं। नौकरीपेशा लोगों को इस समय कार्यालय की राजनीति से दूर रहने की सलाह दी जाती है क्योंकि आपके विरोधी आपकी छवि को प्रभावित कर सकते हैं। स्वास्थ्य के लिहाज से ध्यान बनाए रखने की आवश्यकता होगी।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर उन्हीं की राशि पर होने से कुछ सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। इस समय बौद्धिकता उत्तम होगी वाक चातुर्य प्राप्त होगा तथा अपनी योग्यता द्वारा आप काम के क्षेत्र में बेहतर परिणाम प्राप्त करने में भी आगे रह सकते हैं। आपके व्यक्तित्व में एक नया आकर्षण दिखाई देगा जो लोगों को आपकी ओर आकर्षित करने में सफल होगा। नए दोस्त बनाने का मौका मिलेगा और उनके साथ कुछ मौज मस्ती के अवसर भी प्राप्त हो सकते हैं। वैवाहिक जीवन में साथी का प्रेम प्राप्त होगा। माता-पिता का आशीर्वाद मिलेगा, और घरेलू जीवन में कुछ प्रेम और सहयोग की अच्छी स्थिति देखने को मिल सकती है। कार्यक्षेत्र में अधिक परिश्रम करने की आवश्यकता होगी एवं काम को बीच में न छोड़ते हुए उसे समय पर पूरा करना आपके हित में होगा। वाद-विवाद से बचें और जितना संभव हो सके शांति के साथ मसलों को सुलझाने की कोशिश करें। सेहत अच्छी रहेगी और आप ऊर्जावान महसूस कर सकते हैं।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Cancer

कर्क राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर बारहवें भाव/Twelfth house को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर के प्रभाव स्वरूप आपके खर्चों में वृद्धि देखने को मिल सकती है तथा स्वास्थ्य संबंधी कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इस समय पर अपनी सेहत पर ध्यान बनाए रखें। मानसिक तनाव से बचें क्योंकि इसका प्रभाव आपको परेशानी दे सकता है अपनी भोजन संबंधी आदतों में लापरवाही से बचने की आवश्यकता होगी। इस समय पर कुछ लंबी दूरी की यात्रा अथवा विदेश यात्रा का भी अवसर प्राप्त हो सकता है। यात्राओं के चलते खर्च में भी वृद्धि देखने को मिल सकती है। इस अवधि में कोई नया ऋण लेने या बहुत अधिक निवेश करने से बचना चाहिए अन्यथा नुकसान हो सकता है। जीवन साथी को समय न दे पाने के कारण रिश्तों में दूरी या तनाव उभर सकता है। इस समय साथी के साथ कुछ क्वालिटी टाइम बिताने पर ध्यान देना चाहिए, और किसी भी तरह की बहस से बचना चाहिए।  अगर आप नौकरी बदलने या नई नौकरी की कोशिश कर रहे हैं तो सकारात्मक परिणाम मिल सकते हैं।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव/Eleventh House में होगा, बुध के प्रभाव से आर्थिक क्षेत्र में नए अवसर प्राप्त हो सकते हैं। सिंह राशि के लिए बुध का गोचर नवीन आय के स्त्रोत, योग्यता में वृद्धि, काम के क्षेत्र में नए मौके भी दिलाने वाला हो सकता है। इच्छा और आवश्यकता को पूरा करने में आप काफी सक्षम रह सकते हैं। सामाजिक क्षेत्र में आपके कामों की सराहना भी की जा सकती है। आप बौद्धिक एवं सकारात्मक विचारों से समृद्ध होंगे, यह स्थिति आपके लिए लाभदायक रह सकती है। नई चीजें सीखने का मौका मिलेगा, नए स्थानों पर जाने का अवसर भी मिल सकता है कुछ नवीन जानकारियां मिल सकती हैं। वैवाहिक जीवन में कुछ अच्छे पलों को बिताने का समय बना हुआ है। यदि साथी के साथ कुछ अनबन हो भी जाती है तो आप उसे चतुराई से संभाल सकते हैं। स्वास्थ्य सामान्य रहने वाला है, अपने आसपास स्वच्छता बनाए रखने से आप सेहत को अच्छा बनाए रख सकते हैं।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर दशम भाव पर होगा। बुध के प्रभाव द्वारा आपको नए कामों में शामिल होने का मौका मिल सकता है। दशम भाव आपके कार्यक्षेत्र और व्यक्तिगत जीवन/personal life का प्रतिनिधित्व करता है। ऊर्जावान होकर काम करेंगे, अपने काम को उत्कृष्टता के साथ पूरा करने की तथा अधिक ध्यान रह सकता है। वरिष्ठ अधिकारी एवं सहकर्मी आपकी कड़ी मेहनत और प्रयास को समझेंगे, आपको उनका सहयोग भी प्राप्त हो सकता है। प्रेम संबंधों में स्थिति अनुकूल दिखाई देती है। साथी का सहयोग और रिश्ता प्रेम पूर्वक आगे बढ़ता दिखाई दे सकता है। आप दोनों ही एक दूसरे के प्रति सम्मान और विश्वास बनाए रखेंगे। यह समय कुछ विदेश यात्रा के अच्छे अवसर दे सकता है। बाहरी संपर्क द्वारा कार्यक्षेत्र के साथ-साथ अन्य चीजों में भी फायदा मिलने की संभावना दिखाई देती है। स्वास्थ्य सामान्य रहेगा योग इत्यादि क्रियाओं द्वारा सेहत को बेहतर बनाए रखने में मदद मिलेगी।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध का गोचर महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा आपको वित्तीय लाभ प्राप्त हो सकते हैं। यह समय निवेश करने के लिए अनुकूल रह सकता है। आपके द्वारा किए कामों में अच्छा मुनाफा प्राप्त करने के अवसर भी मिलते दिखाई देते हैं। इस समय पर आवश्यकता होगी सोच समझ कर काम करने की तथा कागजी कार्यवाही इत्यादि पर ध्यान देने की क्योंकि लापरवाही द्वारा आने वाले समय में नुकसान की स्थिति भी प्रभावित कर सकती है। आवश्यक बातों को नजरअंदाज करने से बचना होगा। सामाजिक क्षेत्र में आप प्रगतिशील कार्यकर्ता के रूप में मौजूद रह सकते हैं। सामाजिक मेल मिलाप का समय भी बना हुआ है। काम के सिलसिले में कुछ यात्राएं भी हो सकती हैं जो व्यवसाय के लिए भी फायदेमंद होंगी। नौकरीपेशा वालों को अपना काम पूरी लगन और मेहनत से करना होगा, वैवाहिक जीवन में साथी को आपसे मानसिक और शारीरिक रूप से सहयोग की आवश्यकता रह सकती है। रिश्तों में खुशी और सद्भाव बना रहेगा तथा भाई बंधुओं का सहयोग भी मिल सकता है। कार्यालय की राजनीति से दूरी बनाए रखने की सलाह दी जाती है, क्योंकि दूसरे लोग इसका फायदा उठा सकते हैं जिस कारण आपकी छवि प्रभावित हो सकती है।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का गोचर अष्टम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के इस स्थान पर गोचर द्वारा मिश्रित फलों की प्राप्ति हो सकती है। यह समय कई सकारात्मक प्रभावों के साथ-साथ कुछ नकारात्मक प्रभाव भी दे सकता है। आय के स्रोत बनेंगे लेकिन आर्थिक क्षेत्र में खर्चों की अधिकता भी परेशानी का कारण बन सकती है। कुछ छोटे नुकसान होने की संभावनाएं भी बनती है जिसके चलते बचत पर असर पड़ सकता है। वैवाहिक जीवन में साथी के साथ अनबन रह सकती है या परिवार की ओर से सहयोग की कमी परेशान कर सकती है। प्रेम संबंधों में प्रेमी के साथ भी वाद-विवाद बना रह सकता है, हालांकि यह स्थिति लंबे समय तक नहीं रहेगी। इस समय धैर्य और शांति के साथ काम करने का सुझाव दिया जाता है इसी के द्वारा चीजों को बेहतर कर पाने में सक्षम भी होंगे । इस दौरान अपने स्वास्थ्य को नजरअंदाज करने से आपको परेशानी हो सकती है। यह समय गले, त्वचा से जुड़े रोग प्रभाव डाल सकते हैं, इसलिए आपको अपने स्वास्थ्य को लेकर उचित सावधानियां बरतने की आवश्यकता होगी।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर सप्तम भाव पर होगा, बुध के इस स्थान पर गोचर द्वारा आपकी भाषा शैली, व्यवहार, आर्थिक स्थिति प्रेम संबंधों इत्यादि पर प्रभाव अधिक दिखाई देगा। आपके घरेलू जीवन पर इसका असर देखने को मिल सकता है। अपनों से कुछ लाभ मिल सकता है और उनके साथ अच्छा समय बिताने का मौका भी मिलेगा। आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। व्यापार में कुछ गुप्त स्रोतों या पूर्व में किए गए निवेशों के माध्यम से मुनाफा प्राप्त हो सकता है। यदि को कर्ज की स्थिति बनी हुई है तो उसे चुकाने में सक्षम रह सकते हैं। कार्यक्षेत्र में बदलाव दिखाई दे सकते हैं और पदोन्नति मिलने की भी संभावना बनती है। इस समय प्रेम संबंधों में नया अवसर मिलेगा या किसी नवीन रिश्ते में भी आगे बढ़ने की संभावना दिखाई देती है। दांपत्य जीवन/Married life में साथी के साथ आपकी कुछ नोकझोंक लगी रह सकती है, लेकिन स्थिति नियंत्रण में रहेगी। कुल मिलाकर धनु राशि के लोगों के लिए यह गोचर सकारात्मक सिद्ध हो सकता है।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर छठे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। छठे भाव में स्थित बुध के प्रभाव से प्रतिस्पर्धाओं का दौर होगा लेकिन आप उसमें अपनी कुशलता द्वारा विरोधी को भी अपने पक्ष में लेकर चलने में सफल रह सकते हैं। कार्यक्षेत्र में सफलता के मौके मिल सकते हैं नए काम में शामिल हो सकते हैं। खर्च अधिक होंगे लेकिन कमाई के साधन भी विकसित होंगे। आर्थिक स्थिति में सकारात्मक प्रभाव भी देखने को मिल सकता है।आपके काम को अधिकार्यों द्वारा गहराई से जांचा जा सकता है इसलिए काम में लापरवाही से बचना होगा, परिश्रम एवं लगन ही प्रशंसा दिलाने में सहायक होगी। इस अवधि के दौरान नए काम की प्राप्ति और पदोन्नति मिलने का अवसर भी प्राप्त हो सकता है जिसके चलते आय में वृद्धि का योग बनेगा। व्यापार के मामले में सकारात्मक परिणाम दिखाई दे सकते हैं, आप विभिन्न स्रोतों से लाभ अर्जित करने की कोशिशों में रह सकते हैं। संपत्ति निवेश से लाभ मिल सकता है। इस समय पर चोट इत्यादि लगने का भय भी बना हुआ है इसलिए सावधानी से काम करें। शरीर में थकान, व कमजोरी महसूस हो सकती है इसलिए भोजन में लापरवाही से बचना चाहिए। वैवाहिक जीवन में स्थिरता रह सकती है विवाद होंगे लेकिन अलगाव से बचाव होगा।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Aquarius

कुंभ राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर पंचम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के गोचर का प्रभाव बुद्धि और ज्ञान पर सकारात्मक प्रभाव डालने वाला होगा। आपका संचार कौशल अच्छा रह सकता है और दूसरों को अपनी जानकारियों द्वारा प्रभावित करने में भी सक्षम रह सकते हैं। जो लोग मिडिया, लेखन, शिक्षा इत्यादि के कार्यों से जुड़े हों उन्हें लाभ मिल सकता है। संचार और बुद्धि के मिश्रण से अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है। काम काज से जुड़े लोगों को आर्थिक क्षेत्र में कुछ वेतन वृद्धि मिल सकती है। संपत्ति और अन्य क्षेत्रों में निवेश करने का अच्छा मौका मिल सकता है। कारोबार में भी इस गोचर द्वारा मुनाफे की स्थिति देखने को मिल सकती है। आप सामाजिक क्षेत्र में आगे रह सकते हैं और कुछ नए लोगों के साथ मुलाकातें हो सकती हैं साथ ही नए मित्र बनने भी संभावना दिखाई देती है। प्यार में आपको रोमांस करने का पूरा मौका मिल सकता है अपने प्रेम संबंधों को आप बेहतर कर सकते हैं। पार्टनर भी हर कदम पर आपका साथ देने के लिए तैयार रह सकता है। जीवन साथी/Life partner का सहयोग सफलताओं में सहायक बन सकता है। स्वास्थ्य कुछ खराब हो सकता है, इसलिए अपने स्वास्थ्य को लेकर उचित सावधानी बरतने की आवश्यकता है। नियमित व्यायाम या योग करें और अपना आहार को संतुलित बनाए रखने की कोशिश करनी चाहिए।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit चतुर्थ भाव/Fourth House को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय बुध के प्रभाव से घरेलू जीवन और पेशेवर जीवन पर महत्वपूर्ण प्रभाव देखने को मिल सकता है। आप अपने जीवन के कुछ यादगार पल पा सकते हैं। माता-पिता की ओर से आपको प्रेम व आशीर्वाद प्राप्त होगा। इस समय पर परिवार की ओर से सहयोग द्वारा काम में बेहतर कर पाएंगे। कुछ नई वस्तुओं की खरीद कर सकते हैं। कार्यक्षेत्र में आपको यात्राओं का मौका मिल सकता है और काम में कुछ सफलता मिल सकती है। आपको अपने ध्यान को भटकाव से बचाना चाहिए। इस समय पर काम को टालें नहीं और आलस्य  अथवा कार्यालय की राजनीति से बचने की आवश्यकता है। आपके दुश्मन मौका मिलने पर आपकी छवि खराब करने की कोशिश कर सकते हैं इसलिए सूझबूझ द्वारा काम करें। आपके साथी को आपके साथ समय बिताने की इच्छा रह सकती है ऎसे में उनका साथ निभाएं। प्रेम संबंधों में समय का अभाव दूरी उत्पन्न कर सकता है। समाज में भी आपकी छवि अच्छी बनी रह सकती है। आप कुछ लोकहित से जुड़े कार्य भी कर सकते हैं। स्वास्थ्य के लिहाज से स्थिति सामान्य रह सकती है।

बुध का वृषभ राशि में गोचर/Mercury transit in Taurus
09 May,2020
से
23 May,2020

वैदिक ज्योतिष के अनुसार बुध ग्रह व्यक्ति की बुद्धि, वाणी, संचार, निर्णय लेने की क्षमता एवं व्यवहार को प्रभावित करता है। राशि चक्र में दूसरी राशि वृषभ है और इसका स्वामी ग्रह शुक्र है, जिसका बुध के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध माना गया है। इसके साथ ही, यह राशि किसी की इच्छा शक्ति, कठोरता, आय, लक्ष्यों, महत्वाकांक्षाओं, परिवार और दोस्तों आदि का प्रतीक होता है। बुध ग्रह, वृषभ के दूसरे और पांचवें भाव का स्वामी होता है। वृषभ राशि पर बुध का प्रभाव वृषभ राशि के लिए अनुकूल प्रभाव देने वाला माना गया है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, आपका दूसरा भाव किसी के पारिवारिक संबंधों, व्यावसायिक परिस्थितियों, नौकरी, प्रतिभा और भौतिकवादी चीजों जैसे संपत्ति, खाद्य पदार्थ, संपत्ति, संसाधन आदि को दर्शाता है। वहीं, आपका पंचम भाव रचनात्मक प्रतिभा, शैक्षणिक योग्यता, मनोरंजन, ऊर्जा और उत्साह, नई चीजों में रुचि, प्रतियोगिता आदि का प्रतिनिधित्व करता है। इसलिए इन सभी क्षेत्रों में बुध के गोचर/Mercury transit in Taurus का कुछ न कुछ प्रभाव अवश्य देखने को मिल सकता है।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। आपकी राशि के दूसरे भाव में बुध ग्रह का गोचर होने से वाणी एवं ज्ञान पर अनुकूल प्रभाव देखने को मिल सकता है। आप अपने विचारों को धाराप्रवाह रूप से व्यक्त करने में सक्षम होंगे। लोग आपके अच्छे इरादों को समझेंगे और आपको उनका पूरा सहयोग मिल सकता है। कार्यक्षेत्र में सहकर्मियों का सहयोग भी प्राप्त हो सकता है। आपके विचारों की उत्कृष्टता एवं आपका आत्मविश्वास आपको सफलता दिलाने में सहायक सिद्ध हो सकता है। हालाँकि कुछ मामलों में आपके आत्मविश्वास और वाणी के प्रभाव से दूसरे लोग आपसे ईर्ष्या भी कर सकते हैं, साथ ही कुछ मामलों में तर्क-वितर्क विवाद की स्थिति में भी पहुंच सकता है इसलिए आवश्यकता होगी स्वयं को शांत बना कर रखने की ओर व्यर्थ के विवाद से खुद को बचाने की कोशिश करें। संपत्ति या निवेश के माध्यम से लाभ कमाने की अच्छी संभावना देखने को मिल सकती है। प्रेम संबंधों में थोड़ा कमी देखने को मिल सकती है। खानपान में ध्यान रखने और नियमित रुप से व्यायाम इत्यादि क्रियाओं को जीवन शैली में शामिल करने से आपका स्वास्थ्य अच्छा बना रह सकता है। आप कुछ खेल गतिविधियों में भी शामिल हो सकते हैं जो आपको फिट रखने में सहायक होंगी।

वृषभ राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर इनके लग्न भाव/Ascendant को प्रभावित करने वाला है अर्थात इनकी ही राशि पर होने वाले बुध के गोचर के कारण इनका व्यक्तित्व और विचारधारा में बदलाव और स्थिरता देखने को मिल सकती है। इसके प्रभाव से आप अपनी वाक कौशल में सुधार एवं बदलाव को देख पाएंगे। आपके बोलने का प्रभावशाली तरीका कई लोगों को आकर्षित करने में सक्षम होगा। आपको एक मजबूत व्यक्तित्व प्राप्त हो सकता है। इस समय के दौरान आप मृदुभाषी और विनम्र व्यवहार से युक्त होंगे जो सभी के दिलों को छू लेने वाला होगा। इस समय संबंधों में आपको कुछ सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है। आपसी समझ और प्रेम में वृद्धि होगी। इस समय को वृषभ राशि के लोग शांति और सद्भाव से व्यतीत करने में सक्षम होंगे। कार्यक्षेत्र में आपको अपनी मेहनत और लगन के कारण सफलता भी प्राप्त हो सकती है। यह समय जरूरी है कि कार्यालय की राजनीति से दूर रहें। अपने काम को समय रहते पूरा करने का प्रयास करें। स्वास्थ्य सामान्य रह सकता है, उचित आहार शैली और नियमित व्यायाम द्वारा आप अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रख सकते हैं।

वृषभ राशि पर बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर द्वादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर के प्रभाव से आपकी आर्थिक स्थिति पर असर पड़ सकता है, क्योंकि द्वादश भाव व्यय का भाव भी होता है। ऐसे में खर्चों की अधिकता बनी रहने से बचत प्रभावित हो सकती है। बुध ग्रह आपकी राशि के बारहवें भाव/Twelfth house में होगा, जो मानसिक तनाव और काम की क्षमता को दर्शाने वाला होगा। इस समय के दौरान, मानसिक और शारीरिक रूप से कुछ तनावपूर्ण स्थिति से गुजरना पड़ सकता है। इसलिए, बहुत अधिक कार्य करके अपने आप को तनाव में न डालें और काम में संतुलन बनाए रखने का प्रयास करें।  व्यावसायिक गतिविधियों में भाग्य का सहयोग मिल सकता है और लाभ के अवसर प्राप्त हो सकते हैं। इस समय पर खर्चों पर नज़र बनाए रखना आवश्यक होगी अन्यथा अनावश्यक खर्च करना आपको परेशानी में भी डाल सकते हैं। अपने साथी के साथ लम्बी दूरी की यात्रा पर जाने का अवसर मिल सकता है। प्रेम संबंधों में बनी दूरी को समाप्त करने के लिए किए गए आपके प्रयास ही आपको बेहतर फल दे सकते हैं। कार्यक्षेत्र अथवा किसी भी काम में विलम्ब की स्थिति से बचें। समय पर काम पूरा करने से आपको अच्छे लाभ की प्राप्ति भी हो सकती है। 

वृषभ राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के लाभ भाव पर गोचर के कारण आपको आर्थिक रूप से कुछ अच्छे संकेत देखने को मिल सकते हैं। इस समय पर आपको अपने वित्त, रिश्ते, परिवार, काम-काज, बौद्धिकता आदि के मामले में कुछ लाभ प्राप्त करने के अवसर मिल सकते हैं। विदेश व्यापार के माध्यम से काम में वृद्धि, नए संबंध बनाने और अपने वित्तीय क्षेत्रों में  लाभ प्राप्ति के मौके मिल सकते हैं। इस समय दांपत्य जीवन/Married life में साथी की ओर से सहयोग की प्राप्त होती दिखाई देती है। रिश्तों में मजबूती देखने को मिल सकती है। प्रेम संबंधों में स्थिति अनुकूल होगी और साथी के साथ आपसी समझ में भी मजबूती मिलेगी। कुछ बातों को लेकर नोकझोंक की स्थिति उभर सकती है, लेकिन अपने स्नेह और प्रेम द्वार आप उन्हें दूर कर सकते हैं। इस समय पर अपने अधिकारियों की ओर से सहयोग मिल सकता है और किसी वरिष्ठ सदस्य का सहयोग काम आ सकता है। अपने बौद्धिक विचारों से अलग अच्छी छवि बनाने में भी सफल हो सकते हैं। इस समय पर स्वास्थ्य को नजरअंदाज न करें, इस समय पर धूल-हवा और साफ सफाई में कमी के चलते स्वास्थ्य प्रभावित हो सकती है, इसलिए अपना और अपने आस-पास की साफ सफाई एवं सुरक्षा का उचित ख्याल रखने की आवश्यकता होगी। 

वृषभ राशि में बुध के गोचर का सिंह पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का प्रभाव इनके दशम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के कर्म भाव पर होने से आपके काम काज का क्षेत्र प्रभावित होगा। बुध के इस गोचर का आपके जीवन पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ सकता है। ऑफिस में आप अधिक केन्द्रित दिखाई दे सकते हैं।  इस समय आपके काम की सहयोगियों और वरिष्ठों द्वारा प्रशंसा भी की जा सकती है। आपके काम में आपकी उत्कृष्टता और समर्पण शैली ही आपकी सफलता का मुख्य आधार होगी। कुछ वरिष्ठ अधिकारी आपके पक्ष में फैसले भी ले सकते हैं। परिवार में सुख समृद्धि का योग बनता है, प्रेम संबंधों में सकारात्मकता बनी रहने से स्थिति अनुकूल होगी। आपको अपने जीवनसाथी/Life partner और प्रेमी की ओर से भरपूर सहयोग प्राप्त हो सकता है। आपको अपने लोगों का साथ हर कदम पर मिल सकता है। स्वास्थ्य सामान्य रह सकता है, इस समय पर स्पोर्ट्स या योग इत्यादि शारीरिक गतिविधियों में शामिल होने से मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूती प्राप्त होगी। यदि स्वास्थ्य को नजरअंदाज करते हैं तो लंबे समय तक नकारात्मक रूप से प्रभावित हो सकते हैं। आर्थिक स्थिति सामान्य रह सकती है और संपत्ति इत्यादि में निवेश करने से लाभ के अच्छे अवसर प्राप्त हो सकते हैं।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के गोचर द्वारा भाग्य का सहयोग मिलना संभव होगा। कामकाज में तेजी और कुछ उन्नति के अवसर भी मिल सकते हैं। काम के सिलसिले में अथवा अन्य कारणों से यात्राओं का भी समय बना हुआ है। किसी लम्बी दूरी की यात्रा पर भी जा सकते हैं। यदि आप अपनी नौकरी बदलने की कोशिश में हैं या नए काम की तलाश में तो इस समय पर कुछ अनुकूल परिणाम मिल सकते हैं। सामाजिक क्षेत्र में व्यस्त रह सकते हैं, तथा अच्छे कार्यों के कारण आपको लोगों के मध्य पहचान बनाने का अवसर भी प्राप्त हो सकता है। समाज में एक विशेष स्थान भी अर्जित करने सक्षम होंगे। प्रेम संबंधों/Love relationship के लिए स्थिति अनुकूल दिखाई देती है। अपने जीवन साथी के साथ कुछ अच्छा समय व्यतीत कर पाएंगे। इस समय पर स्वास्थ्य के लिहाज से बाहरी खान पान पर थोड़ा नियंत्रण बनाए रखने की आवश्यकता है। कुछ छोटी-मोटी स्वास्थ्य समस्याएं उभर सकती हैं, लेकिन इनसे जल्द ही निजात भी प्राप्त होगी। 

बुध के वृषभ राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर आपके आठवें भाव पर होने से इस समय के दौरान मिले जुले परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। अचानक से कुछ नुकसान अथवा आर्थिक क्षेत्र में खर्चों की अधिकता परेशान कर सकती है। इस समय अप्रत्याशित रूप से चीजें आप पर असर डालने वाली रह सकती हैं।  इस समय पर आप कुछ नई चीजों को सीखने के प्रति अधिक इच्छुक रह सकते हैं। आपका झुकाव आध्यात्मिक क्षेत्र की ओर भी अधिक रह सकता है। इस समय पर पुराने निवेश कुछ फायदे का सौदा भी सिद्ध हो सकते हैं, साथ है पैतृक संपत्ति/Ancestral property से कुछ लाभ मिल सकता है। दांपत्य जीवन/Married life में साथी के साथ कुछ अनबन रह सकती है, और आपकी वाणी में कुछ कठोरता देखने को मिल सकती है, इसलिए आपको शांति और सावधानी से काम करने की आवश्यकता होगी तभी आप स्थिति को बेहतर ढंग से संभाल पाएंगे। इस समय पर किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य समस्या को नजरअंदाज करने से आपके शरीर पर नकारात्मक प्रभाव भी पड़ सकता है इसलिए चिकित्सक की सलाह अवश्य लीजिए। कार्यक्षेत्र में आपकी कड़ी मेहनत से सफलता की राह आसान हो सकती है। इस समय पर किसी भी प्रकार के शॉर्टकट से बचना ही उचित होगा तथा समझदारी व ईमानदारी से किया हुआ काम फायदा देगा। 

बुध के वृषभ राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध गोचर/Mercury transit सप्तम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव से आपको कुछ अनुकूल फलों की प्राप्ति हो सकती है, लेकिन साथ ही कुछ चुनौतियों का सामना भी करना पड़ सकता है। आप की वाणी में बदलाव दिखाई देगा जो सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह से प्रभाव दिखा सकता है। आपको अपने वैवाहिक जीवन में भी कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। अपने रिश्ते को मजबूत करने के लिए बेहतर संचार की आवश्यकता होगी और इसे अच्छा भी बनाया जा सकता है। इस समय खर्चों पर नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है; अन्यथा, आपके व्यर्थ के खर्चों के चलते वित्तीय स्थिति कमजोर हो सकती है। कारोबार से जुड़े लोगों को अभी अपने काम में आगे बढ़ने के लिए सोच समझ कर ही फैसले लेने होंगे जल्दबाजी से बचना ही बेहतर होगा। आप अपने काम में कुछ लाभ की स्थिति भी देख सकते हैं।  अपनी सेहत पर ध्यान बनाए रखें और लापरवाही से बचें अन्यथा परेशानी हो सकती है, इसलिए उचित डाइट का पालन करें। स्वयं को फिट रखने के लिए आप व्यायाम एवं योग इत्यादि का सहारा ले सकते हैं यह आपके लिए फायदेमंद होगा।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Sagittarius

धनु राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर छठे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के गोचर का प्रभाव आपके आय और व्यय के घर को सीधे प्रभावित करने वाला है। इस समय के दौरान आप किसी विवाद इत्यादि में फंस सकते हैं। खर्च में वृद्धि देखने को मिल सकती है, जो आपकी बचत को प्रभावित कर सकती। कमाई से अधिक खर्च होने से आप परेशान भी हो सकते हैं। कार्यस्थल पर कुछ प्रतिस्पर्धा अधिक रह सकती है लेकिन मान-सम्मान भी प्राप्त हो सकता है। ईमानदारी और बुद्धिमता द्वारा आप दूसरों पर अपना प्रभाव जमाने में कामयाब हो सकते हैं।  इस समय पर आपको अपने प्रतिद्वंद्वियों से उचित दूरी बनाए रखने की कोशिश करनी चाहिए, क्योंकि वह आपकी छवि को खराब करने की कोशिश कर सकते हैं। कुछ यात्राएं कर सकते हैं, जीवनसाथी के साथ आपके संबंधों उतार-चढ़ाव बना रह सकता है। इस समय अपने स्वास्थ्य में किसी भी प्रकार की समस्या को नजरअंदाज करने से बचना ही उचित होगा क्योंकि इस समय स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Capricorn

मकर राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर पंचम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। पंचम भाव बुद्धि और ज्ञान के भाव का प्रतिनिधित्व करते हैं, ऐसे में बुध की इस स्थान पर स्थिति ज्ञान में वृद्धि करने वाली होती है। विभिन्न क्षेत्रों में काम का मौका मिल सकता है। कला एवं रचनात्मक कामों में लाभ की अच्छी संभावना भी देखने को मिल सकती है। छात्रों के लिए यह समय अपनी सफलता के लिए अच्छे रास्ते चुनने की संभावना को दिखाने वाला होगा। आपको अपने प्रेमी को प्रपोज करने का मौका मिल सकता है और नए संबंधों की शुरुआत भी हो सकती है। इस समय अपने साथी के साथ कुछ अच्छे पलों का आनंद ले सकते हैं। कुछ लम्बी दूरी अथवा विदेश यात्राएं भी है सकती हैं, रोमांचकारी समय हो सकता है और आप कुछ नई चीजों को खोज भी पाएंगे। अपनी वाक कुशलता द्वारा लोगों के मध्य उत्तम स्थान प्राप्त कर सकते हैं, आपके विचार कई लोगों को आकर्षित कर सकते हैं और सामाजिक क्षेत्र में स्थिति आपके लिए अनुकूल बनी रह सकती है।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर इनके चतुर्थ भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव स्वरूप आपको परिवार का सहयोग और लाभ को प्राप्त कर सकते हैं। इस समय यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहे हैं, तो इसे अनदेखा करना आपके लिए सही नहीं होगा इसलिए, उचित सावधानी बरतें और डॉक्टरी सलाह का पालन करें। नौकरी के क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा रह सकती है और कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। इस समय पर आपके प्रतिद्वंद्वी रास्ते में बाधाएं पैदा करने का प्रयास कर सकते हैं, लेकिन आप उन्हें परास्त करने में भी सक्षम होंगे इसलिए सकारात्मक रहें। कार्यक्षेत्र में अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करें। जीवनसाथी के साथ आपके संबंध अच्छे रह सकते हैं, परिवार के साथ समय बिताने का भी मौका मिल सकता है। इस समय पर अधिक निवेश करने से बचना चाहिए, तथा सोच समझ कर ही किसी कार्य में आगे बढ़ना उचित होगा। 

बुध के वृषभ राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस स्थान पर बुध के गोचर स्वरुप आपके पराक्रम और साहस में वृद्धि देखने को मिल सकती है। आपके आत्मविश्वास और इच्छाशक्ति में भी  वृद्धि होगी। आप अपने संचार कौशल/Communication skills में सुधार देखेंगे जो आपको लाभ दे सकता है। संचार से जुड़े काम भी आपके लिए अच्छे रह सकते हैं। इस समय पर किसी काम में आपके द्वारा दिया गया वक्तव्य प्रभावशाली सिद्ध हो सकता है। व्यापार के क्षेत्र में अच्छे अवसर मिल सकते हैं। दोस्तों, परिवार और समाज के लिए आप सहायक सिद्ध हो सकते हैं।  कुछ कम छोटी यात्राएं बनी रह सकती हैं और भागदौड़ भी अधिक हो सकती है। वैवाहिक जीवन में थोड़ा तनाव परेशान कर सकता है इसलिए अपनी ओर से साथी को समय देने की पूरी कोशिश कीजिए। कार्यक्षेत्र में कुशलता का परिचय दे सकते हैं, कड़ी मेहनत और ईमानदारी आपकी एक अच्छी छवि बनाने में सहायक सिद्ध हो सकती है।

बुध का कर्क राशि में गोचर प्रभाव /Impact of Mercury transit in Cancer on other zodiac sign
02 Aug,2020
से
16 Aug,2020

बुध का कर्क राशि गोचर/Mercury transit in Cancer से सभी राशियों को सकारात्मक एवं नकारात्मक परिणाम दोनों मिलते हैं। यह समय व्यक्ति के स्वभाव एवं भावनाओं को प्रभावित करने वाला रह सकता है। कर्क एक जल चिन्ह/Watery sign का प्रतिनिधित्व करता है, इसलिए इस गोचर के दौरान, व्यक्ति अपने व्यवहार और बात करने के तरीके में बदलाव देख सकते हैं। आर्थिक लाभ के अवसर मिलेंगे, अधिक समृद्ध होंगे। इस समय के दौरान आप अपनी भावना के आवेग में अधिक बह सकते हैं और दिमाग से ज्यादा दिल की सुन कर प्रतिक्रिया अधिक कर सकते हैं। कभी प्रेम और कभी करुणा की अधिकता देख पाएंगे तो दूसरी ओर कभी-कभी भय और अधिकार का भाव भी अधिक रह सकता है। यह गोचर शिक्षा और काम-काज जैसे विभिन्न क्षेत्रों में एकाग्रता को प्रभावित कर सकता है। 

कर्क राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव /Effect of mercury transit in Cancer on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर इस समय चतुर्थ भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर के दौरान, यह परिवार एवं कामकाज से जुड़े मसलों को मुख्य रूप से प्रभावित कर सकता है। इसके अलावा यह आपके प्रेम संबंधों को भी प्रभावित करने वाला होगा। बुध का प्रभाव मेष राशि के लिए अनुकूल रह सकता है। विवाहित जोड़ों को लाभ मिल सकता है तथा उनका वैवाहिक जीवन/married life सुखी और शांतिपूर्ण कार्यक्षेत्र में आप अपनी मेहनत और ईमानदारी के कारण अच्छे परिणाम प्राप्त करने में सफल रह सकते हैं। आपको वरिष्ठ कर्मचारियों और सहकर्मियों से सहयोग मिल सकता है। आपकी कड़ी मेहनत द्वारा काम में विस्तार और प्रशंसा की प्राप्ति हो सकती है। 

कर्क राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर तृतीय भाव को प्रभावित करने वाला होगा। वृषभ राशि वालों के लिए बुध ग्रह का गोचर सामान्यत: अनुकूल रह सकता है। इस गोचर के दौरान ग्रह आपका पराक्रम और प्रयास तेज होंगे। कार्यों को पूरा करने और जिम्मेदारी लेने में आप आगे रह सकते हैं, आपकी ऊर्जा और उत्साह पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। आपके व्यक्तिगत कौशल जैसे बातचीत का गुण बेहतर होगा, दृढ़ स्वभाव द्वारा काम पूरे करने में आप सफल होंगे और कुछ लोगों का सहयोग भी आपको इस समय मिल सकता है। भाग्य को बेहतर बनाने और अच्छे लाभ को पाने में इस समय यह गोचर सहायक बन सकता है। इस समय के दौरान कुछ छोटी यात्राएं हो सकती हैं, जो आनंद और प्रसन्नता देने वाली रह सकती हैं।

कर्क राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Gemini

मिथुन राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर/Mercury transit दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव से आप की वाणी को प्रभाव और संचार की कुशलता प्राप्त हो सकती है।  मिथुन राशि के लिए यह गोचर महत्वपूर्ण प्रभाव देने वाला हो सकता है। दूसरा भाव संचार कौशल को दर्शाता है, इस कारण से आप धाराप्रवाह बोलने में अच्छे रह सकते हैं। अपने भाषणों से लोगों का दिल जीतने में सक्षम हो सकते हैं। इस समय में निवेश करने और संपत्ति इत्यादि के माध्यम से भारी मुनाफा कमाने का सही समय रह सकता है। इस समय पर शांत रह कर और अपने काम पर ध्यान केंद्रित करने में फायदा होगा। आपकी दक्षता और कड़ी मेहनत अच्छे परिणाम दिलाने में सहायक बन सकती है। इसके अलावा, आपको किसी भी कार्यालय की राजनीति में शामिल होने से बचना चाहिए। दांपत्य जीवन सामान्य रहेगा। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर इन्हीं की राशि को प्रभावित करने वाला होगा। प्रथम भाव पर बुध के गोचर के चलते आपको अलग-अलग क्षेत्र में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इस समय कर्क राशि को अपने स्वास्थ्य के संबंध में कुछ गंभीर समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है, इसलिए नियमित स्तर पर स्वास्थ्य जांच कराने की सलाह दी जाती है, और इस समय उचित चिकित्सा उपचार बहुत आवश्यक होगा। अपने स्वास्थ्य के संबंध में किसी भी बात को नजरअंदाज करना इस परेशानी का सबब बन सकता है। आपकी वित्तीय स्थिति आपके पक्ष में रह सकती है, आपको विदेश से या अपने लोगों द्वारा समर्थन भी मिल सकता है।

कर्क राशि पर बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर इनके द्वादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। व्यय भाव में स्थित बुध के गोचर के प्रभाव स्वरूप कुछ परेशानियां रह सकती हैं। आर्थिक क्षेत्र में खर्चों की अधिकता बनी रह सकती है, इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि आप अपने खर्चों पर नियंत्रण रखें। पैसों का व्यय सोच समझ कर करें और आवश्यक खर्चों की सूची बनाएं, जिसके कारण व्यर्थ के व्यय से बच पाएंगे। इस समय पर व्यापार से संबंधित कुछ उतार-चढ़ाव अधिक बने रह सकते हैं, ऐसे में इन मुद्दों को सुलझाने में किसी योग्य व्यक्ति की सलाह लेना ही उचित होगा।  यह समय यात्राओं को भी दर्शाता है और अचानक से किसी यात्रा पर जाने की स्थिति परेशानी भी उत्पन्न कर सकती है। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव/Eleventh House को प्रभावित करने वाला होगा। यह समय अच्छे लाभ और मजबूती की स्थिति को भी दर्शाता है। स्वास्थ्य संबंधी मसलों और प्रेम संबंधों के लिए यह समय अनुकूल रह सकता है। लोग आपकी बातचीत और तर्क शैली से प्रभावित रह सकते हैं। आप लोगों पर अपनी छाप छोड़ने में सफल भी रह सकते हैं। यह समय सामाजिक क्षेत्र में विस्तार की स्थिति और आपकी व्यस्तता को भी दर्शाता है। आपका सामाजिक सर्कल बढ़ेगा, और प्रियजनों के साथ कुछ अच्छे पलों को व्यतीत कर पाएंगे। कुछ नए दोस्त भी इस समय पर आप बना सकते हैं। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर इनके कर्म क्षेत्र को प्रभावित करने वाला होगा। दशम भाव पर बुध के गोचर द्वारा कुछ सकारात्मक परिणाम प्राप्त होने की संभावना भी अधिक बनती दिखाई देती है। इस समय पर घरेलू स्तर पर बदलाव देखने को मिल सकते हैं। परिवार की जीवनशैली/Family lifestyle और जीवन स्तर अच्छा होता दिखाई देगा। कुछ नई वस्तुओं का आगमन भी इस समय पर हो सकता है। आय के कई स्रोत भी प्राप्त कर सकते हैं और विदेश में अपना पैसा भी निवेश कर सकते हैं। करियर में बदलाव कर सकते हैं अथवा काम के क्षेत्र में पद प्राप्ति भी हो सकती है। यह समय आपके नौकरीपेशा जीवन में सकारात्मक फल देने में सक्षम होगा। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव पर होगा। नवम भाव/Ninth house भाग्य भाव कहलाता है, ऐसे में भाग्य का कुछ सहयोग तो आपको मिल सकता है। आपके लिए यह समय ,मिले जुले प्रभाव वाला होगा, सकारात्मक और नकारात्मक दोनो ही स्थितियां सामने आ सकती हैं। आपका स्वास्थ्य स्थिर रह सकता है और आप एक सामान्य पारिवारिक जीवन व्यतीत कर पाएंगे। आपका रिश्ता आपको परेशान नहीं करेगा, और आप अपने प्रेमी के साथ अच्छे पलों का आनंद लेने में भी सक्ष रह सकते है। कार्य क्षेत्र के साथ-साथ यह समय आपकी संपत्ति को बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा रह सकता है। इस समय पर किया गया निवेश आने वाले समय में आपको फलदायी परिणाम दिलाने में सहायक होगा। विरोधियों से सावधान रहना चाहिए क्योंकि विरोधी  पक्ष आपकी छवि को खराब करने की कोशिश कर सकता है। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर अष्टम भाव/Eight house पर होगा। इस गोचर के प्रभाव स्वरूप आप के लिए स्थिति कुछ तनाव और चिंता को दर्शा सकती है। जीवन में विभिन्न बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य के मामले में, आपको किसी भी तरह की समस्या से बचने के लिए सावधानी बरतनी चाहिए।  आपकी मानसिक स्थिरता भी आपके स्वास्थ्य पर निर्भर करती है इसलिए स्वयं को सकारात्मक बनाए रखें।  नियमित व्यायाम या योग जैसी गतिविधियों को करने से लाभ मिलेगा। नौकरी से जुड़े लोगों को चाहिए की, समय पर अपने कार्यों को पूरा करने की कोशिश बनाए रखें। इस समय पर किसी भी देरी से बचने की आवश्यकता होगी। अपने कार्यों पर ध्यान केंद्रित करना होगा, अन्यथा आपको अचानक दबाव और काम में होने वाली देरी के चलते परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

कर्क राशि पर बुध के गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर इनके सप्तम भाव पर होगा।  इस अवधि के दौरान आपको मिले-जुले प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। कार्यक्षेत्र एवं जिम्मेदारी को लेकर सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है। आप अपनी ऊर्जा और उत्साह में धीरे-धीरे वृद्धि देख पाएंगे। आप अपने समय को आनंद के साथ बिता पाने में भी सक्षम रह सकते हैं। वैवाहिक जीवन से खुशी और खुशी संतुष्ट का भाव दिखाई दे सकता है। जीवनसाथी/life partner के साथ आपकी अच्छी बातचीत हो सकती है और आप इस रिश्ते को मजबूती देने में भी सक्षम होंगे। कार्यक्षेत्र में समर्पण और कड़ी मेहनत से आप अपने अधिकारियों को प्रभावित कर सकते हैं। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर छठे भाव को प्रभावित करने वाला होगा।  इस गोचर के प्रभाव स्वरूप आपको अपने खर्चों में वृद्धि देखने को मिल सकती है, लेकिन इसी के साथ अगर आप किसी कर्ज की स्थिति से परेशान हैं तो ऐसे में यहां राहत भी मिल सकती है। आपके लिए जरूरी होगा की अपने खर्चों को कम करने का प्रयास करें। अपने आप को फिट और स्वस्थ रखना आपके लिए फायदेमंद होगा। अगर आप किसी स्पोर्ट्स क्लब में शामिल होते हैं, व्यायाम - योग जैसी अन्य शारीरिक गतिविधियों को दिनचर्या में शामिल करते हैं तो यह आपके लिए अच्छा होगा। इस समय पर अपने स्वास्थ्य की अनदेखी करना लंबे समय तक परेशानी देने वाला हो सकता है। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Pisces

मीन राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर पंचम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर के प्रभाव से कुछ लाभ भी प्राप्त होगा। बुध ग्रह आपके ज्ञान और संवेदनशीलता में वृद्धि करेगा। आपको वित्तीय लाभ प्राप्त हो सकता है और निवेश के द्वारा भी लाभ कमाने का एक अच्छा समय होगा। जीवनसाथी या अपनों के साथ आपका संबंध शांतिपूर्ण रह सकते हैं। प्रेम संबंधों के मामले में आप जल्द ही एक दूसरे को समझने और जानने लगेंगे, आपका साथी हर कदम पर आपका साथ दे सकता है। नौकरी में अभी उपलब्धि हासिल करने में थोड़ा समय लगेगा लेकिन आपकी काम के प्रति समर्पण और एकाग्रता की स्थिति ध्यान धीरे-धीरे उन्नति का मार्ग प्रशस्त करने वाली होगी। इस समय पर नियंत्रित आहार लेना चाहिए और फास्ट फूड/Fast food इत्यादि से बचना चाहिए। 

बुध का सिंह राशि में गोचर प्रभाव/Impact of mercury transit in Leo
17 Aug,2020
से
01 Sep,2020

बुध आपकी राशि पर बहुत प्रभाव डालता है, और यह आपके सोचने के तरीके को बदलता है, आपके आत्मविश्वास को बढ़ाता है, आपकी वाक शक्ति और बातचीत के कौशल को बढ़ाता है, एक आशावादी दृष्टिकोण की ओर जीवन को ले जाने में सहायक बनता है। मानसिक रूप से कुछ न कुछ विचार इस समय बने रहेंगे और नई सोच बदलावों को भी दर्शा सकती है। एक बड़ी विचार प्रक्रिया को इस समय स्थान प्राप्त होता है। इस समय पर दूसरों की सलाह नहीं मानना चाहें और स्वयं की सोच पर ही अधिक रहने वाले हैं। आर्थिक स्थिति के मामले में यह समय  काफी लाभदायक साबित हो सकता है। आय में वृद्धि देखने को मिल सकती है और कुछ गुप्त स्रोतों से भी कमाई का मौका बना हुआ। कार्यक्षेत्र में कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है, और कुछ बाधाएं बनी रह सकती हैं लेकिन कड़ी मेहनत और समर्पण के साथ किए हुए कार्यों में सफलता प्राप्त करने में सक्षम रह सकते हैं। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर इस समय पंचम भाव को प्रभावित कर सकता है। मेष राशि वालों के लिए बुध का गोचर संतान, शिक्षा, प्रेम संबंधों, सफलता इत्यादि को दर्शाता है, यह गोचर आपकी राशि के लिए  भाग्य का सहयोग भी प्रदान करने वाला हो सकता है। संतान पक्ष की ओर से कुछ सकारात्मक समाचार मिल सकता है और बच्चे आपके लिए कोई खुशखबरी ला सकते हैं, जिससे आपका मान सम्मान वृद्धि पाने में सफल रह सकता है। कार्यस्थल पर अच्छा प्रदर्शन करने का अवसर मिलेगा और अधिकारियों की ओर से सहयोग बना रहेगा। इस समय के दौरान आपको कुछ बड़ी जिम्मेदारियां निभानी पड़ सकती हैं। ये समय यात्राओं को भी दिखाता है जो व्यक्तिगत रुप से या फिर कामकाज के लिए रह सकती हैं। निसंतान दंपतियों के लिए संतान हेतु प्रयास निश्चित रूप से सकारात्मक परिणाम प्रदान करने वाले होंगे। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर इस समय चतुर्थ भाव/Fourth House को प्रभावित करने वाला होगा। गोचर के दौरान बुध ग्रह व्यक्ति के चौथे भाव में होने के कारण सुख प्रभावित हो सकता है। यह समय कुछ उतार-चढ़ाव भरा रहने वाला होगा। अपने माता-पिता, विशेषकर अपनी माता के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता पड़ सकती है। आपके दोस्तों द्वारा सहयोग की कमी भी इस समय देखने को मिल सकती है। किसी के कारण धोखाधड़ी की स्थिति भी उभर सकती है, इसलिए अपने दोस्तों पर बहुत अधिक विश्वास से बचें। कार्यक्षेत्र में कामकाज पर नज़र बनाए रखें और देखें कि कोई परेशानी का कारण न बनने पाए। वहीं दूसरी ओर काम में कुछ नया शुरू करने से आपको अच्छा मुनाफा हो सकता है। कारोबार के क्षेत्र में लाभ की संभावना दिखाई देती है। कुछ नवीन वस्तुओं की प्राप्ति भी इस समय पर हो सकती है।

सिंह राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Gemini

मिथुन राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर तृतीय भाव पर होगा। इस गोचर के प्रभाव से आपकी मेहनत अधिक रह सकती है। तीसरे भाव को पराक्रम का भाव भी कहा जाता है, ऐसे में इस स्थिति के चलते लोगों के प्रयासों में कमी नहीं होने देता है लगातार संघर्ष और मेहनत करने की प्रवृत्ति उसके भीतर बनी रहती है। गोचर के दौरान बुध आपके तीसरे भाव में विराजमान होगा, आप अपनी ऊर्जा में धीरे-धीरे वृद्धि देखे पाएंगे और अधिक उत्साही महसूस करेंगे। इस समय थोड़ा स्वयं को संयम में रखने की आवश्यकता होगी, अन्यथा आप वाद-विवाद में भी फंस सकते हैं। भाई-बहनों के बीच कुछ मनमुटाव की स्थिति भी इस समय उभर सकती है। इस दौरान आपको अपने परिवार व बाहरी जिम्मेदारियों को लेकर चिंता रह सकती है। कुछ कामों में लगातार प्रयास करने की आवश्यकता बनी रह सकती है। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर द्वितीय भाव पर होगा। दूसरे भाव पर बुध के गोचर के कारण वाणी और सोच इस समय प्रभावित हो सकती है। यह गोचर/Transit बहुत अधिक अनुकूल नहीं रह पाए क्योंकि ये समय जल्दबाजी से बचने की आवश्यकता होगी। आपको अपने सभी निर्णय शांति से लेने होंगे और शांत दिमाग से ही आगे बढ़ना फायदेमंद होगा। अपने पारिवारिक मुद्दों को लेकर आप कुछ अधिक सोच विचार में रह सकते हैं। इस समय पर विशेष रूप से अपने भाई-बंधुओं के साथ किसी भी तरह की असहमति रह सकती है,  इसलिए तर्क-वितर्क से बचना बेहतर होगा। ख़र्चों पर नियंत्रण रखने की ज़रूरत है क्योंकि इस बार आपका बजट प्रभावित रह सकता है। किसी को पैसे उधार देने या लेने से बचना ही बेहतर होगा।  

सिंह राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Leo

सिंह राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इनके लग्न भाव को प्रभावित करने वाला होगा। ऐसे में बौद्धिकता उत्तम होगी तथा फैसले लेने में दक्षता भी बेहतर दिखाई दे सकती है। यह समय भविष्य से जुड़ी योजनाओं के लिए भी अनुकूल दिखाई देता है। आपकी राशि में बुध का गोचर आपके धनार्जन के क्षेत्र में आगे बढ़ने के विकल्प भी उत्पन्न करने वाला हो सकता है। आप इस समय पर नेतृत्व करने में भी कुशल रह सकते हैं। मित्रों के साथ मेलजोल होगा। नई चीजों में हाथ आजमाने की इच्छा भी अधिक रह सकती है। काम में जोश के साथ-साथ अब बेहतर नीतियों का समावेश भी होगा। जीवन साथी के साथ संबंधों में कुछ मजबूती लाने की कोशिश कर सकते है। व्यापार के मामले में आपको मुनाफा प्राप्त हो सकता है। हालांकि आपको अपने स्वास्थ्य को लेकर उचित सावधानी बरतने की जरूरत रह सकती है, लेकिन स्थिति जल्द ही बेहतर भी होगी।

सिंह राशि में बुध के गोचर का कन्या राशि प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का द्वादश भाव पर होगा। बुध कन्या राशि के स्वामी हैं और ऐसे में यह गोचर/Transit इनके लिए काफी महत्वपूर्ण भी होगा। द्वादश भाव व्यय, विदेश, लम्बी यात्रा, स्वास्थ्य इत्यादि को दर्शाता है, इसलिए बुध की इस स्थान पर स्थिति के चलते आपको अपने खर्चों को नियंत्रित रखने में कुछ समस्या रह सकती है। बचत को बनाए रख पाना आपके लिए आसान नही हो पाए, इस समय पर धन का खर्च, किसी भी चीज को लेकर बना रह सकता है। इसके साथ ही कुछ लाभ को भी दिलाने में सहायक हो सकता है, जिसे आपकी कार्यकुशलता और बेहतर नीतियों द्वारा ही प्राप्त कर पाना संभव होगा। यात्राओं का भी समय आपके लिए बना हुआ है, लेकिन यात्रा के दौरान उचित सावधानी बरतने की आवश्यकता है। जो लोग नए काम की तलाश में हैं वह नौकरी के लिए आवेदन करने की कोशिश कर सकते हैं और कुछ सकारात्मक असर भी देखने को मिलेगा। स्वास्थ्य के लिहाज से ध्यान बनाए रखें खानपान में लापरवाही से बचें साथ ही मौसम के प्रभाव से भी खुद को बचाए रखना होगा। 
सिंह राशि में बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Libra

तुला राशि वालों के लिए बुध का गोचर एकादश भाव पर होगा। एकादश भाव लाभ और पद प्राप्ति जैसी स्थिति को भी दर्शाता है। इस समय पर काम के क्षेत्र में कुछ नए अवसर मुनाफे का संकेत दे सकते हैं। परिवार में किसी वरिष्ठ व्यक्ति की ओर से सलाह और सुझाव भी मिल सकते हैं जो आपके लिए फायदेमंद रहेंगे। इस समय पर सामाजिक रूप से गतिविधियां तेज हो सकती हैं अथवा कुछ नए स्थानों पर जाने और लोगों के साथ मेलजोल का अवसर भी मिल सकता है। अगर आप अपने व्यस्त कार्यक्रम के कारण लंबे समय से छुट्टी नहीं ले पा रहे थे, तो आपको अब आखिरकार यात्रा करने का मौका मिल सकता है। परिवार व बच्चों के साथ समय बिता सकेंगे। किसी दोस्त के साथ कुछ नए काम को करने का सोचेंगे या फिर परीक्षा की तैयारियों को लेकर अधिक व्यस्त भी रह सकते हैं। प्रेम संबंधों को लेकर थोड़ी नोक झोंक देखने को मिल सकती है, इसलिए क्रोध से बचें और रिश्ते में सौम्यता व धैर्य बनाए रखें। इन सबके बीच तुला राशि के लोगों के लिए गोचर अनुकूल रह सकता है और आप कुछ पल सुरक्षित होने और संतुष्ट होने का अनुभव भी कर पाने में सफल रह सकते हैं। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का सिंह राशि में गोचर/Mercury transit in Leo इनके दशम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस स्थान पर बुध के होने के कारण कुछ नए काम को करने का मन बना रहेगा, यह एक नए स्टार्टअप के लिए सबसे अच्छा समय भी हो सकता है। जो लोग बेरोजगार हैं और नौकरी की तलाश में हैं, उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है लेकिन जल्द ही स्थिति आपके पक्ष में होगी। आपके द्वारा किए गए लगातार प्रयास आपको एक अच्छी सफलता दिलाने में भी मुख्य भूमिका निभा सकते हैं। इस समय पर काम में थोड़ा धैर्य बना कर रखें। परिवार में किसी बात को लेकर कुछ मतभेद हो सकते हैं या फिर किसी के स्वास्थ्य को लेकर भी चिंता रह सकती है। इस समय पर क्रोध और जल्दबाजी इन दोनों ही चीजों से बचने की आवश्यकता होगी। कुछ नए वस्तुओं को खरीद सकते है और इस समय धन खर्च भी अधिक रह सकता है। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Sagittarius

धनु राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इनके भाग्य भाव अर्थात नवम भाव/Ninth House पर होने वाला है। बुध के इस गोचर द्वारा इस समय पर धार्मिक पक्ष मजबूत होगा, यात्राएं हो सकती हैं अथवा परिवार में कुछ आवश्यक कामों के चलते व्यस्तता अधिक बढ़ सकती है। स्त्री पक्ष की ओर से सहयोग रहेगा। रचनात्मक व कला से जुड़े विषयों में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं। आपकी राशि के नवम भाव भाग्य स्थान में बुध गोचर के दौरान विवाहित जोड़ों के लिए यह गोचर अत्यंत अनुकूल रह सकता है। परिवार में एक दूसरे के बीच एक खुशहाल और शांतिपूर्ण रिश्ता बन सकता है। अविवाहित लोगों को भी इस समय अपने विवाह से संबंधित कुछ नए समाचार भी मिल सकते हैं। घर में पूजा-पाठ इत्यादि धार्मिक कृत्य हो सकते हैं और दान पुण्य के काम में आप आगे रह सकते हैं।  अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए ये समय बेहतर समझ को विकसित करने वाला होगा और कुछ सफलता का योग भी बनता है। आपके काम में देरी की कुछ संभावनाएं दिखाई देती हैं लेकिन आप इसे कड़ी मेहनत और समर्पण से सही भी कर पाने में सक्षम होंगे। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर आठवें भाव को प्रभावित करने वाला होगा। अष्टम भाव पर बुध के स्थित होने के कारण कई मामलों में सोच समझ कर फैसले लेने की आवश्यकता होगी। इस समय काम बनेंगे, लेकिन इस बात की संभावना है कि कुछ कार्य आसानी से न बन पाएं इसलिए मेहनत और संघर्ष की स्थिति से घबराने की आवश्यकता नहीं है। अगर व्यावहारिक रुप से काम करते हैं तो सफलता भी प्राप्त होगी। इस गोचर के दौरान समय कुछ चुनौतीपूर्ण रह सकता है। आपको अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए अत्यधिक सावधान रहना चाहिए, विशेष रूप से आपको अपने भोजन को लेकर भी सजग रहने की जरूरत होगी किसी भी प्रकार की गलत आदत सीधे सेहत को प्रभावित करने वाली होगी। मन और शरीर को शांत रखने के लिए उचित आराम व व्यायाम करना ही सबसे उपयुक्त उपाय भी होगा। इस समय पर गुप्त शत्रुओं से सावधान रहें, क्योंकि वह आपके लिए कुछ बाधा उत्पन्न करने की कोशिश भी कर सकते हैं। इसके अलावा, हर कार्य और मुद्दे को सावधानी और पूर्ण समर्पण के साथ करना ही उचित होगा। 
सिंह राशि में बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Aquarius

कुंभ राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर आपके सप्तम भाव/Seventh House को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय पर आप स्वयं को लेकर भी बहुत अधिक सोच विचार में रह सकते हैं। भावनाओं में उतार-चढ़ाव बना रह सकता है। वैवाहिक जीवन का आरंभ होने का भी समय बना हुआ है। प्रेम संबंधों की शुरुआत भी इस समय पर हो सकती है। मित्रों के साथ मौज मस्ती के मौके भी मिल सकते हैं। काम काज और परिवार इन दोनों ही विषयों पर आपका ध्यान अधिक केन्द्रित रह सकता है। इस समय किसी के साथ मिलकर या फिर सहयोग पाकर कुछ नए काम की शुरुआत कर सकते हैं। बाहरी संपर्क द्वारा यात्रा व काम मिलने की संभावना भी दिखाई देती है। इस समय पर आपकी बौध्दिकता द्वारा अच्छे लाभ प्राप्ति के भी योग बने हुए हैं।परिवार के साथ कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों को लेकर चर्चा अधिक कर सकते हैं। इस समय पर संक्रमण से जुड़े रोगों से दूर रहने और अपने स्वास्थ्य का उचित ध्यान रखने और फिट रहने का सुझाव दिया जाता है। संतान पक्ष की ओर से भी आप कुछ सकारात्मक प्रभाव देखेंगे ओर छात्रों को अपनी एजुकेशन में आगे बढ़ने का मौका भी मिलेगा। 
सिंह राशि में बुध के गोचर का मीन  राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर छठे भाव पर होगा। बुध के छठे भाव/Sixth House पर गोचर के कारण कुछ मिले जुले परिणाम अधिक देखने को मिल सकते हैं। यह गोचर आपके लिए बहुत अधिक अनुकूल नहीं हो पाए क्योंकि ग्रह आपकी राशि के छठे भाव में स्थित होगा। इस महत्वपूर्ण समय के दौरान उचित दृढ़ संकल्प और आत्मविश्वास ही आपके लिए अधिक मददगार सिद्ध होगा। कड़ी मेहनत और समर्पण आपको सभी चुनौतियों और बाधाओं से मुक्ति दिलाने में भी सहायक बनेगा। प्रतिस्पर्धाओं का दौर अधिक रह सकता है इसलिए अपनी ओर से किसी भी प्रकार की कमी से बचना ही उचित होगा। कुछ व्यर्थ के मसलों पर शुरू हुई बात विवाद में भी बदल सकती है इसलिए स्वयं की ऊर्जा को व्यर्थ की बातों पर न लगाते हुए अपने काम में एकाग्रता बना रखें। इस समय पर जीवन साथी अथवा परिवार के लोगों के साथ संबंधों में थोड़ा तनाव देखने को मिल सकता है, इसलिए दिमाग को शांत रखें और शांति से अपने मुद्दों को सुलझाएं। स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से स्थिति परेशान कर सकती है। मौसम के बदलाव और पेट से जुड़े विकार स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकते हैं।

बुध गोचर का तुला राशि पर प्रभाव | Impact of Mercury transit on Libra
22 Sep,2020
से
27 Nov,2020

बुध ग्रह का तुला राशि में गोचर एक महत्वपूर्ण समय होता है। इस समय में बुध का प्रस्थान अपनी उच्च राशि से हटकर अब अपने मित्र राशि तुला में होगा। तुला राशि वायु तत्व राशि और शुक्र का स्वामित्व इन्हें प्राप्त होता है। ऐसे में तुला राशि पर बुध के गोचर का महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ता है। बुध सबसे मजबूत ग्रह के रूप में माना गया है यह राज तत्व से भी संबंधित ग्रह हैं और बौद्धिकता का परिचायक बनते हैं। अपने तर्क-कौशल के साथ-साथ प्रतिभाओं को दर्शाने वाला होता है। बुध ग्रह के शुक्र के साथ मित्रवत संबंध यहां काम करते हैं और अनुकूलता को दर्शाते हैं। इस गोचर/Mercury transit in Libra के प्रभाव स्वरूप व्यक्ति की वाणी में शुद्धि होती है। यह आपकी बोलचाल व भाषा शैली के कौशल को बेहतर बनाने में मदद करता है, जो लोगों को आपकी ओर आकर्षित करने में सहायक बनता है। यह समय फायदेमंद हो सकता है। यह आपकी रचनात्मक क्षमताओं को बढ़ाता है और आपको एक परिपक्व मानसिकता देने में सक्षम होता है। 

तुला राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Aries

मेष राशि के लिए बुध ग्रह का गोचर इस समय पर सातवें भाव/Seventh house पर होगा। सप्तम भाव में स्थित बुध का प्रभाव कुछ मिले जुले प्रभाव देने वाला हो सकता है। आपकी राशि का सप्तम भाव आपके वैवाहिक जीवन को दर्शाता है। जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में साझेदारी का निर्धारण करता है। ज्योतिष की दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण समय रह सकता है। हालांकि यह गोचर का समय कम अनुकूल रह सकता है। कुछ स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। अगर आप उचित देखभाल नहीं करते हैं, तो आपको मुख्य रूप से आपकी त्वचा से संबंधित कोई बीमारी परेशान कर सकती है। इस समय पर डॉक्टरी सलाह लेना उत्तम होता है। ऑफिस में काम से संबंधित कुछ तनाव रह सकता है, और कई मामलों में आपके प्रयास व्यर्थ भी सिद्ध हो सकते हैं इसलिए जरूरी है कि स्वयं को शांत रखें और धैर्य को बनाए रखना उत्तम होता है।

तुला राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर छठे भाव पर होगा। छठे स्थान पर बुध की स्थिति आपकी कार्यकुशलता को बढ़ाने वाली होगी। व्यर्थ के तनाव लेने के बजाय आराम से चीजों को हल करने की कोशिश करना अच्छा होगा। दाम्पत्य जीवन/Married life भी थोड़ा तनाव भरा रह सकता है, आप नाराज़ होंगे और कई गलतफहमियां  भी बीच में बढ़ सकती हैं इसलिए अपने साथी से ठीक से बात करें और बातचीत द्वारा विवाद को सुलझाने की कोशिश करें। शिक्षा में उत्तम परिणाम के लिए मेहनत कर रहे छात्रों को अंत में अच्छे परिणाम मिल सकते हैं। आपकी भाषा शैली में बदलाव भी देखने को मिल सकता है। आप आसानी से लोगों के साथ संवाद करने में सक्षम हो सकते हैं। अन्य लोग आपके तर्क से प्रभावित हो सकते हैं। प्रतिस्पर्धा में लोगों को निश्चित रूप से सफलता मिल सकती है। साहित्य और विभिन्न पुस्तकों, पत्रिकाओं आदि को पढ़ने में आपकी रुचि अच्छी होगी। आप अपने खिलाफ खड़े हर प्रतिद्वंद्वी को हराने में भी सफल हो सकते हैं। आत्मविश्वास द्वारा आप दूसरों पर अपनी छाप छोड़ने में सक्षम हो सकते हैं। 

तुला राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का प्रभाव पंचम भाव पर होगा। यह एक अनुकूल गोचर/Favorable transit रह सकता है। आपको कई मामलों में लाभ के अवसर प्राप्त हो सकते हैं। आर्थिक जीवन में नए आय के स्रोत भी उभर सकते हैं। अपने परिवार के सदस्यों के साथ किसी यात्रा पर जाने का मौका भी मिल सकता है। इस समय आपको अपने ख़र्चों पर उचित ध्यान देने की आवश्यकता होगी, अन्यथा ख़र्चों का बोझ बढ़ सकता है। व्यापार या काम को लेकर यात्राएं रह सकती हैं। लेखन या कला से जुड़े क्षेत्रों में आपको प्रसिद्धि प्राप्त करने का अवसर भी प्राप्त हो सकता है। संचार कौशल के कारण कई लोग आपसे प्रभावित हो सकते हैं। प्रेमी के साथ अच्छा समय बिताने का अवसर मिल सकता है। संतान पक्ष की ओर से भी कुछ सकारात्मक समाचार प्राप्त हो सकता है। 

तुला राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर इनके चतुर्थ भाव पर होगा। इस स्थान पर बुध के गोचर/Mercury transit द्वारा आपको अपने जीवन में कुछ सुखद स्थिति मिलेगी तो कुछ विपरीत स्थिति का भी प्रभाव झेलना पड़ सकता है। प्रेमी के साथ आपके सहयोग में वृद्धि देखने को मिल सकती है। आप अपने प्रेमी के साथ कुछ अच्छा समय बिता सकते हैं। इस गोचर के दौरान परिवार में कई चीजों पर बदलाव भी देखने को मिल सकता है। विवाहित लोगों को भी रिश्ते में आगे बढ़ने का मौका मिल सकता है। आपके परिवार के साथ आपके संबंध मजबूत हो सकते हैं। इस समय वाहन, वस्त्र इत्यादि वस्तुओं की खरीदारी का भी समय बना हुआ है। परिवार के छोटे सदस्यों के साथ अधिक समय बिता पाएंगे। इस दौरान आपको पारिवारिक यात्रा या पिकनिक मनाने का मौका मिलेगा। 

तुला राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति आपको अधिक व्यवहार कुशल बना सकती है।  इस समय पर नई चीजों को सीखने में रुचि हो सकती है। विशेष रूप से धर्म और आध्यात्मिक विषयों के क्षेत्र में शामिल हो सकते हैं। इसके साथ ही संचार से जुड़े काम या मीडिया, लेखन रंगमंच खेल कूद इत्यादि में आपको अच्छे मौके मिल सकते हैं। विपरीत लिंग के किसी व्यक्ति के प्रति आपका झुकाव इस समय अधिक रह सकता है। सोशल मीडिया में आकर्षण का केंद्र बन सकते हैं और आपके बोलने के कौशल के कारण कई लोगों को प्रभावित कर पाएंगे। दोस्तों और परिवार के साथ भ्रमण पर जा सकते हैं। भाई बहनों की ओर से स्नेह और सहयोग की प्राप्ति भी होगी। 

तुला राशि में बुध के गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव में होगा। इस स्थान पर बुध के गोचर से आपको कई मामलों में सकारात्मक संकेत देखने को मिल सकते हैं। दूसरा घर धन, धन, वाणी आदि का प्रतीक होता है। इस गोचर के प्रभाव द्वारा आपके परिवार के साथ आपका अच्छा संबंध बेहतर हो सकता है। आपके अच्छे इरादों तथा आपके द्वारा दूसरों के लिए की गई कड़ी मेहनत को लोग समझेंगे, आप अपनी बातों द्वारा एवं मानसिकता से अन्य को प्रभावित करने में सफल हो सकते हैं। आपको इस समय खान पान में अच्छा भोजन और अच्छे रहन सहन की प्राप्ति भी हो सकता है। आप अपनी कार्यकुशलता कार्यस्थल पर सभी को आकर्षित कर पाने में सक्षम हो सकते हैं। अधिकारियों की ओर से आपको सम्मान मिल सकता है। दूसरों के सामने आपकी एक अच्छी छवि अच्छी रह सकती है। व्यापार के क्षेत्र में लोगों को योजनाओं और विचारों से लाभ मिल सकता है। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को इस अवधि में अपनी मेहनत से सफलता प्राप्त हो सकती है। 

तुला राशि में बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Libra

तुला राशि के बुध का गोचर इनकी राशि पर ही होगा, इस समय पर बुध के आपके लग्न भाव/Ascendant house पर स्थित होने के कारण आपकी मानसिकता और विचारों में बदलाव देखने को मिल सकता है। बुध ग्रह जो वाणी और बुद्धि का प्रतीक है, आपके प्रथम भाव में स्थित होगा जो आपका लग्न भाव है और यह आपके स्वास्थ्य, प्रकृति और ज्ञान का प्रतीक बनता है। यह आपके व्यक्तित्व और जीवन के पहलू पर सकारात्मक प्रभाव डालने वाला होगा। यद्यपि आपको इस समय अपने स्वास्थ्य का उचित देने की आवश्यकता होगी, नियमित व्यायाम और योग आपके स्वास्थ्य को संतुलित और मन को शांत रखने में मदद करेगा। आपको अपने काम में उत्कृष्ट परिणाम भी देखने को मिल सकते हैं। आपकी मेहनत रंग ला सकती है और आप अपने कार्यस्थल पर बेहतर प्रदर्शन द्वारा अधिकारियों से प्रशंसा भी पा सकते हैं।  व्यापार के क्षेत्र से जुड़े लोग अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। 

तुला राशि में बुध के गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Scorpio

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर द्वादश भाव में होगा। बुध के द्वादश भाव में यह गोचर खर्चों की अधिकता को दर्शाता है। यह गोचर वृश्चिक राशि के लोगों पर एक महत्वपूर्ण प्रभाव डालने वाला होगा। गोचर के दौरान ग्रह आपके बारहवें भाव में विराजमान होगा यह भाव व्यय को दर्शाता है। बुध के गोचर का आपकी राशि पर प्रभाव आपके लिए बहुत अनुकूल नहीं रह पाएगा। आपको अपने खर्चों का ध्यान रखना चाहिए, अपने खर्च का उचित हिसाब रखना चाहिए और दैनिक जीवन के कार्यक्रमों पर बहुत अधिक खर्च करने से बजट खराब हो सकता है। अपने खर्च पर नियंत्रण पाने में सफल होने के लिए आपको एक उचित बजट योजना बनानी चाहिए।  छात्रों को उच्च शिक्षा के लिए विदेश यात्रा का मौका मिल सकता है, अपनी महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने का मौका आपके लिए इस समय पर काम कर सकता है। इस समय नींद की कमी होना, बेचैनी या मांसपेशियों में दर्द की शिकायत परेशान कर सकती है, इसलिए उचित खान पान और व्यायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल करना अच्छा होगा। 

तुला राशि में बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Sagittarius

धनु राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर एकादश भाव/Eleventh House में होगा। इस गोचर के प्रभाव द्वारा लाभ का क्षेत्र सबसे अधिक प्रभावित होता है। यह आपकी राशि पर बहुत महत्वपूर्ण प्रभाव छोड़ता है। धनु राशि के लिए यह गोचर अनुकूल सिद्ध हो सकता है। किसी ऐसे व्यक्ति से आपका पैसा मिलने की संभावना है जिसे आपने उधार दिया है, और यह एक बड़े कर्ज के मुद्दे से बचा सकता है। कुछ बड़ा करने की योजना बना रहे व्यक्ति इस अवधि के दौरान उस पर अमल कर सकते हैं। काम और व्यापार के क्षेत्र में भारी मुनाफा कमाने के अवसर भी इस समय प्राप्त हो सकता है। आप अपने परिवार के साथ कुछ अच्छा समय पाएंगे और बड़े बुजुर्गों का साथ भी आपको मिल सकता है। किसी  वरिष्ठ व्यक्ति की मदद द्वारा आपकी समस्याओं का समाधान भी संभव हो सकता है। प्रेम संबंधों में सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकते हैं और साथ ही छात्रों के लिए समय बेहतर परिणाम पाने का हो सकता है।  

बुध के तुला राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Capricorn

मकर राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर दशम भाव/Tenth house पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति आपको काम के क्षेत्र में व्यस्तता देने वाली बनती है। आप ऊर्जावान और उत्साही बने रह सकते हैं। बुध ग्रह का गोचर कार्य भाव का प्रभावित करने वाला होगा।  दशम भाव को कर्म भाव के भाव के रूप में भी जाना जाता है, जो इस अवधि के दौरान आपकी ऊर्जा और उत्साह में वृद्धि का कारण हो सकता है। नौकरी और व्यवसाय क्षेत्र से जुड़े लोगों को अपनी मेहनत का अनुकूल परिणाम प्राप्त हो सकता है। काम के समय से पहले पूरा होने की आपकी क्षमता दूसरों को आपकी सराहना करने के लिए मजबूर भी कर सकती है। आर्थिक क्षेत्र में आय वृद्धि का लाभ भी प्राप्त हो सकता है। विरोधियों की ओर से थोड़ी परेशानी हो सकती है लेकिन आप उन्हें अपने मार्ग से हटाने में भी सक्षम होंगे। आपको परिवार में कुछ अच्छा समय बिताने को मिल सकता है। किसी पार्टी या समारोह में जाने का मौका भी मिल सकता है। 

तुला राशि में बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Aquarius

कुम्भ राशि के लिए बुध का गोचर उनके नवम भाव/Ninth house पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति कई मामले में आपको मिश्रित प्रभाव देने वाली होती है। इस गोचर के कारण आपको अपने जीवन में कठिनाइयों और बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है, लेकिन आप अपनी मेहनत द्वारा सफलताओं को भी प्राप्त करने में सक्षम होंगे। आपको अपने स्तर पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा जिससे आप प्रतिस्पर्धाओं में सफलता को पाने में कामयाब होंगे। आर्थिक क्षेत्र में लाभ होगा, हालांकि कुछ कारणों से आपके खर्च में वृद्धि होगी। यात्राएं भी इस समय पर रह सकती हैं, मुख्य रूप से धार्मिक क्षेत्र और नवीन कला कृतियों को देखने का अवसर प्राप्त हो सकता है।पारिवारिक जीवन भी कुछ कारणों से प्रभावित हो सकता है। भाई-बहनों से अनबन भी हो सकती है, इसलिए व्यर्थ के विवाद से बचने की आवश्यकता होगी। 

तुला राशि में बुध के गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर इस समय आठवें भाव/Eight House पर होगा। इस स्थान पर बुध का प्रभाव आपको सकारात्मक और नकारात्मक दोनों ही प्रकार के असर देने वाला हो सकता है। इस गोचर के दौरान आपकी मेहनत ही अनुकूल परिणाम देने में सहायक हो सकती है। व्यापार के क्षेत्र में काम करने वाले  लोगों को यात्राओं पर जाने का मौका मिलेगा, हालांकि उन्हें यह अच्छा नहीं लगेगा और यात्रा से परेशानी भी हो सकती है। विरोधियों से सतर्क रहें, वह आपको विचलित करने के लिए बाधाएं डालने की कोशिश कर सकते हैं। इसलिए उचित सावधानी बरतने की आवश्यकता होगी। आपको अपने स्वास्थ्य पर विशेष रूप से ध्यान देने की आवश्यकता होगी। पेट से संबंधित रोग और खानपान में बदलाव से परेशानी हो सकती है। छात्रों को अपनी उच्च शिक्षा प्राप्ति के लिए कुछ मौके मिलेंगे जिसका लाभ उठाने का यह सही मौका होगा। 

कन्या राशि में बुध के गोचर का प्रभाव | Impact of Mercury transit in Virgo
02 Sep,2020
से
21 Sep,2020

बुध का कन्या राशि/Mercury transit in Virgo में गोचर करना एक अनुकूल स्थिति मानी जाती है। इसका मुख्य कारण यह है कि बुध ग्रह कन्या राशि के स्वामी हैं और साथ ही वह कन्या राशि में उच्च स्थिति को भी पाते हैं इसलिए एक साथ इन दो महत्वपूर्ण बातों का होना बुध के गुणों में वृद्धि करने वाला होता है और साथ ही बुध के शुभ प्रभाव भी दिखाई देते हैं। बुध का यह प्रभाव कन्या राशि के व्यक्ति के लिए तो खास होता ही है साथ ही यह अन्य राशियों पर भी असर डालने वाला होता है। बुध के कन्या राशि गोचर का जीवन के विभिन्न क्षेत्रों पर प्रभावशाली प्रभाव देखने को मिल सकता है। बुध का गोचर बातचीत के तरीके को प्रभावित करता है, दूसरों की मदद करने, परिवार, वित्त, बुद्धि, वैवाहिक जीवन/married life पर प्रभाव डालता है। यह गोचर राशि चक्र में प्रत्येक राशि पर प्रभावशाली होगा क्योंकि बुध का प्रभाव वाणी, संचार, प्रौद्योगिकी और यात्रा पर होता है। यह गोचर आपके जीवन पर कुछ अनुकूल प्रभाव डाल सकते हैं। सीखने के प्रति अच्छा झुकाव देखने को मिल सकता है, अपने इच्छित स्थानों की यात्रा करने का मौका मिल सकता है, समाज में अच्छी स्थिति को प्राप्त किया जा सकता है और इस प्रकार से कई अन्य बातों पर बुध ग्रह एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

कन्या राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Aries

मेष राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर छठे भाव/Sixth House पर होगा। छठा भाव इस समय पर अधिक प्रभशाली होने के कारण प्रतियोगिताएं कठिन हो सकती है और परिश्रम भी अधिक रह सकता है। इसलिए इस समय पर जो भी कार्य आप करते हैं उसमें आलस्य नहीं आने दीजिए और एकाग्रता के साथ उसे करने से ही आप सफलता को प्राप्त कर पाने में सक्षम होंगे। यह गोचर काल आपके कार्यक्षेत्र में व्यस्तता को दर्शाने वाला भी होगा। संतान पक्ष की ओर से भी आप काफी सोच विचार की स्थिति में रह सकते हैं। छात्रों को अपनी परीक्षाओं में अच्छे परिणाम पाने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी। इस समय पर विरोधी पक्ष आपको परेशान कर सकता है, लेकिन आप अपने साहस ओर उचित सूझबूझ द्वारा उन्हें हराने में भी सक्षम होंगे। अपने क्षेत्रों में सफलता और बदलाव दोनों ही प्रकार की स्थितियां अभी अपना असर दिखा सकती हैं। कुछ मामलों में व्यर्थ की भागदौड़ भी रह सकती है। थकान होने के कारण कुछ समय के लिए अवकाश भी ले सकते हैं। खर्चों पर नियंत्रण बना कर रखें तथा स्वास्थ्य को लेकर भी सजग रहें। 

कन्या राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर पंचम भाव पर होगा। इस भाव पर बुध की स्थिति के चलते कुछ सकारात्मक प्रभाव/Positive impact of transit देखने को मिल सकते हैं। आर्थिक स्थिति में आप प्रयासों द्वारा लाभ प्राप्त करने में सक्षम हो सकते हैं।  प्यार से संबंधित मामलों में आप कुछ अच्छे समय को भी देख पाएंगे। साथी का सहयोग मिलेगा तथा प्रेम जीवन समृद्ध होगा। अपने पार्टनर के साथ कुछ अच्छा समय बिताने को भी मिल सकता है। यह समय दोस्तों के साथ मुलाकातों को दर्शाता है और भ्रमण के मौके भी देता है। जीवनसाथी के साथ आपसी समझ का भाव विकसित होगा, कुछ कारणों से यदि वाद-विवाद हो भी जाता है तो ऐसे में इस स्थिति को धैर्य के साथ संभालना आपके लिए उत्तम होगा। कुछ लोग इस समय में आध्यात्मिक अध्ययन के कार्य व धार्मिक कृत्यों में शामिल हो सकते हैं। संपत्ति की खरीद फरोख्त का भी समय बना हुआ है। छात्रों को अपनी उच्च शिक्षा प्राप्ति हेतु कुछ अवसर भी प्राप्त हो सकते हैं। 

कन्या राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर इनके चतुर्थ भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध ग्रह की आपके सुख भाव पर गोचर की स्थिति के चलते आपका सुख, आपका रहन सहन प्रभावित हो सकता है। जीवन में सकारात्मकता बढ़ सकती है। कुछ अच्छी वस्तुओं की प्राप्ति का भी योग बना हुआ है। कुछ पैतृक संपत्ति का लाभ भी इस समय पर हो सकता है। संपत्ति/Property इत्यादि के माध्यम से अच्छा मुनाफा भी प्राप्त होगा।  मजबूत बुध का इस स्थान पर होना जीवन में भाग्य दायक हो सकता है। इस दौरान आप घर या अपने लिए कुछ नई वस्तु की खरीदारी इत्यादि का मन भी बना सकते हैं। अपने माता-पिता का साथ और प्रेम प्राप्त होगा। जो लोग अपने घर से दूर हैं उन्हें अपने घर जाने का अवसर मिल सकता है। अपने लोगों के साथ मेलजोल की भी स्थिति उभर सकती है, उनके साथ बिताने के लिए आपको कुछ समय बिताने को मिल सकता है। कार्यक्षेत्र को लेकर आप की जिम्मेदारियां और काम की अधिकता भी रह सकती है। 

कन्या राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit तृतीय भाव पर होगा। बुध के इस स्थान पर गोचर द्वारा आपका संघर्ष, परिश्रम, तथा यात्राओं में वृद्धि का समय प्रभावित होगा। आपका तीसरा भाव पराक्रम स्थान के नाम से भी जाना जाता है। इस स्थान पर बुध का गोचर आपकी ऊर्जा में वृद्धि करने वाला होगा। आपको सकारात्मक सोच प्राप्त होगी और कार्यक्षेत्र में आपके लिए प्रगति के अच्छे अवसर भी प्राप्त हो सकते हैं। आपके आत्मविश्वास, धैर्य, संचार कौशल और बुद्धि इन सभी के द्वारा आप बेहतर परिणामों को पाने में भी सफल हो सकते हैं। आप सामाजिक रूप से भी आगे रह सकते हैं कई चीजों में शामिल होकर उन्नति के मार्ग में आगे बढ़ सकते हैं। इस दौरान आप खुद को शक्तिशाली महसूस कर सकते हैं।  और आपके विचारों में स्पष्टता भी होगी, लोग आपकी ओर आकर्षित होंगे, और आप हर कार्य को पूर्णता के साथ पूरा करने में सक्षम रह सकते हैं। कार्य क्षेत्र में अतिरिक्त आय के स्त्रोत द्वारा आप लाभ अर्जित करने में भी सफल रह सकते हैं।

कन्या राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के दूसरे भाव में गोचर द्वारा आपकी वाणी में प्रभाव अच्छा देखने को मिलेगा लोग आपकी बातों को सुनना पसंद करेंगे तथा आप दूसरों को सहमत कर पाने में भी सक्षम हो सकते हैं। सिंह राशि वालों के लिए यह समय सकारात्मक प्रभाव/Positive impact डालने वाला होगा। इस दौरान आपको कोई शुभ समाचार मिल सकता है, व्यापार के क्षेत्र में शामिल लोगों के लिए अच्छा समय होगा और विभिन्न स्रोतों से भारी मुनाफा भी प्राप्त हो सकता है। आपको पैतृक संपत्ति या पूर्व में किए गए निवेश के माध्यम से लाभ प्राप्त करने का भी अच्छा समय देखने को मिल सकता है। आप इस समय अपने कर्ज को चुकाने में सफल हो सकते हैं। आपके पास हास्य की अच्छी समझ होगी, और आपकी भाषा शैली का कौशल आपको नए दोस्त बनाने में मदद करेगा। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर राशि पर ही होने के कारण यह लग्न को प्रभावित करेगा। बुध के गोचर प्रभाव आपकी सोच और विचारधारा में नयापन देखने को मिलेगा। कुछ अच्छे और बेहतर फैसलों को ले पाएंगे। अपने आस पास और स्वयं को लेकर भी काफी सजग होंगे। चीजों में बदलाव के साथ साथ सुधार भी बना रह सकता है। भाग्यशाली रह सकते हैं और कुछ काम बिना किसी प्रयत्न के भी पूर्ण होते दिखाई दे सकते हैं। वरिष्ठ अधिकारी आपके समर्पण और कड़ी मेहनत की प्रशंसा भी कर सकते हैं। परिवार के साथ कुछ अच्छा समय बिता सकते हैं। मानसिक रूप से उत्साह बना रहेगा। मौज मस्ती का समय मिल पाए और माता पिता का समर्थन और प्रेम प्राप्त कर सकते हैं। समय पर कार्य पूरे होंगे और आपके द्वारा किए गए प्रयासों की प्रशंसा होगी और हर कोई आपकी टाइमिंग से प्रभावित हो सकता है। अपने प्रतिद्वंद्वियों से सतर्क रहें क्योंकि वह आपकी छवि को खराब करने की कोशिश कर सकते हैं। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर द्वादश भाव पर होगा। बुध ग्रह के इस गोचर के प्रभाव स्वरूप कुछ अच्छे तो कुछ विपरीत समाचार सुनने को मिल सकते हैं। विदेश में या घर से दूर रह रहे लोगों को लाभ मिल सकता है। इस समय पर नए काम का आना मानसिक तनाव और थकान दोनों को बढ़ाने वाला हो सकता है।  खर्चों की अधिकता किसी रूप में प्रभाव डाल सकती है। कुछ न कुछ चीजों की खरीदारी का होना और स्वास्थ्य से जुड़े मसलों को लेकर भी खर्च बना रहने वाला है। कोई संपत्ति की खरीद कर सकते है। तथा साथ ही कानूनी कार्यों में भी किसी न किसी रूप से प्रभाव देखने को मिल सकता है। कोई यात्रा हो सकती है, अपने परिवार के साथ कुछ समय बिताएंगे, साथी आपका समर्थन पूरी तरह से न करना चाहे ऐसे में तनाव और विवाद भी हो सकता है। स्वास्थ्य को लेकर सजग रहें।  खुद को फिट और फाइन रखने के लिए नियमित व्यायाम या योग करना अच्छा विकल्प हो सकता है। सेहत का ख़्याल रखना आपके लिए फ़ायदेमंद रहेगा क्योंकि इससे आपका मन शांत रहेगा।

बुध के कन्या राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। यह समय होगा नई चीजों से लाभ अर्जित करने का। कुछ काम के सिलसिले में लगातार प्रयास और यात्राओं द्वारा बेहतर मुनाफे की संभावना भी बनती है। यह लाभ की उच्च स्थिति का प्रभाव उस व्यक्ति के जीवन में अचानक से कुछ बदलाव और सकारात्मक परिणाम देने में सक्षम होगा। परिवार के लोगों की ओर से भी आपको सहायता मिलेगी। इस समय पर संतान के सुख की प्राप्ति हो सकती है और साथ ही माता-पिता बच्चों के लिए भी व्यस्तता अधिक रह सकते हैं। नए काम मिलने की संभावना बनी हुई है। यह समय भाई बंधुओं के साथ प्रेम और अच्छे पलों को दिलाने में सहायक बन सकता है। प्रेम संबंधों में आपको अपने साथी का सहयोग मिल सकता है और रिश्तों में मजबूती भी देखने को मिल सकती है। इस समय अपने कर्जों को चुकाने का भी कुछ मौका जरुर मिल सकता है। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर दशम भाव/Tenth House पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति आपको अपने काम में आगे बढ़ने के अवसर देने वाली होगी। इस समय पर काम के क्षेत्र में सहयोगियों की ओर से भी कुछ समर्थन प्राप्त हो सकता है। कार्य स्थल पर कुछ मस्ती के मौके ओर पार्टी इत्यादि में शामिल होने को भी मिल सकता है। पद प्राप्ति या कुछ मुन तो आपको इस समय पर मिल ही सकता है। कारोबार से जुड़े लोग अपने काम में सामान की खरीदारी में व्यस्त होंगे तथा साथ ही चीजों की बिक्री भी अच्छी रह सकती है। कुछ पुराने लोगों के साथ मिलने का अवसर भी हो सकता है। घर पर किसी के आगमन द्वारा व्यस्तता अधिक बढ़ सकती है। कहीं समारोह या फंक्शन आदि में निमंत्रण भी मिल सकता है। इस समय काम के साथ साथ कुछ नए चीजों के साथ जुड़ने और उन्हें करने का मौका भी आपके पास होगा, इस समय पर नई चीजों से जुड़ना अच्छा रह सकता है। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव/Ninth House पर होगा। नौवें भाव में उच्च स्थिति को पर बुध अपने शुभ फलों को प्रदान करने में सक्षम होगा। भाग्य द्वारा चीजों की प्राप्ति हो सकती है। अगर कुछ समय से कोई योजना रुकी हुई थी तो अब उस के आगे बढ़ने का अच्छा समय दिखाई देता है। इस गोचर काल में आपको लाभ मिलेगा,  नौकरीपेशे लोगों को अपने काम में आगे बढ़ने के कुछ अवसर मिल सकते हैं। दूर स्थल पर रहने वालों को अपने परिवार के साथ होने का सुख मिल सकता है। जो छात्र परीक्षा के परिणाम को लेकर चिंता में हैं उन्हें कुछ सकारात्मक फलों की प्राप्ति भी हो सकती है। अपने-अपने क्षेत्रों में बहुत अच्छा करेंगे, और आपके शानदार काम के लिए आपको कर्मचारियों का सहयोग मिल सकता है और साथ ही बड़े लोगों द्वारा आपकी प्रशंसा की जा सकती है। यात्राएं तो होंगी साथ में लोगों के साथ सामाजिक रूप से जुड़ाव भी गहरा होगा। कुछ वेतन वृद्धि या पदोन्नति मिलने का भी योग बनता है। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर आठवें भाव पर होगा, इस समय अष्टम भाव अपनी मजबूत स्थिति में होने के कारण जीवन में कुछ आकस्मिक लाभ और हानि दोनों ही स्थितियों का प्रभाव देखने को मिल सकता है। बुध ग्रह का गोचर आपकी राशि के आठवें भाव में होने के कारण आपको कुछ ऐसे स्थानों से लाभ की प्राप्ति हो सकती है जिसके बारे में आपने सोचा ही न हो, जो लोग उन कामों से जुड़े हैं जिनमें अधिक रिस्क है उस में लाभ भी होगा। शेयर मार्किट, लॉटरी इत्यादि से मुनाफा भी मिल सकता है लेकिन यह लौंग टर्म का मुनाफा/Long term profit न हो पाए इसलिए इस सब में पड़ने से पूर्व अच्छे से सोच विचार करना ही सही है। यह समय जीवन पर सकारात्मक और नकारात्मक दोनों प्रभाव डालने वाला होगा। आपके पिता या किसी बड़े के साथ आपके विवाद कुछ शांत हो सकते हैं। विरासत से लाभ मिल सकता है। प्रेम के संबंधों में छुपे हुए रिश्ते अब सामने भी आ सकते हैं। स्वास्थ्य को लेकर थोड़ा अधिक सजग होने की आवश्यकता होगी कोई पुराना रोग भी अब अधिक परेशानी दे सकता है। 

मीन राशि पर बुध के कन्या राशि में गोचर का प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर सप्तम भाव पर होगा। इस समय पर वैवाहिक जीवन/Married  life में गिले शिकवे कुछ समाप्त होते दिखाई देंगे, जीवन साथी के साथ आप सौहार्दपूर्वक समय बिता सकते हैं। आपको अपने परिवार के साथ कुछ आनंदमय समय बिताने को मिलेगा। रिश्तों में लोगों को अपने प्यार को शादी में बदलने का मौका मिल सकता है,  हालांकि ऐसा करने में उन्हें कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा लेकिन स्थिति पक्ष में भी रह सकते है। आप हर उठने वाले विवाद को दूर करने का एक तरीका खोज सकते हैं इसलिए धैर्य मत खोना और शांति से चीजों को सुलझाने की कोशिश करना अच्छा होगा। इस गोचर के दौरान कुछ अप्रत्याशित स्रोतों से लाभ मिलने की प्रबल संभावना है। आपके दोस्त और परिवार आपके जीवन के हर कदम पर आपका पूरा साथ दे सकते हैं। साझेदारी में किए जाने वाले काम में एक-दूसरे के करीब आने के बेहतरीन मौके मिलेंगे। स्वास्थ्य अच्छा बना रहेगा, हालांकि कुछ शारीरिक गतिविधि जैसे खेल खेलना या व्यायाम करने की सलाह दी जाती है।

बुध का वृश्चिक राशि में गोचर और इसके प्रभाव
28 Nov,2020
से
16 Dec,2020

बुध के गोचर/Mercury transit में प्रभाव काफी मिले जुले परिणाम मिलते हैं। गोचर काल में बुध एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। वैदिक ज्योतिष/Vedic Astrology के अनुसार, यह आपकी आंतरिक आवाज और विचारों को प्रभावित करता है। बुध ग्रह, संचार-विचार तथा ज्ञान का प्रतिनिधित्व करता है। इसके प्रभाव से आत्मविश्वास, हास्य, प्रतिभा, परिवार, वित्त और अन्य में स्थिति में बदलाव देखने को मिल सकता है। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Aries

बुध का गोचर मेष राशि के लोगों के आठवें भाव को प्रभावित करने वाला होगा। यह समय सकारात्मक और नकारात्मक दोनों परिणाम देता है। इस गोचर काल में अष्टम भाव में प्रवेश होने पर स्थितियां काफी प्रभावशाली होगी और इसके साथ साथ चुनौतियां अधिक रह सकती हैं। आम तौर पर, यह भाव एक आशाजनक स्थिति नहीं दर्शाता है, हालांकि कई लाभ होते हैं, फिर भी थोड़ा स्थिति नियंत्रण से बाहर हो सकती है। नौकरीपेशा लोगों के लिए काम में बदलाव व कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। आपके प्रयास आपको अच्छे परिणाम नहीं दे पाएं और इससे थोड़ा निराशा भी हो सकती है। लेकिन उम्मीद न खोएं और खुद को साबित करने के लिए अपनी बारी का इंतजार करें। आपको आने वाले समय में बेहतर लाभ प्राप्त होंगे। आप में से कुछ को वेतन वृद्धि भी मिल सकती है लेकिन साथ में सावधानी बरतें आर्थिक नुकसान और खर्चों में वृद्धि हो सकती है। इस समय   आपका स्वास्थ्य आपके लिए कुछ गंभीर समस्याएं पैदा कर सकता है इसलिए खान पान में सात्विकता बनाए रखें और संतुलित आहार को भोजन में शामिल करना उचित होगा। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर सप्तम भाव/Seventh house में होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति के चलते नए विचार और नई सोच देखने को मिल सकती है। इस गोचर की अवधि के दौरान, बुध  सप्तम भाव में चला जाता है। बिजनेस के लिए यह समय बदलाव की स्थिति को दर्शाता है। इस समय पर काम के क्षेत्र में साझेदारी से जुड़े काम में संभल कर आगे बढ़ने की आवश्यकता होगी। आपके काम में अच्छी गति देखने को भी मिल सकती है। बाहरी संपर्क द्वारा कुछ नई चीजों की खरीद की भी संभावना है। अगर आप किसी नए स्टार्टअप के बारे में सोच रहे हैं, तो कुछ चीजों को बेहतर तरीके से सोच विचार करके ही कोई फैसला लेना अनुकूल होगा। कुछ अप्रत्याशित स्रोतों से आपको लाभ मिल सकता है। कुछ यात्राओं के योग भी दिखाई देते हैं। इस अवधि में अविवाहित लोगों के विवाह के योग बन सकते हैं, लेकिन जीवन साथी के साथ कुछ वैचारिक मतभेद भी देखने को मिल सकते हैं। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit छठे भाव में होगा। इस अवधि में लोगों को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। यह समय उतार-चढ़ाव भरा रह सकता है। स्वास्थ्य के लिहाज से आपको लापरवाही नहीं करनी चाहिए। आपकी कोई आदत स्वास्थ्य के लिए परेशानी का सबब बन सकती है। त्वचा एवं रक्त संबंधी समस्या होने का संकेत भी दिखाई देता है। आपके बोलचाल और भाषा शैली में कुछ कठोरता हो सकती है, ऐसे में दूसरों की भावनाएं आहत हो सकती हैं। इसलिए किसी भी प्रकार के विवाद से बचना ही अनुकूल होगा। इस समय पर कानून मसलों में भी आपकी भागीदारी देखने को मिल सकती है। खर्चों पर नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है, क्योंकि भविष्य में अधिक खर्च आपके लिए एक बड़ी समस्या बन सकते हैं। इस दौरान कुछ दोस्त या परिवार की ओर से कुछ सहायता प्राप्त हो सकती है। नए कार्य क्षेत्र में अवसर भी प्राप्त होंगे और कड़े संघर्ष की स्थिति लाभ दिलाने में सहायक होगी। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर पंचम भाव में होगा, जिससे आपकी आय पर सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है। इस समय उच्च शिक्षा हेतु छात्रों को मौके मिल सकते हैं, कुछ नई संस्थानों में प्रवेश प्राप्ति के लिए आवेदन से जुड़ी प्रक्रियाओं में भी भाग ले सकते हैं। अपनी योजनाओं को पूरी तरह से क्रियान्वित करने में सक्षम होने के लिए प्रयास तेज करने होंगे। बाजार में सबसे मजबूत प्रतिस्पर्धा का अवसर भी देखने को मिलेगा। इस समय आप अपने प्रयासों द्वारा प्रशंसा पाने में सफल भी हो सकते हैं। नौकरीपेशा लोगों को बाजार में कुछ बड़े ब्रांड के साथ काम करने का मौका मिल सकता है। प्रेम संबंधों को लेकर थोड़ा उतार चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं। कला और रचनात्मकता के साथ खेल कूद से जुड़ी गतिविधियों में सफलता प्राप्ति के योग बनते हैं। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का सिंह राशि प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Leo

सिंह राशि के लिए बुध ग्रह का गोचर चतुर्थ भाव में होगा। इस गोचर की अवधि के दौरान, आपके सुख का भाव प्रभावित होगा। इस समय को धन कमाने और लाभ कमाने के अवसरों की तलाश में लगे रह सकते हैं। कुछ नई चीजों, भौतिक वस्तुओं जैसे वस्त्र, नया वाहन इत्यादि खरीदने के लिए यह समय अनुकूल रह सकता है। 

परिवार के साथ कुछ मामलों में विवाद देखने को मिल सकता है। वैचारिक मतभेद होने से घर से दूरी भी पनप सकती है। माता-पिता का सहयोग मिल सकता है, सोशल मीडिया के माध्यम से आप अपने रिश्तेदारों के साथ बातचीत कर पाएंगे और मित्रों के साथ मिल पाएंगे। संपत्ति से जुड़े कुछ समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं जिन्हें जल्द से जल्द निपटाने की आवश्यकता है, अन्यथा, यह कुछ विवादों को जन्म मिल सकता है। कार्यक्षेत्र/Office में बदलाव और प्रयासों का समय भी बना रहने वाला है। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Virgo

कन्या राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर/Mercury transit तीसरे भाव पर होगा। इस भाव में स्थित बुध के कारण प्रयासों में वृद्धि का समय होगा। बुध का प्रभाव आपके संचार को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय पर आपकी भाषा शैली प्रभावशाली थी। काल पुरुष कुंडली के अनुसार आपका तीसरा घर बुध का घर है, जो ग्रह को और अधिक मजबूत बनाता है। छात्रों को इस गोचर के माध्यम से लाभ मिल सकता है। आपकी बौद्धिकता में बदलाव भी देखने को मिल सकता है। अपनी पढ़ाई पर अधिक ध्यान देंगे, आपके प्रयास आपको कई अन्य पहलुओं में अच्छे परिणाम दे सकते हैं। कुछ यात्राएं लगातार भी हो सकती हैं,  हालांकि कुछ समय के लिए उनसे बचने की सलाह दी जाती है या अधिक जरूरी यात्राएं न हों तो उन्हें टाल देना अनुकूल होगा। कुछ आर्थिक समस्याएं भी परेशान कर सकती हैं।

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Libra

तुला राशि के लिए बुध ग्रह का गोचर दूसरे भाव में होगा। आपका दूसरा भाव वाणी भाव भी होता है, इसलिए यहां स्थित बुध के प्रभाव से आपकी भाषण क्षमता प्रभावशाली रह सकती है। आपका सेंस ऑफ ह्यूमर बेहतर होगा। लोग आपके विचारों को समझ पाएंगे और आप विवाद इत्यादि में स्थिति को अपने पक्ष में कर पाने में भी सक्षम रह सकते हैं। इस समय आपको इस बात पर भी ध्यान में रखना होगा कि आपके शब्द किसी की भावनाओं को ठेस न पहुंचा पाए, इसलिए आपको शब्दों के चुनाव के बारे में जागरूक और सतर्क रहना चाहिए अन्यथा आपको बाद में पछताना पड़ सकता है। कारोबार से जुड़े लोगों को कुछ लाभ के अवसर मिल सकते हैं। आपकी नई नीतियां आपके व्यवसाय को बढ़ावा देने वाली हो सकती हैं। आप अपने व्यवसाय का विस्तार करने के लिए धन का निवेश भी कर सकते हैं। हालांकि आपको अपने निवेश को लेकर थोड़ा गंभीर होना चाहिए, क्योंकि घाटे की भी स्थिति इस समय पर असर डाल सकती है, इसलिए निवेश करने से पहले सभी चीजों की जांच कर लेना अनुकूल होगा। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Scorpio

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय पर पहले भाव पर इस राशि पर ही होगा। बुध की स्थिति के प्रभाव द्वारा आत्मविश्वास में वृद्धि देखने को मिल सकती है। मानसिक रूप से विचारधारा में बदलाव भी देखने को मिल सकता है। बढ़े हुए आत्मविश्वास के साथ आप शायद गंभीर निर्णय लेने में सक्षम रह सकते हैं, इसलिए अभी जल्दबाजी के फैसलों को कुछ समय के लिए टाल देना भी अनुकूल ही होगा। कुछ मामलों में अति आत्मविश्वास वाद-विवाद का कारण बन सकता है, और ऐसे में आप किसी की भावनाओं को ठेस भी पहुंचा सकते हैं, इसलिए अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें और धैर्य के साथ आगे बढ़ना अनुकूल होगा। इस दौरान आपके भाई-बहन आपका साथ मिल सकता है। अपनों के प्रति आपका प्यार और स्नेह रहेगा। आप अपने खान पान और पहनावे को लेकर भी थोड़ा उत्सुकता दिखा सकते हैं, ऐसे में खर्चों का समय भी अभी रह सकता है। इस समय जीवन साथी के साथ आप अपने संबंधों को भी अधिक झुकाव में होंगे और उनके साथ कुछ अधिक समय बिताने की इच्छा भी रख सकते हैं। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर बारहवें भाव/Twelfth House में होगा। बुध के इस गोचर के प्रभाव स्वरूप आपको सकारात्मक और और नकारात्मक दोनों तरह के प्रभावों का सामना करना पड़ सकता है। बुध के गोचर का प्रभाव आपके खर्चों में वृद्धि लाने वाला हो सकता है। आप अपना अधिकांश धन विशेष कार्यों पर खर्च कर सकते हैं। जो छात्र उच्च अध्ययन के लिए विदेश जाने के इच्छुक हैं, उन्हें मौका मिल सकता है। कुछ नई चीजों से जुड़ने तथा जानकारी प्राप्त करने का अवसर भी इस समय पर मिलेगा। इस समय कड़ी मेहनत करनी होगी तब बेहतर परिणाम प्राप्त हो पाएंगे। किसी बाहरी संपर्क या व्यक्ति द्वारा कुछ काम में बाधा आ सकती है। स्वास्थ्य को लेकर चिंता रह सकती है। सामाजिक रूप से व्यस्तता अधिक रहेगी कुछ ट्रैवलिंग ज्यादा होने से भी स्वास्थ्य कमजोर रह सकता है। वाहन इत्यादि का संभल कर उपयोग करना होगा। कुछ लाभदायक निवेशों/Investment में सौदा करेंगे जो लंबे समय में मददगार साबित होंगे।

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Capricorn

मकर राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर एकादश भाव पर होगा। इस गोचर के अनुकूल परिणाम मिल सकते हैं। लाभ के भाव को प्रभावित करने के कारण आप कुछ अपना धन प्राप्त कर पाएंगे। आपकी वाणी में दूसरों को प्रभावित करने की क्षमता होगी लेकिन सतह ही कुछ कठोरता भी अधिक बढ़ सकती है। रिश्तों में आप कुछ जिद्दी भी रह सकते हैं और किसी वस्तु को पाने के लिए काफी प्रयासशील भी होंगे। अपनी योजनाओं द्वारा किसी के साथ मिलकर कुछ नए काम का आरंभ करने का विचार भी रहेगा। इस समय पर होने वाले कानूनी विवादों में आप अच्छे परिणाम को भी पा सकते हैं। ऑफिस में काम करने वालों को उनके सीनियर का सहयोग मिलेगा और आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स/Communication skills में सुधार होगा, जिससे आप अपने कार्यस्थल पर गति प्राप्त कर सकते हैं। छात्रों के लिए संघर्ष अधिक होगा, लेकिन इस समय गुरु जनों की ओर से कुछ सहायता मिलने से परिणामों को सुधारने का अवसर भी प्राप्त हो सकता है। 
बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर इस समय दशम भाव पर होगा। बुध के कार्यक्षेत्र पर प्रभाव के होने से आपके काम में बदलाव देखने को मिल सकते हैं। जीवन में कुछ उतार-चढ़ाव लगा रह सकता है। कुछ विरोधी आपके पीछे से अधिक बातें कर सकते हैं। नौकरीपेशा जीवन में आपको कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। आपके प्रयास आपको सफलता प्राप्त करने का मौका देंगे। सहकर्मियों के साथ आपके सम्बन्ध मजबूत करने के लिए आपको कोशिशों को करते रहने की आवश्यकता होगी। परिवार और काम दोनों स्थानों पर तालमेल बनाने की की जरूरत रहेगी। इस समय पर पार्ट टाइम काम का मौका भी मिल सकता है छात्र भी अपनी पढ़ाई के साथ-साथ कुछ आय प्राप्ति की कोशिशों में सफल हो सकते हैं। रिश्ते में रहने वालों को कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। किसी यात्रा के कारण अपने साथी से दूर जाना पड़ सकता है। आपका संचार और धैर्य रखने से आपको अपने साथी के साथ अपनी शर्तों को बनाए रखने में मदद मिलेगी तथा अपने साथी का सहयोग भी मिल सकता है। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Pisces

मीन राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर नवम भाव/Ninth House पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति का प्रभाव कुछ धार्मिक अथवा लंबी दूरी की यात्राओं का समय भी हो सकता है। कुछ सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। किसी बड़े वरिष्ठ व्यक्ति की ओर से आपको अपने कामों को करने का उद्देश्य प्राप्त होगा तथा सहायता भी मिल पाएगी। सामाजिक रूप से आप आस पास के लोगों के साथ जुड़ पाएंगे। आर्थिक स्थिति पर सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है, लेकिन इस समय खर्चों का भी समय होगा। अपने लंबित कार्यों को पूरा करने में सक्षम होंगे। आपके प्रयास बेकार नहीं जाएंगे और आपको अपने कार्य को अंजाम देने में किसी का साथ भी प्राप्त हो सकता है। फैमिली बिजनेस को विस्तार/Family business expansion और लाभ कमाने का मौका मिल पाएगा। नौकरीपेशा लोगों को किसी नए स्थान पर जाने, नए लोगों के साथ काम करने का मौका मिल पाएगा। दांपत्य जीवन में साथी के सहयोग द्वारा कुछ मांगलिक कार्यों की शुरुआत होती दिखाई देगी। 

बुध का धनु राशि गोचर | Mercury transit in Sagittarius
17 Dec,2020
से
04 Jan,2021

वैदिक ज्योतिष के अनुसार बुध ग्रह व्यक्ति की बौद्धिकता, निर्णयों, वाणी और व्यवहार को प्रभावित करता है। बुध का गोचर/Mercury transit जब धनु राशि में होता है तो उसके प्रभाव स्वरूप यह इच्छाओं, शक्ति और परिश्रम द्वारा प्राप्ति को दर्शाता है। परिवार और दोस्त आदि के प्रति जिम्मेदारियों का निर्वाह भी करने की क्षमता प्राप्त होती है। इस समय पर किसी रचनात्मक प्रतिभा, शैक्षणिक योग्यता, मनोरंजन, ऊर्जा और उत्साह, नई चीजों में रुचि को विस्तार प्राप्त होता है।

क्या आप अपनी राशि पर इस गोचर के प्रभाव के बारे में विस्तार में जानना चाहते हैं। यदि हां तो नीचे इस गोचर से किस राशि को क्या प्रभाव पड़ेगा, इसके बारे में विस्तार में जान सकते हैं। अपनी राशि अनुसार जानें कि किसी गोचर का आपकी राशि पर पड़ेगा प्रभाव।

बुध के धनु राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव/Ninth House को प्रभावित करने वाला होगा। नवम भाव भाग्य भाव भी कहलाता है, ऐसे में इस स्थान पर बुध की स्थिति कुछ सकारात्मक प्रभाव देने में सक्षम होगी। विरोधियों पर अपना प्रभाव जमाने में आप सक्षम हो सकते हैं। इस गोचर काल के दौरान, आपको यात्रा का अवसर मिल सकता है मुख्य काम को लेकर तथा धार्मिक या आध्यात्मिक रूप से इन यात्राओं का संबंध आप को प्रभावित कर सकता है। जो लोग संचार से जुड़े क्षेत्रों में काम कर रहे हैं, उन्हें भी इस समय पर कुछ सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो सकते है। यदि आप अपनी नौकरी बदलने की कोशिश कर रहे हैं, तो आपको अनुकूल परिणाम भी मिल सकते हैं। आप अपने सामाजिक स्तर में वृद्धि का अनुभव कर सकते हैं और लोग आपके अच्छे कार्यों के कारण आपकी सराहना भी कर सकते हैं। इस समय पर विवाद से बचने की अधिक आवश्यकता होगी और जोश से अच्छा धैर्य में रहते हुए काम किए जाना आपके लिए अधिक अनुकूल साबित हो सकता है। 

बुध के धनु राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर आठवें भाव पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति सकारात्मक और नकारात्मक दोनों ही तरह के प्रभाव देने वाली होगी। इस समय पर कुछ अप्रत्याशित नुकसान का सामना करना पड़ सकता है, जिससे वित्तीय स्थिति/Financial condition पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। आप नई चीजों को सीखने के प्रति अधिक इच्छुक रह सकते हैं। आध्यात्मिक विषयों के प्रति और गूढ़ रहस्यों को जानने की इच्छा आप में रह सकती है। इस समय पर छात्र विदेश जाकर शिक्षा पाने के इच्छुक हो सकते हैं। यदि छात्र किसी भी शोध कार्यों से जुड़े हुए होंगे तो उन्हें कुछ अच्छे परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। आपको पैतृक संपत्ति विवाद/Ancestral property issues की स्थिति का सामना भी करना पड़ सकता है, लेकिन स्थिति आपके पक्ष में भी काम कर सकती है। इस समय पर स्वास्थ्य का ध्यान रखने की सलाह दी जाती है। अग्नि या धारदार वस्तु से चोट इत्यादि लगने का भय भी बना रह सकता है। वाहन इत्यादि का संभल कर उपयोग करना होगा। इस समय वाणी में क्रोध को शामिल न होने दीजिए, अन्यथा लोग आपको ही गलत समझ सकते हैं। 

बुध के धनु राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर सप्तम भाव/Seventh House पर होगा। इस गोचर के दौरान आप स्वयं को लेकर तथा अपने सामने वाले के प्रति अधिक सोच विचार में रह सकते हैं। प्रेम संबंधों में कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है लेकिन साथी का सहयोग पाकर चीजें सुलझ भी सकती हैं। साझेदारी से जुड़े कामों में कुछ लोगों का हस्तक्षेप अधिक रह सकता है। इस समय फैसले लेने से पहले सोच विचार करके आगे बढ़ना अधिक उपयुक्त होगा। आप अपने बोलने और व्यवहार के तरीके में बदलाव देख पाएंगे। प्रेम संबंधों को मजबूत संचार के द्वारा ही अच्छा किया जा सकता है। आपको अपने खर्चों पर नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है, अन्यथा, आप कुछ व्यर्थ की चीजों में भी अधिक खर्च कर सकते हैं। बिजनेस से जुड़े लोगों को शांत रहना होगा और अनुकूल समय का इंतजार करना होगा। पिछले निवेशों और कुछ हाल के निवेशों के माध्यम से भी लाभ प्राप्त करने की संभावना है। अपने और जीवन साथी के स्वास्थ्य की उपेक्षा करना परेशानी का सबब बन सकता है, इसलिए उचित आहार और खुद को फिट रखने के लिए आपको व्यायाम एवं योग इत्यादि को अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए। 

बुध के धनु राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Cancer

कर्क राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर छठे भाव/Sixth house पर होगा। ऎसे में यह समय प्रतियोगिताओं और संघर्ष की स्थिति को दर्शाने वाला होगा। इस समय पर विरोधियों से सावधान रहना होगा और उचित नीतियों द्वारा आप अच्छे लाभ भी पा सकते हैं। आपके और आपके साथी के बीच कुछ अनबन हो सकती है, इसलिए आपको उन्हें शांति और सावधानी से संभालने की जरूरत होगी। इस समय आपको अपनी भावनाओं को नियंत्रित रखते हुए काम करने की आवश्यकता होगी। विपरीत स्थितियों से निपटने का सबसे सही तरीका है कि आप प्रत्येक स्थिति पर पूरा ध्यान दें। इस गोचर के दौरान आपका स्वास्थ्य भी प्रभावित हो सकता है, इसलिए खान पान और किसी भी प्रकार के व्यसन इत्यादि से बचना ही उचित होगा। कामकाज में अपने समर्पण और कड़ी मेहनत से सफलता की राह को प्राप्त भी कर पाएंगे। इस समय पर आपको खर्चों पर कंट्रोल करने की जरूरत होगी। 

बुध के धनु राशि में गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर इनके पंचम भाव पर होगा। इस गोचर/Mercury transit का प्रभाव आपके संबंधों और बुद्धि कुशलता, प्रतिभा को प्रभावित करने वाला होगा। आपका लाभ भी इस समय सीधे तौर पर प्रभावित होगा। आप की भाषा शैली और तर्क कुशलता दूसरों को प्रभावित करने वाली होगी। यदि किसी विवाद या तर्क में शामिल होते हैं तो जीत आपको मिल सकती है। अधिकारियों की ओर से काम में विस्तार के साथ साथ नई जिम्मेदारियां भी मिल सकती हैं।  ईमानदारी और बुद्धिमता सभी का मन मोह सकती है। आपको अपने प्रतिद्वंद्वियों से उचित दूरी बनाए रखने की कोशिश करनी चाहिए, आप कुछ यात्राएं भी कर सकते हैं। जीवनसाथी के साथ आपके संबंध अनुकूल रह सकते हैं हा प्यार के मामले में आप थोड़ा अधिक जिद और अपनी चलाने वाले अधिक रह सकते हैं। इसलिए स्वभाव पर नियंत्रण रखें और अपने साथी पर पूरा ध्यान दें। छात्रों के लिए यह समय अनुकूल रह सकता है और कुछ बेहतर प्रतिभाओं को उभरने का मौका भी इस समय मिल सकता है।

बुध के धनु राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Virgo

कन्या राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर इनके चौथे भाव/Fourth House को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय पर अच्छे लाभ की प्राप्ति को भी कर पाने में आपको सफलता मिल सकती है। जो लोग घर से दूर हैं उन्हें अपनी घर वापसी का मौका भी मिल सकता है। छात्र अपनी सफलता के लिए बेहतर रास्ते चुन सकते हैं और परिवार के लोगों का सहयोग आपके काम आएगा। घर पर कुछ चीजों में बदलाव तथा नई चीजों का आगमन हो सकता है। स्त्री पक्ष की ओर से कुछ चिंता रह सकती है। आपके विचार कई लोगों को आकर्षित कर सकते हैं। आपकी भाषा शैली में कुछ कठोरता होने से विवाद या तर्क की स्थिति भी इस समय आपको प्रभावित कर सकती है। काम काज में अपने सहकर्मियों का बहुत अधिक सहयोग न मिल पाए, लेकिन फिर भी आप उन्हें अपने साथ लेकर चलने की योग्यता का परिचय देने में सफल होंगे। 

बुध के धनु राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Tula

तुला राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव में होगा। तीसरा भाव आपके पराक्रम और संचार को प्रभावित करने वाला होता है। इस स्थान पर बुध के होने से आप में बातचीत करने का कौशल अनुकूल रह सकता है। जो लोग मीडिया या शिक्षा इत्यादि के क्षेत्र से जुड़े हैं, तो कुछ नए बेहतर मौके मिल सकते हैं तथा इनसे लाभ प्राप्त करने में भी आप सफल रह सकते हैं। आपका आत्मविश्वास और इच्छाशक्ति भी उत्तम स्तर की होगी। आप अपनी मेहनत द्वारा भाग्य का निर्माण कर पाने में सक्षम रह सकते हैं। इस समय पर भाई बहनों के साथ आपका कुछ विवाद हो सकता है, लेकिन स्थिति जल्द ही नियंत्रण में होगी। कुछ अचानक से यात्राओं का दौर आपके खर्च की अधिकता को दर्शाने वाला होगा। छात्रों को अपनी पढ़ाई में अच्छा प्रदर्शन करने का मौका मिल सकता है। खेलकूद से जुड़े शौक में भी आप शामिल हो सकते हैं। 

बुध के धनु राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Scorpio

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इनके दूसरे भाव पर होगा। आपका दूसरा भाव वाणी और आय की स्थिति को दर्शाता है तथा इस स्थान पर बुध की स्थिति आपके लिए इन चीजों को प्रभाव देने वाली होगी। इस समय पर आप बोलचाल में कुशल हो सकते हैं। एक प्रभावशाली वक्ता की भूमिका भी निभा सकते हैं, लेकिन इसके साथ ही ध्यान देना होगा की आप की वाणी में अहम का भाव या घमंड़ का भाव ना आए अन्यथा विवाद से बच पाना आपके लिए मुश्किल साबित हो सकता है। आप अपनी बौद्धिकता द्वारा कई मसलों पर अलग राय देने में सक्षम होंगे। आप में से कुछ लोगों के पास कुछ संपत्ति या पिछले निवेश के माध्यम से लाभ कमाने की अच्छी संभावना भी बनती है। इस समय पर आप अपने प्रेम संबंधों को लेकर थोड़ा असमंजस की स्थिति में भी रह सकते हैं। अपने प्रिय के साथ आपके संबंध कमजोर होने के कुछ आसार हो सकते हैं, इसलिए उनके साथ समय बिताना और उन्हें अपनी ओर से कुछ भेंट देना रिश्तों को मजबूती देने वाला होगा। खान पान में लापरवाही ना करें और अपनी सेहत का ध्यान रखें अन्यथा सेहत पर इसका सीधा असर पड़ सकता है। 

बुध के धनु राशि में गोचर का धनु  राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Sagittarius

इस गोचर का प्रभाव आपके प्रथम भाव/First House में होगा जो कि आपके स्वभाव और आपके रहन-सहन को प्रभावित करने वाला होगा। आपके बोलने का प्रभावशाली तरीका कई लोगों को आकर्षित करेगा और आपको एक मजबूत व्यक्तित्व प्राप्त हो सकता है। इस समय आप कुछ मनमर्जी भी अधिक कर सकते हैं तथा अपने विचारों को जबरदस्ती दूसरों पर थोपना चाहेंगे तो ऐसे समय में आप व्यर्थ के विवाद में भी उलझ सकते हैं, इसलिए इन स्थितियों से स्वयं को बचा कर रखना ही समझदारी होगी। इस समय पर संबंधों द्वारा आपको लाभ की प्राप्ति हो सकती है। नौकरी में आपको अपनी मेहनत और लगन के कारण सफलता का स्वाद चखने को मिल सकता है। इस समय आपको कार्यालय की राजनीति से दूर रहने की सलाह दी जाती है। जीवन साथी की ओर से कई मसलों पर आपको सहायता भी मिल सकती है। 

बुध के धनु राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर इनके द्वादश भाव पर होगा। इस समय पर आपको मिले जुले प्रभाव अधिक देखने को मिल सकते हैं। लाभ और हानि दोनों की प्रकार की संभावनाएं इस समय आपको प्रभावित कर सकती हैं, इसलिए काम में समझदारी और धैर्य को शामिल करना उपयुक्त होगा। किसी प्रकार का मानसिक तनाव आप को परेशान भी कर सकता है। काम को समय पर पूरा करने और परिवार को लेकर आप अधिक सोच-विचार में रह सकते हैं। यह समय मानसिक और शारीरिक रूप से कुछ तनावपूर्ण स्थिति को भी दर्शाता है इसलिए बहुत अधिक कार्य करके अपने आप को तनाव में न डालें और संतुलन बनाए रखना आवश्यक होगा।  यदि कोई व्यावसायिक गतिविधियों में शामिल है, तो बाहरी संपर्क कुछ काम आ सकते हैं। आपको अपने खर्चों पर नज़र रखनी होगी अन्यथा अनावश्यक खर्च करना आपको अवांछित तनाव दे सकते हैं।

बुध के धनु राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Aquarius

कुंभ राशि वालों के लिए बुध का प्रभाव ग्यारहवें भाव/Eleventh House पर होगा। आपके घर पर इस ग्रह का प्रभाव आपको कुछ अनुकूल परिणाम देने वाला हो सकता है। आपका ग्यारहवां घर लाभ स्थान कहलाता है। यह समय आपको आपके वित्त, रिश्ते, परिवार, नौकरी, ज्ञान, धैर्य आदि के मामले में असर डालने वाला होगा।  कुंभ राशि के लिए विदेश व्यापार के माध्यम से नए संबंध बनाने और वित्तीय क्षेत्रों में अत्यधिक लाभ प्राप्त करने का अवसर मिल सकता है। जीवनसाथी इस समय बेहद सहयोगी हो सकता है। नए रिश्तों से जुड़ने का भी यह समय हो सकता है। लोगों के साथ मेलजोल तथा सामाजिक क्षेत्र में आपकी व्यस्तता अधिक रह सकती है। आप अपने दोस्तों के साथ कुछ नई चीजों में काम कर सकते हैं। प्रेम संबंधों में साथी के साथ आपसी समझ की भावना भी विकसित होगी। इस समय कुछ बातों को लेकर कुछ अलगाव होगा लेकिन स्थिति को संभाल लेने का भी आपको अवसर मिलेगा। काम काज में अधिकारियों तथा अपने वरिष्ठों का सहयोग मिल सकता है।  उनके विचारों से आप अपने-अपने क्षेत्र में अच्छी छवि बना पाने में भी सफल हो सकते हैं।

बुध के धनु राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Pisces

बुध का गोचर अभी दशम भाव पर होगा। बुध के इस गोचर के कारण आपका ऑफिस के काम प्रभावित होगा। जो लोग नए काम की तलाश में थे, उन्हें अब कुछ अवसर मिल सकते हैं। इस समय पर काम के क्षेत्र में नए लोगों के साथ मिलना भी होगा। साथ में काम करने वाले लोगों की ओर से मिलाजुला रिस्पांस ही अभी आप देख पाएंगे। इस समय दूसरों  पर अधिक ध्यान देने से बचें और अपने काम पर ही एकाग्रता को बनाए रखें। आपकी उत्कृष्टता और समर्पण का भाव ही आपको सफलता दिलाने में सहायक होगा। माता-पिता का सहयोग मिलेगा और साथ ही घरेलू स्तर पर आप ज्यादा रुचि ले सकते हैं। घर पर होने वाले कामों को करने में आप मेहनत से लगे होंगे। भाई बहनों का पूरा सहयोग अभी न मिल पाए लेकिन आने वाले दिनों में वे आपके साथ खड़े होंगे। परिवार में सुख समृद्धि का आगमन होगा। मन को सुकून मिल सकता है और आपका प्रिय साथी हर कदम पर आपका साथ देने वाला हो सकता है। स्वास्थ्य अच्छा रहेगा और आप कुछ खेल कूद इत्यादि कार्यों में भी भाग लेने का अवसर मिल सकता है।

कन्या राशि में बुध के गोचर का प्रभाव | Impact of Mercury transit in Virgo
02 Oct,2021
से
01 Nov,2021

बुध का कन्या राशि/Mercury transit in Virgo में गोचर करना एक अनुकूल स्थिति मानी जाती है। इसका मुख्य कारण यह है कि बुध ग्रह कन्या राशि के स्वामी हैं और साथ ही वह कन्या राशि में उच्च स्थिति को भी पाते हैं इसलिए एक साथ इन दो महत्वपूर्ण बातों का होना बुध के गुणों में वृद्धि करने वाला होता है और साथ ही बुध के शुभ प्रभाव भी दिखाई देते हैं। बुध का यह प्रभाव कन्या राशि के व्यक्ति के लिए तो खास होता ही है साथ ही यह अन्य राशियों पर भी असर डालने वाला होता है। बुध के कन्या राशि गोचर का जीवन के विभिन्न क्षेत्रों पर प्रभावशाली प्रभाव देखने को मिल सकता है। बुध का गोचर बातचीत के तरीके को प्रभावित करता है, दूसरों की मदद करने, परिवार, वित्त, बुद्धि, वैवाहिक जीवन/married life पर प्रभाव डालता है। यह गोचर राशि चक्र में प्रत्येक राशि पर प्रभावशाली होगा क्योंकि बुध का प्रभाव वाणी, संचार, प्रौद्योगिकी और यात्रा पर होता है। यह गोचर आपके जीवन पर कुछ अनुकूल प्रभाव डाल सकते हैं। सीखने के प्रति अच्छा झुकाव देखने को मिल सकता है, अपने इच्छित स्थानों की यात्रा करने का मौका मिल सकता है, समाज में अच्छी स्थिति को प्राप्त किया जा सकता है और इस प्रकार से कई अन्य बातों पर बुध ग्रह एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

कन्या राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Aries

मेष राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर छठे भाव/Sixth House पर होगा। छठा भाव इस समय पर अधिक प्रभशाली होने के कारण प्रतियोगिताएं कठिन हो सकती है और परिश्रम भी अधिक रह सकता है। इसलिए इस समय पर जो भी कार्य आप करते हैं उसमें आलस्य नहीं आने दीजिए और एकाग्रता के साथ उसे करने से ही आप सफलता को प्राप्त कर पाने में सक्षम होंगे। यह गोचर काल आपके कार्यक्षेत्र में व्यस्तता को दर्शाने वाला भी होगा। संतान पक्ष की ओर से भी आप काफी सोच विचार की स्थिति में रह सकते हैं। छात्रों को अपनी परीक्षाओं में अच्छे परिणाम पाने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी। इस समय पर विरोधी पक्ष आपको परेशान कर सकता है, लेकिन आप अपने साहस ओर उचित सूझबूझ द्वारा उन्हें हराने में भी सक्षम होंगे। अपने क्षेत्रों में सफलता और बदलाव दोनों ही प्रकार की स्थितियां अभी अपना असर दिखा सकती हैं। कुछ मामलों में व्यर्थ की भागदौड़ भी रह सकती है। थकान होने के कारण कुछ समय के लिए अवकाश भी ले सकते हैं। खर्चों पर नियंत्रण बना कर रखें तथा स्वास्थ्य को लेकर भी सजग रहें। 

कन्या राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर पंचम भाव पर होगा। इस भाव पर बुध की स्थिति के चलते कुछ सकारात्मक प्रभाव/Positive impact of transit देखने को मिल सकते हैं। आर्थिक स्थिति में आप प्रयासों द्वारा लाभ प्राप्त करने में सक्षम हो सकते हैं।  प्यार से संबंधित मामलों में आप कुछ अच्छे समय को भी देख पाएंगे। साथी का सहयोग मिलेगा तथा प्रेम जीवन समृद्ध होगा। अपने पार्टनर के साथ कुछ अच्छा समय बिताने को भी मिल सकता है। यह समय दोस्तों के साथ मुलाकातों को दर्शाता है और भ्रमण के मौके भी देता है। जीवनसाथी के साथ आपसी समझ का भाव विकसित होगा, कुछ कारणों से यदि वाद-विवाद हो भी जाता है तो ऐसे में इस स्थिति को धैर्य के साथ संभालना आपके लिए उत्तम होगा। कुछ लोग इस समय में आध्यात्मिक अध्ययन के कार्य व धार्मिक कृत्यों में शामिल हो सकते हैं। संपत्ति की खरीद फरोख्त का भी समय बना हुआ है। छात्रों को अपनी उच्च शिक्षा प्राप्ति हेतु कुछ अवसर भी प्राप्त हो सकते हैं। 

कन्या राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर इनके चतुर्थ भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध ग्रह की आपके सुख भाव पर गोचर की स्थिति के चलते आपका सुख, आपका रहन सहन प्रभावित हो सकता है। जीवन में सकारात्मकता बढ़ सकती है। कुछ अच्छी वस्तुओं की प्राप्ति का भी योग बना हुआ है। कुछ पैतृक संपत्ति का लाभ भी इस समय पर हो सकता है। संपत्ति/Property इत्यादि के माध्यम से अच्छा मुनाफा भी प्राप्त होगा।  मजबूत बुध का इस स्थान पर होना जीवन में भाग्य दायक हो सकता है। इस दौरान आप घर या अपने लिए कुछ नई वस्तु की खरीदारी इत्यादि का मन भी बना सकते हैं। अपने माता-पिता का साथ और प्रेम प्राप्त होगा। जो लोग अपने घर से दूर हैं उन्हें अपने घर जाने का अवसर मिल सकता है। अपने लोगों के साथ मेलजोल की भी स्थिति उभर सकती है, उनके साथ बिताने के लिए आपको कुछ समय बिताने को मिल सकता है। कार्यक्षेत्र को लेकर आप की जिम्मेदारियां और काम की अधिकता भी रह सकती है। 

कन्या राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit तृतीय भाव पर होगा। बुध के इस स्थान पर गोचर द्वारा आपका संघर्ष, परिश्रम, तथा यात्राओं में वृद्धि का समय प्रभावित होगा। आपका तीसरा भाव पराक्रम स्थान के नाम से भी जाना जाता है। इस स्थान पर बुध का गोचर आपकी ऊर्जा में वृद्धि करने वाला होगा। आपको सकारात्मक सोच प्राप्त होगी और कार्यक्षेत्र में आपके लिए प्रगति के अच्छे अवसर भी प्राप्त हो सकते हैं। आपके आत्मविश्वास, धैर्य, संचार कौशल और बुद्धि इन सभी के द्वारा आप बेहतर परिणामों को पाने में भी सफल हो सकते हैं। आप सामाजिक रूप से भी आगे रह सकते हैं कई चीजों में शामिल होकर उन्नति के मार्ग में आगे बढ़ सकते हैं। इस दौरान आप खुद को शक्तिशाली महसूस कर सकते हैं।  और आपके विचारों में स्पष्टता भी होगी, लोग आपकी ओर आकर्षित होंगे, और आप हर कार्य को पूर्णता के साथ पूरा करने में सक्षम रह सकते हैं। कार्य क्षेत्र में अतिरिक्त आय के स्त्रोत द्वारा आप लाभ अर्जित करने में भी सफल रह सकते हैं।

कन्या राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के दूसरे भाव में गोचर द्वारा आपकी वाणी में प्रभाव अच्छा देखने को मिलेगा लोग आपकी बातों को सुनना पसंद करेंगे तथा आप दूसरों को सहमत कर पाने में भी सक्षम हो सकते हैं। सिंह राशि वालों के लिए यह समय सकारात्मक प्रभाव/Positive impact डालने वाला होगा। इस दौरान आपको कोई शुभ समाचार मिल सकता है, व्यापार के क्षेत्र में शामिल लोगों के लिए अच्छा समय होगा और विभिन्न स्रोतों से भारी मुनाफा भी प्राप्त हो सकता है। आपको पैतृक संपत्ति या पूर्व में किए गए निवेश के माध्यम से लाभ प्राप्त करने का भी अच्छा समय देखने को मिल सकता है। आप इस समय अपने कर्ज को चुकाने में सफल हो सकते हैं। आपके पास हास्य की अच्छी समझ होगी, और आपकी भाषा शैली का कौशल आपको नए दोस्त बनाने में मदद करेगा। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर राशि पर ही होने के कारण यह लग्न को प्रभावित करेगा। बुध के गोचर प्रभाव आपकी सोच और विचारधारा में नयापन देखने को मिलेगा। कुछ अच्छे और बेहतर फैसलों को ले पाएंगे। अपने आस पास और स्वयं को लेकर भी काफी सजग होंगे। चीजों में बदलाव के साथ साथ सुधार भी बना रह सकता है। भाग्यशाली रह सकते हैं और कुछ काम बिना किसी प्रयत्न के भी पूर्ण होते दिखाई दे सकते हैं। वरिष्ठ अधिकारी आपके समर्पण और कड़ी मेहनत की प्रशंसा भी कर सकते हैं। परिवार के साथ कुछ अच्छा समय बिता सकते हैं। मानसिक रूप से उत्साह बना रहेगा। मौज मस्ती का समय मिल पाए और माता पिता का समर्थन और प्रेम प्राप्त कर सकते हैं। समय पर कार्य पूरे होंगे और आपके द्वारा किए गए प्रयासों की प्रशंसा होगी और हर कोई आपकी टाइमिंग से प्रभावित हो सकता है। अपने प्रतिद्वंद्वियों से सतर्क रहें क्योंकि वह आपकी छवि को खराब करने की कोशिश कर सकते हैं। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर द्वादश भाव पर होगा। बुध ग्रह के इस गोचर के प्रभाव स्वरूप कुछ अच्छे तो कुछ विपरीत समाचार सुनने को मिल सकते हैं। विदेश में या घर से दूर रह रहे लोगों को लाभ मिल सकता है। इस समय पर नए काम का आना मानसिक तनाव और थकान दोनों को बढ़ाने वाला हो सकता है।  खर्चों की अधिकता किसी रूप में प्रभाव डाल सकती है। कुछ न कुछ चीजों की खरीदारी का होना और स्वास्थ्य से जुड़े मसलों को लेकर भी खर्च बना रहने वाला है। कोई संपत्ति की खरीद कर सकते है। तथा साथ ही कानूनी कार्यों में भी किसी न किसी रूप से प्रभाव देखने को मिल सकता है। कोई यात्रा हो सकती है, अपने परिवार के साथ कुछ समय बिताएंगे, साथी आपका समर्थन पूरी तरह से न करना चाहे ऐसे में तनाव और विवाद भी हो सकता है। स्वास्थ्य को लेकर सजग रहें।  खुद को फिट और फाइन रखने के लिए नियमित व्यायाम या योग करना अच्छा विकल्प हो सकता है। सेहत का ख़्याल रखना आपके लिए फ़ायदेमंद रहेगा क्योंकि इससे आपका मन शांत रहेगा।

बुध के कन्या राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। यह समय होगा नई चीजों से लाभ अर्जित करने का। कुछ काम के सिलसिले में लगातार प्रयास और यात्राओं द्वारा बेहतर मुनाफे की संभावना भी बनती है। यह लाभ की उच्च स्थिति का प्रभाव उस व्यक्ति के जीवन में अचानक से कुछ बदलाव और सकारात्मक परिणाम देने में सक्षम होगा। परिवार के लोगों की ओर से भी आपको सहायता मिलेगी। इस समय पर संतान के सुख की प्राप्ति हो सकती है और साथ ही माता-पिता बच्चों के लिए भी व्यस्तता अधिक रह सकते हैं। नए काम मिलने की संभावना बनी हुई है। यह समय भाई बंधुओं के साथ प्रेम और अच्छे पलों को दिलाने में सहायक बन सकता है। प्रेम संबंधों में आपको अपने साथी का सहयोग मिल सकता है और रिश्तों में मजबूती भी देखने को मिल सकती है। इस समय अपने कर्जों को चुकाने का भी कुछ मौका जरुर मिल सकता है। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर दशम भाव/Tenth House पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति आपको अपने काम में आगे बढ़ने के अवसर देने वाली होगी। इस समय पर काम के क्षेत्र में सहयोगियों की ओर से भी कुछ समर्थन प्राप्त हो सकता है। कार्य स्थल पर कुछ मस्ती के मौके ओर पार्टी इत्यादि में शामिल होने को भी मिल सकता है। पद प्राप्ति या कुछ मुन तो आपको इस समय पर मिल ही सकता है। कारोबार से जुड़े लोग अपने काम में सामान की खरीदारी में व्यस्त होंगे तथा साथ ही चीजों की बिक्री भी अच्छी रह सकती है। कुछ पुराने लोगों के साथ मिलने का अवसर भी हो सकता है। घर पर किसी के आगमन द्वारा व्यस्तता अधिक बढ़ सकती है। कहीं समारोह या फंक्शन आदि में निमंत्रण भी मिल सकता है। इस समय काम के साथ साथ कुछ नए चीजों के साथ जुड़ने और उन्हें करने का मौका भी आपके पास होगा, इस समय पर नई चीजों से जुड़ना अच्छा रह सकता है। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव/Ninth House पर होगा। नौवें भाव में उच्च स्थिति को पर बुध अपने शुभ फलों को प्रदान करने में सक्षम होगा। भाग्य द्वारा चीजों की प्राप्ति हो सकती है। अगर कुछ समय से कोई योजना रुकी हुई थी तो अब उस के आगे बढ़ने का अच्छा समय दिखाई देता है। इस गोचर काल में आपको लाभ मिलेगा,  नौकरीपेशे लोगों को अपने काम में आगे बढ़ने के कुछ अवसर मिल सकते हैं। दूर स्थल पर रहने वालों को अपने परिवार के साथ होने का सुख मिल सकता है। जो छात्र परीक्षा के परिणाम को लेकर चिंता में हैं उन्हें कुछ सकारात्मक फलों की प्राप्ति भी हो सकती है। अपने-अपने क्षेत्रों में बहुत अच्छा करेंगे, और आपके शानदार काम के लिए आपको कर्मचारियों का सहयोग मिल सकता है और साथ ही बड़े लोगों द्वारा आपकी प्रशंसा की जा सकती है। यात्राएं तो होंगी साथ में लोगों के साथ सामाजिक रूप से जुड़ाव भी गहरा होगा। कुछ वेतन वृद्धि या पदोन्नति मिलने का भी योग बनता है। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर आठवें भाव पर होगा, इस समय अष्टम भाव अपनी मजबूत स्थिति में होने के कारण जीवन में कुछ आकस्मिक लाभ और हानि दोनों ही स्थितियों का प्रभाव देखने को मिल सकता है। बुध ग्रह का गोचर आपकी राशि के आठवें भाव में होने के कारण आपको कुछ ऐसे स्थानों से लाभ की प्राप्ति हो सकती है जिसके बारे में आपने सोचा ही न हो, जो लोग उन कामों से जुड़े हैं जिनमें अधिक रिस्क है उस में लाभ भी होगा। शेयर मार्किट, लॉटरी इत्यादि से मुनाफा भी मिल सकता है लेकिन यह लौंग टर्म का मुनाफा/Long term profit न हो पाए इसलिए इस सब में पड़ने से पूर्व अच्छे से सोच विचार करना ही सही है। यह समय जीवन पर सकारात्मक और नकारात्मक दोनों प्रभाव डालने वाला होगा। आपके पिता या किसी बड़े के साथ आपके विवाद कुछ शांत हो सकते हैं। विरासत से लाभ मिल सकता है। प्रेम के संबंधों में छुपे हुए रिश्ते अब सामने भी आ सकते हैं। स्वास्थ्य को लेकर थोड़ा अधिक सजग होने की आवश्यकता होगी कोई पुराना रोग भी अब अधिक परेशानी दे सकता है। 

मीन राशि पर बुध के कन्या राशि में गोचर का प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर सप्तम भाव पर होगा। इस समय पर वैवाहिक जीवन/Married  life में गिले शिकवे कुछ समाप्त होते दिखाई देंगे, जीवन साथी के साथ आप सौहार्दपूर्वक समय बिता सकते हैं। आपको अपने परिवार के साथ कुछ आनंदमय समय बिताने को मिलेगा। रिश्तों में लोगों को अपने प्यार को शादी में बदलने का मौका मिल सकता है,  हालांकि ऐसा करने में उन्हें कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा लेकिन स्थिति पक्ष में भी रह सकते है। आप हर उठने वाले विवाद को दूर करने का एक तरीका खोज सकते हैं इसलिए धैर्य मत खोना और शांति से चीजों को सुलझाने की कोशिश करना अच्छा होगा। इस गोचर के दौरान कुछ अप्रत्याशित स्रोतों से लाभ मिलने की प्रबल संभावना है। आपके दोस्त और परिवार आपके जीवन के हर कदम पर आपका पूरा साथ दे सकते हैं। साझेदारी में किए जाने वाले काम में एक-दूसरे के करीब आने के बेहतरीन मौके मिलेंगे। स्वास्थ्य अच्छा बना रहेगा, हालांकि कुछ शारीरिक गतिविधि जैसे खेल खेलना या व्यायाम करने की सलाह दी जाती है।

बुध का धनु राशि गोचर | Mercury transit in Sagittarius
10 Dec,2021
से
28 Dec,2021

वैदिक ज्योतिष के अनुसार बुध ग्रह व्यक्ति की बौद्धिकता, निर्णयों, वाणी और व्यवहार को प्रभावित करता है। बुध का गोचर/Mercury transit जब धनु राशि में होता है तो उसके प्रभाव स्वरूप यह इच्छाओं, शक्ति और परिश्रम द्वारा प्राप्ति को दर्शाता है। परिवार और दोस्त आदि के प्रति जिम्मेदारियों का निर्वाह भी करने की क्षमता प्राप्त होती है। इस समय पर किसी रचनात्मक प्रतिभा, शैक्षणिक योग्यता, मनोरंजन, ऊर्जा और उत्साह, नई चीजों में रुचि को विस्तार प्राप्त होता है।

क्या आप अपनी राशि पर इस गोचर के प्रभाव के बारे में विस्तार में जानना चाहते हैं। यदि हां तो नीचे इस गोचर से किस राशि को क्या प्रभाव पड़ेगा, इसके बारे में विस्तार में जान सकते हैं। अपनी राशि अनुसार जानें कि किसी गोचर का आपकी राशि पर पड़ेगा प्रभाव।

बुध के धनु राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव/Ninth House को प्रभावित करने वाला होगा। नवम भाव भाग्य भाव भी कहलाता है, ऐसे में इस स्थान पर बुध की स्थिति कुछ सकारात्मक प्रभाव देने में सक्षम होगी। विरोधियों पर अपना प्रभाव जमाने में आप सक्षम हो सकते हैं। इस गोचर काल के दौरान, आपको यात्रा का अवसर मिल सकता है मुख्य काम को लेकर तथा धार्मिक या आध्यात्मिक रूप से इन यात्राओं का संबंध आप को प्रभावित कर सकता है। जो लोग संचार से जुड़े क्षेत्रों में काम कर रहे हैं, उन्हें भी इस समय पर कुछ सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो सकते है। यदि आप अपनी नौकरी बदलने की कोशिश कर रहे हैं, तो आपको अनुकूल परिणाम भी मिल सकते हैं। आप अपने सामाजिक स्तर में वृद्धि का अनुभव कर सकते हैं और लोग आपके अच्छे कार्यों के कारण आपकी सराहना भी कर सकते हैं। इस समय पर विवाद से बचने की अधिक आवश्यकता होगी और जोश से अच्छा धैर्य में रहते हुए काम किए जाना आपके लिए अधिक अनुकूल साबित हो सकता है। 

बुध के धनु राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर आठवें भाव पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति सकारात्मक और नकारात्मक दोनों ही तरह के प्रभाव देने वाली होगी। इस समय पर कुछ अप्रत्याशित नुकसान का सामना करना पड़ सकता है, जिससे वित्तीय स्थिति/Financial condition पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। आप नई चीजों को सीखने के प्रति अधिक इच्छुक रह सकते हैं। आध्यात्मिक विषयों के प्रति और गूढ़ रहस्यों को जानने की इच्छा आप में रह सकती है। इस समय पर छात्र विदेश जाकर शिक्षा पाने के इच्छुक हो सकते हैं। यदि छात्र किसी भी शोध कार्यों से जुड़े हुए होंगे तो उन्हें कुछ अच्छे परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। आपको पैतृक संपत्ति विवाद/Ancestral property issues की स्थिति का सामना भी करना पड़ सकता है, लेकिन स्थिति आपके पक्ष में भी काम कर सकती है। इस समय पर स्वास्थ्य का ध्यान रखने की सलाह दी जाती है। अग्नि या धारदार वस्तु से चोट इत्यादि लगने का भय भी बना रह सकता है। वाहन इत्यादि का संभल कर उपयोग करना होगा। इस समय वाणी में क्रोध को शामिल न होने दीजिए, अन्यथा लोग आपको ही गलत समझ सकते हैं। 

बुध के धनु राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर सप्तम भाव/Seventh House पर होगा। इस गोचर के दौरान आप स्वयं को लेकर तथा अपने सामने वाले के प्रति अधिक सोच विचार में रह सकते हैं। प्रेम संबंधों में कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है लेकिन साथी का सहयोग पाकर चीजें सुलझ भी सकती हैं। साझेदारी से जुड़े कामों में कुछ लोगों का हस्तक्षेप अधिक रह सकता है। इस समय फैसले लेने से पहले सोच विचार करके आगे बढ़ना अधिक उपयुक्त होगा। आप अपने बोलने और व्यवहार के तरीके में बदलाव देख पाएंगे। प्रेम संबंधों को मजबूत संचार के द्वारा ही अच्छा किया जा सकता है। आपको अपने खर्चों पर नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है, अन्यथा, आप कुछ व्यर्थ की चीजों में भी अधिक खर्च कर सकते हैं। बिजनेस से जुड़े लोगों को शांत रहना होगा और अनुकूल समय का इंतजार करना होगा। पिछले निवेशों और कुछ हाल के निवेशों के माध्यम से भी लाभ प्राप्त करने की संभावना है। अपने और जीवन साथी के स्वास्थ्य की उपेक्षा करना परेशानी का सबब बन सकता है, इसलिए उचित आहार और खुद को फिट रखने के लिए आपको व्यायाम एवं योग इत्यादि को अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए। 

बुध के धनु राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Cancer

कर्क राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर छठे भाव/Sixth house पर होगा। ऎसे में यह समय प्रतियोगिताओं और संघर्ष की स्थिति को दर्शाने वाला होगा। इस समय पर विरोधियों से सावधान रहना होगा और उचित नीतियों द्वारा आप अच्छे लाभ भी पा सकते हैं। आपके और आपके साथी के बीच कुछ अनबन हो सकती है, इसलिए आपको उन्हें शांति और सावधानी से संभालने की जरूरत होगी। इस समय आपको अपनी भावनाओं को नियंत्रित रखते हुए काम करने की आवश्यकता होगी। विपरीत स्थितियों से निपटने का सबसे सही तरीका है कि आप प्रत्येक स्थिति पर पूरा ध्यान दें। इस गोचर के दौरान आपका स्वास्थ्य भी प्रभावित हो सकता है, इसलिए खान पान और किसी भी प्रकार के व्यसन इत्यादि से बचना ही उचित होगा। कामकाज में अपने समर्पण और कड़ी मेहनत से सफलता की राह को प्राप्त भी कर पाएंगे। इस समय पर आपको खर्चों पर कंट्रोल करने की जरूरत होगी। 

बुध के धनु राशि में गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर इनके पंचम भाव पर होगा। इस गोचर/Mercury transit का प्रभाव आपके संबंधों और बुद्धि कुशलता, प्रतिभा को प्रभावित करने वाला होगा। आपका लाभ भी इस समय सीधे तौर पर प्रभावित होगा। आप की भाषा शैली और तर्क कुशलता दूसरों को प्रभावित करने वाली होगी। यदि किसी विवाद या तर्क में शामिल होते हैं तो जीत आपको मिल सकती है। अधिकारियों की ओर से काम में विस्तार के साथ साथ नई जिम्मेदारियां भी मिल सकती हैं।  ईमानदारी और बुद्धिमता सभी का मन मोह सकती है। आपको अपने प्रतिद्वंद्वियों से उचित दूरी बनाए रखने की कोशिश करनी चाहिए, आप कुछ यात्राएं भी कर सकते हैं। जीवनसाथी के साथ आपके संबंध अनुकूल रह सकते हैं हा प्यार के मामले में आप थोड़ा अधिक जिद और अपनी चलाने वाले अधिक रह सकते हैं। इसलिए स्वभाव पर नियंत्रण रखें और अपने साथी पर पूरा ध्यान दें। छात्रों के लिए यह समय अनुकूल रह सकता है और कुछ बेहतर प्रतिभाओं को उभरने का मौका भी इस समय मिल सकता है।

बुध के धनु राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Virgo

कन्या राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर इनके चौथे भाव/Fourth House को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय पर अच्छे लाभ की प्राप्ति को भी कर पाने में आपको सफलता मिल सकती है। जो लोग घर से दूर हैं उन्हें अपनी घर वापसी का मौका भी मिल सकता है। छात्र अपनी सफलता के लिए बेहतर रास्ते चुन सकते हैं और परिवार के लोगों का सहयोग आपके काम आएगा। घर पर कुछ चीजों में बदलाव तथा नई चीजों का आगमन हो सकता है। स्त्री पक्ष की ओर से कुछ चिंता रह सकती है। आपके विचार कई लोगों को आकर्षित कर सकते हैं। आपकी भाषा शैली में कुछ कठोरता होने से विवाद या तर्क की स्थिति भी इस समय आपको प्रभावित कर सकती है। काम काज में अपने सहकर्मियों का बहुत अधिक सहयोग न मिल पाए, लेकिन फिर भी आप उन्हें अपने साथ लेकर चलने की योग्यता का परिचय देने में सफल होंगे। 

बुध के धनु राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Tula

तुला राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव में होगा। तीसरा भाव आपके पराक्रम और संचार को प्रभावित करने वाला होता है। इस स्थान पर बुध के होने से आप में बातचीत करने का कौशल अनुकूल रह सकता है। जो लोग मीडिया या शिक्षा इत्यादि के क्षेत्र से जुड़े हैं, तो कुछ नए बेहतर मौके मिल सकते हैं तथा इनसे लाभ प्राप्त करने में भी आप सफल रह सकते हैं। आपका आत्मविश्वास और इच्छाशक्ति भी उत्तम स्तर की होगी। आप अपनी मेहनत द्वारा भाग्य का निर्माण कर पाने में सक्षम रह सकते हैं। इस समय पर भाई बहनों के साथ आपका कुछ विवाद हो सकता है, लेकिन स्थिति जल्द ही नियंत्रण में होगी। कुछ अचानक से यात्राओं का दौर आपके खर्च की अधिकता को दर्शाने वाला होगा। छात्रों को अपनी पढ़ाई में अच्छा प्रदर्शन करने का मौका मिल सकता है। खेलकूद से जुड़े शौक में भी आप शामिल हो सकते हैं। 

बुध के धनु राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Scorpio

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इनके दूसरे भाव पर होगा। आपका दूसरा भाव वाणी और आय की स्थिति को दर्शाता है तथा इस स्थान पर बुध की स्थिति आपके लिए इन चीजों को प्रभाव देने वाली होगी। इस समय पर आप बोलचाल में कुशल हो सकते हैं। एक प्रभावशाली वक्ता की भूमिका भी निभा सकते हैं, लेकिन इसके साथ ही ध्यान देना होगा की आप की वाणी में अहम का भाव या घमंड़ का भाव ना आए अन्यथा विवाद से बच पाना आपके लिए मुश्किल साबित हो सकता है। आप अपनी बौद्धिकता द्वारा कई मसलों पर अलग राय देने में सक्षम होंगे। आप में से कुछ लोगों के पास कुछ संपत्ति या पिछले निवेश के माध्यम से लाभ कमाने की अच्छी संभावना भी बनती है। इस समय पर आप अपने प्रेम संबंधों को लेकर थोड़ा असमंजस की स्थिति में भी रह सकते हैं। अपने प्रिय के साथ आपके संबंध कमजोर होने के कुछ आसार हो सकते हैं, इसलिए उनके साथ समय बिताना और उन्हें अपनी ओर से कुछ भेंट देना रिश्तों को मजबूती देने वाला होगा। खान पान में लापरवाही ना करें और अपनी सेहत का ध्यान रखें अन्यथा सेहत पर इसका सीधा असर पड़ सकता है। 

बुध के धनु राशि में गोचर का धनु  राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Sagittarius

इस गोचर का प्रभाव आपके प्रथम भाव/First House में होगा जो कि आपके स्वभाव और आपके रहन-सहन को प्रभावित करने वाला होगा। आपके बोलने का प्रभावशाली तरीका कई लोगों को आकर्षित करेगा और आपको एक मजबूत व्यक्तित्व प्राप्त हो सकता है। इस समय आप कुछ मनमर्जी भी अधिक कर सकते हैं तथा अपने विचारों को जबरदस्ती दूसरों पर थोपना चाहेंगे तो ऐसे समय में आप व्यर्थ के विवाद में भी उलझ सकते हैं, इसलिए इन स्थितियों से स्वयं को बचा कर रखना ही समझदारी होगी। इस समय पर संबंधों द्वारा आपको लाभ की प्राप्ति हो सकती है। नौकरी में आपको अपनी मेहनत और लगन के कारण सफलता का स्वाद चखने को मिल सकता है। इस समय आपको कार्यालय की राजनीति से दूर रहने की सलाह दी जाती है। जीवन साथी की ओर से कई मसलों पर आपको सहायता भी मिल सकती है। 

बुध के धनु राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर इनके द्वादश भाव पर होगा। इस समय पर आपको मिले जुले प्रभाव अधिक देखने को मिल सकते हैं। लाभ और हानि दोनों की प्रकार की संभावनाएं इस समय आपको प्रभावित कर सकती हैं, इसलिए काम में समझदारी और धैर्य को शामिल करना उपयुक्त होगा। किसी प्रकार का मानसिक तनाव आप को परेशान भी कर सकता है। काम को समय पर पूरा करने और परिवार को लेकर आप अधिक सोच-विचार में रह सकते हैं। यह समय मानसिक और शारीरिक रूप से कुछ तनावपूर्ण स्थिति को भी दर्शाता है इसलिए बहुत अधिक कार्य करके अपने आप को तनाव में न डालें और संतुलन बनाए रखना आवश्यक होगा।  यदि कोई व्यावसायिक गतिविधियों में शामिल है, तो बाहरी संपर्क कुछ काम आ सकते हैं। आपको अपने खर्चों पर नज़र रखनी होगी अन्यथा अनावश्यक खर्च करना आपको अवांछित तनाव दे सकते हैं।

बुध के धनु राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Aquarius

कुंभ राशि वालों के लिए बुध का प्रभाव ग्यारहवें भाव/Eleventh House पर होगा। आपके घर पर इस ग्रह का प्रभाव आपको कुछ अनुकूल परिणाम देने वाला हो सकता है। आपका ग्यारहवां घर लाभ स्थान कहलाता है। यह समय आपको आपके वित्त, रिश्ते, परिवार, नौकरी, ज्ञान, धैर्य आदि के मामले में असर डालने वाला होगा।  कुंभ राशि के लिए विदेश व्यापार के माध्यम से नए संबंध बनाने और वित्तीय क्षेत्रों में अत्यधिक लाभ प्राप्त करने का अवसर मिल सकता है। जीवनसाथी इस समय बेहद सहयोगी हो सकता है। नए रिश्तों से जुड़ने का भी यह समय हो सकता है। लोगों के साथ मेलजोल तथा सामाजिक क्षेत्र में आपकी व्यस्तता अधिक रह सकती है। आप अपने दोस्तों के साथ कुछ नई चीजों में काम कर सकते हैं। प्रेम संबंधों में साथी के साथ आपसी समझ की भावना भी विकसित होगी। इस समय कुछ बातों को लेकर कुछ अलगाव होगा लेकिन स्थिति को संभाल लेने का भी आपको अवसर मिलेगा। काम काज में अधिकारियों तथा अपने वरिष्ठों का सहयोग मिल सकता है।  उनके विचारों से आप अपने-अपने क्षेत्र में अच्छी छवि बना पाने में भी सफल हो सकते हैं।

बुध के धनु राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Sagittarius on Pisces

बुध का गोचर अभी दशम भाव पर होगा। बुध के इस गोचर के कारण आपका ऑफिस के काम प्रभावित होगा। जो लोग नए काम की तलाश में थे, उन्हें अब कुछ अवसर मिल सकते हैं। इस समय पर काम के क्षेत्र में नए लोगों के साथ मिलना भी होगा। साथ में काम करने वाले लोगों की ओर से मिलाजुला रिस्पांस ही अभी आप देख पाएंगे। इस समय दूसरों  पर अधिक ध्यान देने से बचें और अपने काम पर ही एकाग्रता को बनाए रखें। आपकी उत्कृष्टता और समर्पण का भाव ही आपको सफलता दिलाने में सहायक होगा। माता-पिता का सहयोग मिलेगा और साथ ही घरेलू स्तर पर आप ज्यादा रुचि ले सकते हैं। घर पर होने वाले कामों को करने में आप मेहनत से लगे होंगे। भाई बहनों का पूरा सहयोग अभी न मिल पाए लेकिन आने वाले दिनों में वे आपके साथ खड़े होंगे। परिवार में सुख समृद्धि का आगमन होगा। मन को सुकून मिल सकता है और आपका प्रिय साथी हर कदम पर आपका साथ देने वाला हो सकता है। स्वास्थ्य अच्छा रहेगा और आप कुछ खेल कूद इत्यादि कार्यों में भी भाग लेने का अवसर मिल सकता है।

बुध का वृश्चिक राशि में गोचर और इसके प्रभाव
21 Nov,2021
से
09 Dec,2021

बुध के गोचर/Mercury transit में प्रभाव काफी मिले जुले परिणाम मिलते हैं। गोचर काल में बुध एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। वैदिक ज्योतिष/Vedic Astrology के अनुसार, यह आपकी आंतरिक आवाज और विचारों को प्रभावित करता है। बुध ग्रह, संचार-विचार तथा ज्ञान का प्रतिनिधित्व करता है। इसके प्रभाव से आत्मविश्वास, हास्य, प्रतिभा, परिवार, वित्त और अन्य में स्थिति में बदलाव देखने को मिल सकता है। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Aries

बुध का गोचर मेष राशि के लोगों के आठवें भाव को प्रभावित करने वाला होगा। यह समय सकारात्मक और नकारात्मक दोनों परिणाम देता है। इस गोचर काल में अष्टम भाव में प्रवेश होने पर स्थितियां काफी प्रभावशाली होगी और इसके साथ साथ चुनौतियां अधिक रह सकती हैं। आम तौर पर, यह भाव एक आशाजनक स्थिति नहीं दर्शाता है, हालांकि कई लाभ होते हैं, फिर भी थोड़ा स्थिति नियंत्रण से बाहर हो सकती है। नौकरीपेशा लोगों के लिए काम में बदलाव व कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। आपके प्रयास आपको अच्छे परिणाम नहीं दे पाएं और इससे थोड़ा निराशा भी हो सकती है। लेकिन उम्मीद न खोएं और खुद को साबित करने के लिए अपनी बारी का इंतजार करें। आपको आने वाले समय में बेहतर लाभ प्राप्त होंगे। आप में से कुछ को वेतन वृद्धि भी मिल सकती है लेकिन साथ में सावधानी बरतें आर्थिक नुकसान और खर्चों में वृद्धि हो सकती है। इस समय   आपका स्वास्थ्य आपके लिए कुछ गंभीर समस्याएं पैदा कर सकता है इसलिए खान पान में सात्विकता बनाए रखें और संतुलित आहार को भोजन में शामिल करना उचित होगा। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर सप्तम भाव/Seventh house में होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति के चलते नए विचार और नई सोच देखने को मिल सकती है। इस गोचर की अवधि के दौरान, बुध  सप्तम भाव में चला जाता है। बिजनेस के लिए यह समय बदलाव की स्थिति को दर्शाता है। इस समय पर काम के क्षेत्र में साझेदारी से जुड़े काम में संभल कर आगे बढ़ने की आवश्यकता होगी। आपके काम में अच्छी गति देखने को भी मिल सकती है। बाहरी संपर्क द्वारा कुछ नई चीजों की खरीद की भी संभावना है। अगर आप किसी नए स्टार्टअप के बारे में सोच रहे हैं, तो कुछ चीजों को बेहतर तरीके से सोच विचार करके ही कोई फैसला लेना अनुकूल होगा। कुछ अप्रत्याशित स्रोतों से आपको लाभ मिल सकता है। कुछ यात्राओं के योग भी दिखाई देते हैं। इस अवधि में अविवाहित लोगों के विवाह के योग बन सकते हैं, लेकिन जीवन साथी के साथ कुछ वैचारिक मतभेद भी देखने को मिल सकते हैं। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit छठे भाव में होगा। इस अवधि में लोगों को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। यह समय उतार-चढ़ाव भरा रह सकता है। स्वास्थ्य के लिहाज से आपको लापरवाही नहीं करनी चाहिए। आपकी कोई आदत स्वास्थ्य के लिए परेशानी का सबब बन सकती है। त्वचा एवं रक्त संबंधी समस्या होने का संकेत भी दिखाई देता है। आपके बोलचाल और भाषा शैली में कुछ कठोरता हो सकती है, ऐसे में दूसरों की भावनाएं आहत हो सकती हैं। इसलिए किसी भी प्रकार के विवाद से बचना ही अनुकूल होगा। इस समय पर कानून मसलों में भी आपकी भागीदारी देखने को मिल सकती है। खर्चों पर नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है, क्योंकि भविष्य में अधिक खर्च आपके लिए एक बड़ी समस्या बन सकते हैं। इस दौरान कुछ दोस्त या परिवार की ओर से कुछ सहायता प्राप्त हो सकती है। नए कार्य क्षेत्र में अवसर भी प्राप्त होंगे और कड़े संघर्ष की स्थिति लाभ दिलाने में सहायक होगी। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर पंचम भाव में होगा, जिससे आपकी आय पर सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है। इस समय उच्च शिक्षा हेतु छात्रों को मौके मिल सकते हैं, कुछ नई संस्थानों में प्रवेश प्राप्ति के लिए आवेदन से जुड़ी प्रक्रियाओं में भी भाग ले सकते हैं। अपनी योजनाओं को पूरी तरह से क्रियान्वित करने में सक्षम होने के लिए प्रयास तेज करने होंगे। बाजार में सबसे मजबूत प्रतिस्पर्धा का अवसर भी देखने को मिलेगा। इस समय आप अपने प्रयासों द्वारा प्रशंसा पाने में सफल भी हो सकते हैं। नौकरीपेशा लोगों को बाजार में कुछ बड़े ब्रांड के साथ काम करने का मौका मिल सकता है। प्रेम संबंधों को लेकर थोड़ा उतार चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं। कला और रचनात्मकता के साथ खेल कूद से जुड़ी गतिविधियों में सफलता प्राप्ति के योग बनते हैं। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का सिंह राशि प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Leo

सिंह राशि के लिए बुध ग्रह का गोचर चतुर्थ भाव में होगा। इस गोचर की अवधि के दौरान, आपके सुख का भाव प्रभावित होगा। इस समय को धन कमाने और लाभ कमाने के अवसरों की तलाश में लगे रह सकते हैं। कुछ नई चीजों, भौतिक वस्तुओं जैसे वस्त्र, नया वाहन इत्यादि खरीदने के लिए यह समय अनुकूल रह सकता है। 

परिवार के साथ कुछ मामलों में विवाद देखने को मिल सकता है। वैचारिक मतभेद होने से घर से दूरी भी पनप सकती है। माता-पिता का सहयोग मिल सकता है, सोशल मीडिया के माध्यम से आप अपने रिश्तेदारों के साथ बातचीत कर पाएंगे और मित्रों के साथ मिल पाएंगे। संपत्ति से जुड़े कुछ समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं जिन्हें जल्द से जल्द निपटाने की आवश्यकता है, अन्यथा, यह कुछ विवादों को जन्म मिल सकता है। कार्यक्षेत्र/Office में बदलाव और प्रयासों का समय भी बना रहने वाला है। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Virgo

कन्या राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर/Mercury transit तीसरे भाव पर होगा। इस भाव में स्थित बुध के कारण प्रयासों में वृद्धि का समय होगा। बुध का प्रभाव आपके संचार को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय पर आपकी भाषा शैली प्रभावशाली थी। काल पुरुष कुंडली के अनुसार आपका तीसरा घर बुध का घर है, जो ग्रह को और अधिक मजबूत बनाता है। छात्रों को इस गोचर के माध्यम से लाभ मिल सकता है। आपकी बौद्धिकता में बदलाव भी देखने को मिल सकता है। अपनी पढ़ाई पर अधिक ध्यान देंगे, आपके प्रयास आपको कई अन्य पहलुओं में अच्छे परिणाम दे सकते हैं। कुछ यात्राएं लगातार भी हो सकती हैं,  हालांकि कुछ समय के लिए उनसे बचने की सलाह दी जाती है या अधिक जरूरी यात्राएं न हों तो उन्हें टाल देना अनुकूल होगा। कुछ आर्थिक समस्याएं भी परेशान कर सकती हैं।

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Libra

तुला राशि के लिए बुध ग्रह का गोचर दूसरे भाव में होगा। आपका दूसरा भाव वाणी भाव भी होता है, इसलिए यहां स्थित बुध के प्रभाव से आपकी भाषण क्षमता प्रभावशाली रह सकती है। आपका सेंस ऑफ ह्यूमर बेहतर होगा। लोग आपके विचारों को समझ पाएंगे और आप विवाद इत्यादि में स्थिति को अपने पक्ष में कर पाने में भी सक्षम रह सकते हैं। इस समय आपको इस बात पर भी ध्यान में रखना होगा कि आपके शब्द किसी की भावनाओं को ठेस न पहुंचा पाए, इसलिए आपको शब्दों के चुनाव के बारे में जागरूक और सतर्क रहना चाहिए अन्यथा आपको बाद में पछताना पड़ सकता है। कारोबार से जुड़े लोगों को कुछ लाभ के अवसर मिल सकते हैं। आपकी नई नीतियां आपके व्यवसाय को बढ़ावा देने वाली हो सकती हैं। आप अपने व्यवसाय का विस्तार करने के लिए धन का निवेश भी कर सकते हैं। हालांकि आपको अपने निवेश को लेकर थोड़ा गंभीर होना चाहिए, क्योंकि घाटे की भी स्थिति इस समय पर असर डाल सकती है, इसलिए निवेश करने से पहले सभी चीजों की जांच कर लेना अनुकूल होगा। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Scorpio

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय पर पहले भाव पर इस राशि पर ही होगा। बुध की स्थिति के प्रभाव द्वारा आत्मविश्वास में वृद्धि देखने को मिल सकती है। मानसिक रूप से विचारधारा में बदलाव भी देखने को मिल सकता है। बढ़े हुए आत्मविश्वास के साथ आप शायद गंभीर निर्णय लेने में सक्षम रह सकते हैं, इसलिए अभी जल्दबाजी के फैसलों को कुछ समय के लिए टाल देना भी अनुकूल ही होगा। कुछ मामलों में अति आत्मविश्वास वाद-विवाद का कारण बन सकता है, और ऐसे में आप किसी की भावनाओं को ठेस भी पहुंचा सकते हैं, इसलिए अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें और धैर्य के साथ आगे बढ़ना अनुकूल होगा। इस दौरान आपके भाई-बहन आपका साथ मिल सकता है। अपनों के प्रति आपका प्यार और स्नेह रहेगा। आप अपने खान पान और पहनावे को लेकर भी थोड़ा उत्सुकता दिखा सकते हैं, ऐसे में खर्चों का समय भी अभी रह सकता है। इस समय जीवन साथी के साथ आप अपने संबंधों को भी अधिक झुकाव में होंगे और उनके साथ कुछ अधिक समय बिताने की इच्छा भी रख सकते हैं। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर बारहवें भाव/Twelfth House में होगा। बुध के इस गोचर के प्रभाव स्वरूप आपको सकारात्मक और और नकारात्मक दोनों तरह के प्रभावों का सामना करना पड़ सकता है। बुध के गोचर का प्रभाव आपके खर्चों में वृद्धि लाने वाला हो सकता है। आप अपना अधिकांश धन विशेष कार्यों पर खर्च कर सकते हैं। जो छात्र उच्च अध्ययन के लिए विदेश जाने के इच्छुक हैं, उन्हें मौका मिल सकता है। कुछ नई चीजों से जुड़ने तथा जानकारी प्राप्त करने का अवसर भी इस समय पर मिलेगा। इस समय कड़ी मेहनत करनी होगी तब बेहतर परिणाम प्राप्त हो पाएंगे। किसी बाहरी संपर्क या व्यक्ति द्वारा कुछ काम में बाधा आ सकती है। स्वास्थ्य को लेकर चिंता रह सकती है। सामाजिक रूप से व्यस्तता अधिक रहेगी कुछ ट्रैवलिंग ज्यादा होने से भी स्वास्थ्य कमजोर रह सकता है। वाहन इत्यादि का संभल कर उपयोग करना होगा। कुछ लाभदायक निवेशों/Investment में सौदा करेंगे जो लंबे समय में मददगार साबित होंगे।

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Capricorn

मकर राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर एकादश भाव पर होगा। इस गोचर के अनुकूल परिणाम मिल सकते हैं। लाभ के भाव को प्रभावित करने के कारण आप कुछ अपना धन प्राप्त कर पाएंगे। आपकी वाणी में दूसरों को प्रभावित करने की क्षमता होगी लेकिन सतह ही कुछ कठोरता भी अधिक बढ़ सकती है। रिश्तों में आप कुछ जिद्दी भी रह सकते हैं और किसी वस्तु को पाने के लिए काफी प्रयासशील भी होंगे। अपनी योजनाओं द्वारा किसी के साथ मिलकर कुछ नए काम का आरंभ करने का विचार भी रहेगा। इस समय पर होने वाले कानूनी विवादों में आप अच्छे परिणाम को भी पा सकते हैं। ऑफिस में काम करने वालों को उनके सीनियर का सहयोग मिलेगा और आपकी कम्युनिकेशन स्किल्स/Communication skills में सुधार होगा, जिससे आप अपने कार्यस्थल पर गति प्राप्त कर सकते हैं। छात्रों के लिए संघर्ष अधिक होगा, लेकिन इस समय गुरु जनों की ओर से कुछ सहायता मिलने से परिणामों को सुधारने का अवसर भी प्राप्त हो सकता है। 
बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर इस समय दशम भाव पर होगा। बुध के कार्यक्षेत्र पर प्रभाव के होने से आपके काम में बदलाव देखने को मिल सकते हैं। जीवन में कुछ उतार-चढ़ाव लगा रह सकता है। कुछ विरोधी आपके पीछे से अधिक बातें कर सकते हैं। नौकरीपेशा जीवन में आपको कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। आपके प्रयास आपको सफलता प्राप्त करने का मौका देंगे। सहकर्मियों के साथ आपके सम्बन्ध मजबूत करने के लिए आपको कोशिशों को करते रहने की आवश्यकता होगी। परिवार और काम दोनों स्थानों पर तालमेल बनाने की की जरूरत रहेगी। इस समय पर पार्ट टाइम काम का मौका भी मिल सकता है छात्र भी अपनी पढ़ाई के साथ-साथ कुछ आय प्राप्ति की कोशिशों में सफल हो सकते हैं। रिश्ते में रहने वालों को कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। किसी यात्रा के कारण अपने साथी से दूर जाना पड़ सकता है। आपका संचार और धैर्य रखने से आपको अपने साथी के साथ अपनी शर्तों को बनाए रखने में मदद मिलेगी तथा अपने साथी का सहयोग भी मिल सकता है। 

बुध के वृश्चिक राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Scorpio on Pisces

मीन राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर नवम भाव/Ninth House पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति का प्रभाव कुछ धार्मिक अथवा लंबी दूरी की यात्राओं का समय भी हो सकता है। कुछ सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। किसी बड़े वरिष्ठ व्यक्ति की ओर से आपको अपने कामों को करने का उद्देश्य प्राप्त होगा तथा सहायता भी मिल पाएगी। सामाजिक रूप से आप आस पास के लोगों के साथ जुड़ पाएंगे। आर्थिक स्थिति पर सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है, लेकिन इस समय खर्चों का भी समय होगा। अपने लंबित कार्यों को पूरा करने में सक्षम होंगे। आपके प्रयास बेकार नहीं जाएंगे और आपको अपने कार्य को अंजाम देने में किसी का साथ भी प्राप्त हो सकता है। फैमिली बिजनेस को विस्तार/Family business expansion और लाभ कमाने का मौका मिल पाएगा। नौकरीपेशा लोगों को किसी नए स्थान पर जाने, नए लोगों के साथ काम करने का मौका मिल पाएगा। दांपत्य जीवन में साथी के सहयोग द्वारा कुछ मांगलिक कार्यों की शुरुआत होती दिखाई देगी। 

बुध गोचर का तुला राशि पर प्रभाव | Impact of Mercury transit on Libra
02 Nov,2021
से
20 Nov,2021

बुध ग्रह का तुला राशि में गोचर एक महत्वपूर्ण समय होता है। इस समय में बुध का प्रस्थान अपनी उच्च राशि से हटकर अब अपने मित्र राशि तुला में होगा। तुला राशि वायु तत्व राशि और शुक्र का स्वामित्व इन्हें प्राप्त होता है। ऐसे में तुला राशि पर बुध के गोचर का महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ता है। बुध सबसे मजबूत ग्रह के रूप में माना गया है यह राज तत्व से भी संबंधित ग्रह हैं और बौद्धिकता का परिचायक बनते हैं। अपने तर्क-कौशल के साथ-साथ प्रतिभाओं को दर्शाने वाला होता है। बुध ग्रह के शुक्र के साथ मित्रवत संबंध यहां काम करते हैं और अनुकूलता को दर्शाते हैं। इस गोचर/Mercury transit in Libra के प्रभाव स्वरूप व्यक्ति की वाणी में शुद्धि होती है। यह आपकी बोलचाल व भाषा शैली के कौशल को बेहतर बनाने में मदद करता है, जो लोगों को आपकी ओर आकर्षित करने में सहायक बनता है। यह समय फायदेमंद हो सकता है। यह आपकी रचनात्मक क्षमताओं को बढ़ाता है और आपको एक परिपक्व मानसिकता देने में सक्षम होता है। 

तुला राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Aries

मेष राशि के लिए बुध ग्रह का गोचर इस समय पर सातवें भाव/Seventh house पर होगा। सप्तम भाव में स्थित बुध का प्रभाव कुछ मिले जुले प्रभाव देने वाला हो सकता है। आपकी राशि का सप्तम भाव आपके वैवाहिक जीवन को दर्शाता है। जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में साझेदारी का निर्धारण करता है। ज्योतिष की दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण समय रह सकता है। हालांकि यह गोचर का समय कम अनुकूल रह सकता है। कुछ स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। अगर आप उचित देखभाल नहीं करते हैं, तो आपको मुख्य रूप से आपकी त्वचा से संबंधित कोई बीमारी परेशान कर सकती है। इस समय पर डॉक्टरी सलाह लेना उत्तम होता है। ऑफिस में काम से संबंधित कुछ तनाव रह सकता है, और कई मामलों में आपके प्रयास व्यर्थ भी सिद्ध हो सकते हैं इसलिए जरूरी है कि स्वयं को शांत रखें और धैर्य को बनाए रखना उत्तम होता है।

तुला राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर छठे भाव पर होगा। छठे स्थान पर बुध की स्थिति आपकी कार्यकुशलता को बढ़ाने वाली होगी। व्यर्थ के तनाव लेने के बजाय आराम से चीजों को हल करने की कोशिश करना अच्छा होगा। दाम्पत्य जीवन/Married life भी थोड़ा तनाव भरा रह सकता है, आप नाराज़ होंगे और कई गलतफहमियां  भी बीच में बढ़ सकती हैं इसलिए अपने साथी से ठीक से बात करें और बातचीत द्वारा विवाद को सुलझाने की कोशिश करें। शिक्षा में उत्तम परिणाम के लिए मेहनत कर रहे छात्रों को अंत में अच्छे परिणाम मिल सकते हैं। आपकी भाषा शैली में बदलाव भी देखने को मिल सकता है। आप आसानी से लोगों के साथ संवाद करने में सक्षम हो सकते हैं। अन्य लोग आपके तर्क से प्रभावित हो सकते हैं। प्रतिस्पर्धा में लोगों को निश्चित रूप से सफलता मिल सकती है। साहित्य और विभिन्न पुस्तकों, पत्रिकाओं आदि को पढ़ने में आपकी रुचि अच्छी होगी। आप अपने खिलाफ खड़े हर प्रतिद्वंद्वी को हराने में भी सफल हो सकते हैं। आत्मविश्वास द्वारा आप दूसरों पर अपनी छाप छोड़ने में सक्षम हो सकते हैं। 

तुला राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का प्रभाव पंचम भाव पर होगा। यह एक अनुकूल गोचर/Favorable transit रह सकता है। आपको कई मामलों में लाभ के अवसर प्राप्त हो सकते हैं। आर्थिक जीवन में नए आय के स्रोत भी उभर सकते हैं। अपने परिवार के सदस्यों के साथ किसी यात्रा पर जाने का मौका भी मिल सकता है। इस समय आपको अपने ख़र्चों पर उचित ध्यान देने की आवश्यकता होगी, अन्यथा ख़र्चों का बोझ बढ़ सकता है। व्यापार या काम को लेकर यात्राएं रह सकती हैं। लेखन या कला से जुड़े क्षेत्रों में आपको प्रसिद्धि प्राप्त करने का अवसर भी प्राप्त हो सकता है। संचार कौशल के कारण कई लोग आपसे प्रभावित हो सकते हैं। प्रेमी के साथ अच्छा समय बिताने का अवसर मिल सकता है। संतान पक्ष की ओर से भी कुछ सकारात्मक समाचार प्राप्त हो सकता है। 

तुला राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर इनके चतुर्थ भाव पर होगा। इस स्थान पर बुध के गोचर/Mercury transit द्वारा आपको अपने जीवन में कुछ सुखद स्थिति मिलेगी तो कुछ विपरीत स्थिति का भी प्रभाव झेलना पड़ सकता है। प्रेमी के साथ आपके सहयोग में वृद्धि देखने को मिल सकती है। आप अपने प्रेमी के साथ कुछ अच्छा समय बिता सकते हैं। इस गोचर के दौरान परिवार में कई चीजों पर बदलाव भी देखने को मिल सकता है। विवाहित लोगों को भी रिश्ते में आगे बढ़ने का मौका मिल सकता है। आपके परिवार के साथ आपके संबंध मजबूत हो सकते हैं। इस समय वाहन, वस्त्र इत्यादि वस्तुओं की खरीदारी का भी समय बना हुआ है। परिवार के छोटे सदस्यों के साथ अधिक समय बिता पाएंगे। इस दौरान आपको पारिवारिक यात्रा या पिकनिक मनाने का मौका मिलेगा। 

तुला राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति आपको अधिक व्यवहार कुशल बना सकती है।  इस समय पर नई चीजों को सीखने में रुचि हो सकती है। विशेष रूप से धर्म और आध्यात्मिक विषयों के क्षेत्र में शामिल हो सकते हैं। इसके साथ ही संचार से जुड़े काम या मीडिया, लेखन रंगमंच खेल कूद इत्यादि में आपको अच्छे मौके मिल सकते हैं। विपरीत लिंग के किसी व्यक्ति के प्रति आपका झुकाव इस समय अधिक रह सकता है। सोशल मीडिया में आकर्षण का केंद्र बन सकते हैं और आपके बोलने के कौशल के कारण कई लोगों को प्रभावित कर पाएंगे। दोस्तों और परिवार के साथ भ्रमण पर जा सकते हैं। भाई बहनों की ओर से स्नेह और सहयोग की प्राप्ति भी होगी। 

तुला राशि में बुध के गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव में होगा। इस स्थान पर बुध के गोचर से आपको कई मामलों में सकारात्मक संकेत देखने को मिल सकते हैं। दूसरा घर धन, धन, वाणी आदि का प्रतीक होता है। इस गोचर के प्रभाव द्वारा आपके परिवार के साथ आपका अच्छा संबंध बेहतर हो सकता है। आपके अच्छे इरादों तथा आपके द्वारा दूसरों के लिए की गई कड़ी मेहनत को लोग समझेंगे, आप अपनी बातों द्वारा एवं मानसिकता से अन्य को प्रभावित करने में सफल हो सकते हैं। आपको इस समय खान पान में अच्छा भोजन और अच्छे रहन सहन की प्राप्ति भी हो सकता है। आप अपनी कार्यकुशलता कार्यस्थल पर सभी को आकर्षित कर पाने में सक्षम हो सकते हैं। अधिकारियों की ओर से आपको सम्मान मिल सकता है। दूसरों के सामने आपकी एक अच्छी छवि अच्छी रह सकती है। व्यापार के क्षेत्र में लोगों को योजनाओं और विचारों से लाभ मिल सकता है। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को इस अवधि में अपनी मेहनत से सफलता प्राप्त हो सकती है। 

तुला राशि में बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Libra

तुला राशि के बुध का गोचर इनकी राशि पर ही होगा, इस समय पर बुध के आपके लग्न भाव/Ascendant house पर स्थित होने के कारण आपकी मानसिकता और विचारों में बदलाव देखने को मिल सकता है। बुध ग्रह जो वाणी और बुद्धि का प्रतीक है, आपके प्रथम भाव में स्थित होगा जो आपका लग्न भाव है और यह आपके स्वास्थ्य, प्रकृति और ज्ञान का प्रतीक बनता है। यह आपके व्यक्तित्व और जीवन के पहलू पर सकारात्मक प्रभाव डालने वाला होगा। यद्यपि आपको इस समय अपने स्वास्थ्य का उचित देने की आवश्यकता होगी, नियमित व्यायाम और योग आपके स्वास्थ्य को संतुलित और मन को शांत रखने में मदद करेगा। आपको अपने काम में उत्कृष्ट परिणाम भी देखने को मिल सकते हैं। आपकी मेहनत रंग ला सकती है और आप अपने कार्यस्थल पर बेहतर प्रदर्शन द्वारा अधिकारियों से प्रशंसा भी पा सकते हैं।  व्यापार के क्षेत्र से जुड़े लोग अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। 

तुला राशि में बुध के गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Scorpio

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर द्वादश भाव में होगा। बुध के द्वादश भाव में यह गोचर खर्चों की अधिकता को दर्शाता है। यह गोचर वृश्चिक राशि के लोगों पर एक महत्वपूर्ण प्रभाव डालने वाला होगा। गोचर के दौरान ग्रह आपके बारहवें भाव में विराजमान होगा यह भाव व्यय को दर्शाता है। बुध के गोचर का आपकी राशि पर प्रभाव आपके लिए बहुत अनुकूल नहीं रह पाएगा। आपको अपने खर्चों का ध्यान रखना चाहिए, अपने खर्च का उचित हिसाब रखना चाहिए और दैनिक जीवन के कार्यक्रमों पर बहुत अधिक खर्च करने से बजट खराब हो सकता है। अपने खर्च पर नियंत्रण पाने में सफल होने के लिए आपको एक उचित बजट योजना बनानी चाहिए।  छात्रों को उच्च शिक्षा के लिए विदेश यात्रा का मौका मिल सकता है, अपनी महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने का मौका आपके लिए इस समय पर काम कर सकता है। इस समय नींद की कमी होना, बेचैनी या मांसपेशियों में दर्द की शिकायत परेशान कर सकती है, इसलिए उचित खान पान और व्यायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल करना अच्छा होगा। 

तुला राशि में बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Sagittarius

धनु राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर एकादश भाव/Eleventh House में होगा। इस गोचर के प्रभाव द्वारा लाभ का क्षेत्र सबसे अधिक प्रभावित होता है। यह आपकी राशि पर बहुत महत्वपूर्ण प्रभाव छोड़ता है। धनु राशि के लिए यह गोचर अनुकूल सिद्ध हो सकता है। किसी ऐसे व्यक्ति से आपका पैसा मिलने की संभावना है जिसे आपने उधार दिया है, और यह एक बड़े कर्ज के मुद्दे से बचा सकता है। कुछ बड़ा करने की योजना बना रहे व्यक्ति इस अवधि के दौरान उस पर अमल कर सकते हैं। काम और व्यापार के क्षेत्र में भारी मुनाफा कमाने के अवसर भी इस समय प्राप्त हो सकता है। आप अपने परिवार के साथ कुछ अच्छा समय पाएंगे और बड़े बुजुर्गों का साथ भी आपको मिल सकता है। किसी  वरिष्ठ व्यक्ति की मदद द्वारा आपकी समस्याओं का समाधान भी संभव हो सकता है। प्रेम संबंधों में सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकते हैं और साथ ही छात्रों के लिए समय बेहतर परिणाम पाने का हो सकता है।  

बुध के तुला राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Capricorn

मकर राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर दशम भाव/Tenth house पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति आपको काम के क्षेत्र में व्यस्तता देने वाली बनती है। आप ऊर्जावान और उत्साही बने रह सकते हैं। बुध ग्रह का गोचर कार्य भाव का प्रभावित करने वाला होगा।  दशम भाव को कर्म भाव के भाव के रूप में भी जाना जाता है, जो इस अवधि के दौरान आपकी ऊर्जा और उत्साह में वृद्धि का कारण हो सकता है। नौकरी और व्यवसाय क्षेत्र से जुड़े लोगों को अपनी मेहनत का अनुकूल परिणाम प्राप्त हो सकता है। काम के समय से पहले पूरा होने की आपकी क्षमता दूसरों को आपकी सराहना करने के लिए मजबूर भी कर सकती है। आर्थिक क्षेत्र में आय वृद्धि का लाभ भी प्राप्त हो सकता है। विरोधियों की ओर से थोड़ी परेशानी हो सकती है लेकिन आप उन्हें अपने मार्ग से हटाने में भी सक्षम होंगे। आपको परिवार में कुछ अच्छा समय बिताने को मिल सकता है। किसी पार्टी या समारोह में जाने का मौका भी मिल सकता है। 

तुला राशि में बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Aquarius

कुम्भ राशि के लिए बुध का गोचर उनके नवम भाव/Ninth house पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति कई मामले में आपको मिश्रित प्रभाव देने वाली होती है। इस गोचर के कारण आपको अपने जीवन में कठिनाइयों और बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है, लेकिन आप अपनी मेहनत द्वारा सफलताओं को भी प्राप्त करने में सक्षम होंगे। आपको अपने स्तर पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा जिससे आप प्रतिस्पर्धाओं में सफलता को पाने में कामयाब होंगे। आर्थिक क्षेत्र में लाभ होगा, हालांकि कुछ कारणों से आपके खर्च में वृद्धि होगी। यात्राएं भी इस समय पर रह सकती हैं, मुख्य रूप से धार्मिक क्षेत्र और नवीन कला कृतियों को देखने का अवसर प्राप्त हो सकता है।पारिवारिक जीवन भी कुछ कारणों से प्रभावित हो सकता है। भाई-बहनों से अनबन भी हो सकती है, इसलिए व्यर्थ के विवाद से बचने की आवश्यकता होगी। 

तुला राशि में बुध के गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Libra on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर इस समय आठवें भाव/Eight House पर होगा। इस स्थान पर बुध का प्रभाव आपको सकारात्मक और नकारात्मक दोनों ही प्रकार के असर देने वाला हो सकता है। इस गोचर के दौरान आपकी मेहनत ही अनुकूल परिणाम देने में सहायक हो सकती है। व्यापार के क्षेत्र में काम करने वाले  लोगों को यात्राओं पर जाने का मौका मिलेगा, हालांकि उन्हें यह अच्छा नहीं लगेगा और यात्रा से परेशानी भी हो सकती है। विरोधियों से सतर्क रहें, वह आपको विचलित करने के लिए बाधाएं डालने की कोशिश कर सकते हैं। इसलिए उचित सावधानी बरतने की आवश्यकता होगी। आपको अपने स्वास्थ्य पर विशेष रूप से ध्यान देने की आवश्यकता होगी। पेट से संबंधित रोग और खानपान में बदलाव से परेशानी हो सकती है। छात्रों को अपनी उच्च शिक्षा प्राप्ति के लिए कुछ मौके मिलेंगे जिसका लाभ उठाने का यह सही मौका होगा। 

बुध का सिंह राशि में गोचर प्रभाव/Impact of mercury transit in Leo
09 Aug,2021
से
25 Aug,2021

बुध आपकी राशि पर बहुत प्रभाव डालता है, और यह आपके सोचने के तरीके को बदलता है, आपके आत्मविश्वास को बढ़ाता है, आपकी वाक शक्ति और बातचीत के कौशल को बढ़ाता है, एक आशावादी दृष्टिकोण की ओर जीवन को ले जाने में सहायक बनता है। मानसिक रूप से कुछ न कुछ विचार इस समय बने रहेंगे और नई सोच बदलावों को भी दर्शा सकती है। एक बड़ी विचार प्रक्रिया को इस समय स्थान प्राप्त होता है। इस समय पर दूसरों की सलाह नहीं मानना चाहें और स्वयं की सोच पर ही अधिक रहने वाले हैं। आर्थिक स्थिति के मामले में यह समय  काफी लाभदायक साबित हो सकता है। आय में वृद्धि देखने को मिल सकती है और कुछ गुप्त स्रोतों से भी कमाई का मौका बना हुआ। कार्यक्षेत्र में कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है, और कुछ बाधाएं बनी रह सकती हैं लेकिन कड़ी मेहनत और समर्पण के साथ किए हुए कार्यों में सफलता प्राप्त करने में सक्षम रह सकते हैं। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर इस समय पंचम भाव को प्रभावित कर सकता है। मेष राशि वालों के लिए बुध का गोचर संतान, शिक्षा, प्रेम संबंधों, सफलता इत्यादि को दर्शाता है, यह गोचर आपकी राशि के लिए  भाग्य का सहयोग भी प्रदान करने वाला हो सकता है। संतान पक्ष की ओर से कुछ सकारात्मक समाचार मिल सकता है और बच्चे आपके लिए कोई खुशखबरी ला सकते हैं, जिससे आपका मान सम्मान वृद्धि पाने में सफल रह सकता है। कार्यस्थल पर अच्छा प्रदर्शन करने का अवसर मिलेगा और अधिकारियों की ओर से सहयोग बना रहेगा। इस समय के दौरान आपको कुछ बड़ी जिम्मेदारियां निभानी पड़ सकती हैं। ये समय यात्राओं को भी दिखाता है जो व्यक्तिगत रुप से या फिर कामकाज के लिए रह सकती हैं। निसंतान दंपतियों के लिए संतान हेतु प्रयास निश्चित रूप से सकारात्मक परिणाम प्रदान करने वाले होंगे। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर इस समय चतुर्थ भाव/Fourth House को प्रभावित करने वाला होगा। गोचर के दौरान बुध ग्रह व्यक्ति के चौथे भाव में होने के कारण सुख प्रभावित हो सकता है। यह समय कुछ उतार-चढ़ाव भरा रहने वाला होगा। अपने माता-पिता, विशेषकर अपनी माता के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता पड़ सकती है। आपके दोस्तों द्वारा सहयोग की कमी भी इस समय देखने को मिल सकती है। किसी के कारण धोखाधड़ी की स्थिति भी उभर सकती है, इसलिए अपने दोस्तों पर बहुत अधिक विश्वास से बचें। कार्यक्षेत्र में कामकाज पर नज़र बनाए रखें और देखें कि कोई परेशानी का कारण न बनने पाए। वहीं दूसरी ओर काम में कुछ नया शुरू करने से आपको अच्छा मुनाफा हो सकता है। कारोबार के क्षेत्र में लाभ की संभावना दिखाई देती है। कुछ नवीन वस्तुओं की प्राप्ति भी इस समय पर हो सकती है।

सिंह राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Gemini

मिथुन राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर तृतीय भाव पर होगा। इस गोचर के प्रभाव से आपकी मेहनत अधिक रह सकती है। तीसरे भाव को पराक्रम का भाव भी कहा जाता है, ऐसे में इस स्थिति के चलते लोगों के प्रयासों में कमी नहीं होने देता है लगातार संघर्ष और मेहनत करने की प्रवृत्ति उसके भीतर बनी रहती है। गोचर के दौरान बुध आपके तीसरे भाव में विराजमान होगा, आप अपनी ऊर्जा में धीरे-धीरे वृद्धि देखे पाएंगे और अधिक उत्साही महसूस करेंगे। इस समय थोड़ा स्वयं को संयम में रखने की आवश्यकता होगी, अन्यथा आप वाद-विवाद में भी फंस सकते हैं। भाई-बहनों के बीच कुछ मनमुटाव की स्थिति भी इस समय उभर सकती है। इस दौरान आपको अपने परिवार व बाहरी जिम्मेदारियों को लेकर चिंता रह सकती है। कुछ कामों में लगातार प्रयास करने की आवश्यकता बनी रह सकती है। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर द्वितीय भाव पर होगा। दूसरे भाव पर बुध के गोचर के कारण वाणी और सोच इस समय प्रभावित हो सकती है। यह गोचर/Transit बहुत अधिक अनुकूल नहीं रह पाए क्योंकि ये समय जल्दबाजी से बचने की आवश्यकता होगी। आपको अपने सभी निर्णय शांति से लेने होंगे और शांत दिमाग से ही आगे बढ़ना फायदेमंद होगा। अपने पारिवारिक मुद्दों को लेकर आप कुछ अधिक सोच विचार में रह सकते हैं। इस समय पर विशेष रूप से अपने भाई-बंधुओं के साथ किसी भी तरह की असहमति रह सकती है,  इसलिए तर्क-वितर्क से बचना बेहतर होगा। ख़र्चों पर नियंत्रण रखने की ज़रूरत है क्योंकि इस बार आपका बजट प्रभावित रह सकता है। किसी को पैसे उधार देने या लेने से बचना ही बेहतर होगा।  

सिंह राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Leo

सिंह राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इनके लग्न भाव को प्रभावित करने वाला होगा। ऐसे में बौद्धिकता उत्तम होगी तथा फैसले लेने में दक्षता भी बेहतर दिखाई दे सकती है। यह समय भविष्य से जुड़ी योजनाओं के लिए भी अनुकूल दिखाई देता है। आपकी राशि में बुध का गोचर आपके धनार्जन के क्षेत्र में आगे बढ़ने के विकल्प भी उत्पन्न करने वाला हो सकता है। आप इस समय पर नेतृत्व करने में भी कुशल रह सकते हैं। मित्रों के साथ मेलजोल होगा। नई चीजों में हाथ आजमाने की इच्छा भी अधिक रह सकती है। काम में जोश के साथ-साथ अब बेहतर नीतियों का समावेश भी होगा। जीवन साथी के साथ संबंधों में कुछ मजबूती लाने की कोशिश कर सकते है। व्यापार के मामले में आपको मुनाफा प्राप्त हो सकता है। हालांकि आपको अपने स्वास्थ्य को लेकर उचित सावधानी बरतने की जरूरत रह सकती है, लेकिन स्थिति जल्द ही बेहतर भी होगी।

सिंह राशि में बुध के गोचर का कन्या राशि प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का द्वादश भाव पर होगा। बुध कन्या राशि के स्वामी हैं और ऐसे में यह गोचर/Transit इनके लिए काफी महत्वपूर्ण भी होगा। द्वादश भाव व्यय, विदेश, लम्बी यात्रा, स्वास्थ्य इत्यादि को दर्शाता है, इसलिए बुध की इस स्थान पर स्थिति के चलते आपको अपने खर्चों को नियंत्रित रखने में कुछ समस्या रह सकती है। बचत को बनाए रख पाना आपके लिए आसान नही हो पाए, इस समय पर धन का खर्च, किसी भी चीज को लेकर बना रह सकता है। इसके साथ ही कुछ लाभ को भी दिलाने में सहायक हो सकता है, जिसे आपकी कार्यकुशलता और बेहतर नीतियों द्वारा ही प्राप्त कर पाना संभव होगा। यात्राओं का भी समय आपके लिए बना हुआ है, लेकिन यात्रा के दौरान उचित सावधानी बरतने की आवश्यकता है। जो लोग नए काम की तलाश में हैं वह नौकरी के लिए आवेदन करने की कोशिश कर सकते हैं और कुछ सकारात्मक असर भी देखने को मिलेगा। स्वास्थ्य के लिहाज से ध्यान बनाए रखें खानपान में लापरवाही से बचें साथ ही मौसम के प्रभाव से भी खुद को बचाए रखना होगा। 
सिंह राशि में बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Libra

तुला राशि वालों के लिए बुध का गोचर एकादश भाव पर होगा। एकादश भाव लाभ और पद प्राप्ति जैसी स्थिति को भी दर्शाता है। इस समय पर काम के क्षेत्र में कुछ नए अवसर मुनाफे का संकेत दे सकते हैं। परिवार में किसी वरिष्ठ व्यक्ति की ओर से सलाह और सुझाव भी मिल सकते हैं जो आपके लिए फायदेमंद रहेंगे। इस समय पर सामाजिक रूप से गतिविधियां तेज हो सकती हैं अथवा कुछ नए स्थानों पर जाने और लोगों के साथ मेलजोल का अवसर भी मिल सकता है। अगर आप अपने व्यस्त कार्यक्रम के कारण लंबे समय से छुट्टी नहीं ले पा रहे थे, तो आपको अब आखिरकार यात्रा करने का मौका मिल सकता है। परिवार व बच्चों के साथ समय बिता सकेंगे। किसी दोस्त के साथ कुछ नए काम को करने का सोचेंगे या फिर परीक्षा की तैयारियों को लेकर अधिक व्यस्त भी रह सकते हैं। प्रेम संबंधों को लेकर थोड़ी नोक झोंक देखने को मिल सकती है, इसलिए क्रोध से बचें और रिश्ते में सौम्यता व धैर्य बनाए रखें। इन सबके बीच तुला राशि के लोगों के लिए गोचर अनुकूल रह सकता है और आप कुछ पल सुरक्षित होने और संतुष्ट होने का अनुभव भी कर पाने में सफल रह सकते हैं। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का सिंह राशि में गोचर/Mercury transit in Leo इनके दशम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस स्थान पर बुध के होने के कारण कुछ नए काम को करने का मन बना रहेगा, यह एक नए स्टार्टअप के लिए सबसे अच्छा समय भी हो सकता है। जो लोग बेरोजगार हैं और नौकरी की तलाश में हैं, उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है लेकिन जल्द ही स्थिति आपके पक्ष में होगी। आपके द्वारा किए गए लगातार प्रयास आपको एक अच्छी सफलता दिलाने में भी मुख्य भूमिका निभा सकते हैं। इस समय पर काम में थोड़ा धैर्य बना कर रखें। परिवार में किसी बात को लेकर कुछ मतभेद हो सकते हैं या फिर किसी के स्वास्थ्य को लेकर भी चिंता रह सकती है। इस समय पर क्रोध और जल्दबाजी इन दोनों ही चीजों से बचने की आवश्यकता होगी। कुछ नए वस्तुओं को खरीद सकते है और इस समय धन खर्च भी अधिक रह सकता है। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Sagittarius

धनु राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इनके भाग्य भाव अर्थात नवम भाव/Ninth House पर होने वाला है। बुध के इस गोचर द्वारा इस समय पर धार्मिक पक्ष मजबूत होगा, यात्राएं हो सकती हैं अथवा परिवार में कुछ आवश्यक कामों के चलते व्यस्तता अधिक बढ़ सकती है। स्त्री पक्ष की ओर से सहयोग रहेगा। रचनात्मक व कला से जुड़े विषयों में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं। आपकी राशि के नवम भाव भाग्य स्थान में बुध गोचर के दौरान विवाहित जोड़ों के लिए यह गोचर अत्यंत अनुकूल रह सकता है। परिवार में एक दूसरे के बीच एक खुशहाल और शांतिपूर्ण रिश्ता बन सकता है। अविवाहित लोगों को भी इस समय अपने विवाह से संबंधित कुछ नए समाचार भी मिल सकते हैं। घर में पूजा-पाठ इत्यादि धार्मिक कृत्य हो सकते हैं और दान पुण्य के काम में आप आगे रह सकते हैं।  अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए ये समय बेहतर समझ को विकसित करने वाला होगा और कुछ सफलता का योग भी बनता है। आपके काम में देरी की कुछ संभावनाएं दिखाई देती हैं लेकिन आप इसे कड़ी मेहनत और समर्पण से सही भी कर पाने में सक्षम होंगे। 

सिंह राशि में बुध के गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर आठवें भाव को प्रभावित करने वाला होगा। अष्टम भाव पर बुध के स्थित होने के कारण कई मामलों में सोच समझ कर फैसले लेने की आवश्यकता होगी। इस समय काम बनेंगे, लेकिन इस बात की संभावना है कि कुछ कार्य आसानी से न बन पाएं इसलिए मेहनत और संघर्ष की स्थिति से घबराने की आवश्यकता नहीं है। अगर व्यावहारिक रुप से काम करते हैं तो सफलता भी प्राप्त होगी। इस गोचर के दौरान समय कुछ चुनौतीपूर्ण रह सकता है। आपको अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए अत्यधिक सावधान रहना चाहिए, विशेष रूप से आपको अपने भोजन को लेकर भी सजग रहने की जरूरत होगी किसी भी प्रकार की गलत आदत सीधे सेहत को प्रभावित करने वाली होगी। मन और शरीर को शांत रखने के लिए उचित आराम व व्यायाम करना ही सबसे उपयुक्त उपाय भी होगा। इस समय पर गुप्त शत्रुओं से सावधान रहें, क्योंकि वह आपके लिए कुछ बाधा उत्पन्न करने की कोशिश भी कर सकते हैं। इसके अलावा, हर कार्य और मुद्दे को सावधानी और पूर्ण समर्पण के साथ करना ही उचित होगा। 
सिंह राशि में बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Aquarius

कुंभ राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर आपके सप्तम भाव/Seventh House को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय पर आप स्वयं को लेकर भी बहुत अधिक सोच विचार में रह सकते हैं। भावनाओं में उतार-चढ़ाव बना रह सकता है। वैवाहिक जीवन का आरंभ होने का भी समय बना हुआ है। प्रेम संबंधों की शुरुआत भी इस समय पर हो सकती है। मित्रों के साथ मौज मस्ती के मौके भी मिल सकते हैं। काम काज और परिवार इन दोनों ही विषयों पर आपका ध्यान अधिक केन्द्रित रह सकता है। इस समय किसी के साथ मिलकर या फिर सहयोग पाकर कुछ नए काम की शुरुआत कर सकते हैं। बाहरी संपर्क द्वारा यात्रा व काम मिलने की संभावना भी दिखाई देती है। इस समय पर आपकी बौध्दिकता द्वारा अच्छे लाभ प्राप्ति के भी योग बने हुए हैं।परिवार के साथ कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों को लेकर चर्चा अधिक कर सकते हैं। इस समय पर संक्रमण से जुड़े रोगों से दूर रहने और अपने स्वास्थ्य का उचित ध्यान रखने और फिट रहने का सुझाव दिया जाता है। संतान पक्ष की ओर से भी आप कुछ सकारात्मक प्रभाव देखेंगे ओर छात्रों को अपनी एजुकेशन में आगे बढ़ने का मौका भी मिलेगा। 
सिंह राशि में बुध के गोचर का मीन  राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Leo on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर छठे भाव पर होगा। बुध के छठे भाव/Sixth House पर गोचर के कारण कुछ मिले जुले परिणाम अधिक देखने को मिल सकते हैं। यह गोचर आपके लिए बहुत अधिक अनुकूल नहीं हो पाए क्योंकि ग्रह आपकी राशि के छठे भाव में स्थित होगा। इस महत्वपूर्ण समय के दौरान उचित दृढ़ संकल्प और आत्मविश्वास ही आपके लिए अधिक मददगार सिद्ध होगा। कड़ी मेहनत और समर्पण आपको सभी चुनौतियों और बाधाओं से मुक्ति दिलाने में भी सहायक बनेगा। प्रतिस्पर्धाओं का दौर अधिक रह सकता है इसलिए अपनी ओर से किसी भी प्रकार की कमी से बचना ही उचित होगा। कुछ व्यर्थ के मसलों पर शुरू हुई बात विवाद में भी बदल सकती है इसलिए स्वयं की ऊर्जा को व्यर्थ की बातों पर न लगाते हुए अपने काम में एकाग्रता बना रखें। इस समय पर जीवन साथी अथवा परिवार के लोगों के साथ संबंधों में थोड़ा तनाव देखने को मिल सकता है, इसलिए दिमाग को शांत रखें और शांति से अपने मुद्दों को सुलझाएं। स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से स्थिति परेशान कर सकती है। मौसम के बदलाव और पेट से जुड़े विकार स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकते हैं।

कन्या राशि में बुध के गोचर का प्रभाव | Impact of Mercury transit in Virgo
26 Aug,2021
से
21 Sep,2021

बुध का कन्या राशि/Mercury transit in Virgo में गोचर करना एक अनुकूल स्थिति मानी जाती है। इसका मुख्य कारण यह है कि बुध ग्रह कन्या राशि के स्वामी हैं और साथ ही वह कन्या राशि में उच्च स्थिति को भी पाते हैं इसलिए एक साथ इन दो महत्वपूर्ण बातों का होना बुध के गुणों में वृद्धि करने वाला होता है और साथ ही बुध के शुभ प्रभाव भी दिखाई देते हैं। बुध का यह प्रभाव कन्या राशि के व्यक्ति के लिए तो खास होता ही है साथ ही यह अन्य राशियों पर भी असर डालने वाला होता है। बुध के कन्या राशि गोचर का जीवन के विभिन्न क्षेत्रों पर प्रभावशाली प्रभाव देखने को मिल सकता है। बुध का गोचर बातचीत के तरीके को प्रभावित करता है, दूसरों की मदद करने, परिवार, वित्त, बुद्धि, वैवाहिक जीवन/married life पर प्रभाव डालता है। यह गोचर राशि चक्र में प्रत्येक राशि पर प्रभावशाली होगा क्योंकि बुध का प्रभाव वाणी, संचार, प्रौद्योगिकी और यात्रा पर होता है। यह गोचर आपके जीवन पर कुछ अनुकूल प्रभाव डाल सकते हैं। सीखने के प्रति अच्छा झुकाव देखने को मिल सकता है, अपने इच्छित स्थानों की यात्रा करने का मौका मिल सकता है, समाज में अच्छी स्थिति को प्राप्त किया जा सकता है और इस प्रकार से कई अन्य बातों पर बुध ग्रह एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

कन्या राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Aries

मेष राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर छठे भाव/Sixth House पर होगा। छठा भाव इस समय पर अधिक प्रभशाली होने के कारण प्रतियोगिताएं कठिन हो सकती है और परिश्रम भी अधिक रह सकता है। इसलिए इस समय पर जो भी कार्य आप करते हैं उसमें आलस्य नहीं आने दीजिए और एकाग्रता के साथ उसे करने से ही आप सफलता को प्राप्त कर पाने में सक्षम होंगे। यह गोचर काल आपके कार्यक्षेत्र में व्यस्तता को दर्शाने वाला भी होगा। संतान पक्ष की ओर से भी आप काफी सोच विचार की स्थिति में रह सकते हैं। छात्रों को अपनी परीक्षाओं में अच्छे परिणाम पाने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी। इस समय पर विरोधी पक्ष आपको परेशान कर सकता है, लेकिन आप अपने साहस ओर उचित सूझबूझ द्वारा उन्हें हराने में भी सक्षम होंगे। अपने क्षेत्रों में सफलता और बदलाव दोनों ही प्रकार की स्थितियां अभी अपना असर दिखा सकती हैं। कुछ मामलों में व्यर्थ की भागदौड़ भी रह सकती है। थकान होने के कारण कुछ समय के लिए अवकाश भी ले सकते हैं। खर्चों पर नियंत्रण बना कर रखें तथा स्वास्थ्य को लेकर भी सजग रहें। 

कन्या राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर पंचम भाव पर होगा। इस भाव पर बुध की स्थिति के चलते कुछ सकारात्मक प्रभाव/Positive impact of transit देखने को मिल सकते हैं। आर्थिक स्थिति में आप प्रयासों द्वारा लाभ प्राप्त करने में सक्षम हो सकते हैं।  प्यार से संबंधित मामलों में आप कुछ अच्छे समय को भी देख पाएंगे। साथी का सहयोग मिलेगा तथा प्रेम जीवन समृद्ध होगा। अपने पार्टनर के साथ कुछ अच्छा समय बिताने को भी मिल सकता है। यह समय दोस्तों के साथ मुलाकातों को दर्शाता है और भ्रमण के मौके भी देता है। जीवनसाथी के साथ आपसी समझ का भाव विकसित होगा, कुछ कारणों से यदि वाद-विवाद हो भी जाता है तो ऐसे में इस स्थिति को धैर्य के साथ संभालना आपके लिए उत्तम होगा। कुछ लोग इस समय में आध्यात्मिक अध्ययन के कार्य व धार्मिक कृत्यों में शामिल हो सकते हैं। संपत्ति की खरीद फरोख्त का भी समय बना हुआ है। छात्रों को अपनी उच्च शिक्षा प्राप्ति हेतु कुछ अवसर भी प्राप्त हो सकते हैं। 

कन्या राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर इनके चतुर्थ भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध ग्रह की आपके सुख भाव पर गोचर की स्थिति के चलते आपका सुख, आपका रहन सहन प्रभावित हो सकता है। जीवन में सकारात्मकता बढ़ सकती है। कुछ अच्छी वस्तुओं की प्राप्ति का भी योग बना हुआ है। कुछ पैतृक संपत्ति का लाभ भी इस समय पर हो सकता है। संपत्ति/Property इत्यादि के माध्यम से अच्छा मुनाफा भी प्राप्त होगा।  मजबूत बुध का इस स्थान पर होना जीवन में भाग्य दायक हो सकता है। इस दौरान आप घर या अपने लिए कुछ नई वस्तु की खरीदारी इत्यादि का मन भी बना सकते हैं। अपने माता-पिता का साथ और प्रेम प्राप्त होगा। जो लोग अपने घर से दूर हैं उन्हें अपने घर जाने का अवसर मिल सकता है। अपने लोगों के साथ मेलजोल की भी स्थिति उभर सकती है, उनके साथ बिताने के लिए आपको कुछ समय बिताने को मिल सकता है। कार्यक्षेत्र को लेकर आप की जिम्मेदारियां और काम की अधिकता भी रह सकती है। 

कन्या राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit तृतीय भाव पर होगा। बुध के इस स्थान पर गोचर द्वारा आपका संघर्ष, परिश्रम, तथा यात्राओं में वृद्धि का समय प्रभावित होगा। आपका तीसरा भाव पराक्रम स्थान के नाम से भी जाना जाता है। इस स्थान पर बुध का गोचर आपकी ऊर्जा में वृद्धि करने वाला होगा। आपको सकारात्मक सोच प्राप्त होगी और कार्यक्षेत्र में आपके लिए प्रगति के अच्छे अवसर भी प्राप्त हो सकते हैं। आपके आत्मविश्वास, धैर्य, संचार कौशल और बुद्धि इन सभी के द्वारा आप बेहतर परिणामों को पाने में भी सफल हो सकते हैं। आप सामाजिक रूप से भी आगे रह सकते हैं कई चीजों में शामिल होकर उन्नति के मार्ग में आगे बढ़ सकते हैं। इस दौरान आप खुद को शक्तिशाली महसूस कर सकते हैं।  और आपके विचारों में स्पष्टता भी होगी, लोग आपकी ओर आकर्षित होंगे, और आप हर कार्य को पूर्णता के साथ पूरा करने में सक्षम रह सकते हैं। कार्य क्षेत्र में अतिरिक्त आय के स्त्रोत द्वारा आप लाभ अर्जित करने में भी सफल रह सकते हैं।

कन्या राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के दूसरे भाव में गोचर द्वारा आपकी वाणी में प्रभाव अच्छा देखने को मिलेगा लोग आपकी बातों को सुनना पसंद करेंगे तथा आप दूसरों को सहमत कर पाने में भी सक्षम हो सकते हैं। सिंह राशि वालों के लिए यह समय सकारात्मक प्रभाव/Positive impact डालने वाला होगा। इस दौरान आपको कोई शुभ समाचार मिल सकता है, व्यापार के क्षेत्र में शामिल लोगों के लिए अच्छा समय होगा और विभिन्न स्रोतों से भारी मुनाफा भी प्राप्त हो सकता है। आपको पैतृक संपत्ति या पूर्व में किए गए निवेश के माध्यम से लाभ प्राप्त करने का भी अच्छा समय देखने को मिल सकता है। आप इस समय अपने कर्ज को चुकाने में सफल हो सकते हैं। आपके पास हास्य की अच्छी समझ होगी, और आपकी भाषा शैली का कौशल आपको नए दोस्त बनाने में मदद करेगा। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर राशि पर ही होने के कारण यह लग्न को प्रभावित करेगा। बुध के गोचर प्रभाव आपकी सोच और विचारधारा में नयापन देखने को मिलेगा। कुछ अच्छे और बेहतर फैसलों को ले पाएंगे। अपने आस पास और स्वयं को लेकर भी काफी सजग होंगे। चीजों में बदलाव के साथ साथ सुधार भी बना रह सकता है। भाग्यशाली रह सकते हैं और कुछ काम बिना किसी प्रयत्न के भी पूर्ण होते दिखाई दे सकते हैं। वरिष्ठ अधिकारी आपके समर्पण और कड़ी मेहनत की प्रशंसा भी कर सकते हैं। परिवार के साथ कुछ अच्छा समय बिता सकते हैं। मानसिक रूप से उत्साह बना रहेगा। मौज मस्ती का समय मिल पाए और माता पिता का समर्थन और प्रेम प्राप्त कर सकते हैं। समय पर कार्य पूरे होंगे और आपके द्वारा किए गए प्रयासों की प्रशंसा होगी और हर कोई आपकी टाइमिंग से प्रभावित हो सकता है। अपने प्रतिद्वंद्वियों से सतर्क रहें क्योंकि वह आपकी छवि को खराब करने की कोशिश कर सकते हैं। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर द्वादश भाव पर होगा। बुध ग्रह के इस गोचर के प्रभाव स्वरूप कुछ अच्छे तो कुछ विपरीत समाचार सुनने को मिल सकते हैं। विदेश में या घर से दूर रह रहे लोगों को लाभ मिल सकता है। इस समय पर नए काम का आना मानसिक तनाव और थकान दोनों को बढ़ाने वाला हो सकता है।  खर्चों की अधिकता किसी रूप में प्रभाव डाल सकती है। कुछ न कुछ चीजों की खरीदारी का होना और स्वास्थ्य से जुड़े मसलों को लेकर भी खर्च बना रहने वाला है। कोई संपत्ति की खरीद कर सकते है। तथा साथ ही कानूनी कार्यों में भी किसी न किसी रूप से प्रभाव देखने को मिल सकता है। कोई यात्रा हो सकती है, अपने परिवार के साथ कुछ समय बिताएंगे, साथी आपका समर्थन पूरी तरह से न करना चाहे ऐसे में तनाव और विवाद भी हो सकता है। स्वास्थ्य को लेकर सजग रहें।  खुद को फिट और फाइन रखने के लिए नियमित व्यायाम या योग करना अच्छा विकल्प हो सकता है। सेहत का ख़्याल रखना आपके लिए फ़ायदेमंद रहेगा क्योंकि इससे आपका मन शांत रहेगा।

बुध के कन्या राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। यह समय होगा नई चीजों से लाभ अर्जित करने का। कुछ काम के सिलसिले में लगातार प्रयास और यात्राओं द्वारा बेहतर मुनाफे की संभावना भी बनती है। यह लाभ की उच्च स्थिति का प्रभाव उस व्यक्ति के जीवन में अचानक से कुछ बदलाव और सकारात्मक परिणाम देने में सक्षम होगा। परिवार के लोगों की ओर से भी आपको सहायता मिलेगी। इस समय पर संतान के सुख की प्राप्ति हो सकती है और साथ ही माता-पिता बच्चों के लिए भी व्यस्तता अधिक रह सकते हैं। नए काम मिलने की संभावना बनी हुई है। यह समय भाई बंधुओं के साथ प्रेम और अच्छे पलों को दिलाने में सहायक बन सकता है। प्रेम संबंधों में आपको अपने साथी का सहयोग मिल सकता है और रिश्तों में मजबूती भी देखने को मिल सकती है। इस समय अपने कर्जों को चुकाने का भी कुछ मौका जरुर मिल सकता है। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर दशम भाव/Tenth House पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति आपको अपने काम में आगे बढ़ने के अवसर देने वाली होगी। इस समय पर काम के क्षेत्र में सहयोगियों की ओर से भी कुछ समर्थन प्राप्त हो सकता है। कार्य स्थल पर कुछ मस्ती के मौके ओर पार्टी इत्यादि में शामिल होने को भी मिल सकता है। पद प्राप्ति या कुछ मुन तो आपको इस समय पर मिल ही सकता है। कारोबार से जुड़े लोग अपने काम में सामान की खरीदारी में व्यस्त होंगे तथा साथ ही चीजों की बिक्री भी अच्छी रह सकती है। कुछ पुराने लोगों के साथ मिलने का अवसर भी हो सकता है। घर पर किसी के आगमन द्वारा व्यस्तता अधिक बढ़ सकती है। कहीं समारोह या फंक्शन आदि में निमंत्रण भी मिल सकता है। इस समय काम के साथ साथ कुछ नए चीजों के साथ जुड़ने और उन्हें करने का मौका भी आपके पास होगा, इस समय पर नई चीजों से जुड़ना अच्छा रह सकता है। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव/Ninth House पर होगा। नौवें भाव में उच्च स्थिति को पर बुध अपने शुभ फलों को प्रदान करने में सक्षम होगा। भाग्य द्वारा चीजों की प्राप्ति हो सकती है। अगर कुछ समय से कोई योजना रुकी हुई थी तो अब उस के आगे बढ़ने का अच्छा समय दिखाई देता है। इस गोचर काल में आपको लाभ मिलेगा,  नौकरीपेशे लोगों को अपने काम में आगे बढ़ने के कुछ अवसर मिल सकते हैं। दूर स्थल पर रहने वालों को अपने परिवार के साथ होने का सुख मिल सकता है। जो छात्र परीक्षा के परिणाम को लेकर चिंता में हैं उन्हें कुछ सकारात्मक फलों की प्राप्ति भी हो सकती है। अपने-अपने क्षेत्रों में बहुत अच्छा करेंगे, और आपके शानदार काम के लिए आपको कर्मचारियों का सहयोग मिल सकता है और साथ ही बड़े लोगों द्वारा आपकी प्रशंसा की जा सकती है। यात्राएं तो होंगी साथ में लोगों के साथ सामाजिक रूप से जुड़ाव भी गहरा होगा। कुछ वेतन वृद्धि या पदोन्नति मिलने का भी योग बनता है। 

बुध के कन्या राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर आठवें भाव पर होगा, इस समय अष्टम भाव अपनी मजबूत स्थिति में होने के कारण जीवन में कुछ आकस्मिक लाभ और हानि दोनों ही स्थितियों का प्रभाव देखने को मिल सकता है। बुध ग्रह का गोचर आपकी राशि के आठवें भाव में होने के कारण आपको कुछ ऐसे स्थानों से लाभ की प्राप्ति हो सकती है जिसके बारे में आपने सोचा ही न हो, जो लोग उन कामों से जुड़े हैं जिनमें अधिक रिस्क है उस में लाभ भी होगा। शेयर मार्किट, लॉटरी इत्यादि से मुनाफा भी मिल सकता है लेकिन यह लौंग टर्म का मुनाफा/Long term profit न हो पाए इसलिए इस सब में पड़ने से पूर्व अच्छे से सोच विचार करना ही सही है। यह समय जीवन पर सकारात्मक और नकारात्मक दोनों प्रभाव डालने वाला होगा। आपके पिता या किसी बड़े के साथ आपके विवाद कुछ शांत हो सकते हैं। विरासत से लाभ मिल सकता है। प्रेम के संबंधों में छुपे हुए रिश्ते अब सामने भी आ सकते हैं। स्वास्थ्य को लेकर थोड़ा अधिक सजग होने की आवश्यकता होगी कोई पुराना रोग भी अब अधिक परेशानी दे सकता है। 

मीन राशि पर बुध के कन्या राशि में गोचर का प्रभाव/Effect of Mercury transit in Virgo on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर सप्तम भाव पर होगा। इस समय पर वैवाहिक जीवन/Married  life में गिले शिकवे कुछ समाप्त होते दिखाई देंगे, जीवन साथी के साथ आप सौहार्दपूर्वक समय बिता सकते हैं। आपको अपने परिवार के साथ कुछ आनंदमय समय बिताने को मिलेगा। रिश्तों में लोगों को अपने प्यार को शादी में बदलने का मौका मिल सकता है,  हालांकि ऐसा करने में उन्हें कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा लेकिन स्थिति पक्ष में भी रह सकते है। आप हर उठने वाले विवाद को दूर करने का एक तरीका खोज सकते हैं इसलिए धैर्य मत खोना और शांति से चीजों को सुलझाने की कोशिश करना अच्छा होगा। इस गोचर के दौरान कुछ अप्रत्याशित स्रोतों से लाभ मिलने की प्रबल संभावना है। आपके दोस्त और परिवार आपके जीवन के हर कदम पर आपका पूरा साथ दे सकते हैं। साझेदारी में किए जाने वाले काम में एक-दूसरे के करीब आने के बेहतरीन मौके मिलेंगे। स्वास्थ्य अच्छा बना रहेगा, हालांकि कुछ शारीरिक गतिविधि जैसे खेल खेलना या व्यायाम करने की सलाह दी जाती है।

बुध का कर्क राशि में गोचर प्रभाव /Impact of Mercury transit in Cancer on other zodiac sign
25 Jul,2021
से
08 Aug,2021

बुध का कर्क राशि गोचर/Mercury transit in Cancer से सभी राशियों को सकारात्मक एवं नकारात्मक परिणाम दोनों मिलते हैं। यह समय व्यक्ति के स्वभाव एवं भावनाओं को प्रभावित करने वाला रह सकता है। कर्क एक जल चिन्ह/Watery sign का प्रतिनिधित्व करता है, इसलिए इस गोचर के दौरान, व्यक्ति अपने व्यवहार और बात करने के तरीके में बदलाव देख सकते हैं। आर्थिक लाभ के अवसर मिलेंगे, अधिक समृद्ध होंगे। इस समय के दौरान आप अपनी भावना के आवेग में अधिक बह सकते हैं और दिमाग से ज्यादा दिल की सुन कर प्रतिक्रिया अधिक कर सकते हैं। कभी प्रेम और कभी करुणा की अधिकता देख पाएंगे तो दूसरी ओर कभी-कभी भय और अधिकार का भाव भी अधिक रह सकता है। यह गोचर शिक्षा और काम-काज जैसे विभिन्न क्षेत्रों में एकाग्रता को प्रभावित कर सकता है। 

कर्क राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव /Effect of mercury transit in Cancer on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर इस समय चतुर्थ भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर के दौरान, यह परिवार एवं कामकाज से जुड़े मसलों को मुख्य रूप से प्रभावित कर सकता है। इसके अलावा यह आपके प्रेम संबंधों को भी प्रभावित करने वाला होगा। बुध का प्रभाव मेष राशि के लिए अनुकूल रह सकता है। विवाहित जोड़ों को लाभ मिल सकता है तथा उनका वैवाहिक जीवन/married life सुखी और शांतिपूर्ण कार्यक्षेत्र में आप अपनी मेहनत और ईमानदारी के कारण अच्छे परिणाम प्राप्त करने में सफल रह सकते हैं। आपको वरिष्ठ कर्मचारियों और सहकर्मियों से सहयोग मिल सकता है। आपकी कड़ी मेहनत द्वारा काम में विस्तार और प्रशंसा की प्राप्ति हो सकती है। 

कर्क राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर तृतीय भाव को प्रभावित करने वाला होगा। वृषभ राशि वालों के लिए बुध ग्रह का गोचर सामान्यत: अनुकूल रह सकता है। इस गोचर के दौरान ग्रह आपका पराक्रम और प्रयास तेज होंगे। कार्यों को पूरा करने और जिम्मेदारी लेने में आप आगे रह सकते हैं, आपकी ऊर्जा और उत्साह पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। आपके व्यक्तिगत कौशल जैसे बातचीत का गुण बेहतर होगा, दृढ़ स्वभाव द्वारा काम पूरे करने में आप सफल होंगे और कुछ लोगों का सहयोग भी आपको इस समय मिल सकता है। भाग्य को बेहतर बनाने और अच्छे लाभ को पाने में इस समय यह गोचर सहायक बन सकता है। इस समय के दौरान कुछ छोटी यात्राएं हो सकती हैं, जो आनंद और प्रसन्नता देने वाली रह सकती हैं।

कर्क राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Gemini

मिथुन राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर/Mercury transit दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव से आप की वाणी को प्रभाव और संचार की कुशलता प्राप्त हो सकती है।  मिथुन राशि के लिए यह गोचर महत्वपूर्ण प्रभाव देने वाला हो सकता है। दूसरा भाव संचार कौशल को दर्शाता है, इस कारण से आप धाराप्रवाह बोलने में अच्छे रह सकते हैं। अपने भाषणों से लोगों का दिल जीतने में सक्षम हो सकते हैं। इस समय में निवेश करने और संपत्ति इत्यादि के माध्यम से भारी मुनाफा कमाने का सही समय रह सकता है। इस समय पर शांत रह कर और अपने काम पर ध्यान केंद्रित करने में फायदा होगा। आपकी दक्षता और कड़ी मेहनत अच्छे परिणाम दिलाने में सहायक बन सकती है। इसके अलावा, आपको किसी भी कार्यालय की राजनीति में शामिल होने से बचना चाहिए। दांपत्य जीवन सामान्य रहेगा। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर इन्हीं की राशि को प्रभावित करने वाला होगा। प्रथम भाव पर बुध के गोचर के चलते आपको अलग-अलग क्षेत्र में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इस समय कर्क राशि को अपने स्वास्थ्य के संबंध में कुछ गंभीर समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है, इसलिए नियमित स्तर पर स्वास्थ्य जांच कराने की सलाह दी जाती है, और इस समय उचित चिकित्सा उपचार बहुत आवश्यक होगा। अपने स्वास्थ्य के संबंध में किसी भी बात को नजरअंदाज करना इस परेशानी का सबब बन सकता है। आपकी वित्तीय स्थिति आपके पक्ष में रह सकती है, आपको विदेश से या अपने लोगों द्वारा समर्थन भी मिल सकता है।

कर्क राशि पर बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर इनके द्वादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। व्यय भाव में स्थित बुध के गोचर के प्रभाव स्वरूप कुछ परेशानियां रह सकती हैं। आर्थिक क्षेत्र में खर्चों की अधिकता बनी रह सकती है, इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि आप अपने खर्चों पर नियंत्रण रखें। पैसों का व्यय सोच समझ कर करें और आवश्यक खर्चों की सूची बनाएं, जिसके कारण व्यर्थ के व्यय से बच पाएंगे। इस समय पर व्यापार से संबंधित कुछ उतार-चढ़ाव अधिक बने रह सकते हैं, ऐसे में इन मुद्दों को सुलझाने में किसी योग्य व्यक्ति की सलाह लेना ही उचित होगा।  यह समय यात्राओं को भी दर्शाता है और अचानक से किसी यात्रा पर जाने की स्थिति परेशानी भी उत्पन्न कर सकती है। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव/Eleventh House को प्रभावित करने वाला होगा। यह समय अच्छे लाभ और मजबूती की स्थिति को भी दर्शाता है। स्वास्थ्य संबंधी मसलों और प्रेम संबंधों के लिए यह समय अनुकूल रह सकता है। लोग आपकी बातचीत और तर्क शैली से प्रभावित रह सकते हैं। आप लोगों पर अपनी छाप छोड़ने में सफल भी रह सकते हैं। यह समय सामाजिक क्षेत्र में विस्तार की स्थिति और आपकी व्यस्तता को भी दर्शाता है। आपका सामाजिक सर्कल बढ़ेगा, और प्रियजनों के साथ कुछ अच्छे पलों को व्यतीत कर पाएंगे। कुछ नए दोस्त भी इस समय पर आप बना सकते हैं। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर इनके कर्म क्षेत्र को प्रभावित करने वाला होगा। दशम भाव पर बुध के गोचर द्वारा कुछ सकारात्मक परिणाम प्राप्त होने की संभावना भी अधिक बनती दिखाई देती है। इस समय पर घरेलू स्तर पर बदलाव देखने को मिल सकते हैं। परिवार की जीवनशैली/Family lifestyle और जीवन स्तर अच्छा होता दिखाई देगा। कुछ नई वस्तुओं का आगमन भी इस समय पर हो सकता है। आय के कई स्रोत भी प्राप्त कर सकते हैं और विदेश में अपना पैसा भी निवेश कर सकते हैं। करियर में बदलाव कर सकते हैं अथवा काम के क्षेत्र में पद प्राप्ति भी हो सकती है। यह समय आपके नौकरीपेशा जीवन में सकारात्मक फल देने में सक्षम होगा। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव पर होगा। नवम भाव/Ninth house भाग्य भाव कहलाता है, ऐसे में भाग्य का कुछ सहयोग तो आपको मिल सकता है। आपके लिए यह समय ,मिले जुले प्रभाव वाला होगा, सकारात्मक और नकारात्मक दोनो ही स्थितियां सामने आ सकती हैं। आपका स्वास्थ्य स्थिर रह सकता है और आप एक सामान्य पारिवारिक जीवन व्यतीत कर पाएंगे। आपका रिश्ता आपको परेशान नहीं करेगा, और आप अपने प्रेमी के साथ अच्छे पलों का आनंद लेने में भी सक्ष रह सकते है। कार्य क्षेत्र के साथ-साथ यह समय आपकी संपत्ति को बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा रह सकता है। इस समय पर किया गया निवेश आने वाले समय में आपको फलदायी परिणाम दिलाने में सहायक होगा। विरोधियों से सावधान रहना चाहिए क्योंकि विरोधी  पक्ष आपकी छवि को खराब करने की कोशिश कर सकता है। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर अष्टम भाव/Eight house पर होगा। इस गोचर के प्रभाव स्वरूप आप के लिए स्थिति कुछ तनाव और चिंता को दर्शा सकती है। जीवन में विभिन्न बाधाओं का सामना करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य के मामले में, आपको किसी भी तरह की समस्या से बचने के लिए सावधानी बरतनी चाहिए।  आपकी मानसिक स्थिरता भी आपके स्वास्थ्य पर निर्भर करती है इसलिए स्वयं को सकारात्मक बनाए रखें।  नियमित व्यायाम या योग जैसी गतिविधियों को करने से लाभ मिलेगा। नौकरी से जुड़े लोगों को चाहिए की, समय पर अपने कार्यों को पूरा करने की कोशिश बनाए रखें। इस समय पर किसी भी देरी से बचने की आवश्यकता होगी। अपने कार्यों पर ध्यान केंद्रित करना होगा, अन्यथा आपको अचानक दबाव और काम में होने वाली देरी के चलते परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

कर्क राशि पर बुध के गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर इनके सप्तम भाव पर होगा।  इस अवधि के दौरान आपको मिले-जुले प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। कार्यक्षेत्र एवं जिम्मेदारी को लेकर सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है। आप अपनी ऊर्जा और उत्साह में धीरे-धीरे वृद्धि देख पाएंगे। आप अपने समय को आनंद के साथ बिता पाने में भी सक्षम रह सकते हैं। वैवाहिक जीवन से खुशी और खुशी संतुष्ट का भाव दिखाई दे सकता है। जीवनसाथी/life partner के साथ आपकी अच्छी बातचीत हो सकती है और आप इस रिश्ते को मजबूती देने में भी सक्षम होंगे। कार्यक्षेत्र में समर्पण और कड़ी मेहनत से आप अपने अधिकारियों को प्रभावित कर सकते हैं। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर छठे भाव को प्रभावित करने वाला होगा।  इस गोचर के प्रभाव स्वरूप आपको अपने खर्चों में वृद्धि देखने को मिल सकती है, लेकिन इसी के साथ अगर आप किसी कर्ज की स्थिति से परेशान हैं तो ऐसे में यहां राहत भी मिल सकती है। आपके लिए जरूरी होगा की अपने खर्चों को कम करने का प्रयास करें। अपने आप को फिट और स्वस्थ रखना आपके लिए फायदेमंद होगा। अगर आप किसी स्पोर्ट्स क्लब में शामिल होते हैं, व्यायाम - योग जैसी अन्य शारीरिक गतिविधियों को दिनचर्या में शामिल करते हैं तो यह आपके लिए अच्छा होगा। इस समय पर अपने स्वास्थ्य की अनदेखी करना लंबे समय तक परेशानी देने वाला हो सकता है। 

कर्क राशि पर बुध के गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Cancer on Pisces

मीन राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर पंचम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर के प्रभाव से कुछ लाभ भी प्राप्त होगा। बुध ग्रह आपके ज्ञान और संवेदनशीलता में वृद्धि करेगा। आपको वित्तीय लाभ प्राप्त हो सकता है और निवेश के द्वारा भी लाभ कमाने का एक अच्छा समय होगा। जीवनसाथी या अपनों के साथ आपका संबंध शांतिपूर्ण रह सकते हैं। प्रेम संबंधों के मामले में आप जल्द ही एक दूसरे को समझने और जानने लगेंगे, आपका साथी हर कदम पर आपका साथ दे सकता है। नौकरी में अभी उपलब्धि हासिल करने में थोड़ा समय लगेगा लेकिन आपकी काम के प्रति समर्पण और एकाग्रता की स्थिति ध्यान धीरे-धीरे उन्नति का मार्ग प्रशस्त करने वाली होगी। इस समय पर नियंत्रित आहार लेना चाहिए और फास्ट फूड/Fast food इत्यादि से बचना चाहिए। 

बुध का वृषभ राशि में गोचर/Mercury transit in Taurus
03 Jun,2021
से
06 Jul,2021

वैदिक ज्योतिष के अनुसार बुध ग्रह व्यक्ति की बुद्धि, वाणी, संचार, निर्णय लेने की क्षमता एवं व्यवहार को प्रभावित करता है। राशि चक्र में दूसरी राशि वृषभ है और इसका स्वामी ग्रह शुक्र है, जिसका बुध के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध माना गया है। इसके साथ ही, यह राशि किसी की इच्छा शक्ति, कठोरता, आय, लक्ष्यों, महत्वाकांक्षाओं, परिवार और दोस्तों आदि का प्रतीक होता है। बुध ग्रह, वृषभ के दूसरे और पांचवें भाव का स्वामी होता है। वृषभ राशि पर बुध का प्रभाव वृषभ राशि के लिए अनुकूल प्रभाव देने वाला माना गया है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, आपका दूसरा भाव किसी के पारिवारिक संबंधों, व्यावसायिक परिस्थितियों, नौकरी, प्रतिभा और भौतिकवादी चीजों जैसे संपत्ति, खाद्य पदार्थ, संपत्ति, संसाधन आदि को दर्शाता है। वहीं, आपका पंचम भाव रचनात्मक प्रतिभा, शैक्षणिक योग्यता, मनोरंजन, ऊर्जा और उत्साह, नई चीजों में रुचि, प्रतियोगिता आदि का प्रतिनिधित्व करता है। इसलिए इन सभी क्षेत्रों में बुध के गोचर/Mercury transit in Taurus का कुछ न कुछ प्रभाव अवश्य देखने को मिल सकता है।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। आपकी राशि के दूसरे भाव में बुध ग्रह का गोचर होने से वाणी एवं ज्ञान पर अनुकूल प्रभाव देखने को मिल सकता है। आप अपने विचारों को धाराप्रवाह रूप से व्यक्त करने में सक्षम होंगे। लोग आपके अच्छे इरादों को समझेंगे और आपको उनका पूरा सहयोग मिल सकता है। कार्यक्षेत्र में सहकर्मियों का सहयोग भी प्राप्त हो सकता है। आपके विचारों की उत्कृष्टता एवं आपका आत्मविश्वास आपको सफलता दिलाने में सहायक सिद्ध हो सकता है। हालाँकि कुछ मामलों में आपके आत्मविश्वास और वाणी के प्रभाव से दूसरे लोग आपसे ईर्ष्या भी कर सकते हैं, साथ ही कुछ मामलों में तर्क-वितर्क विवाद की स्थिति में भी पहुंच सकता है इसलिए आवश्यकता होगी स्वयं को शांत बना कर रखने की ओर व्यर्थ के विवाद से खुद को बचाने की कोशिश करें। संपत्ति या निवेश के माध्यम से लाभ कमाने की अच्छी संभावना देखने को मिल सकती है। प्रेम संबंधों में थोड़ा कमी देखने को मिल सकती है। खानपान में ध्यान रखने और नियमित रुप से व्यायाम इत्यादि क्रियाओं को जीवन शैली में शामिल करने से आपका स्वास्थ्य अच्छा बना रह सकता है। आप कुछ खेल गतिविधियों में भी शामिल हो सकते हैं जो आपको फिट रखने में सहायक होंगी।

वृषभ राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर इनके लग्न भाव/Ascendant को प्रभावित करने वाला है अर्थात इनकी ही राशि पर होने वाले बुध के गोचर के कारण इनका व्यक्तित्व और विचारधारा में बदलाव और स्थिरता देखने को मिल सकती है। इसके प्रभाव से आप अपनी वाक कौशल में सुधार एवं बदलाव को देख पाएंगे। आपके बोलने का प्रभावशाली तरीका कई लोगों को आकर्षित करने में सक्षम होगा। आपको एक मजबूत व्यक्तित्व प्राप्त हो सकता है। इस समय के दौरान आप मृदुभाषी और विनम्र व्यवहार से युक्त होंगे जो सभी के दिलों को छू लेने वाला होगा। इस समय संबंधों में आपको कुछ सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है। आपसी समझ और प्रेम में वृद्धि होगी। इस समय को वृषभ राशि के लोग शांति और सद्भाव से व्यतीत करने में सक्षम होंगे। कार्यक्षेत्र में आपको अपनी मेहनत और लगन के कारण सफलता भी प्राप्त हो सकती है। यह समय जरूरी है कि कार्यालय की राजनीति से दूर रहें। अपने काम को समय रहते पूरा करने का प्रयास करें। स्वास्थ्य सामान्य रह सकता है, उचित आहार शैली और नियमित व्यायाम द्वारा आप अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रख सकते हैं।

वृषभ राशि पर बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर द्वादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर के प्रभाव से आपकी आर्थिक स्थिति पर असर पड़ सकता है, क्योंकि द्वादश भाव व्यय का भाव भी होता है। ऐसे में खर्चों की अधिकता बनी रहने से बचत प्रभावित हो सकती है। बुध ग्रह आपकी राशि के बारहवें भाव/Twelfth house में होगा, जो मानसिक तनाव और काम की क्षमता को दर्शाने वाला होगा। इस समय के दौरान, मानसिक और शारीरिक रूप से कुछ तनावपूर्ण स्थिति से गुजरना पड़ सकता है। इसलिए, बहुत अधिक कार्य करके अपने आप को तनाव में न डालें और काम में संतुलन बनाए रखने का प्रयास करें।  व्यावसायिक गतिविधियों में भाग्य का सहयोग मिल सकता है और लाभ के अवसर प्राप्त हो सकते हैं। इस समय पर खर्चों पर नज़र बनाए रखना आवश्यक होगी अन्यथा अनावश्यक खर्च करना आपको परेशानी में भी डाल सकते हैं। अपने साथी के साथ लम्बी दूरी की यात्रा पर जाने का अवसर मिल सकता है। प्रेम संबंधों में बनी दूरी को समाप्त करने के लिए किए गए आपके प्रयास ही आपको बेहतर फल दे सकते हैं। कार्यक्षेत्र अथवा किसी भी काम में विलम्ब की स्थिति से बचें। समय पर काम पूरा करने से आपको अच्छे लाभ की प्राप्ति भी हो सकती है। 

वृषभ राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के लाभ भाव पर गोचर के कारण आपको आर्थिक रूप से कुछ अच्छे संकेत देखने को मिल सकते हैं। इस समय पर आपको अपने वित्त, रिश्ते, परिवार, काम-काज, बौद्धिकता आदि के मामले में कुछ लाभ प्राप्त करने के अवसर मिल सकते हैं। विदेश व्यापार के माध्यम से काम में वृद्धि, नए संबंध बनाने और अपने वित्तीय क्षेत्रों में  लाभ प्राप्ति के मौके मिल सकते हैं। इस समय दांपत्य जीवन/Married life में साथी की ओर से सहयोग की प्राप्त होती दिखाई देती है। रिश्तों में मजबूती देखने को मिल सकती है। प्रेम संबंधों में स्थिति अनुकूल होगी और साथी के साथ आपसी समझ में भी मजबूती मिलेगी। कुछ बातों को लेकर नोकझोंक की स्थिति उभर सकती है, लेकिन अपने स्नेह और प्रेम द्वार आप उन्हें दूर कर सकते हैं। इस समय पर अपने अधिकारियों की ओर से सहयोग मिल सकता है और किसी वरिष्ठ सदस्य का सहयोग काम आ सकता है। अपने बौद्धिक विचारों से अलग अच्छी छवि बनाने में भी सफल हो सकते हैं। इस समय पर स्वास्थ्य को नजरअंदाज न करें, इस समय पर धूल-हवा और साफ सफाई में कमी के चलते स्वास्थ्य प्रभावित हो सकती है, इसलिए अपना और अपने आस-पास की साफ सफाई एवं सुरक्षा का उचित ख्याल रखने की आवश्यकता होगी। 

वृषभ राशि में बुध के गोचर का सिंह पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का प्रभाव इनके दशम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के कर्म भाव पर होने से आपके काम काज का क्षेत्र प्रभावित होगा। बुध के इस गोचर का आपके जीवन पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ सकता है। ऑफिस में आप अधिक केन्द्रित दिखाई दे सकते हैं।  इस समय आपके काम की सहयोगियों और वरिष्ठों द्वारा प्रशंसा भी की जा सकती है। आपके काम में आपकी उत्कृष्टता और समर्पण शैली ही आपकी सफलता का मुख्य आधार होगी। कुछ वरिष्ठ अधिकारी आपके पक्ष में फैसले भी ले सकते हैं। परिवार में सुख समृद्धि का योग बनता है, प्रेम संबंधों में सकारात्मकता बनी रहने से स्थिति अनुकूल होगी। आपको अपने जीवनसाथी/Life partner और प्रेमी की ओर से भरपूर सहयोग प्राप्त हो सकता है। आपको अपने लोगों का साथ हर कदम पर मिल सकता है। स्वास्थ्य सामान्य रह सकता है, इस समय पर स्पोर्ट्स या योग इत्यादि शारीरिक गतिविधियों में शामिल होने से मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूती प्राप्त होगी। यदि स्वास्थ्य को नजरअंदाज करते हैं तो लंबे समय तक नकारात्मक रूप से प्रभावित हो सकते हैं। आर्थिक स्थिति सामान्य रह सकती है और संपत्ति इत्यादि में निवेश करने से लाभ के अच्छे अवसर प्राप्त हो सकते हैं।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के गोचर द्वारा भाग्य का सहयोग मिलना संभव होगा। कामकाज में तेजी और कुछ उन्नति के अवसर भी मिल सकते हैं। काम के सिलसिले में अथवा अन्य कारणों से यात्राओं का भी समय बना हुआ है। किसी लम्बी दूरी की यात्रा पर भी जा सकते हैं। यदि आप अपनी नौकरी बदलने की कोशिश में हैं या नए काम की तलाश में तो इस समय पर कुछ अनुकूल परिणाम मिल सकते हैं। सामाजिक क्षेत्र में व्यस्त रह सकते हैं, तथा अच्छे कार्यों के कारण आपको लोगों के मध्य पहचान बनाने का अवसर भी प्राप्त हो सकता है। समाज में एक विशेष स्थान भी अर्जित करने सक्षम होंगे। प्रेम संबंधों/Love relationship के लिए स्थिति अनुकूल दिखाई देती है। अपने जीवन साथी के साथ कुछ अच्छा समय व्यतीत कर पाएंगे। इस समय पर स्वास्थ्य के लिहाज से बाहरी खान पान पर थोड़ा नियंत्रण बनाए रखने की आवश्यकता है। कुछ छोटी-मोटी स्वास्थ्य समस्याएं उभर सकती हैं, लेकिन इनसे जल्द ही निजात भी प्राप्त होगी। 

बुध के वृषभ राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर आपके आठवें भाव पर होने से इस समय के दौरान मिले जुले परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। अचानक से कुछ नुकसान अथवा आर्थिक क्षेत्र में खर्चों की अधिकता परेशान कर सकती है। इस समय अप्रत्याशित रूप से चीजें आप पर असर डालने वाली रह सकती हैं।  इस समय पर आप कुछ नई चीजों को सीखने के प्रति अधिक इच्छुक रह सकते हैं। आपका झुकाव आध्यात्मिक क्षेत्र की ओर भी अधिक रह सकता है। इस समय पर पुराने निवेश कुछ फायदे का सौदा भी सिद्ध हो सकते हैं, साथ है पैतृक संपत्ति/Ancestral property से कुछ लाभ मिल सकता है। दांपत्य जीवन/Married life में साथी के साथ कुछ अनबन रह सकती है, और आपकी वाणी में कुछ कठोरता देखने को मिल सकती है, इसलिए आपको शांति और सावधानी से काम करने की आवश्यकता होगी तभी आप स्थिति को बेहतर ढंग से संभाल पाएंगे। इस समय पर किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य समस्या को नजरअंदाज करने से आपके शरीर पर नकारात्मक प्रभाव भी पड़ सकता है इसलिए चिकित्सक की सलाह अवश्य लीजिए। कार्यक्षेत्र में आपकी कड़ी मेहनत से सफलता की राह आसान हो सकती है। इस समय पर किसी भी प्रकार के शॉर्टकट से बचना ही उचित होगा तथा समझदारी व ईमानदारी से किया हुआ काम फायदा देगा। 

बुध के वृषभ राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध गोचर/Mercury transit सप्तम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव से आपको कुछ अनुकूल फलों की प्राप्ति हो सकती है, लेकिन साथ ही कुछ चुनौतियों का सामना भी करना पड़ सकता है। आप की वाणी में बदलाव दिखाई देगा जो सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह से प्रभाव दिखा सकता है। आपको अपने वैवाहिक जीवन में भी कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। अपने रिश्ते को मजबूत करने के लिए बेहतर संचार की आवश्यकता होगी और इसे अच्छा भी बनाया जा सकता है। इस समय खर्चों पर नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है; अन्यथा, आपके व्यर्थ के खर्चों के चलते वित्तीय स्थिति कमजोर हो सकती है। कारोबार से जुड़े लोगों को अभी अपने काम में आगे बढ़ने के लिए सोच समझ कर ही फैसले लेने होंगे जल्दबाजी से बचना ही बेहतर होगा। आप अपने काम में कुछ लाभ की स्थिति भी देख सकते हैं।  अपनी सेहत पर ध्यान बनाए रखें और लापरवाही से बचें अन्यथा परेशानी हो सकती है, इसलिए उचित डाइट का पालन करें। स्वयं को फिट रखने के लिए आप व्यायाम एवं योग इत्यादि का सहारा ले सकते हैं यह आपके लिए फायदेमंद होगा।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Sagittarius

धनु राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर छठे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के गोचर का प्रभाव आपके आय और व्यय के घर को सीधे प्रभावित करने वाला है। इस समय के दौरान आप किसी विवाद इत्यादि में फंस सकते हैं। खर्च में वृद्धि देखने को मिल सकती है, जो आपकी बचत को प्रभावित कर सकती। कमाई से अधिक खर्च होने से आप परेशान भी हो सकते हैं। कार्यस्थल पर कुछ प्रतिस्पर्धा अधिक रह सकती है लेकिन मान-सम्मान भी प्राप्त हो सकता है। ईमानदारी और बुद्धिमता द्वारा आप दूसरों पर अपना प्रभाव जमाने में कामयाब हो सकते हैं।  इस समय पर आपको अपने प्रतिद्वंद्वियों से उचित दूरी बनाए रखने की कोशिश करनी चाहिए, क्योंकि वह आपकी छवि को खराब करने की कोशिश कर सकते हैं। कुछ यात्राएं कर सकते हैं, जीवनसाथी के साथ आपके संबंधों उतार-चढ़ाव बना रह सकता है। इस समय अपने स्वास्थ्य में किसी भी प्रकार की समस्या को नजरअंदाज करने से बचना ही उचित होगा क्योंकि इस समय स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Capricorn

मकर राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर पंचम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। पंचम भाव बुद्धि और ज्ञान के भाव का प्रतिनिधित्व करते हैं, ऐसे में बुध की इस स्थान पर स्थिति ज्ञान में वृद्धि करने वाली होती है। विभिन्न क्षेत्रों में काम का मौका मिल सकता है। कला एवं रचनात्मक कामों में लाभ की अच्छी संभावना भी देखने को मिल सकती है। छात्रों के लिए यह समय अपनी सफलता के लिए अच्छे रास्ते चुनने की संभावना को दिखाने वाला होगा। आपको अपने प्रेमी को प्रपोज करने का मौका मिल सकता है और नए संबंधों की शुरुआत भी हो सकती है। इस समय अपने साथी के साथ कुछ अच्छे पलों का आनंद ले सकते हैं। कुछ लम्बी दूरी अथवा विदेश यात्राएं भी है सकती हैं, रोमांचकारी समय हो सकता है और आप कुछ नई चीजों को खोज भी पाएंगे। अपनी वाक कुशलता द्वारा लोगों के मध्य उत्तम स्थान प्राप्त कर सकते हैं, आपके विचार कई लोगों को आकर्षित कर सकते हैं और सामाजिक क्षेत्र में स्थिति आपके लिए अनुकूल बनी रह सकती है।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर इनके चतुर्थ भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव स्वरूप आपको परिवार का सहयोग और लाभ को प्राप्त कर सकते हैं। इस समय यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहे हैं, तो इसे अनदेखा करना आपके लिए सही नहीं होगा इसलिए, उचित सावधानी बरतें और डॉक्टरी सलाह का पालन करें। नौकरी के क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा रह सकती है और कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। इस समय पर आपके प्रतिद्वंद्वी रास्ते में बाधाएं पैदा करने का प्रयास कर सकते हैं, लेकिन आप उन्हें परास्त करने में भी सक्षम होंगे इसलिए सकारात्मक रहें। कार्यक्षेत्र में अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करें। जीवनसाथी के साथ आपके संबंध अच्छे रह सकते हैं, परिवार के साथ समय बिताने का भी मौका मिल सकता है। इस समय पर अधिक निवेश करने से बचना चाहिए, तथा सोच समझ कर ही किसी कार्य में आगे बढ़ना उचित होगा। 

बुध के वृषभ राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस स्थान पर बुध के गोचर स्वरुप आपके पराक्रम और साहस में वृद्धि देखने को मिल सकती है। आपके आत्मविश्वास और इच्छाशक्ति में भी  वृद्धि होगी। आप अपने संचार कौशल/Communication skills में सुधार देखेंगे जो आपको लाभ दे सकता है। संचार से जुड़े काम भी आपके लिए अच्छे रह सकते हैं। इस समय पर किसी काम में आपके द्वारा दिया गया वक्तव्य प्रभावशाली सिद्ध हो सकता है। व्यापार के क्षेत्र में अच्छे अवसर मिल सकते हैं। दोस्तों, परिवार और समाज के लिए आप सहायक सिद्ध हो सकते हैं।  कुछ कम छोटी यात्राएं बनी रह सकती हैं और भागदौड़ भी अधिक हो सकती है। वैवाहिक जीवन में थोड़ा तनाव परेशान कर सकता है इसलिए अपनी ओर से साथी को समय देने की पूरी कोशिश कीजिए। कार्यक्षेत्र में कुशलता का परिचय दे सकते हैं, कड़ी मेहनत और ईमानदारी आपकी एक अच्छी छवि बनाने में सहायक सिद्ध हो सकती है।

बुध‌ ‌का‌ ‌मिथुन‌ ‌राशि‌ ‌में‌ ‌गोचर‌/Impact of Mercury transit in Gemini‌ on other zodiac sign
07 Jul,2021
से
24 Jul,2021

बुध‌ ‌का‌ ‌मिथुन‌ ‌राशि‌ ‌में‌ ‌गोचर‌/Mercury transit in Gemini करना शुभता एवं प्रभावशाली ‌स्थिति‌ ‌को‌ ‌दर्शाता‌ ‌है।‌ ‌मिथुन‌ ‌राशि‌ ‌बुध‌ ‌के‌ ‌स्वामित्व‌ ‌की‌ राशि है। इस कारण से जब बुध मिथुन राशि में गोचर करते हैं तो बुध के गुणों में विस्तार होता है। ‌बौद्धिकता‌ ‌एवं‌ कलात्मक अभिव्यक्ति ‌को‌ ‌मजबूती‌ ‌प्राप्त‌ ‌होती‌ ‌है।‌

मिथुन राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव/Third House पर होगा। बुध के गोचर द्वारा आपके आत्मविश्वास और इच्छाशक्ति में वृद्धि होगी। इस गोचर के आप को सकारात्मक फल देखने को मिल सकते हैं। आप कुछ अच्छे कार्य करने में सफल होंगे। छात्र अपनी पढ़ाई में ध्यान केंद्रित कर पाएंगे, नई चीजों को सीखने के प्रति अधिक इच्छुक दिखाई देंगे। आपकी मेहनत और प्रयास ही सफलता की राह पर ले जाने में सहायक बनेंगे। नौकरीपेशा लोगों के लिए यह समय स्थिरता और बेहतर वातावरण में काम करने का मौका दिलाने वाला हो सकता है। वरिष्ठ अधिकारियों की ओर से प्रशंसा प्राप्त हो सकती है। काम को समय पर पूरा कर पाने में सक्षम भी होंगे। जीवनसाथी के साथ कुछ अच्छा समय  बिताने के अवसर प्राप्त हो सकते हैं। स्वास्थ्य के लिहाज से समय सामान्य रह सकता है। अपनी ऊर्जा का उपयोग जिम या खेल जैसी कुछ शारीरिक गतिविधियों में कर सकते हैं। धनार्जन के अच्छे स्रोत प्राप्त कर सकते हैं।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Taurus

वृषभ राशि के लिए इस समय बुध का गोचर दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। आर्थिक क्षेत्र में आगे बढ़ने के बेहतर अवसर रहेंगे, यह गोचर लाभ कमाने के कुछ महत्वपूर्ण मौके लेकर आएगा। इस अवधि में आपके व्यवसाय, करियर, स्वास्थ्य, परिवार और अन्य से संबंधित चीजों में बदलाव की स्थिति देखने को मिल सकती है। संपत्ति के माध्यम से भी लाभ प्राप्ति का योग बना हुआ है और यदि कोई संपत्ति से जुड़ा विवाद है तो वह सुलझ सकता है। धनार्जन होने की अच्छी संभावना इस समय पर बनी रहने वाली है। जीवन साथी/Life partner के साथ तर्क-वितर्क रह सकता है लेकिन उनकी ओर से आपको कई मामलों में सहायता भी प्राप्त हो सकती है। अपनी योजनाओं को अभी किसी के साथ साझा करने से बचना ही बेहतर होगा। कार्यक्षेत्र में कुछ नए प्रस्ताव मिल सकते हैं। नौकरीपेशा लोगों को इस समय कार्यालय की राजनीति से दूर रहने की सलाह दी जाती है क्योंकि आपके विरोधी आपकी छवि को प्रभावित कर सकते हैं। स्वास्थ्य के लिहाज से ध्यान बनाए रखने की आवश्यकता होगी।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर उन्हीं की राशि पर होने से कुछ सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। इस समय बौद्धिकता उत्तम होगी वाक चातुर्य प्राप्त होगा तथा अपनी योग्यता द्वारा आप काम के क्षेत्र में बेहतर परिणाम प्राप्त करने में भी आगे रह सकते हैं। आपके व्यक्तित्व में एक नया आकर्षण दिखाई देगा जो लोगों को आपकी ओर आकर्षित करने में सफल होगा। नए दोस्त बनाने का मौका मिलेगा और उनके साथ कुछ मौज मस्ती के अवसर भी प्राप्त हो सकते हैं। वैवाहिक जीवन में साथी का प्रेम प्राप्त होगा। माता-पिता का आशीर्वाद मिलेगा, और घरेलू जीवन में कुछ प्रेम और सहयोग की अच्छी स्थिति देखने को मिल सकती है। कार्यक्षेत्र में अधिक परिश्रम करने की आवश्यकता होगी एवं काम को बीच में न छोड़ते हुए उसे समय पर पूरा करना आपके हित में होगा। वाद-विवाद से बचें और जितना संभव हो सके शांति के साथ मसलों को सुलझाने की कोशिश करें। सेहत अच्छी रहेगी और आप ऊर्जावान महसूस कर सकते हैं।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Cancer

कर्क राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर बारहवें भाव/Twelfth house को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर के प्रभाव स्वरूप आपके खर्चों में वृद्धि देखने को मिल सकती है तथा स्वास्थ्य संबंधी कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इस समय पर अपनी सेहत पर ध्यान बनाए रखें। मानसिक तनाव से बचें क्योंकि इसका प्रभाव आपको परेशानी दे सकता है अपनी भोजन संबंधी आदतों में लापरवाही से बचने की आवश्यकता होगी। इस समय पर कुछ लंबी दूरी की यात्रा अथवा विदेश यात्रा का भी अवसर प्राप्त हो सकता है। यात्राओं के चलते खर्च में भी वृद्धि देखने को मिल सकती है। इस अवधि में कोई नया ऋण लेने या बहुत अधिक निवेश करने से बचना चाहिए अन्यथा नुकसान हो सकता है। जीवन साथी को समय न दे पाने के कारण रिश्तों में दूरी या तनाव उभर सकता है। इस समय साथी के साथ कुछ क्वालिटी टाइम बिताने पर ध्यान देना चाहिए, और किसी भी तरह की बहस से बचना चाहिए।  अगर आप नौकरी बदलने या नई नौकरी की कोशिश कर रहे हैं तो सकारात्मक परिणाम मिल सकते हैं।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव/Eleventh House में होगा, बुध के प्रभाव से आर्थिक क्षेत्र में नए अवसर प्राप्त हो सकते हैं। सिंह राशि के लिए बुध का गोचर नवीन आय के स्त्रोत, योग्यता में वृद्धि, काम के क्षेत्र में नए मौके भी दिलाने वाला हो सकता है। इच्छा और आवश्यकता को पूरा करने में आप काफी सक्षम रह सकते हैं। सामाजिक क्षेत्र में आपके कामों की सराहना भी की जा सकती है। आप बौद्धिक एवं सकारात्मक विचारों से समृद्ध होंगे, यह स्थिति आपके लिए लाभदायक रह सकती है। नई चीजें सीखने का मौका मिलेगा, नए स्थानों पर जाने का अवसर भी मिल सकता है कुछ नवीन जानकारियां मिल सकती हैं। वैवाहिक जीवन में कुछ अच्छे पलों को बिताने का समय बना हुआ है। यदि साथी के साथ कुछ अनबन हो भी जाती है तो आप उसे चतुराई से संभाल सकते हैं। स्वास्थ्य सामान्य रहने वाला है, अपने आसपास स्वच्छता बनाए रखने से आप सेहत को अच्छा बनाए रख सकते हैं।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर दशम भाव पर होगा। बुध के प्रभाव द्वारा आपको नए कामों में शामिल होने का मौका मिल सकता है। दशम भाव आपके कार्यक्षेत्र और व्यक्तिगत जीवन/personal life का प्रतिनिधित्व करता है। ऊर्जावान होकर काम करेंगे, अपने काम को उत्कृष्टता के साथ पूरा करने की तथा अधिक ध्यान रह सकता है। वरिष्ठ अधिकारी एवं सहकर्मी आपकी कड़ी मेहनत और प्रयास को समझेंगे, आपको उनका सहयोग भी प्राप्त हो सकता है। प्रेम संबंधों में स्थिति अनुकूल दिखाई देती है। साथी का सहयोग और रिश्ता प्रेम पूर्वक आगे बढ़ता दिखाई दे सकता है। आप दोनों ही एक दूसरे के प्रति सम्मान और विश्वास बनाए रखेंगे। यह समय कुछ विदेश यात्रा के अच्छे अवसर दे सकता है। बाहरी संपर्क द्वारा कार्यक्षेत्र के साथ-साथ अन्य चीजों में भी फायदा मिलने की संभावना दिखाई देती है। स्वास्थ्य सामान्य रहेगा योग इत्यादि क्रियाओं द्वारा सेहत को बेहतर बनाए रखने में मदद मिलेगी।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध का गोचर महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा आपको वित्तीय लाभ प्राप्त हो सकते हैं। यह समय निवेश करने के लिए अनुकूल रह सकता है। आपके द्वारा किए कामों में अच्छा मुनाफा प्राप्त करने के अवसर भी मिलते दिखाई देते हैं। इस समय पर आवश्यकता होगी सोच समझ कर काम करने की तथा कागजी कार्यवाही इत्यादि पर ध्यान देने की क्योंकि लापरवाही द्वारा आने वाले समय में नुकसान की स्थिति भी प्रभावित कर सकती है। आवश्यक बातों को नजरअंदाज करने से बचना होगा। सामाजिक क्षेत्र में आप प्रगतिशील कार्यकर्ता के रूप में मौजूद रह सकते हैं। सामाजिक मेल मिलाप का समय भी बना हुआ है। काम के सिलसिले में कुछ यात्राएं भी हो सकती हैं जो व्यवसाय के लिए भी फायदेमंद होंगी। नौकरीपेशा वालों को अपना काम पूरी लगन और मेहनत से करना होगा, वैवाहिक जीवन में साथी को आपसे मानसिक और शारीरिक रूप से सहयोग की आवश्यकता रह सकती है। रिश्तों में खुशी और सद्भाव बना रहेगा तथा भाई बंधुओं का सहयोग भी मिल सकता है। कार्यालय की राजनीति से दूरी बनाए रखने की सलाह दी जाती है, क्योंकि दूसरे लोग इसका फायदा उठा सकते हैं जिस कारण आपकी छवि प्रभावित हो सकती है।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का गोचर अष्टम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के इस स्थान पर गोचर द्वारा मिश्रित फलों की प्राप्ति हो सकती है। यह समय कई सकारात्मक प्रभावों के साथ-साथ कुछ नकारात्मक प्रभाव भी दे सकता है। आय के स्रोत बनेंगे लेकिन आर्थिक क्षेत्र में खर्चों की अधिकता भी परेशानी का कारण बन सकती है। कुछ छोटे नुकसान होने की संभावनाएं भी बनती है जिसके चलते बचत पर असर पड़ सकता है। वैवाहिक जीवन में साथी के साथ अनबन रह सकती है या परिवार की ओर से सहयोग की कमी परेशान कर सकती है। प्रेम संबंधों में प्रेमी के साथ भी वाद-विवाद बना रह सकता है, हालांकि यह स्थिति लंबे समय तक नहीं रहेगी। इस समय धैर्य और शांति के साथ काम करने का सुझाव दिया जाता है इसी के द्वारा चीजों को बेहतर कर पाने में सक्षम भी होंगे । इस दौरान अपने स्वास्थ्य को नजरअंदाज करने से आपको परेशानी हो सकती है। यह समय गले, त्वचा से जुड़े रोग प्रभाव डाल सकते हैं, इसलिए आपको अपने स्वास्थ्य को लेकर उचित सावधानियां बरतने की आवश्यकता होगी।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर सप्तम भाव पर होगा, बुध के इस स्थान पर गोचर द्वारा आपकी भाषा शैली, व्यवहार, आर्थिक स्थिति प्रेम संबंधों इत्यादि पर प्रभाव अधिक दिखाई देगा। आपके घरेलू जीवन पर इसका असर देखने को मिल सकता है। अपनों से कुछ लाभ मिल सकता है और उनके साथ अच्छा समय बिताने का मौका भी मिलेगा। आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। व्यापार में कुछ गुप्त स्रोतों या पूर्व में किए गए निवेशों के माध्यम से मुनाफा प्राप्त हो सकता है। यदि को कर्ज की स्थिति बनी हुई है तो उसे चुकाने में सक्षम रह सकते हैं। कार्यक्षेत्र में बदलाव दिखाई दे सकते हैं और पदोन्नति मिलने की भी संभावना बनती है। इस समय प्रेम संबंधों में नया अवसर मिलेगा या किसी नवीन रिश्ते में भी आगे बढ़ने की संभावना दिखाई देती है। दांपत्य जीवन/Married life में साथी के साथ आपकी कुछ नोकझोंक लगी रह सकती है, लेकिन स्थिति नियंत्रण में रहेगी। कुल मिलाकर धनु राशि के लोगों के लिए यह गोचर सकारात्मक सिद्ध हो सकता है।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर छठे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। छठे भाव में स्थित बुध के प्रभाव से प्रतिस्पर्धाओं का दौर होगा लेकिन आप उसमें अपनी कुशलता द्वारा विरोधी को भी अपने पक्ष में लेकर चलने में सफल रह सकते हैं। कार्यक्षेत्र में सफलता के मौके मिल सकते हैं नए काम में शामिल हो सकते हैं। खर्च अधिक होंगे लेकिन कमाई के साधन भी विकसित होंगे। आर्थिक स्थिति में सकारात्मक प्रभाव भी देखने को मिल सकता है।आपके काम को अधिकार्यों द्वारा गहराई से जांचा जा सकता है इसलिए काम में लापरवाही से बचना होगा, परिश्रम एवं लगन ही प्रशंसा दिलाने में सहायक होगी। इस अवधि के दौरान नए काम की प्राप्ति और पदोन्नति मिलने का अवसर भी प्राप्त हो सकता है जिसके चलते आय में वृद्धि का योग बनेगा। व्यापार के मामले में सकारात्मक परिणाम दिखाई दे सकते हैं, आप विभिन्न स्रोतों से लाभ अर्जित करने की कोशिशों में रह सकते हैं। संपत्ति निवेश से लाभ मिल सकता है। इस समय पर चोट इत्यादि लगने का भय भी बना हुआ है इसलिए सावधानी से काम करें। शरीर में थकान, व कमजोरी महसूस हो सकती है इसलिए भोजन में लापरवाही से बचना चाहिए। वैवाहिक जीवन में स्थिरता रह सकती है विवाद होंगे लेकिन अलगाव से बचाव होगा।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Aquarius

कुंभ राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर पंचम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के गोचर का प्रभाव बुद्धि और ज्ञान पर सकारात्मक प्रभाव डालने वाला होगा। आपका संचार कौशल अच्छा रह सकता है और दूसरों को अपनी जानकारियों द्वारा प्रभावित करने में भी सक्षम रह सकते हैं। जो लोग मिडिया, लेखन, शिक्षा इत्यादि के कार्यों से जुड़े हों उन्हें लाभ मिल सकता है। संचार और बुद्धि के मिश्रण से अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है। काम काज से जुड़े लोगों को आर्थिक क्षेत्र में कुछ वेतन वृद्धि मिल सकती है। संपत्ति और अन्य क्षेत्रों में निवेश करने का अच्छा मौका मिल सकता है। कारोबार में भी इस गोचर द्वारा मुनाफे की स्थिति देखने को मिल सकती है। आप सामाजिक क्षेत्र में आगे रह सकते हैं और कुछ नए लोगों के साथ मुलाकातें हो सकती हैं साथ ही नए मित्र बनने भी संभावना दिखाई देती है। प्यार में आपको रोमांस करने का पूरा मौका मिल सकता है अपने प्रेम संबंधों को आप बेहतर कर सकते हैं। पार्टनर भी हर कदम पर आपका साथ देने के लिए तैयार रह सकता है। जीवन साथी/Life partner का सहयोग सफलताओं में सहायक बन सकता है। स्वास्थ्य कुछ खराब हो सकता है, इसलिए अपने स्वास्थ्य को लेकर उचित सावधानी बरतने की आवश्यकता है। नियमित व्यायाम या योग करें और अपना आहार को संतुलित बनाए रखने की कोशिश करनी चाहिए।

मिथुन राशि में बुध के गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Gemini on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit चतुर्थ भाव/Fourth House को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय बुध के प्रभाव से घरेलू जीवन और पेशेवर जीवन पर महत्वपूर्ण प्रभाव देखने को मिल सकता है। आप अपने जीवन के कुछ यादगार पल पा सकते हैं। माता-पिता की ओर से आपको प्रेम व आशीर्वाद प्राप्त होगा। इस समय पर परिवार की ओर से सहयोग द्वारा काम में बेहतर कर पाएंगे। कुछ नई वस्तुओं की खरीद कर सकते हैं। कार्यक्षेत्र में आपको यात्राओं का मौका मिल सकता है और काम में कुछ सफलता मिल सकती है। आपको अपने ध्यान को भटकाव से बचाना चाहिए। इस समय पर काम को टालें नहीं और आलस्य  अथवा कार्यालय की राजनीति से बचने की आवश्यकता है। आपके दुश्मन मौका मिलने पर आपकी छवि खराब करने की कोशिश कर सकते हैं इसलिए सूझबूझ द्वारा काम करें। आपके साथी को आपके साथ समय बिताने की इच्छा रह सकती है ऎसे में उनका साथ निभाएं। प्रेम संबंधों में समय का अभाव दूरी उत्पन्न कर सकता है। समाज में भी आपकी छवि अच्छी बनी रह सकती है। आप कुछ लोकहित से जुड़े कार्य भी कर सकते हैं। स्वास्थ्य के लिहाज से स्थिति सामान्य रह सकती है।

बुध का मेष राशि में गोचर का प्रभाव
16 Apr,2021
से
30 Apr,2021

बुध का गोचर बहुत तेजी वाला होता है। बुध का मेष राशि में होना बौद्धिकता में प्रखरता देने वाला होगा। चीजों को करने में गहराई के साथ साथ कुशलता और साहस भी अब अहम भूमिका अदा करेगी। इस समय बातों से अधिक कार्यवाही पर विचार हो सकता है। मेष राशि मंगल के स्वामित्व की राशि है जिसे अग्नि तत्व युक्त राशियों में गिना जाता है और मंगल की इस स्थान पर स्थिति व्यक्ति के मनोभावों में बदलाव दिखाती है। साथ ही फैसले प्रभावशाली रूप में दूसरों पर असर भी डालते हैं। बुध के द्वारा मेष राशि के लोगों की तर्क शक्ति उत्तम हो सकती है और साथ साथ कला कौशल में निखार देखने को मिल सकता है। किसी भी कार्य को करने में व्यक्ति बेहतर परिणाम प्राप्त करने के लायक बन सकता है। वाणी के प्रभाव द्वारा दूसरों पर अपनी छाप छोड़ने में भी सक्षम होगा। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर लग्न भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव के चलते आपके भीतर सामान्य लोगों से हटकर काम करने की इच्छा जागृत हो सकती है। यदि किसी ऐसे काम से जुड़े हुए हैं, जिसमें प्रतिभा का प्रदर्शन करने की आवश्यकता है तो उस स्थान पर बहुत अच्छा कार्य करने में सफल भी रह सकते हैं। साहस और शौर्य में इजाफा होगा। अपने निर्णयों में काफी अडिग रह सकते हैं। नेतृत्व करने की कुशलता तो होगी पर अब अपनी बातों द्वारा भी इसे चमका पाएंगे। आपके वक्तव्यों को दूसरों द्वारा ध्यान प्राप्त होगा और उस पर लोगों का विश्वास भी बढ़ेगा। वैवाहिक जीवन में प्रेम और सहयोग प्राप्त होगा। इस समय रोमांस आपके रिश्ते को ताजगी देने का कार्य भी कर सकता है। स्वास्थ्य के लिहाज से खानपान में लापरवाही परेशानी खड़ी कर सकती है। कार्यक्षेत्र में प्रगति के मौके भी आपके पास होंगे। अवसरों का लाभ उठाने के लिए समय अनुकूल रह सकता है। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit द्वादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय खर्चों की अधिकता रह सकती है, इसके साथ ही किसी बड़े निवेश करने भी विचार भी इस समय मन में आ सकता है। परिवार में काम को लेकर आपकी भागदौड़ बनी रह सकती है, परिश्रम अधिक रहने वाला है। नौकरी अथवा व्यापार में बाहरी संपर्क या दूरस्थ स्थानों से लाभ की प्राप्ति का भी योग बनता है। काम के क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा भी अधिक रहने वाली है, इसलिए जल्दबाजी के निर्णय लेने से बचना होगा। इस समय अपनी नीतियों को दूसरों से छुपा कर रखने की आवश्यकता होगी। कानूनी मसलों पर सलाह काम आएगी और जितना चीजों में स्थिरता बनाएंगे उतना लाभ मिलेगा। जीवन साथी के साथ कुछ मतभेद उभर सकते हैं या फिर प्रेम संबंधों में थोड़ी अनबन की स्थिति भी परेशानी का सबब बन सकती है। यह समय खुद पर ध्यान देने का होगा और दु:साहसिक कार्यों से बचने की आवश्यकता होगी। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव/Eleventh house को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव से आप को पद प्राप्ति हो सकती है। अतिरिक्त आय के साधनों के मिलने का भी योग इस समय पर आपके लिए फायदे का सौदा सिद्ध हो सकता है। जो लोग संचार इत्यादि के क्षेत्र से जुड़े हुए हैं, उन्हें अपने काम में बेहतर अवसर प्राप्त हो सकते हैं। परिवार में लोगों के साथ थोड़ा अनबन हो सकता है, लेकिन कुल मिलाकर स्थिति आपके नियंत्रण में होगी। अपने प्रेम द्वारा आप दूसरों को अपनी ओर आकर्षित करने में भी सक्षम होंगे। प्यार के मामले में आप काफी उत्सुक रहेंगे एवं नए संबंधों की ओर झुकाव भी रह सकता है। इस समय पर अपने मित्रों के साथ घूमने फिरने के मौके मिल सकते हैं। छात्रों को अपनी पढ़ाई में अच्छे अंक लाने का मौका भी प्राप्त होगा। एकाग्रता बढ़ेगी तथा सकारात्मक रुप से आगे बढ़ पाएंगे। 


मेष राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on cancer

कर्क राशि के लिए बुध दशम भाव को प्रभावित करने वाले हैं। बुध के कर्म भाव/Karma House को प्रभावित करने के कारण काम में बदलाव दिखाई दे सकता है। काम में आपकी व्यस्तता अधिक रह सकती है, लेकिन सहकर्मियों की ओर से बहुत अधिक सहयोग शायद न मिल पाए। इस समय पर वरिष्ठ अधिकारियों को संतुष्ट कर पाना आसान काम नहीं होगा, लेकिन आप अपनी कार्यकुशलता एवं शैली से उन्हें प्रभावित करने में सक्षम होंगे। यह समय आपके काम से जुड़ी यात्राओं की ओर भी संकेत करता है। परिवार को बहुत अधिक समय न दे पाने के कारण थोड़ा मन परेशान हो सकता है, लेकिन अपनी जिम्मेदारियों को निभाने में आप आगे रहेंगे। बाहरी संपर्क द्वारा काम में लाभ के मौके भी बनेंगे। इसके साथ ही मेहनत अधिक रहने वाली है। माता का सहयोग आपके लिए बहुत सकारात्मक रहेगा और रिश्तों में मजबूती बनी रहेगी। 


मेष राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव//Effect of Mercury transit in Aries on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर इनके नवम भाव/Ninth house पर प्रभाव डालने वाला होगा। बुध के कारण आपकी आध्यात्मिक उन्नति के साथ-साथ आपके सामाजिक क्षेत्र का विकास भी होगा। इस समय पर लोगों के साथ संपर्क बनेंगे। इस समय पर पिता का सहयोग आपको अपने काम में बेहतर प्रयास करने का अवसर देगा। सकारात्मक विचारों का आदान-प्रदान करेंगे। मेहनत द्वारा इनकम के स्रोत भी अच्छे होंगे। पारिवारिक जीवन में अपनों का सहयोग काम आएगा। इस समय पर भाई बंधुओं की ओर से कुछ सकारात्मक समाचार भी प्राप्त हो सकते हैं। धार्मिक क्षेत्र से जुड़ी यात्राएं अधिक हो सकती हैं। शिक्षा एवं अन्य चीजों पर खर्च अधिक रह सकता है। दांपत्य जीवन में किसी का आगमन रिश्तों में कुछ परेशानी खड़ी कर सकता है लेकिन आपके द्वारा लिए गए निर्णय इस स्थिति से बचने में सहायक भी होंगे। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर अष्टम भाव/Eighth house को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के इस गोचर द्वारा स्थिति मिले जुले परिणामों को दर्शाने वाली रह सकती है। कुछ लाभ मिल सकते हैं, लेकिन अचानक से उनमें व्यवधान की स्थिति भी उभर सकती है। इस समय पर संभल कर काम करने की सलाह दी जाती है। कोई भी जरुरी काम को करने से पूर्व सभी चीजों का ध्यान रखने की आवश्यकता होगी, जिससे की कोई कमी परेशानी का कारण न बन पाए। यह समय चुनौतीपूर्ण रह सकता है। बुध का आठवें भाव में गोचर के प्रभाव/Effect of mercury transit in eighth house के कारण स्वास्थ्य का भी ध्यान रखने की आवश्यकता होगी साथ ही खान-पान को संतुलित बनाए रखने की आवश्यकता होगी। इस समय पर काम काज में कुछ रुकावटें उभर सकती हैं जिसके कारण आत्मविश्वास कमजोर हो सकता है, कुछ लोगों का सहयोग काम आ सकता है लेकिन फिर भी इस समय पर दूसरों पर अधिक भरोसा करने से बचना ही उचित होगा। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Libra

आपकी राशि के लिए बुध सप्तम भाव/Seventh house पर प्रभाव डालने वाला होगा। बुध के प्रभाव द्वारा जीवन में प्रेम व उत्साह बना रह सकता है। रिश्तों को लेकर आप अधिक विचारशील रहेंगे। प्रेम संबंध हों या वैवाहिक जीवन दोनों में ही प्रेम की स्थिति को पा सकते हैं ध्यान रखना होगा की बहुत अधिक जल्दबाजी से बचें। कुछ  चीजों में आपके द्वारा की गई जिद परेशानी भी खड़ी कर सकती है। इस समय मित्रों का सहयोग मिलेगा और कुछ वस्तुओं की खरीद भी कर सकते हैं। साझेदारी से जुड़े कामों में कुछ लाभ प्राप्ति का अवसर भी दिखाई देता है, इसके अलावा नए काम को शुरू करने के बारे में भी विचार बन सकता है। आर्थिक रूप से बचत पर प्रभाव पड़ सकता है जिसका मुख्य कारण खर्चों के कारण ही होगा। करियर और कारोबार के क्षेत्र में नए आईडिया इस समय काम कर सकते हैं। मनोकूल परिणाम पाने के लिए संघर्ष होगा, पर सफलता के भी संकेत मिल सकते हैं। 

 

मेष राशि में मंगल के गोचर का  वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का गोचर छठे भाव/Sixth House को प्रभावित करने वाला होगा। यह समय आपकी काम करने की नीतियों में बदलाव भी संभव है, अपने विरोधियों की ओर से सावधानी बरतें इसके साथ ही काम के क्षेत्र में सहकर्मियों की ओर से सहयोग की कमी रह सकती है। जल्दबाजी में किए हुए काम से परेशानी हो सकती है। कुछ मामलों में सफलता वैसे न मिल पाए जैसा सोचा होगा लेकिन इस बात से निराश न हों क्योंकि स्थिति आपके पक्ष की रहेगी।  पैतृक संपत्ति द्वारा लाभ प्राप्त हो सकता है। परिवार में कुछ लोगों का व्यवहार चिंता बढ़ा सकता है। इस समय आप भी कुछ चिड़चिड़ाहट में रह सकते हैं, इसलिए वाद-विवाद से बचें तथा बातों को लम्बा खींचने से बचें। किसी प्रकार की चोट लगने का भय भी सता सकता है, त्वचा पर दाने इत्यादि भी उभर सकते हैं अधिक मसालेदार भोजन के बदले संतुलित भोजन अधिक फायदेमंद होगा। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर पंचम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। पंचम भाव/Fifth House पर बुध का प्रभाव आपकी कार्यकुशलता में वृद्धि देने वाला हो सकता है। नई चीजों को करने में आप आगे रह सकते हैं, प्रतियोगिताओं में आप सफलता भी प्राप्त कर सकते हैं। बाहरी संपर्क से फायदा मिल सकता है। छात्र नए संस्थानों में अपने लिए आवेदन इत्यादि की प्रक्रिया को अभी कर सकते हैं। उच्च शिक्षा के लिए भी मार्ग प्रशस्त होंगे। रिश्तों में एक दूसरे का सहयोग पाएंगे। प्यार के मामले में भाग्य का सहयोग मिल सकता है जिस कारण रिश्तों में मजबूती भी बनेगी। स्वयं में सकारात्मक पाएंगे तथा उसी के माध्यम से रचनात्मक एवं कला से जुड़े काम अच्छी सफलता दिलाने वाले होंगे। जो लोग रंगमंच से जुड़े हुए हैं उन्हें इस समय बेहतर परिणाम प्राप्त हो सकते हैं।

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Capricorn

इस समय आप दूसरों को आकर्षित कर पाने में भी सफल होंगे। आप का जोश व उत्साह दूसरों को प्रभावित करने वाला होगा, आपका संचार कौशल मजबूत रह सकता है। कुछ सामाजिक क्षेत्र में आपके काम की भूमिका को प्रशंसा भी प्राप्त हो सकती है। इस समय पर घर की साज-सज्जा पर भी ध्यान जा सकता है। कुछ नई वस्तुओं को खरीदने का मन बना सकते हैं। यह समय खर्च अधिक रहेगा लेकिन साथ ही काम में अतिरिक्त आय की प्राप्ति होने से स्थिति संतुलित रह सकती है। प्यार में साथी से दूरी रह सकती है काम की व्यस्तता व घरेलू जिम्मेदारियों के चलते स्वयं के लिए अधिक समय न मिल पाए। दांपत्य जीवन में जीवन साथी के स्वास्थ्य के चलते थोड़ी परेशानी हो सकती है।

 

मेष राशि में बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव/Third House को प्रभावित करने वाला होगा। बुध का तीसरे भाव पर प्रभाव होने के कारण उत्सुकता अधिक रह सकती है, घरेलू व काम के क्षेत्र में तेजी का समय रह सकता है। भागदौड़ अधिक रह सकती है। भाई बहनों के साथ कुछ झगड़ा हो सकता है लेकिन जल्दी सुलझ भी जाएगा। काम के क्षेत्र में इस समय दूसरों के साथ  सलाह मशवरा कर लेना अनुकूल होगा। यह समय कान से जुड़े रोग व कंधों की तकलीफ परेशान कर सकती है। इस समय वाहन का उपयोग करते समय तेजी का ध्यान रखें एवं वाहन की रखरखाव पर भी ध्यान देने की जरूरत है। माता की ओर से आपको प्रेम और सहयोग प्राप्त हो सकता है। बच्चों को लेकर घूमने फिरने का प्लान अभी शायद कुछ अधिक समय ले सकता है।  

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Pisces

मीन राशि वालों के लिए बुध का गोचर द्वितीय भाव को प्रभावित करने वाला होगा। धन भाव पर बुध का गोचर कई मामलों में प्रभावशाली रह सकता है। इस समय पर चुनौतियों का सामना करने की भी अच्छी कुशलता आप में हो सकती है। यह समय आप अपनी वाणी से दूसरों को प्रभावित करने में सक्षम हो सकते हैं। इस समय पर स्वास्थ्य कुछ प्रभावित रह सकता है। हार्मोनल बदलाव एवं सर्दी जुकाम बना रह सकता है। एलर्जी से होने वाले रोग भी परेशान कर सकते हैं। बैंक इत्यादि से जुड़े काम इस समय पर आप कर सकते हैं। कामकाज में अचानक से कुछ बदलाव भी रह सकता है, ऐसे में थोड़ी परेशानी होगी लेकिन जल्दी ही स्थिति नियंत्रण में आने लगेगी। धन लाभ के अवसर भी मिल सकते है, किसी को दिया हुआ धन भी प्राप्त हो सकता है।

बुध का मीन राशि में गोचर का क्या होगा प्रभाव | Mercury transit in Pisces
01 Apr,2021
से
15 Apr,2021

मीन राशि में बुध/Mercury transit in Pisces की स्थिति को बहुत अधिक अनुकूल नहीं माना गया है। ज्योतिष शास्त्र के नियमों के अनुसार मीन राशि में बुध कमजोर होता है और अपनी नीचस्थ में स्थित होता है। बृहस्पति के साथ बुध के संबंध भी अनुकूलता की कमी को दर्शाते हैं। बुध के गोचर का प्रभाव विभिन्न क्षेत्रों पर पड़ता है, जिसमें संचार, व्यापार, साझेदारी, वाणी  शामिल हैं, और यह याद रखने की क्षमता को भी प्रभावित कर सकता है। इसके अलावा, लेखांकन/Writing, विपणन/marketing और विश्लेषणात्मक/analysing कौशल ज्यादातर प्रभावित होते हैं। मीन राशि मोक्ष या शांति, विदेश जाने की संभावना, स्वास्थ्य, फिटनेस, ध्यान एकाग्रता जैसी बातों से प्रभावित होती है। इस समय पर बुध मीन राशि में रहकर मिले जुले प्रभावों को देता है। 

बुध के मीन राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit द्वादश भाव पर होगा। कुंडली का यह स्थान व्यय भाव का प्रतिनिधित्व करता है, और बुध इस स्थिति में प्रेम, संबंधों, शिक्षा, नीतियों इत्यादि बातों को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय पर कुछ ऐसे प्रभाव देखने को मिल सकते हैं जो आपके अनुरूप न हो पाएं तथा कुछ नकारात्मक प्रभाव भी डाल सकता है। इस दौरान लोगों को कई उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ता है। खर्चों में अधिकता तो होगी ही लेकिन साथ में एकाग्रता और ध्यान की कमी भी परेशान कर सकती है। चीजों को संभाल पाना कुछ मुश्किल हो सकता है। किसी गुरु का सानिध्य पाना चाहें या फिर किसी ऐसी संस्था से जुड़ना चाहें जो आपके आत्मिक विकास में सहायक बने। बाहरी संपर्क से लाभ पाने के लिए अभी संघर्ष बना रहेगा। इस समय पर संतान के स्वास्थ्य को लेकर माता-पिता चिंता कर सकते हैं। लोगों को भी अपने स्वास्थ्य का उचित ध्यान रखना होगा क्योंकि ग्रहों की चाल के प्रभाव के कारण, स्वास्थ्य में गिरावट देखी जा सकती है।अनिद्रा, मानसिक तनाव या त्वचा संबंधी रोग परेशान कर सकते हैं। 

बुध के मीन राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Taurus

वृषभ राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर एकादश भाव में होगा। बुध के इस स्थान पर होने के कारण आपके आर्थिक स्तर एवं परिवार एवं सामाजिक परिप्रेक्ष्य पर इसका असर अधिक दिखाई देगा। आप अपनी योजनाओं को लेकर उत्सुक होंगे लेकिन अभी लाभ प्राप्ति का स्तर कुछ धीमा रह सकता है। आपके पूर्व में किए गए कामों से आपको कुछ सकारात्मक परिणाम मिल सकते हैं लेकिन इस समय आर्थिक स्थिति को लेकर आप प्रयास भी अधिक करेंगे। इस समय परिवार और संतान पक्ष पर अधिक धन व्यय होता दिखाई देगा। अपने भाई बंधुओं के लिए भी आप अपनी ओर से कुछ न कुछ सहायक बन सकते हैं। सामाजिक स्तर पर आप कम भागीदारी लेना चाहें क्योंकि इस समय आप पर अन्य जिम्मेदारियां भी अधिक रह सकती हैं। मित्रों के साथ आप काफी मेलजोल कर सकते हैं कुछ नई चीजों की प्लानिंग भी आप इस समय पर करेंगे। इस समय आपके लिए जरूरी है कि अपनी बचत पर नजर बना कर आगे बढ़ा जाए अभी किया गया उचित निवेश आगे चलकर अच्छे परिणाम दे पाने में सहायक होगा। 
बुध के मीन राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Gemini

बुध का ये प्रभाव आपके लिए कई नई कार्यशैली को लाने वाला होगा। बुध ग्रह की दृष्टि चौथे भाव पर होगी जिसके कारण काम और परिवार को लेकर आप अधिक व्यस्त रह सकते हैं। आप घर के निर्माण से जुड़े कामों को कर पाएंगे। आप इस समय अपने सहकर्मियों के साथ मिलकर बहुत अधिक सहयोग न मिल पाएं। बुध का प्रभाव आपके करियर, संबंध, व्यवसाय आदि पर भी दिखाई देता है। आपको व्यवसाय के क्षेत्र में प्रयास अधिक करने की आवश्यकता होगी। इस समय आप कुछ सही निर्णय लेने में सक्षम होंगे, जो आपके भविष्य के लिए बहुत अनुकूल हो सकता है। आपको अति आत्मविश्वास से बचाना होंगे जो आपके काम में व्याकुलता को परेशानी देता है। इसके अलावा आप अपने परिवार के साथ एक यादगार समय बिताने में भी सफल हो सकते हैं। आपके परिवार के कुछ सदस्य आपके विरोध में भी खड़े रह सकते हैं इसलिए आपके लिए जरूरी होगा की आप सजग रह कर काम करें। 

बुध के मीन राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit नवम भाव पर होगा। इस समय पर आपके भाग्य स्थान पर बुध की स्थिति काफी प्रभावशाली होगी। आपको इस समय पर धन का व्यय आध्यात्मिक स्थिति पर होगा। गोचर के कारण ग्रह अपनी स्थिति द्वारा आप पर परिवार को लेकर काफी दबाव रह सकता है। आपको विदेश यात्रा का अवसर मिलेगा लेकिन खर्चों की अधिकता को दिखाती है। उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाने का प्रयास कर रहे छात्र किसी कारणवश मेहनत कर सकते हैं। राजनीति से जुड़े लोगों के लिए नए विकल्प सामने रह सकते हैं। पार्टनरशिप में चल रहे काम थोड़ा सुस्त हो सकते हैं या आपको अपने भागीदारों से बहुत अधिक सहयोग न मिल पाए। भागदौड़ अधिक रह सकती है। लेकिन इस समय पर लाभ प्राप्ति के लिए कोशिशें बनाए रखनी जरूरी होगी धीरे धीरे लाभ के अवसर आपके समक्ष होंगे। संचार से जुड़े काम में आप अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं तथा नई विचारों को भी सामने ला सकते हैं। अभिरुचियों के साथ आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा।  बाहरी लोगों के सतह संपर्क बनेगा ऑनलाइन दोस्ती और मीडिया में आप ज्यादा रुचि ले सकते हैं 

बुध के मीन राशि में गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Leo

सिंह राशि वालों के लिए बुध का गोचर आठवें भाव/Eighth house पर होगा। इस स्थान पर आप काफी प्रभावशाली होंगे। इस राशि के व्यक्ति इस अवधि में अपनी सफलता को लेकर आप काफी गंभीर रह सकते हैं। आप सामाजिक दायरे में भी काफी व्यस्त होंगे। आपके भीतर नई चीजों को जानने की इच्छा भी होगी। आप इस समय आध्यात्मिक गुढ़ विद्या को लेकर भी काफी उत्सुक दिखाई देंगे। आप अपने जीवन को एक नई दिशा दे सकते हैं। लेखन से जुड़े काम व शोध से जुड़े काम अच्छे रह सकते हैं। इस समय पर अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें कुछ कटुता या व्यंग्य का प्रभाव आपके बोलचाल में देखा जा सकता है। आपके आस-पास के लोग आपकी बातों को लेकर संजीदा रह सकते हैं। सामाजिक कार्यों और अन्य कार्यक्रमों को करने में भी रुचि होगी। भाई-बहनों के साथ आप सहयोग को पा सकते हैं। आपके लिए जरूरी होगा की सतर्क रहें और अपनी मुखर प्रतिभा को नियंत्रण में रखें अन्यथा बहुत अधिक मुखर होना आपको खतरे में भी डाल सकता है। काम के क्षेत्र में उतार-चढ़ाव बने रह सकते हैं।  

बुध के मीन राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Virgo

कन्या राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर प्रभाव काफी महत्वपूर्ण होगा, क्योंकि इस समय कन्या राशि का स्वामी बुध सप्तम भाव पर होगा। इस समय आप काम के क्षेत्र में और अपने आप में बदलावों को देख पाएंगे। कन्या राशि को पर इस गोचर का अनुकूल प्रभाव पड़ सकता है। साझेदारी में काम को लेकर अब आप कुछ उत्साहित होंगे, लेकिन आप इसमें अपने कार्यस्थल पर सुधार देखेंगे और गोचर का प्रभाव आपको अनुकूल परिणाम देगा।  इस राशि के लोगों को प्रमोशन/Job promotion मिलने के योग हैं। यहां तक कि, आपको वेतन वृद्धि भी मिलेगी जिससे आपके खर्चे कम होंगे। व्यवसाय को लेकर सजग होकर फैसले ले सकते हैं। अपने सभी ऋणों को चुकाने का अवसर मिल सकता है। सेहत के मामले में थोड़ा ध्यान रखने की आवश्यकता होगी, नियमित व्यायाम करना सेहत और मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छा होगा। अपने जीवन साथी के साथ संबंध मजबूत करने में सफल रहेंगे और उनकी सलाह आपके लिए काफी फायदेमंद रह सकती है। कुछ बातों में तनाव हो सकता है और निराशा का सामना करना पड़ सकता है लेकिन स्थिति में नियंत्रित रहेगी। 

बुध के मीन राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव//Effect of mercury transit in Pisces on Libra

तुला राशि वालों के लिए बुध का गोचर बुध ग्रह आपके छठे भाव में विराजमान आपके छठे भाव में गोचर के कारण आपको सफलता प्राप्त करने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है। काम के स्थान पर सहकर्मियों के साथ तालमेल की कमी भी परेशान कर सकती है। इससे आप काम को लेकर चिंता अधिक रह सकती है, आमदनी के लिए कोशिशें बनी रह सकती हैं। स्वास्थ्य को लेकर ध्यान बनाए रखने की आवश्यकता होगी। अपने आहार में लापरवाही और गलत लत के चलते किसी कारण से परेशानी में आ सकते हैं। आपको किसी भी प्रकार के तर्क-वितर्क या बहस में शामिल न होने का प्रयास करना चाहिए क्योंकि इस समय विवाद होने की समस्या सामने आ सकती है। दोस्तों के साथ आप काफी व्यस्त रह सकते हैं और इसी समय आप बाहरी लोगों के संपर्क में भी आ सकते हैं। इस समय पर दांपत्य जीवन में स्थिति थोड़ी मुश्किल रह सकती है दूसरों के चलते आपका रिश्ता इस समय प्रभावित हो सकता है। 

बुध के मीन राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Scorpio

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर पंचम भाव पर होगा। बुध आपके आठवें और ग्यारहवें भाव के स्वामी बनते हैं। इस समय पर आप कुछ अधिक उत्साहित रह सकते हैं, शिक्षा के क्षेत्र में स्थिति कुछ कमजोर हो सकती है। इस गोचर का परिणाम आपके प्रेम जीवन के संबंध में काफी अनुकूल और प्रतिकूल स्थिति होगी। अपने साथी के साथ समय बिताने का मौका भी मिल सकता है। इस समय पर अपनी जिद में भी आप अधिक रह सकते हैं इस कारण कुछ गलतफहमियां पैदा हो सकती हैं। छात्रों को अपनी पढ़ाई को लेकर तनाव रहेगा और प्रतिस्पर्धा भी अधिक रह सकती है। बच्चों को लेकर और उनके स्वभाव के चलते कुछ चिंता रह सकती है। लॉटरी, शेयर बाजार से जुड़े काम में अधिक धन लगाना अनुकूल नहीं होगा। इस समय दूसरों को उधार देने से बचना चाहिए। कई स्रोतों से कमाई के मार्ग खुल सकते हैं। इस समय पर कड़ी मेहनत और समर्पण आपको सफलता की ओर ले जाएगा।

बुध के मीन राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Sagittarius 

धनु राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर चतुर्थ भाव/Fourth house पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति के कारण आप अपने ओर आस पास के लोगों की स्थिति को लेकर अधिक सोच विचार में रह सकते हैं।  इस गोचर के दौरान लाभ मिल सकता है और अपने काम के क्षेत्र में भी कुछ लोगों का सहयोग आगे बढ़ाने में सहायक बन सकता है। इस समय पर आपको सलाह अधिक मिल सकती है। नौकरी पेशा वाले अपने-अपने क्षेत्रों में कुछ बदलाव देख पाएंगे तथा इस समय साझेदारी से बने हुए काम कुछ नए स्तर पर आगे बढ़ सकता है। काम के लिए आपके कर्मचारियों द्वारा आपकी प्रशंसा भी हो सकती है। वेतन वृद्धि या पदोन्नति मिलने का भी मौका मिलेगा। इस समय परिवार में किसी व्यक्ति के द्वारा चीजों में बदलाव करने की आवश्यकता होगी। कुछ वैवाहिक मामलों के चलते भी रिश्ते में लोगों का हस्तक्षेप रह सकता है। घरेलू स्तर पर आर्थिक स्थिति भी थोड़ी खर्च की अधिकता के चलते प्रभावित भी होगी। भाई-बहनों के साथ संबंध अनुकूल रह सकते हैं। आपका साथी कुछ आगे बढ़कर फैसले भी ले सकता है। इस समय आपका स्वास्थ्य स्थिर रहेगा, लेकिन घर पर किसी ओर की चिंता थोड़ी परेशान कर सकती है। 

बुध के मीन राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Capricorn

मकर राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर तृतीय स्थान/third house पर होगा। इस स्थान पर बुध का प्रभाव आपके विकास में वृद्धि करने वाला होगा यह स्थिति जीवन के विभिन्न क्षेत्रों पर दिखाई देगी। आप आत्मविश्वास से भरे हो सकते हैं अपनी इच्छाओं को पूरा करने के लिए भी आप आगे रह कर काम करना चाहें। इस समय कुछ भ्रमण के योग बनेंगे। अचानक से ही परिवार के साथ या फिर अकेले ही यात्रा इत्यादि पर जाने का मौका मिल सकता है। 

भाग्य का सहयोग भी इस समय आपकी प्रतिभा को बढ़ाने का अवसर देगा। संचार एवं लेखन से जुड़े काम कर रहे लोगों को कुछ बेहतर अवसर मिल सकते हैं। बुद्धि व स्मरण शक्ति अच्छी होगी शिक्षा को लेकर एकाग्रता अब काम आएगी और जीवन के विभिन्न पहलुओं में सफलता प्राप्त करने की आपकी कोशिशों को सकारात्मकता भी प्राप्त हो सकती है। काम के दौरान अपने सहकर्मियों के साथ आपके मतभेद अधिक रह सकते हैं लेकिन अपनी सुनियोजित योजनाओं द्वारा आप उन पर नियंत्रण कर पाने में भी सक्षम होंगे। 

बुध के मीन राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Aquarius

कुंभ राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव/Second house पर होगा। इस समय आप नए मित्र बनाएंगे और आपकी वाक कुशलता दूसरों को प्रभावित करने वाली होगी। यह समय आपके जीवन पर सकारात्मक और नकारात्मक दोनों प्रभाव डाल सकता है। आपके पिता या किसी बड़े के साथ आपके विवाद कुछ शांत होंगे और उनकी ओर से सहयोग को पा सकते हैं। किसी पुराने काम में चला आ रहा विलंब अब दूर हो सकता है। घर पर लोगों के साथ कुछ सौहार्दपूर्वक समय बिताने का भी अवसर मिल सकता है। अपने प्यार को लेकर आप अभी किसी अपने के समक्ष दिल की बात भी रख सकते हैं, वैसे ऐसा करने में उन्हें कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा लेकिन फिर भी आप हर उठने वाले विवाद को दूर करने का एक तरीका खोज ही लेंगे। इस समय धैर्य के साथ काम करना उचित होगा। आर्थिक क्षेत्र में लाभ का अवसर मिलेगा अपने बचत को लेकर भी आप कुछ काम कर सकते हैं। कुछ अप्रत्याशित स्रोतों से लाभ मिलने की प्रबल सम्भावना भी बनती है। दोस्त और परिवार आपका सहयोग कर सकते हैं बस इस समय अपने गुप्त शत्रुओं से सावधान रहने की जरूरत होगी। स्वास्थ्य के लिहाज से गले और त्वचा से संबंधित रोग परेशानी दे सकते हैं। 

बुध के मीन राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/ /Effect of mercury transit in Pisces on Pisces

मीन राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर/Mercury transit इनकी राशि पर ही होगा। बुध का प्रभाव इन्हें वैचारिक क्षेत्र में कई नई चीजों से रुबरु कराने वाला हो सकता है। इस समय आप स्वयं को लेकर भी काफी सोच विचार में रह सकते हैं। कुछ नई वस्तुओं की खरीद फरोख्त कर सकते हैं साथ ही अपने रहन सहन में बदलाव भी कर सकते हैं। इस समय स्वास्थ्य को लेकर भी आप में चिंता रह सकती है इसलिए उचित स्वास्थ्य सेवा लेने की सलाह दी जाती है। नौकरी के क्षेत्र में अपने प्रतिद्वंद्वियों से सुरक्षित न रह पाएं कुछ प्रतिस्पर्धा अथवा गुप्त शत्रुओं द्वारा तनाव बना रह सकता है। नौकरी बदलने की योजना बना रहे हैं, तो अभी कुछ और समय की प्रतीक्षा करना बेहतर होगा। अपने काम को लेकर सावधान रहना चाहिए क्योंकि उनके प्रतिद्वंद्वी आपकी छवि खराब करने का प्रयास कर सकते हैं। वैवाहिक जीवन में आपको अपने साथी पर उचित ध्यान देने की आवश्यकता होगी जिससे एक-दूसरे को बेहतर तरीके से जानने में मदद मिलेगी।

बुध का मकर राशि में गोचर का अन्य राशियों पर प्रभाव | Impact of mercury transit
29 Dec,2021
से
05 Mar,2022

बुध ग्रह विचारों, मानसिकता और बुद्धि को प्रभावित करने वाला होता है। बुध जब भी किसी राशि पर गोचर करता है, तो वह उस राशि के साथ साथ कुछ अन्य राशियों को भी प्रभावित करता है, जिसके बारे में हम आपको आपके राशि के अनुसार बताने वाले हैं। गोचर काल/Mercury transit के दौरान बुध सभी राशियों को मिले जुले परिणाम देता है।

बुध का मकर राशि गोचर प्रभाव/Impact of mercury transit on Capricorn

बुध एक मजबूत ग्रह है तथा सभी राशियों प्रभावित करने वाला होता है। बुध किसी भी राशि पर बड़ा प्रभाव डाल सकता है। इस ग्रह का गोचर आपके सोचने के तरीके को बदल सकता है, आपके आत्मविश्वास को बढ़ाता है, आपके संचार कौशल में वृद्धि करता है और आपके दिमाग को एक आशावादी दृष्टिकोण भी देने में सहायक बनता है। मकर राशि में बुध के जाने पर आप व्यावहारिक रूप से आगे बढ़ना सिखाता है।

चलिए जानते हैं कि बुध का मकर राशि में गोचर से आपके राशि पर क्या प्रभाव पड़ सकता है।

बुध के मकर राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit दशम भाव पर होगा। इस राशि के प्रभाव के चलते आप काम और लोगों के सहयोग द्वारा आगे बढ़ सकते हैं। इस समय के दौरान आप संघर्षशील अधिक रह सकते हैं। आपके लिए जरूरी है की आप सकारात्मकता के साथ कार्यों को करें क्योंकि आपका यह दृष्टिकोण ही जीवन में शुभता प्रदान करने में सक्षम होगा। आपकी कुंडली का दसवां भाव आपकी आजीविका, कर्म और प्रसिद्धि को दर्शाता है। आपके दशम भाव में बुध के प्रभाव से इस दौरान आप अपने कार्यालय या कार्यस्थल की राजनीति से जुड़ सकते हैं। परिवार में सुख, मान-सम्मान के लिए आप काफी प्रयासशील रह सकते हैं। आप कुछ असाधारण रूप से अच्छा कर सकते हैं, जो कि आपकी मेहनत और बुद्धि के कारण हो सकता है। आपके बॉस और वरिष्ठ आपकी प्रशंसा कर सकते हैं। व्यवसाय करने वाले लोगों के पास अपने नए विचारों को शुरू करने का सबसे अच्छा समय है, या उन्हें अपने बिजनेस के विस्तार के अत्यधिक अवसर मिल सकते हैं। परिवार के साथ एक उत्कृष्ट और खुशहाल रिश्ता बनाने में आप सफलता पाएंगे।  

बुध के मकर राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Taurus

बुध का प्रभाव भाग्य भाव को प्रभावित करने वाला होता है। इस समय नए लोगों के साथ मिल जुल कर रहना आपके लिए काफी सकारात्मक साबित हो सकता है और आपके सहकर्मी भी अप्रत्याशित रूप से आपके काम की सराहना कर सकते हैं, आपका पारिवारिक जीवन/Family life शांतिपूर्ण रह सकता है। भाई-बहन आपकी अधिकांश चीजों में आपका साथ देंगे, जो आपके काम के लिए भी काफी फायदेमंद साबित होगा। आपका संचार कौशल कई लोगों को आकर्षित करेगा जो आगे चल कर आपके लिए उपयोगी हो सकता है। आपको अति आत्मविश्वास से बचने की जरूरत है। बुध का मकर राशि में गोचर के प्रभाव से आपकी राशि पर पिता के साथ संबंधों में सुधार दिखाता है। आप अपनी वित्तीय स्थिति में कुछ बदलावों को लेकर चलना चाहेंगे। अपने परिवार, विशेष रूप से अपने पिता से मजबूत समर्थन प्राप्त कर सकते हैं। दांपत्य जीवन/Married life में साथी के साथ कुछ यात्रा का अवसर होगा और संतान के प्रति आप प्रेम व सहयोग बनाए रखेंगे।    

बुध के मकर राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Gemini

मिथुन राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय आठवें भाव/Eight house पर होगा। मिथुन राशि बुध के स्वामित्व की राशि है और ऐसे में यह समय आपके लिए कई मामलों में महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। उस समय आपके निर्णयों एवं विचारों में अस्थिरता का भाव अधिक रह सकता है। गोचर के कारण, यह आपकी शारीरिक चुनौतियों में वृद्धि को दर्शाता है, और आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहना चाहिए क्योंकि मानसिक तनाव तथा खान पान में लापरवाही के चलते सेहत पर असर देखने को मिलेगा। आर्थिक स्थिति में कुछ लाभ मिल सकता है, पर साथ ही खर्चों की अधिकता के चलते बहुत अधिक बचत कर पाना अभी संभव न हो पाए। किसी पूजा-पाठ एवं धार्मिक स्थिति किसी प्रकार की अन्य धार्मिक चीजों से जुड़ने और इनसे लाभ प्राप्ति का भी अवसर दिखाई देता है। आपका बोलचाल का लहजा तीव्र हो सकता है, इसलिए इस समय पर कटु शब्दों का उपयोग करने से बचें तथा उचित एवं अनुकूल तथ्यों को ध्यान में रखते हुए काम करना बेहतर होगा। 

बुध के मकर राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Cancer

कर्क राशि वालों के लिए बुध का गोचर सप्तम भाव पर होगा। गोचर के दौरान आपकी कुंडली के सप्तम भाव के बुध से प्रभावित होने के कारण आपके जीवन में प्रेम, विवाह साझेदारी जैसे विषयों एवं सामाजिक प्रतिष्ठा इत्यादि पर असर देखने को मिल सकता है। इस समय के दौरान आप व्यस्त भी अधिक रह सकते हैं। आपको कुछ नए डील पर काम करने का विचार होगा इसके अलावा दीर्घकालिक साझेदारी और  बिजनेस में निवेश तथा नई चीजों को लेकर आगे बढ़ना चाहेंगे। इस गोचर के दौरान व्यक्तियों को अपने काम या व्यवसाय के मामले में अतिरिक्त लाभ प्राप्त हो सकता है। विदेशी कार्यों एवं संचार संसाधनों से लाभ की संभावना भी इस समय पर बनती दिखाई देती है। कारोबार से जुड़े लोग अपने काम में विस्तार को पाएंगे और कुछ सफलता मिलने से आप आशावादी होंगे। मीडिया और मार्केटिंग के माध्यम से आप अच्छा नेटवर्क भी प्राप्त कर सकते हैं। जीवन साथी के साथ आपसी समझ बढ़ेगी, लेकिन ध्यान रखें की बाहरी व्यक्ति द्वारा निजी जीवन में हस्तक्षेप न होने पाए अन्यथा कोई समस्या खड़ी हो सकती है। आपके भाई-बहन के साथ भी संबंध सुधरेंगे, और आपको उनकी तरफ से उचित मदद और सहयोग मिल सकता है। 

बुध के मकर राशि में गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Leo

सिंह राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर छठे भाव पर होगा। इस स्थान पर बुध का गोचर आपकी मेहनत में वृद्धि करने वाला हो सकता है। इसके अलावा कुछ प्रतियोगिताओं में भाग लेने का भी अवसर मिलेगा। कानूनी गतिविधियों, बहस और तर्कों से भी आप प्रभावित रह सकते हैं। इस दौरान किसी वाद-विवाद या कोर्ट केस में सफलता मिलने की संभावना भी अच्छी है। किसी न किसी कारण आप अपने खर्चों में धीरे-धीरे वृद्धि देख सकते हैं। आय में कमी आ सकती है, इसलिए आपको अपने खर्चों पर ध्यान देना चाहिए तथा अपने खर्चों पर नियंत्रण रखने की कोशिश करनी चाहिए। आपको निश्चित रूप से एक अच्छा परिणाम मिलेगा, और आपका आत्मविश्वास बढ़ सकता है। किसी वाद-विवाद में न पड़ना अनुकूल रहेगा तथा किसी भी प्रकार के व्याकुलता से दूर रहना ही बेहतर है। काम के क्षेत्र में आप अपनी मेहनत द्वारा अपने लिए बेहतर स्थान अर्जित कर पाएंगे। जो लोग काम की तलाश में हैं उनके काम बन सकते हैं। 

बुध के मकर राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Virgo

कन्या राशि वालों के लिए बुध का गोचर इनके पंचम भाव पर होगा। इस स्थान पर बुध का होना, शिक्षा, प्रेम संबंधों दोस्ती, बौद्धिक विचारों एवं संतान से संबंधित पक्षों को प्रभावित करने वाला होगा। कन्या राशि बुध के स्वामित्व की राशि है इस प्रकार से यह कई मामलों में सकारात्मक प्रभाव भी देगा और आगे बढ़ने के कुछ नए मौके मिल सकते हैं। बौद्धिक विचारों में सुधार होगा और कुछ नई चीजों के इन्वेंशन की राह भी आपके लिए आसान रह सकती है। छात्र शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे परिणाम प्राप्त कर सकते हैं। उच्च शिक्षा एवं कुछ प्रतियोगिताओं में शामिल होंगे। प्रेम संबंधों/Love relationship से जुड़े मामलों में जो लोग अपने पार्टनर से प्यार करते हैं, उन्हें एक-दूसरे को जानने और करीब आने के लिए अधिक समय मिल सकता है। एक दूसरे पर विश्वास और भरोसे की स्थिति को मजबूती भी प्राप्त होगी। संतान पक्ष की ओर से पेरेंट्स को कुछ अच्छे परिणाम भी मिल पाएंगे। इस समय कुछ भ्रमण के अवसर भी आपके पास होंगे, जिनका उपयोग आप अपने दोस्तों के साथ रह कर भी कर सकते हैं। व्यवसाय से जुड़े लोगों को अपने व्यवसाय का विस्तार करने का अवसर मिल सकता है। आप सामाजिक क्षेत्र में भी आगे बढ़ सकते हैं। 

बुध के मकर राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर इनके चतुर्थ भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय पर घरेलू स्तर पर आप अधिक व्यस्त भी रह सकते हैं। काम काज में आपको कुछ अच्छे लाभ के मौके मिल सकते हैं। व्यापारियों को अपने काम में बाहर जाने और नए डील तय करने का अवसर मिलेगा। आपकी विचारधारा में भी इस समय बदलाव देखने को मिल सकता है। किसी की सहायता द्वारा आप सही निर्णय लेने में सक्षम हो सकते हैं।  आपको समाज में एक विशेष स्थान प्राप्त करने में साथी और परिवार का सहयोग काम करेगा। परिवार के वरिष्ठों के साथ संबंधों में सुधार देखने को मिलेगा। कर्मचारियों के लिए यह गोचर/Mercury transit काफी फायदेमंद और अनुकूल साबित होगा। हो सकता है कि आप अपने कार्यों को पूरा करने में अधिक समय ले रहे हों, और उसके कारण आपका मन थोड़ा बेचैन हो सकता है, इसलिए चिंता न करें अपनी एकाग्रता बनाए रखें सफलता प्राप्त होगी। घर पर किसी नए वस्तु को भी लाने की संभावनाएं अधिक बनती हैं। 

बुध के मकर राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Scorpio

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव पर होगा। बुध ग्रह का इस स्थान पर होना आपकी कार्य कुशलता को बढ़ाने वाला होगा। आप मार्केटिंग या मीडिया से जुड़े कामों में अपना अच्छा नेटवर्क स्थापित कर सकते हैं। आप अपनी सभी महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने में सक्षम होंगे। आप अपनी नीतियों द्वारा सफलता भी प्राप्त कर सकते हैं। आपको संचार और वाणी के माध्यम से लाभ मिलने की अच्छी संभावना देखने को मिल सकती है। अपने भाई बहनों के साथ आप कहीं घूमने जाने का प्लान बना सकते हैं, कुछ बातों में आपकी उनके साथ बहस भी हो सकती है लेकिन एक दूसरे का साथ आप जरूर देंगे। आपकी मेहनत ही आपकी सफलता का कारण बनेगी। आपके लिए उपयुक्त होगा की अपने साथ काम कर रहे लोगों के साथ व्यर्थ की उलझनों से बचें और मिलकर काम करें अपने हर सहयोगी के साथ अच्छा व्यवहार करना आपको आने वाले समय के लिए सकारात्मक परिणाम देने वाला होगा। 

बुध के मकर राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव पर होगा। बुध के इस स्थान पर होने के कारण आप अपनी वाणी और अपनी अभिव्यक्ति को लेकर कुछ अधिक स्वतंत्र दिखाई दे सकते हैं। आपके खाने-पीने की आदतों पर भी इस समय बदलाव देखने को मिल सकता है।  आपकी बोलने की क्षमता अधिकांश लोगों को आकर्षित कर सकती है। आप इस समय एक अच्छे वक्ता के रूप में भी उभर सकते हैं। आपके बात करने का तरीका आकर्षक होगा। व्यक्तित्व में बदलाव के कारण आप अपने कार्य को तेजी से कर पाएंगे और आर्थिक रूप से अपनी स्थिति में सुधार कर पाने में भी सफल हो सकते हैं। आपको कड़ी मेहनत पर ध्यान देना चाहिए और ईमानदारी से काम करना उपयुक्त होगा क्योंकि शॉर्टकट के द्वारा परेशानी हो सकती है। आपको अपने खाने के तरीके का ध्यान रखना होगा अन्यथा सेहत पर लापरवाही असर भी डालेगी। धन के मामले में बड़ा लाभ कमाने के कई मौके मिलेंगे। आपके स्वास्थ्य के संबंध में आपकी स्थिति खराब हो सकती है, हालांकि यदि आप उचित देखभाल करते हैं और कुछ भी करने में जल्दबाजी नहीं करते हैं तो आप सुरक्षित रहेंगे। परिवार से संबंध सामान्य रहेंगे

बुध के मकर राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Capricorn

इस समय पर बुध का गोचर मकर राशि पर होने के कारण वैचारिक चीजों को अधिक मजबूती मिल सकती है। यह समय आपके निर्णयों पर महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। जब बुध मकर राशि में होता है, तो यह इस राशि के लोगों के दिमाग को बहुत व्यवस्थित तरीके से सोचने पर मजबूर करता है, आपका ध्यान उस पर भी रह सकता है जिसे वह प्राप्त करना चाहते हैं। अपने कार्यों को पूरा करने से विचलित करना चुनौतीपूर्ण होता है। इस गोचर के दौरान आप हमेशा व्यावहारिक रहेंगे और अपने व्यवसाय पर ध्यान केंद्रित करेंगे। आप को संवाद करने का तरीका हमेशा व्यावहारिक और तार्किक रह सकता है। बातचीत में हमेशा कुछ प्रासंगिकता रह सकती है। बुध के गोचर का उनके बिजनेस, करियर, शिक्षा, प्रेम और वैवाहिक जीवन से संबंधित होता है। जीवन पर बहुत प्रभाव पड़ेगा और काम में नए लोगों का सहयोग अधिक रह सकता है। 

बुध के मकर राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Aquarius

कुंभ राशि वालों के लिए बुध के गोचर का प्रभाव द्वादश भाव पर होगा। आपके घर पर इस ग्रह का प्रभाव आपको मिले जुले परिणाम देने वाला हो सकता है। आपका बारहवां भाव/Twelfth house व्यय का भाव कहलाता है, ऐसे में आपके खर्चों की अधिकता तो बनी रह सकती है। आपको इस समय पर आध्यात्मिक ऊर्जा और किसी गुरु इत्यादि समक्ष व्यक्ति का सानिध्य भी प्राप्त हो सकता है। विदेश बिजनेस/Foreign business के माध्यम से लाभ कमाने के मौके मिल सकते हैं। छात्र अपनी उच्च शिक्षा के लिए लम्बी दूरी की यात्रा कर सकते हैं। किसी ऑनलाइन संपर्क के माध्यम द्वारा नए दोस्तों से भी जुड़ सकते हैं। यह समय आप अपने प्रेम संबंधों को लेकर कुछ गुप्त रहना चाहेंगे अपने प्यार के मामले को किसी के समक्ष खोलना या जाहिर न करना चाहें। काम के क्षेत्र में आपकी व्यस्तता अधिक रह सकती है। अपने कर्मचारियों का बहुत अधिक सहयोग न मिल पाए लेकिन बाहरी संपर्क का लाभ मिल सकता है। स्वास्थ्य का ध्यान बनाए रखने की जरूरत होगी इस समय पर संतान पक्ष को लेकर भी आपके चिंता रह सकती है। शत्रुओं से सावधान रहें और एकाग्रता को बनाए रखें। 

बुध के मकर राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Capricorn on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव पर होगा। बुध के इस स्थान पर होने से लाभ के अवसर तो मिलेंगे पर साथ ही खर्चों की अधिकता भी रह सकती है। आय के मामले में गोचर आपके जीवन के लिए अनुकूल रह सकता है। आय में वृद्धि हो सकती है, और अपनी इच्छाओं और आराम की कामना को पूरा करने का यह सबसे अच्छा समय होगा। आप अपनी पसंद की वस्तुओं की खरीदारी में भी लगे रह सकते हैं। संपत्ति की खरीद फरोख्त से जुड़े काम बेहतर मुनाफा दे सकते हैं। आप अपने व्यवसाय में अत्यधिक लाभ देख पाएंगे, साथ ही व्यवसाय के विस्तार के लिए भी आप काम कर सकते हैं। जीवनसाथी के साथ मिलकर चीजों को व्यवस्थित कर पाने में आप अधिक व्यस्त रह सकते हैं। आपका साथी भाग्यशाली होने के साथ-साथ आपके लिए फायदेमंद भी रह सकता है। स्टार्टअप शुरू करने  या नए व्यवसाय की योजना बनाने के लिए अच्छा समय होगा। समाज में आपकी छवि बढ़ेगी और साथ ही आपका सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। सोशल मीडिया से जुड़ना आपके लिए बहुत फायदेमंद होगा और यह अवधि आपको अपनी सामाजिक गतिविधियों से प्रसिद्धि दिला सकती है।

बुध ग्रह का कुंभ राशि में गोचर/mercury transit in Aquarius
11 Mar,2021
से
31 Mar,2021

वैदिक ज्योतिष के अनुसार, गोचर का हर व्यक्ति पर प्रभाव पड़ता है और हर व्यक्ति को इसके बारे में अवश्य जान लेना चाहिए। यदि आपको प्रभाव के बारे में पता होगा तो आप आने वाली समस्या के खिलाफ डट कर खड़े होंगे। कुंभ राशि में बुध की स्थिति मानसिकता में बदलाव और नई चीजों के साथ जुड़ने की आपकी क्षमता पर भी असर डालती है। बुध का कुंभ राशि में गोचर/Mercury transit in Aquarius के दौरान लोगों का किसी नई और बड़ी कंपनी में जाने का मौके प्राप्त होते है। जो लोग विज्ञान, शिक्षण कार्य, योजनाओं को बनाने वाले कामों से जुड़े हुए हैं उनके लिए यह समय सफलता भी देने वाला बनता है। विदेशी एवं दूर स्थलों से जुड़े काम में भी लाभ और सहयोग प्राप्त होगा। 

अपनी राशि अनुसार जानिए कि इस गोचर का आपके ऊपर क्या प्रभाव पड़ने वाला है।

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Aries

मेष राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर एकादश स्थान पर होगा, इसके प्रभाव से आपको कुछ नए आय प्राप्ति के साधन मिल सकते हैं। नई योजनाएं भी इस दौरान शुरू हो सकती हैं। आप सामाजिक एवं अन्य कार्यों से जुड़ कर उपलब्धि को भी प्राप्त कर पाने में सक्षम हो सकते हैं। महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने का समय है। यह गोचर/Transit आपकी क्षमताओं को समृद्ध करने वाला होगा। आपको अपनी दक्षता में एक वृद्धि भी देखने को मिल सकती है। इस गोचर के दौरान आपकी कड़ी मेहनत और बौद्धिकता के द्वारा अच्छे लाभ को पाने में सक्षम होंगे। वेतन में वृद्धि होने के संकेत भी इस समय पर मिल सकते हैं। कुछ मामलों में छात्रों को बड़ी सफलता मिल सकती है छात्र अपनी शिक्षा के साथ साथ आर्थिक स्थिति के लिए काम करेंगे जिसमें उन्हें अनुकूल परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। आपके व्यक्तित्व में भी बदलाव आ सकता है। आपके आत्मविश्वास में उल्लेखनीय वृद्धि होगी और वे अपने प्रियजनों के प्रति अपनी भावना व्यक्त करने में भी आप सक्षम होंगे। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर दसवें भाव/Tenth House पर होगा। इस स्थान पर बुध के होने से कार्य क्षेत्र व आर्थिक क्षेत्र में बदलाव देखने को मिल सकता है। कुछ नए इन्वेस्टमेंट से जुड़े काम होंगे। इस समय नौकरी और कारोबार से जुड़ी गतिविधियों में शामिल होंगे। इस समय पर काम के क्षेत्र में होने वाली नीतियों का आप पर असर पड़ेगा। आप किसी न किसी रुप में अपने लोगों का सहयोग पा सकते हैं। अधिकारियों की ओर से मिलने वाले काम में विस्तार और कुछ सख्ती भी होगी लेकिन चीजें बेहतर रहेगी। व्यावसायिक स्थिति में सफलता और सुधार का संकेत भी इस समय पर देखने को मिल सकता है। जो लोग काम की तलाश में होंगे उन्हें इस समय काम मिलने की अच्छी संभावना होगी। यह गोचर आपके नौकरी पेशा जीवन में बहुत प्रभावशाली होगा जहां आप अपने ज्ञान और कर्मठता के आधार पर सर्वोत्तम क्षमताओं को दिखा पाएंगे और खुद में भी बदलाव का अनुभव करेंगे। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Gemini

मिथुन राशि के लोगों/Gemini people के लिए बुध का गोचर नवम भाव पर होगा। बुध मिथुन राशि के स्वामी हैं इस कारण से बुध मिथुन राशि पर प्रबल प्रभाव रखते हैं। इस गोचर के दौरान, आपका भाग्य अधिक प्रभावित होगा और आपको कई नए कामों में आगे बढ़ने के लिए प्रयास करने की आवश्यकता होगी। आस पास के लोगों का सहयोग मिलेगा लेकिन इस समय आप अपनी मेहनत द्वारा अच्छी सफलता पा सकते हैं। कुछ मामलों में परिवार की ओर से पूर्ण सहयोग न मिले लेकिन किसी वरिष्ठ द्वारा दिए गए दिशा निर्देश आपके लिए बहुत सहायक बनेंगे। जो लोग काम की तलाश में हैं उन्हें अवसर मिल सकते हैं। इसी के साथ उच्च शिक्षा एवं किसी शोध कार्यों से जुड़े होने पर आपको इसका लाभ भी प्राप्त होगा। इस समय धन एवं संपत्ति से जुड़े मामलों में काफी लाभ मिल सकता है। कई मामलों में भाग्य आपके पक्ष में रहेगा। आपको घर के कार्यों एवं अपना घर बदलने में भी सफलता मिल सकती है। समाज में आपकी प्रसिद्धि और सम्मान में वृद्धि होगी। आप भावनात्मक रूप से भी अपने पिता के करीब होंगे, और आपके पिता लाभ कमाने में बहुत सहायक और सहायक हो सकते हैं। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर अष्टम भाव/Eighth house पर होगा। आपके काम के क्षेत्र में परिश्रम एवं प्रयास की अधिकता रह सकती है। धनार्जन से अधिक व्यय रहने से बचत प्रभावित हो सकती है। इस समय पर स्वास्थ्य एवं घरेलू मुद्दों पर अधिक धन व्यय हो सकता है। बुध का गोचर इस समय में कुछ उतार-चढ़ाव दिखा सकता है। इस दौरान आपको स्वयं को आप कुछ अधिक मेहनत करने के लिए तैयार कर सकते हैं, हालांकि इस समय फल प्राप्ति में कमी का अनुभव होगा लेकिन आगे आने वाले समय के लिए यह कोशिशें बेहतर परिणाम दे सकती हैं। कुछ यात्राएं अधिक रह सकती  हैं और इसके लिए आपको कुछ अवांछित खर्चे उठाने पड़ सकते हैं। भाई-बहनों की ओर से आप थोड़ा चिंतित भी रह सकती हैं। आप लोगों में कुछ विवाद की स्थिति भी उभर सकती हैं ऎसे में शांति व धैर्य के साथ समस्याओं को हल करना उचित होगा।  

बुध के कुंभ राशि में गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Leo

सिंह राशि लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय पर सप्तम भाव/Seventh house को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर/transit के दौरान अपने जीवनसाथी के साथ भावनात्मक और मानसिक रूप से करीब आने का मौका मिल सकता है। बुध सिंह राशि के लिए धन और लाभ भाव का स्वामित्व पाता है ऐसे में बुध एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। प्रेम संबंधों में एक दूसरे के सहयोग को पाने में आप सफल होंगे। नए मार्ग खोजने में आप सफल रह सकते हैं। सामाजिक रूप से आप लोगों के मध्य महत्वपूर्ण स्थान को पाते हैं। इस समय पर परिवार व किसी अपने पर धन अधिक खर्च हो सकता है। आपके व्यावसायिक कौशल/Business skill को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी कुछ नई नीतियों को अब आप अपने काम में शामिल कर सकते हैं। कुछ नए मसौदों से एक बड़ा लाभ अर्जित कर पाने में भी सफल हो सकते हैं। काम के क्षेत्र में नए विचार आपको अपने बिजनेस को बढ़ाने में मदद करेंगे। कुछ अनचाहे खर्चों के चलते परेशान हो सकते हैं, इसलिए अपने निवेश और बचत पर ध्यान बना कर रखना अनुकूल होगा।

बुध के कुंभ राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Virgo 

कन्या राशि का स्वामी ग्रह बुध होता है और ऐसे में यह समय कन्या राशि के लिए काफी महत्वपूर्ण हो जाता है। यह इस समय आपके कर्म एवं आपके कार्यों को दर्शाता है। आप अपनी मेहनत द्वारा कार्यों को करने की योग्यता प्राप्त करने के प्रयासों में लगे रहते हैं।  इसका अर्थ है कि बुध का कन्या राशि में गोचर आपके जीवन में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। बुध का कुम्भ राशि में गोचर आपके छठे भाव में होने से आपके शत्रुओं, रोग व आर्थिक स्थिति पर इसका विशेष प्रभाव देखने को मिल सकता है। इस समय आपको अपने स्वास्थ्य को लेकर सावधान रहने की आवश्यकता होगी। मौसम में होने वाले बदलाव आप को प्रभावित कर सकते हैं। काम के क्षेत्र में आपको कड़ी मेहनत करनी होगी सफलता प्राप्ति के लिए काफी संघर्ष रह सकता है। इस समय पर आप के लिए जरूरी है कि व्यर्थ की बातों में खुद को उलझाने से बचें। कोई कानूनी गतिविधियों में भी आपकी भागीदारी हो सकती है। लापरवाही से बचने की जरूरत होगी क्योंकि किसी भी प्रकार की अज्ञानता आपको खतरे में डाल सकती है। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Libra

तुला राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय पंचम भाव/Fifth house पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति का प्रभाव आपको अलग विचारधारा तथा आत्मज्ञान की प्राप्ति करने में सक्षम बनाता है। जो लोग किसी कला या रचनात्मक गतिविधियों में संलग्न हैं उनके लिए अच्छे अवसर होंगे स्वयं को बेहतर सिद्ध करने के। बाहरी लोगों का संपर्क आपकी छवि एवं मानसिकता को प्रभावित करने वाला होगा। बुध तुला राशि के नवम और बारहवें भाव का स्वामी है, ऐसे में भाग्य के विस्तार को सहायता मिलती है और विदेश द्वारा लाभ मिलने की संभावना बनती है। यह समय आध्यात्मिक क्षेत्र में नए लोगों का साथ भी देता है। आपके काम के क्षेत्र में कुछ वरिष्ठजनों द्वारा प्राप्त दिशा निर्देश काम आ सकता है।  नौकरीपेशा जीवन में पद प्राप्ति और स्थान प्राप्ति के संकेत भी इस समय पर मिल सकते हैं। आपकी मेहनत आपको एक अच्छी छवि बनाने का मौका देने वाली हो सकती है। प्यार एवं संबंधों में आप साथी का सहयोग मिल सकता है। छात्रों को उच्च शिक्षा हेतु आपके प्रयास सकारात्मक दिशा में होंगे। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए यह समय सुख स्थान पर बुध का गोचर होना घरेलू मसलों तथा काम के क्षेत्र पर असर डालने वाला होगा। नए काम शुरू होंगे तथा किसी कारणवश आपको कुछ समय के लिए काम से अवकाश भी लेना पड़ सकता है। अभी काफी भागदौड़ भी बनी रह सकती है। वाहन। वस्त्र इत्यादि का सुख इस समय मिल सकता है। काम के क्षेत्र में कुछ अचानक से होने वाले बदलाव इस समय हो सकते हैं। कुछ नई जिम्मेदारियों को भी आप अभी देख पाएंगे। लेखन-संचार से जुड़े लोग अपने काम में तेजी से कर पाने में सक्षम होंगे। आपके विरोधियों की गुप्त राजनीति आपके लिए थोड़ा कठिन परिस्थितियों को उत्पन्न करने वाली भी होगा। वित्त या व्यावसायिक क्षेत्र में अचानक से लाभ मिलने के योग भी हैं, लेकिन ध्यान रखें की किसी शॉर्टकट से अभी खुद को बचाएं अन्यथा सफलता अधिक देर तक टिक नहीं पाएगी। परिवार का सहयोग और प्रेम आपके लिए काफी सहायक होगा। आप पर इस समय जिम्मेदारियां भी बहुत अधिक रह सकती हैं। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Sagittarius

धनु राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव/third house पर होगा। आपके भीतर कुछ नया काम करने की इच्छा जाग सकती है और आप इस समय अपनी अभिरुचि को अधिक महत्व देना चाहेंगे। बातचीत की कुशलता द्वारा नए संबंधों का निर्माण भी होगा। कुछ अच्छे लाभ संचार के माध्यम से भी आप अर्जित कर सकते हैं। आपका परिश्रम इस समय अच्छे परिणाम देने वाला होगा। अपने साथियों का प्रेम व सहयोग आप पा सकते हैं, लेकिन कुछ लोग आपसे थोड़ी दूरी भी बनाने की कोशिश कर सकते हैं इसलिए अपनी बातचीत में जितना प्यार से आगे बढ़ेंगे उतना रिश्तों के लिए अच्छा होगा। आपको कुछ घूमने-फिरने के मौके भी मिल पाएंगे। काम या घरेलू स्तर पर आप यात्राओं में व्यस्त रह सकते हैं।  यात्रा का लाभ मिल सकता है, यह आपकी आर्थिक स्थिति के लिए भी लाभदायक हो सकता है। आपके छोटे भाई-बहनों के साथ आपके संबंध बेहतर होंगे अगर किसी कारण से कोई नाराजगी बनी हुई थी तो वो अब कम होती दिखाई देगी।  

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा, बुध आपके लिए छठे भाव का स्वामी/Sixth house lord भी बनता है। ऐसे में आप को कार्य एवं आर्थिक पक्ष को बेहतर बनाने के लिए कोशिशों को तेज रखना होगा। आपको किसी कानूनी कार्यवाही में कुछ सकारात्मक परिणाम देखने को मिल सकता है। आपके दोस्त आपकी सहायता में आगे रह सकते हैं। आप अपने संचार कौशल में सुधार देख पाएंगे। आपको किसी प्रकार की संपत्ति का लाभ भी मिल सकता है। आप परिवार में किसी व्यक्ति का आगमन हो सकता है और उनके साथ आप अपने रिश्तों को लेकर काफी सजग भी दिखाई देंगे। आप इस समय सोशल मीडिया से जुड़े कामों में भी अधिक समय गुजार सकते हैं। आप किसी के साथ संवाद इत्यादि में गलत शब्दों से बचें अन्यथा कोई गलतफहमी आपके काम में रुकावट डाल सकती है। आप किसी वाद-विवाद में फंस सकते हैं। आपको अचानक से लाभ की प्राप्ति होगी तथा अगर आपने किसी को पैसा उधार में दिया हुआ है तो आपको उधार इत्यादि दिया हुआ धन भी इस समय पर प्राप्त हो सकता है। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Aquarius

कुंभ राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय राशि पर ही होगा। बुध कुंभ राशि वालों के लिए पंचम और अष्टम भाव के स्वामी/Eighth house lord बनते हैं। इस समय आपको मिले-जुले फल प्राप्त होने वाला है। बुध का गोचर/Mercury transit आपके लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह आपकी ही राशि में हो रहा है इसलिए अभी आप कुछ नई योजनाओं को लागू करने का विचार कर सकते हैं। आध्यात्मिक विषयों की ओर आप अधिक आकर्षित हो सकते हैं। अपने विचारों में विशिष्ट परिवर्तन देख पाएंगे। जो छात्र या लोग शोध से जुड़े कामों में लगे हुए हैं उनको उत्कृष्ट परिणाम प्राप्त हो सकते हैं।  काम में कुछ नए बदलाव भी इस समय पर किए जा सकते हैं। विचारों की गहराई बढ़ेगी तथा सोचने की क्षमता में वृद्धि के साथ ही आप किसी भी विषय पर स्थिति के बारे में ठीक से जानने के बाद ही अपनी राय देना चाहेंगे। प्यार को लेकर आप किसी के प्रति अधिक आकर्षित महसूस कर सकते हैं। अपने प्यार का इजहार करने में भी आप अब आगे बढ़ सकते हैं। इस समय पर जीवन में साथी का सहयोग आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होगा। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Pisces

मीन राशि के लोगों के लिए बुध का द्वादश भाव में गोचरस्थ होगा। इस स्थान पर स्थित बुध के प्रभाव द्वारा किसी बाहरी चीजों द्वारा आपका जीवन अधिक प्रभावित रह सकता है। आप अपने घर से दूर जाकर कहीं रहने का विचार कर सकते हैं। इसके साथ ही जो लोग काम की तलाश में है, उन्हें इस समय काम मिलेगा, लेकिन इसके साथ ही काम के चलते यात्राएं भी अधिक रह सकती हैं। इस समय आपके लिए जरुरी है की साझेदारी से जुड़े कामों में आपको आगे बढ़ने से पूर्व सभी प्रकार की शर्तों को एवं स्थिति को समझ लेना चाहिए। आर्थिक स्थिति इस समय खर्च के चलते दबाव में भी रह सकती है। आप अपने ऊपर भी अधिक धन व्यय कर सकते हैं और यह किसी भी कारणों से हो सकता है। अपने स्वास्थ्य को लेकर भी आपको सजग रहना चाहिए। आप खानपान में बदलाव की स्थिति सेहत को प्रभावित कर सकती है। इसके साथ ही जीवन साथी के स्वास्थ्य की चिंता भी आप को परेशान कर सकती है। इस समय पर विदेश यात्रा और स्थान परिवर्तन से जुड़े कामों में कुछ सफलता मिल सकती है। 

बुध ग्रह का कुंभ राशि में गोचर/mercury transit in Aquarius
06 Mar,2022
से
23 Mar,2022

वैदिक ज्योतिष के अनुसार, गोचर का हर व्यक्ति पर प्रभाव पड़ता है और हर व्यक्ति को इसके बारे में अवश्य जान लेना चाहिए। यदि आपको प्रभाव के बारे में पता होगा तो आप आने वाली समस्या के खिलाफ डट कर खड़े होंगे। कुंभ राशि में बुध की स्थिति मानसिकता में बदलाव और नई चीजों के साथ जुड़ने की आपकी क्षमता पर भी असर डालती है। बुध का कुंभ राशि में गोचर/Mercury transit in Aquarius के दौरान लोगों का किसी नई और बड़ी कंपनी में जाने का मौके प्राप्त होते है। जो लोग विज्ञान, शिक्षण कार्य, योजनाओं को बनाने वाले कामों से जुड़े हुए हैं उनके लिए यह समय सफलता भी देने वाला बनता है। विदेशी एवं दूर स्थलों से जुड़े काम में भी लाभ और सहयोग प्राप्त होगा। 

अपनी राशि अनुसार जानिए कि इस गोचर का आपके ऊपर क्या प्रभाव पड़ने वाला है।

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Aries

मेष राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर एकादश स्थान पर होगा, इसके प्रभाव से आपको कुछ नए आय प्राप्ति के साधन मिल सकते हैं। नई योजनाएं भी इस दौरान शुरू हो सकती हैं। आप सामाजिक एवं अन्य कार्यों से जुड़ कर उपलब्धि को भी प्राप्त कर पाने में सक्षम हो सकते हैं। महत्वाकांक्षाओं को पूरा करने का समय है। यह गोचर/Transit आपकी क्षमताओं को समृद्ध करने वाला होगा। आपको अपनी दक्षता में एक वृद्धि भी देखने को मिल सकती है। इस गोचर के दौरान आपकी कड़ी मेहनत और बौद्धिकता के द्वारा अच्छे लाभ को पाने में सक्षम होंगे। वेतन में वृद्धि होने के संकेत भी इस समय पर मिल सकते हैं। कुछ मामलों में छात्रों को बड़ी सफलता मिल सकती है छात्र अपनी शिक्षा के साथ साथ आर्थिक स्थिति के लिए काम करेंगे जिसमें उन्हें अनुकूल परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। आपके व्यक्तित्व में भी बदलाव आ सकता है। आपके आत्मविश्वास में उल्लेखनीय वृद्धि होगी और वे अपने प्रियजनों के प्रति अपनी भावना व्यक्त करने में भी आप सक्षम होंगे। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर दसवें भाव/Tenth House पर होगा। इस स्थान पर बुध के होने से कार्य क्षेत्र व आर्थिक क्षेत्र में बदलाव देखने को मिल सकता है। कुछ नए इन्वेस्टमेंट से जुड़े काम होंगे। इस समय नौकरी और कारोबार से जुड़ी गतिविधियों में शामिल होंगे। इस समय पर काम के क्षेत्र में होने वाली नीतियों का आप पर असर पड़ेगा। आप किसी न किसी रुप में अपने लोगों का सहयोग पा सकते हैं। अधिकारियों की ओर से मिलने वाले काम में विस्तार और कुछ सख्ती भी होगी लेकिन चीजें बेहतर रहेगी। व्यावसायिक स्थिति में सफलता और सुधार का संकेत भी इस समय पर देखने को मिल सकता है। जो लोग काम की तलाश में होंगे उन्हें इस समय काम मिलने की अच्छी संभावना होगी। यह गोचर आपके नौकरी पेशा जीवन में बहुत प्रभावशाली होगा जहां आप अपने ज्ञान और कर्मठता के आधार पर सर्वोत्तम क्षमताओं को दिखा पाएंगे और खुद में भी बदलाव का अनुभव करेंगे। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Gemini

मिथुन राशि के लोगों/Gemini people के लिए बुध का गोचर नवम भाव पर होगा। बुध मिथुन राशि के स्वामी हैं इस कारण से बुध मिथुन राशि पर प्रबल प्रभाव रखते हैं। इस गोचर के दौरान, आपका भाग्य अधिक प्रभावित होगा और आपको कई नए कामों में आगे बढ़ने के लिए प्रयास करने की आवश्यकता होगी। आस पास के लोगों का सहयोग मिलेगा लेकिन इस समय आप अपनी मेहनत द्वारा अच्छी सफलता पा सकते हैं। कुछ मामलों में परिवार की ओर से पूर्ण सहयोग न मिले लेकिन किसी वरिष्ठ द्वारा दिए गए दिशा निर्देश आपके लिए बहुत सहायक बनेंगे। जो लोग काम की तलाश में हैं उन्हें अवसर मिल सकते हैं। इसी के साथ उच्च शिक्षा एवं किसी शोध कार्यों से जुड़े होने पर आपको इसका लाभ भी प्राप्त होगा। इस समय धन एवं संपत्ति से जुड़े मामलों में काफी लाभ मिल सकता है। कई मामलों में भाग्य आपके पक्ष में रहेगा। आपको घर के कार्यों एवं अपना घर बदलने में भी सफलता मिल सकती है। समाज में आपकी प्रसिद्धि और सम्मान में वृद्धि होगी। आप भावनात्मक रूप से भी अपने पिता के करीब होंगे, और आपके पिता लाभ कमाने में बहुत सहायक और सहायक हो सकते हैं। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर अष्टम भाव/Eighth house पर होगा। आपके काम के क्षेत्र में परिश्रम एवं प्रयास की अधिकता रह सकती है। धनार्जन से अधिक व्यय रहने से बचत प्रभावित हो सकती है। इस समय पर स्वास्थ्य एवं घरेलू मुद्दों पर अधिक धन व्यय हो सकता है। बुध का गोचर इस समय में कुछ उतार-चढ़ाव दिखा सकता है। इस दौरान आपको स्वयं को आप कुछ अधिक मेहनत करने के लिए तैयार कर सकते हैं, हालांकि इस समय फल प्राप्ति में कमी का अनुभव होगा लेकिन आगे आने वाले समय के लिए यह कोशिशें बेहतर परिणाम दे सकती हैं। कुछ यात्राएं अधिक रह सकती  हैं और इसके लिए आपको कुछ अवांछित खर्चे उठाने पड़ सकते हैं। भाई-बहनों की ओर से आप थोड़ा चिंतित भी रह सकती हैं। आप लोगों में कुछ विवाद की स्थिति भी उभर सकती हैं ऎसे में शांति व धैर्य के साथ समस्याओं को हल करना उचित होगा।  

बुध के कुंभ राशि में गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Leo

सिंह राशि लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय पर सप्तम भाव/Seventh house को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर/transit के दौरान अपने जीवनसाथी के साथ भावनात्मक और मानसिक रूप से करीब आने का मौका मिल सकता है। बुध सिंह राशि के लिए धन और लाभ भाव का स्वामित्व पाता है ऐसे में बुध एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। प्रेम संबंधों में एक दूसरे के सहयोग को पाने में आप सफल होंगे। नए मार्ग खोजने में आप सफल रह सकते हैं। सामाजिक रूप से आप लोगों के मध्य महत्वपूर्ण स्थान को पाते हैं। इस समय पर परिवार व किसी अपने पर धन अधिक खर्च हो सकता है। आपके व्यावसायिक कौशल/Business skill को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी कुछ नई नीतियों को अब आप अपने काम में शामिल कर सकते हैं। कुछ नए मसौदों से एक बड़ा लाभ अर्जित कर पाने में भी सफल हो सकते हैं। काम के क्षेत्र में नए विचार आपको अपने बिजनेस को बढ़ाने में मदद करेंगे। कुछ अनचाहे खर्चों के चलते परेशान हो सकते हैं, इसलिए अपने निवेश और बचत पर ध्यान बना कर रखना अनुकूल होगा।

बुध के कुंभ राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Virgo 

कन्या राशि का स्वामी ग्रह बुध होता है और ऐसे में यह समय कन्या राशि के लिए काफी महत्वपूर्ण हो जाता है। यह इस समय आपके कर्म एवं आपके कार्यों को दर्शाता है। आप अपनी मेहनत द्वारा कार्यों को करने की योग्यता प्राप्त करने के प्रयासों में लगे रहते हैं।  इसका अर्थ है कि बुध का कन्या राशि में गोचर आपके जीवन में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। बुध का कुम्भ राशि में गोचर आपके छठे भाव में होने से आपके शत्रुओं, रोग व आर्थिक स्थिति पर इसका विशेष प्रभाव देखने को मिल सकता है। इस समय आपको अपने स्वास्थ्य को लेकर सावधान रहने की आवश्यकता होगी। मौसम में होने वाले बदलाव आप को प्रभावित कर सकते हैं। काम के क्षेत्र में आपको कड़ी मेहनत करनी होगी सफलता प्राप्ति के लिए काफी संघर्ष रह सकता है। इस समय पर आप के लिए जरूरी है कि व्यर्थ की बातों में खुद को उलझाने से बचें। कोई कानूनी गतिविधियों में भी आपकी भागीदारी हो सकती है। लापरवाही से बचने की जरूरत होगी क्योंकि किसी भी प्रकार की अज्ञानता आपको खतरे में डाल सकती है। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Libra

तुला राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय पंचम भाव/Fifth house पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति का प्रभाव आपको अलग विचारधारा तथा आत्मज्ञान की प्राप्ति करने में सक्षम बनाता है। जो लोग किसी कला या रचनात्मक गतिविधियों में संलग्न हैं उनके लिए अच्छे अवसर होंगे स्वयं को बेहतर सिद्ध करने के। बाहरी लोगों का संपर्क आपकी छवि एवं मानसिकता को प्रभावित करने वाला होगा। बुध तुला राशि के नवम और बारहवें भाव का स्वामी है, ऐसे में भाग्य के विस्तार को सहायता मिलती है और विदेश द्वारा लाभ मिलने की संभावना बनती है। यह समय आध्यात्मिक क्षेत्र में नए लोगों का साथ भी देता है। आपके काम के क्षेत्र में कुछ वरिष्ठजनों द्वारा प्राप्त दिशा निर्देश काम आ सकता है।  नौकरीपेशा जीवन में पद प्राप्ति और स्थान प्राप्ति के संकेत भी इस समय पर मिल सकते हैं। आपकी मेहनत आपको एक अच्छी छवि बनाने का मौका देने वाली हो सकती है। प्यार एवं संबंधों में आप साथी का सहयोग मिल सकता है। छात्रों को उच्च शिक्षा हेतु आपके प्रयास सकारात्मक दिशा में होंगे। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए यह समय सुख स्थान पर बुध का गोचर होना घरेलू मसलों तथा काम के क्षेत्र पर असर डालने वाला होगा। नए काम शुरू होंगे तथा किसी कारणवश आपको कुछ समय के लिए काम से अवकाश भी लेना पड़ सकता है। अभी काफी भागदौड़ भी बनी रह सकती है। वाहन। वस्त्र इत्यादि का सुख इस समय मिल सकता है। काम के क्षेत्र में कुछ अचानक से होने वाले बदलाव इस समय हो सकते हैं। कुछ नई जिम्मेदारियों को भी आप अभी देख पाएंगे। लेखन-संचार से जुड़े लोग अपने काम में तेजी से कर पाने में सक्षम होंगे। आपके विरोधियों की गुप्त राजनीति आपके लिए थोड़ा कठिन परिस्थितियों को उत्पन्न करने वाली भी होगा। वित्त या व्यावसायिक क्षेत्र में अचानक से लाभ मिलने के योग भी हैं, लेकिन ध्यान रखें की किसी शॉर्टकट से अभी खुद को बचाएं अन्यथा सफलता अधिक देर तक टिक नहीं पाएगी। परिवार का सहयोग और प्रेम आपके लिए काफी सहायक होगा। आप पर इस समय जिम्मेदारियां भी बहुत अधिक रह सकती हैं। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Sagittarius

धनु राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव/third house पर होगा। आपके भीतर कुछ नया काम करने की इच्छा जाग सकती है और आप इस समय अपनी अभिरुचि को अधिक महत्व देना चाहेंगे। बातचीत की कुशलता द्वारा नए संबंधों का निर्माण भी होगा। कुछ अच्छे लाभ संचार के माध्यम से भी आप अर्जित कर सकते हैं। आपका परिश्रम इस समय अच्छे परिणाम देने वाला होगा। अपने साथियों का प्रेम व सहयोग आप पा सकते हैं, लेकिन कुछ लोग आपसे थोड़ी दूरी भी बनाने की कोशिश कर सकते हैं इसलिए अपनी बातचीत में जितना प्यार से आगे बढ़ेंगे उतना रिश्तों के लिए अच्छा होगा। आपको कुछ घूमने-फिरने के मौके भी मिल पाएंगे। काम या घरेलू स्तर पर आप यात्राओं में व्यस्त रह सकते हैं।  यात्रा का लाभ मिल सकता है, यह आपकी आर्थिक स्थिति के लिए भी लाभदायक हो सकता है। आपके छोटे भाई-बहनों के साथ आपके संबंध बेहतर होंगे अगर किसी कारण से कोई नाराजगी बनी हुई थी तो वो अब कम होती दिखाई देगी।  

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Capricorn

मकर राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा, बुध आपके लिए छठे भाव का स्वामी/Sixth house lord भी बनता है। ऐसे में आप को कार्य एवं आर्थिक पक्ष को बेहतर बनाने के लिए कोशिशों को तेज रखना होगा। आपको किसी कानूनी कार्यवाही में कुछ सकारात्मक परिणाम देखने को मिल सकता है। आपके दोस्त आपकी सहायता में आगे रह सकते हैं। आप अपने संचार कौशल में सुधार देख पाएंगे। आपको किसी प्रकार की संपत्ति का लाभ भी मिल सकता है। आप परिवार में किसी व्यक्ति का आगमन हो सकता है और उनके साथ आप अपने रिश्तों को लेकर काफी सजग भी दिखाई देंगे। आप इस समय सोशल मीडिया से जुड़े कामों में भी अधिक समय गुजार सकते हैं। आप किसी के साथ संवाद इत्यादि में गलत शब्दों से बचें अन्यथा कोई गलतफहमी आपके काम में रुकावट डाल सकती है। आप किसी वाद-विवाद में फंस सकते हैं। आपको अचानक से लाभ की प्राप्ति होगी तथा अगर आपने किसी को पैसा उधार में दिया हुआ है तो आपको उधार इत्यादि दिया हुआ धन भी इस समय पर प्राप्त हो सकता है। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Aquarius

कुंभ राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर इस समय राशि पर ही होगा। बुध कुंभ राशि वालों के लिए पंचम और अष्टम भाव के स्वामी/Eighth house lord बनते हैं। इस समय आपको मिले-जुले फल प्राप्त होने वाला है। बुध का गोचर/Mercury transit आपके लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यह आपकी ही राशि में हो रहा है इसलिए अभी आप कुछ नई योजनाओं को लागू करने का विचार कर सकते हैं। आध्यात्मिक विषयों की ओर आप अधिक आकर्षित हो सकते हैं। अपने विचारों में विशिष्ट परिवर्तन देख पाएंगे। जो छात्र या लोग शोध से जुड़े कामों में लगे हुए हैं उनको उत्कृष्ट परिणाम प्राप्त हो सकते हैं।  काम में कुछ नए बदलाव भी इस समय पर किए जा सकते हैं। विचारों की गहराई बढ़ेगी तथा सोचने की क्षमता में वृद्धि के साथ ही आप किसी भी विषय पर स्थिति के बारे में ठीक से जानने के बाद ही अपनी राय देना चाहेंगे। प्यार को लेकर आप किसी के प्रति अधिक आकर्षित महसूस कर सकते हैं। अपने प्यार का इजहार करने में भी आप अब आगे बढ़ सकते हैं। इस समय पर जीवन में साथी का सहयोग आपके लिए काफी महत्वपूर्ण होगा। 

बुध के कुंभ राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/ Effect of Mercury transit in Aquarius on Pisces

मीन राशि के लोगों के लिए बुध का द्वादश भाव में गोचरस्थ होगा। इस स्थान पर स्थित बुध के प्रभाव द्वारा किसी बाहरी चीजों द्वारा आपका जीवन अधिक प्रभावित रह सकता है। आप अपने घर से दूर जाकर कहीं रहने का विचार कर सकते हैं। इसके साथ ही जो लोग काम की तलाश में है, उन्हें इस समय काम मिलेगा, लेकिन इसके साथ ही काम के चलते यात्राएं भी अधिक रह सकती हैं। इस समय आपके लिए जरुरी है की साझेदारी से जुड़े कामों में आपको आगे बढ़ने से पूर्व सभी प्रकार की शर्तों को एवं स्थिति को समझ लेना चाहिए। आर्थिक स्थिति इस समय खर्च के चलते दबाव में भी रह सकती है। आप अपने ऊपर भी अधिक धन व्यय कर सकते हैं और यह किसी भी कारणों से हो सकता है। अपने स्वास्थ्य को लेकर भी आपको सजग रहना चाहिए। आप खानपान में बदलाव की स्थिति सेहत को प्रभावित कर सकती है। इसके साथ ही जीवन साथी के स्वास्थ्य की चिंता भी आप को परेशान कर सकती है। इस समय पर विदेश यात्रा और स्थान परिवर्तन से जुड़े कामों में कुछ सफलता मिल सकती है। 

बुध का मीन राशि में गोचर का क्या होगा प्रभाव | Mercury transit in Pisces
24 Mar,2022
से
07 Apr,2022

मीन राशि में बुध/Mercury transit in Pisces की स्थिति को बहुत अधिक अनुकूल नहीं माना गया है। ज्योतिष शास्त्र के नियमों के अनुसार मीन राशि में बुध कमजोर होता है और अपनी नीचस्थ में स्थित होता है। बृहस्पति के साथ बुध के संबंध भी अनुकूलता की कमी को दर्शाते हैं। बुध के गोचर का प्रभाव विभिन्न क्षेत्रों पर पड़ता है, जिसमें संचार, व्यापार, साझेदारी, वाणी  शामिल हैं, और यह याद रखने की क्षमता को भी प्रभावित कर सकता है। इसके अलावा, लेखांकन/Writing, विपणन/marketing और विश्लेषणात्मक/analysing कौशल ज्यादातर प्रभावित होते हैं। मीन राशि मोक्ष या शांति, विदेश जाने की संभावना, स्वास्थ्य, फिटनेस, ध्यान एकाग्रता जैसी बातों से प्रभावित होती है। इस समय पर बुध मीन राशि में रहकर मिले जुले प्रभावों को देता है। 

बुध के मीन राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit द्वादश भाव पर होगा। कुंडली का यह स्थान व्यय भाव का प्रतिनिधित्व करता है, और बुध इस स्थिति में प्रेम, संबंधों, शिक्षा, नीतियों इत्यादि बातों को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय पर कुछ ऐसे प्रभाव देखने को मिल सकते हैं जो आपके अनुरूप न हो पाएं तथा कुछ नकारात्मक प्रभाव भी डाल सकता है। इस दौरान लोगों को कई उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ता है। खर्चों में अधिकता तो होगी ही लेकिन साथ में एकाग्रता और ध्यान की कमी भी परेशान कर सकती है। चीजों को संभाल पाना कुछ मुश्किल हो सकता है। किसी गुरु का सानिध्य पाना चाहें या फिर किसी ऐसी संस्था से जुड़ना चाहें जो आपके आत्मिक विकास में सहायक बने। बाहरी संपर्क से लाभ पाने के लिए अभी संघर्ष बना रहेगा। इस समय पर संतान के स्वास्थ्य को लेकर माता-पिता चिंता कर सकते हैं। लोगों को भी अपने स्वास्थ्य का उचित ध्यान रखना होगा क्योंकि ग्रहों की चाल के प्रभाव के कारण, स्वास्थ्य में गिरावट देखी जा सकती है।अनिद्रा, मानसिक तनाव या त्वचा संबंधी रोग परेशान कर सकते हैं। 

बुध के मीन राशि में गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Taurus

वृषभ राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर एकादश भाव में होगा। बुध के इस स्थान पर होने के कारण आपके आर्थिक स्तर एवं परिवार एवं सामाजिक परिप्रेक्ष्य पर इसका असर अधिक दिखाई देगा। आप अपनी योजनाओं को लेकर उत्सुक होंगे लेकिन अभी लाभ प्राप्ति का स्तर कुछ धीमा रह सकता है। आपके पूर्व में किए गए कामों से आपको कुछ सकारात्मक परिणाम मिल सकते हैं लेकिन इस समय आर्थिक स्थिति को लेकर आप प्रयास भी अधिक करेंगे। इस समय परिवार और संतान पक्ष पर अधिक धन व्यय होता दिखाई देगा। अपने भाई बंधुओं के लिए भी आप अपनी ओर से कुछ न कुछ सहायक बन सकते हैं। सामाजिक स्तर पर आप कम भागीदारी लेना चाहें क्योंकि इस समय आप पर अन्य जिम्मेदारियां भी अधिक रह सकती हैं। मित्रों के साथ आप काफी मेलजोल कर सकते हैं कुछ नई चीजों की प्लानिंग भी आप इस समय पर करेंगे। इस समय आपके लिए जरूरी है कि अपनी बचत पर नजर बना कर आगे बढ़ा जाए अभी किया गया उचित निवेश आगे चलकर अच्छे परिणाम दे पाने में सहायक होगा। 
बुध के मीन राशि में गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Gemini

बुध का ये प्रभाव आपके लिए कई नई कार्यशैली को लाने वाला होगा। बुध ग्रह की दृष्टि चौथे भाव पर होगी जिसके कारण काम और परिवार को लेकर आप अधिक व्यस्त रह सकते हैं। आप घर के निर्माण से जुड़े कामों को कर पाएंगे। आप इस समय अपने सहकर्मियों के साथ मिलकर बहुत अधिक सहयोग न मिल पाएं। बुध का प्रभाव आपके करियर, संबंध, व्यवसाय आदि पर भी दिखाई देता है। आपको व्यवसाय के क्षेत्र में प्रयास अधिक करने की आवश्यकता होगी। इस समय आप कुछ सही निर्णय लेने में सक्षम होंगे, जो आपके भविष्य के लिए बहुत अनुकूल हो सकता है। आपको अति आत्मविश्वास से बचाना होंगे जो आपके काम में व्याकुलता को परेशानी देता है। इसके अलावा आप अपने परिवार के साथ एक यादगार समय बिताने में भी सफल हो सकते हैं। आपके परिवार के कुछ सदस्य आपके विरोध में भी खड़े रह सकते हैं इसलिए आपके लिए जरूरी होगा की आप सजग रह कर काम करें। 

बुध के मीन राशि में गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit नवम भाव पर होगा। इस समय पर आपके भाग्य स्थान पर बुध की स्थिति काफी प्रभावशाली होगी। आपको इस समय पर धन का व्यय आध्यात्मिक स्थिति पर होगा। गोचर के कारण ग्रह अपनी स्थिति द्वारा आप पर परिवार को लेकर काफी दबाव रह सकता है। आपको विदेश यात्रा का अवसर मिलेगा लेकिन खर्चों की अधिकता को दिखाती है। उच्च शिक्षा के लिए विदेश जाने का प्रयास कर रहे छात्र किसी कारणवश मेहनत कर सकते हैं। राजनीति से जुड़े लोगों के लिए नए विकल्प सामने रह सकते हैं। पार्टनरशिप में चल रहे काम थोड़ा सुस्त हो सकते हैं या आपको अपने भागीदारों से बहुत अधिक सहयोग न मिल पाए। भागदौड़ अधिक रह सकती है। लेकिन इस समय पर लाभ प्राप्ति के लिए कोशिशें बनाए रखनी जरूरी होगी धीरे धीरे लाभ के अवसर आपके समक्ष होंगे। संचार से जुड़े काम में आप अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं तथा नई विचारों को भी सामने ला सकते हैं। अभिरुचियों के साथ आगे बढ़ने का अवसर मिलेगा।  बाहरी लोगों के सतह संपर्क बनेगा ऑनलाइन दोस्ती और मीडिया में आप ज्यादा रुचि ले सकते हैं 

बुध के मीन राशि में गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Leo

सिंह राशि वालों के लिए बुध का गोचर आठवें भाव/Eighth house पर होगा। इस स्थान पर आप काफी प्रभावशाली होंगे। इस राशि के व्यक्ति इस अवधि में अपनी सफलता को लेकर आप काफी गंभीर रह सकते हैं। आप सामाजिक दायरे में भी काफी व्यस्त होंगे। आपके भीतर नई चीजों को जानने की इच्छा भी होगी। आप इस समय आध्यात्मिक गुढ़ विद्या को लेकर भी काफी उत्सुक दिखाई देंगे। आप अपने जीवन को एक नई दिशा दे सकते हैं। लेखन से जुड़े काम व शोध से जुड़े काम अच्छे रह सकते हैं। इस समय पर अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें कुछ कटुता या व्यंग्य का प्रभाव आपके बोलचाल में देखा जा सकता है। आपके आस-पास के लोग आपकी बातों को लेकर संजीदा रह सकते हैं। सामाजिक कार्यों और अन्य कार्यक्रमों को करने में भी रुचि होगी। भाई-बहनों के साथ आप सहयोग को पा सकते हैं। आपके लिए जरूरी होगा की सतर्क रहें और अपनी मुखर प्रतिभा को नियंत्रण में रखें अन्यथा बहुत अधिक मुखर होना आपको खतरे में भी डाल सकता है। काम के क्षेत्र में उतार-चढ़ाव बने रह सकते हैं।  

बुध के मीन राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Virgo

कन्या राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर प्रभाव काफी महत्वपूर्ण होगा, क्योंकि इस समय कन्या राशि का स्वामी बुध सप्तम भाव पर होगा। इस समय आप काम के क्षेत्र में और अपने आप में बदलावों को देख पाएंगे। कन्या राशि को पर इस गोचर का अनुकूल प्रभाव पड़ सकता है। साझेदारी में काम को लेकर अब आप कुछ उत्साहित होंगे, लेकिन आप इसमें अपने कार्यस्थल पर सुधार देखेंगे और गोचर का प्रभाव आपको अनुकूल परिणाम देगा।  इस राशि के लोगों को प्रमोशन/Job promotion मिलने के योग हैं। यहां तक कि, आपको वेतन वृद्धि भी मिलेगी जिससे आपके खर्चे कम होंगे। व्यवसाय को लेकर सजग होकर फैसले ले सकते हैं। अपने सभी ऋणों को चुकाने का अवसर मिल सकता है। सेहत के मामले में थोड़ा ध्यान रखने की आवश्यकता होगी, नियमित व्यायाम करना सेहत और मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छा होगा। अपने जीवन साथी के साथ संबंध मजबूत करने में सफल रहेंगे और उनकी सलाह आपके लिए काफी फायदेमंद रह सकती है। कुछ बातों में तनाव हो सकता है और निराशा का सामना करना पड़ सकता है लेकिन स्थिति में नियंत्रित रहेगी। 

बुध के मीन राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव//Effect of mercury transit in Pisces on Libra

तुला राशि वालों के लिए बुध का गोचर बुध ग्रह आपके छठे भाव में विराजमान आपके छठे भाव में गोचर के कारण आपको सफलता प्राप्त करने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है। काम के स्थान पर सहकर्मियों के साथ तालमेल की कमी भी परेशान कर सकती है। इससे आप काम को लेकर चिंता अधिक रह सकती है, आमदनी के लिए कोशिशें बनी रह सकती हैं। स्वास्थ्य को लेकर ध्यान बनाए रखने की आवश्यकता होगी। अपने आहार में लापरवाही और गलत लत के चलते किसी कारण से परेशानी में आ सकते हैं। आपको किसी भी प्रकार के तर्क-वितर्क या बहस में शामिल न होने का प्रयास करना चाहिए क्योंकि इस समय विवाद होने की समस्या सामने आ सकती है। दोस्तों के साथ आप काफी व्यस्त रह सकते हैं और इसी समय आप बाहरी लोगों के संपर्क में भी आ सकते हैं। इस समय पर दांपत्य जीवन में स्थिति थोड़ी मुश्किल रह सकती है दूसरों के चलते आपका रिश्ता इस समय प्रभावित हो सकता है। 

बुध के मीन राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Scorpio

वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर पंचम भाव पर होगा। बुध आपके आठवें और ग्यारहवें भाव के स्वामी बनते हैं। इस समय पर आप कुछ अधिक उत्साहित रह सकते हैं, शिक्षा के क्षेत्र में स्थिति कुछ कमजोर हो सकती है। इस गोचर का परिणाम आपके प्रेम जीवन के संबंध में काफी अनुकूल और प्रतिकूल स्थिति होगी। अपने साथी के साथ समय बिताने का मौका भी मिल सकता है। इस समय पर अपनी जिद में भी आप अधिक रह सकते हैं इस कारण कुछ गलतफहमियां पैदा हो सकती हैं। छात्रों को अपनी पढ़ाई को लेकर तनाव रहेगा और प्रतिस्पर्धा भी अधिक रह सकती है। बच्चों को लेकर और उनके स्वभाव के चलते कुछ चिंता रह सकती है। लॉटरी, शेयर बाजार से जुड़े काम में अधिक धन लगाना अनुकूल नहीं होगा। इस समय दूसरों को उधार देने से बचना चाहिए। कई स्रोतों से कमाई के मार्ग खुल सकते हैं। इस समय पर कड़ी मेहनत और समर्पण आपको सफलता की ओर ले जाएगा।

बुध के मीन राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Sagittarius 

धनु राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर चतुर्थ भाव/Fourth house पर होगा। इस स्थान पर बुध की स्थिति के कारण आप अपने ओर आस पास के लोगों की स्थिति को लेकर अधिक सोच विचार में रह सकते हैं।  इस गोचर के दौरान लाभ मिल सकता है और अपने काम के क्षेत्र में भी कुछ लोगों का सहयोग आगे बढ़ाने में सहायक बन सकता है। इस समय पर आपको सलाह अधिक मिल सकती है। नौकरी पेशा वाले अपने-अपने क्षेत्रों में कुछ बदलाव देख पाएंगे तथा इस समय साझेदारी से बने हुए काम कुछ नए स्तर पर आगे बढ़ सकता है। काम के लिए आपके कर्मचारियों द्वारा आपकी प्रशंसा भी हो सकती है। वेतन वृद्धि या पदोन्नति मिलने का भी मौका मिलेगा। इस समय परिवार में किसी व्यक्ति के द्वारा चीजों में बदलाव करने की आवश्यकता होगी। कुछ वैवाहिक मामलों के चलते भी रिश्ते में लोगों का हस्तक्षेप रह सकता है। घरेलू स्तर पर आर्थिक स्थिति भी थोड़ी खर्च की अधिकता के चलते प्रभावित भी होगी। भाई-बहनों के साथ संबंध अनुकूल रह सकते हैं। आपका साथी कुछ आगे बढ़कर फैसले भी ले सकता है। इस समय आपका स्वास्थ्य स्थिर रहेगा, लेकिन घर पर किसी ओर की चिंता थोड़ी परेशान कर सकती है। 

बुध के मीन राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Capricorn

मकर राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर तृतीय स्थान/third house पर होगा। इस स्थान पर बुध का प्रभाव आपके विकास में वृद्धि करने वाला होगा यह स्थिति जीवन के विभिन्न क्षेत्रों पर दिखाई देगी। आप आत्मविश्वास से भरे हो सकते हैं अपनी इच्छाओं को पूरा करने के लिए भी आप आगे रह कर काम करना चाहें। इस समय कुछ भ्रमण के योग बनेंगे। अचानक से ही परिवार के साथ या फिर अकेले ही यात्रा इत्यादि पर जाने का मौका मिल सकता है। 

भाग्य का सहयोग भी इस समय आपकी प्रतिभा को बढ़ाने का अवसर देगा। संचार एवं लेखन से जुड़े काम कर रहे लोगों को कुछ बेहतर अवसर मिल सकते हैं। बुद्धि व स्मरण शक्ति अच्छी होगी शिक्षा को लेकर एकाग्रता अब काम आएगी और जीवन के विभिन्न पहलुओं में सफलता प्राप्त करने की आपकी कोशिशों को सकारात्मकता भी प्राप्त हो सकती है। काम के दौरान अपने सहकर्मियों के साथ आपके मतभेद अधिक रह सकते हैं लेकिन अपनी सुनियोजित योजनाओं द्वारा आप उन पर नियंत्रण कर पाने में भी सक्षम होंगे। 

बुध के मीन राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of mercury transit in Pisces on Aquarius

कुंभ राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव/Second house पर होगा। इस समय आप नए मित्र बनाएंगे और आपकी वाक कुशलता दूसरों को प्रभावित करने वाली होगी। यह समय आपके जीवन पर सकारात्मक और नकारात्मक दोनों प्रभाव डाल सकता है। आपके पिता या किसी बड़े के साथ आपके विवाद कुछ शांत होंगे और उनकी ओर से सहयोग को पा सकते हैं। किसी पुराने काम में चला आ रहा विलंब अब दूर हो सकता है। घर पर लोगों के साथ कुछ सौहार्दपूर्वक समय बिताने का भी अवसर मिल सकता है। अपने प्यार को लेकर आप अभी किसी अपने के समक्ष दिल की बात भी रख सकते हैं, वैसे ऐसा करने में उन्हें कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा लेकिन फिर भी आप हर उठने वाले विवाद को दूर करने का एक तरीका खोज ही लेंगे। इस समय धैर्य के साथ काम करना उचित होगा। आर्थिक क्षेत्र में लाभ का अवसर मिलेगा अपने बचत को लेकर भी आप कुछ काम कर सकते हैं। कुछ अप्रत्याशित स्रोतों से लाभ मिलने की प्रबल सम्भावना भी बनती है। दोस्त और परिवार आपका सहयोग कर सकते हैं बस इस समय अपने गुप्त शत्रुओं से सावधान रहने की जरूरत होगी। स्वास्थ्य के लिहाज से गले और त्वचा से संबंधित रोग परेशानी दे सकते हैं। 

बुध के मीन राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/ /Effect of mercury transit in Pisces on Pisces

मीन राशि के लोगों के लिए बुध ग्रह का गोचर/Mercury transit इनकी राशि पर ही होगा। बुध का प्रभाव इन्हें वैचारिक क्षेत्र में कई नई चीजों से रुबरु कराने वाला हो सकता है। इस समय आप स्वयं को लेकर भी काफी सोच विचार में रह सकते हैं। कुछ नई वस्तुओं की खरीद फरोख्त कर सकते हैं साथ ही अपने रहन सहन में बदलाव भी कर सकते हैं। इस समय स्वास्थ्य को लेकर भी आप में चिंता रह सकती है इसलिए उचित स्वास्थ्य सेवा लेने की सलाह दी जाती है। नौकरी के क्षेत्र में अपने प्रतिद्वंद्वियों से सुरक्षित न रह पाएं कुछ प्रतिस्पर्धा अथवा गुप्त शत्रुओं द्वारा तनाव बना रह सकता है। नौकरी बदलने की योजना बना रहे हैं, तो अभी कुछ और समय की प्रतीक्षा करना बेहतर होगा। अपने काम को लेकर सावधान रहना चाहिए क्योंकि उनके प्रतिद्वंद्वी आपकी छवि खराब करने का प्रयास कर सकते हैं। वैवाहिक जीवन में आपको अपने साथी पर उचित ध्यान देने की आवश्यकता होगी जिससे एक-दूसरे को बेहतर तरीके से जानने में मदद मिलेगी।

बुध का मेष राशि में गोचर का प्रभाव
08 Apr,2022
से
24 Apr,2022

बुध का गोचर बहुत तेजी वाला होता है। बुध का मेष राशि में होना बौद्धिकता में प्रखरता देने वाला होगा। चीजों को करने में गहराई के साथ साथ कुशलता और साहस भी अब अहम भूमिका अदा करेगी। इस समय बातों से अधिक कार्यवाही पर विचार हो सकता है। मेष राशि मंगल के स्वामित्व की राशि है जिसे अग्नि तत्व युक्त राशियों में गिना जाता है और मंगल की इस स्थान पर स्थिति व्यक्ति के मनोभावों में बदलाव दिखाती है। साथ ही फैसले प्रभावशाली रूप में दूसरों पर असर भी डालते हैं। बुध के द्वारा मेष राशि के लोगों की तर्क शक्ति उत्तम हो सकती है और साथ साथ कला कौशल में निखार देखने को मिल सकता है। किसी भी कार्य को करने में व्यक्ति बेहतर परिणाम प्राप्त करने के लायक बन सकता है। वाणी के प्रभाव द्वारा दूसरों पर अपनी छाप छोड़ने में भी सक्षम होगा। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर लग्न भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव के चलते आपके भीतर सामान्य लोगों से हटकर काम करने की इच्छा जागृत हो सकती है। यदि किसी ऐसे काम से जुड़े हुए हैं, जिसमें प्रतिभा का प्रदर्शन करने की आवश्यकता है तो उस स्थान पर बहुत अच्छा कार्य करने में सफल भी रह सकते हैं। साहस और शौर्य में इजाफा होगा। अपने निर्णयों में काफी अडिग रह सकते हैं। नेतृत्व करने की कुशलता तो होगी पर अब अपनी बातों द्वारा भी इसे चमका पाएंगे। आपके वक्तव्यों को दूसरों द्वारा ध्यान प्राप्त होगा और उस पर लोगों का विश्वास भी बढ़ेगा। वैवाहिक जीवन में प्रेम और सहयोग प्राप्त होगा। इस समय रोमांस आपके रिश्ते को ताजगी देने का कार्य भी कर सकता है। स्वास्थ्य के लिहाज से खानपान में लापरवाही परेशानी खड़ी कर सकती है। कार्यक्षेत्र में प्रगति के मौके भी आपके पास होंगे। अवसरों का लाभ उठाने के लिए समय अनुकूल रह सकता है। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर/Mercury transit द्वादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस समय खर्चों की अधिकता रह सकती है, इसके साथ ही किसी बड़े निवेश करने भी विचार भी इस समय मन में आ सकता है। परिवार में काम को लेकर आपकी भागदौड़ बनी रह सकती है, परिश्रम अधिक रहने वाला है। नौकरी अथवा व्यापार में बाहरी संपर्क या दूरस्थ स्थानों से लाभ की प्राप्ति का भी योग बनता है। काम के क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा भी अधिक रहने वाली है, इसलिए जल्दबाजी के निर्णय लेने से बचना होगा। इस समय अपनी नीतियों को दूसरों से छुपा कर रखने की आवश्यकता होगी। कानूनी मसलों पर सलाह काम आएगी और जितना चीजों में स्थिरता बनाएंगे उतना लाभ मिलेगा। जीवन साथी के साथ कुछ मतभेद उभर सकते हैं या फिर प्रेम संबंधों में थोड़ी अनबन की स्थिति भी परेशानी का सबब बन सकती है। यह समय खुद पर ध्यान देने का होगा और दु:साहसिक कार्यों से बचने की आवश्यकता होगी। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव/Eleventh house को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव से आप को पद प्राप्ति हो सकती है। अतिरिक्त आय के साधनों के मिलने का भी योग इस समय पर आपके लिए फायदे का सौदा सिद्ध हो सकता है। जो लोग संचार इत्यादि के क्षेत्र से जुड़े हुए हैं, उन्हें अपने काम में बेहतर अवसर प्राप्त हो सकते हैं। परिवार में लोगों के साथ थोड़ा अनबन हो सकता है, लेकिन कुल मिलाकर स्थिति आपके नियंत्रण में होगी। अपने प्रेम द्वारा आप दूसरों को अपनी ओर आकर्षित करने में भी सक्षम होंगे। प्यार के मामले में आप काफी उत्सुक रहेंगे एवं नए संबंधों की ओर झुकाव भी रह सकता है। इस समय पर अपने मित्रों के साथ घूमने फिरने के मौके मिल सकते हैं। छात्रों को अपनी पढ़ाई में अच्छे अंक लाने का मौका भी प्राप्त होगा। एकाग्रता बढ़ेगी तथा सकारात्मक रुप से आगे बढ़ पाएंगे। 


मेष राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on cancer

कर्क राशि के लिए बुध दशम भाव को प्रभावित करने वाले हैं। बुध के कर्म भाव/Karma House को प्रभावित करने के कारण काम में बदलाव दिखाई दे सकता है। काम में आपकी व्यस्तता अधिक रह सकती है, लेकिन सहकर्मियों की ओर से बहुत अधिक सहयोग शायद न मिल पाए। इस समय पर वरिष्ठ अधिकारियों को संतुष्ट कर पाना आसान काम नहीं होगा, लेकिन आप अपनी कार्यकुशलता एवं शैली से उन्हें प्रभावित करने में सक्षम होंगे। यह समय आपके काम से जुड़ी यात्राओं की ओर भी संकेत करता है। परिवार को बहुत अधिक समय न दे पाने के कारण थोड़ा मन परेशान हो सकता है, लेकिन अपनी जिम्मेदारियों को निभाने में आप आगे रहेंगे। बाहरी संपर्क द्वारा काम में लाभ के मौके भी बनेंगे। इसके साथ ही मेहनत अधिक रहने वाली है। माता का सहयोग आपके लिए बहुत सकारात्मक रहेगा और रिश्तों में मजबूती बनी रहेगी। 


मेष राशि में बुध के गोचर का सिंह राशि पर प्रभाव//Effect of Mercury transit in Aries on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का गोचर इनके नवम भाव/Ninth house पर प्रभाव डालने वाला होगा। बुध के कारण आपकी आध्यात्मिक उन्नति के साथ-साथ आपके सामाजिक क्षेत्र का विकास भी होगा। इस समय पर लोगों के साथ संपर्क बनेंगे। इस समय पर पिता का सहयोग आपको अपने काम में बेहतर प्रयास करने का अवसर देगा। सकारात्मक विचारों का आदान-प्रदान करेंगे। मेहनत द्वारा इनकम के स्रोत भी अच्छे होंगे। पारिवारिक जीवन में अपनों का सहयोग काम आएगा। इस समय पर भाई बंधुओं की ओर से कुछ सकारात्मक समाचार भी प्राप्त हो सकते हैं। धार्मिक क्षेत्र से जुड़ी यात्राएं अधिक हो सकती हैं। शिक्षा एवं अन्य चीजों पर खर्च अधिक रह सकता है। दांपत्य जीवन में किसी का आगमन रिश्तों में कुछ परेशानी खड़ी कर सकता है लेकिन आपके द्वारा लिए गए निर्णय इस स्थिति से बचने में सहायक भी होंगे। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर अष्टम भाव/Eighth house को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के इस गोचर द्वारा स्थिति मिले जुले परिणामों को दर्शाने वाली रह सकती है। कुछ लाभ मिल सकते हैं, लेकिन अचानक से उनमें व्यवधान की स्थिति भी उभर सकती है। इस समय पर संभल कर काम करने की सलाह दी जाती है। कोई भी जरुरी काम को करने से पूर्व सभी चीजों का ध्यान रखने की आवश्यकता होगी, जिससे की कोई कमी परेशानी का कारण न बन पाए। यह समय चुनौतीपूर्ण रह सकता है। बुध का आठवें भाव में गोचर के प्रभाव/Effect of mercury transit in eighth house के कारण स्वास्थ्य का भी ध्यान रखने की आवश्यकता होगी साथ ही खान-पान को संतुलित बनाए रखने की आवश्यकता होगी। इस समय पर काम काज में कुछ रुकावटें उभर सकती हैं जिसके कारण आत्मविश्वास कमजोर हो सकता है, कुछ लोगों का सहयोग काम आ सकता है लेकिन फिर भी इस समय पर दूसरों पर अधिक भरोसा करने से बचना ही उचित होगा। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Libra

आपकी राशि के लिए बुध सप्तम भाव/Seventh house पर प्रभाव डालने वाला होगा। बुध के प्रभाव द्वारा जीवन में प्रेम व उत्साह बना रह सकता है। रिश्तों को लेकर आप अधिक विचारशील रहेंगे। प्रेम संबंध हों या वैवाहिक जीवन दोनों में ही प्रेम की स्थिति को पा सकते हैं ध्यान रखना होगा की बहुत अधिक जल्दबाजी से बचें। कुछ  चीजों में आपके द्वारा की गई जिद परेशानी भी खड़ी कर सकती है। इस समय मित्रों का सहयोग मिलेगा और कुछ वस्तुओं की खरीद भी कर सकते हैं। साझेदारी से जुड़े कामों में कुछ लाभ प्राप्ति का अवसर भी दिखाई देता है, इसके अलावा नए काम को शुरू करने के बारे में भी विचार बन सकता है। आर्थिक रूप से बचत पर प्रभाव पड़ सकता है जिसका मुख्य कारण खर्चों के कारण ही होगा। करियर और कारोबार के क्षेत्र में नए आईडिया इस समय काम कर सकते हैं। मनोकूल परिणाम पाने के लिए संघर्ष होगा, पर सफलता के भी संकेत मिल सकते हैं। 

 

मेष राशि में मंगल के गोचर का  वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध का गोचर छठे भाव/Sixth House को प्रभावित करने वाला होगा। यह समय आपकी काम करने की नीतियों में बदलाव भी संभव है, अपने विरोधियों की ओर से सावधानी बरतें इसके साथ ही काम के क्षेत्र में सहकर्मियों की ओर से सहयोग की कमी रह सकती है। जल्दबाजी में किए हुए काम से परेशानी हो सकती है। कुछ मामलों में सफलता वैसे न मिल पाए जैसा सोचा होगा लेकिन इस बात से निराश न हों क्योंकि स्थिति आपके पक्ष की रहेगी।  पैतृक संपत्ति द्वारा लाभ प्राप्त हो सकता है। परिवार में कुछ लोगों का व्यवहार चिंता बढ़ा सकता है। इस समय आप भी कुछ चिड़चिड़ाहट में रह सकते हैं, इसलिए वाद-विवाद से बचें तथा बातों को लम्बा खींचने से बचें। किसी प्रकार की चोट लगने का भय भी सता सकता है, त्वचा पर दाने इत्यादि भी उभर सकते हैं अधिक मसालेदार भोजन के बदले संतुलित भोजन अधिक फायदेमंद होगा। 

 

मेष राशि में बुध के गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Sagittarius

धनु राशि के लिए बुध का गोचर पंचम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। पंचम भाव/Fifth House पर बुध का प्रभाव आपकी कार्यकुशलता में वृद्धि देने वाला हो सकता है। नई चीजों को करने में आप आगे रह सकते हैं, प्रतियोगिताओं में आप सफलता भी प्राप्त कर सकते हैं। बाहरी संपर्क से फायदा मिल सकता है। छात्र नए संस्थानों में अपने लिए आवेदन इत्यादि की प्रक्रिया को अभी कर सकते हैं। उच्च शिक्षा के लिए भी मार्ग प्रशस्त होंगे। रिश्तों में एक दूसरे का सहयोग पाएंगे। प्यार के मामले में भाग्य का सहयोग मिल सकता है जिस कारण रिश्तों में मजबूती भी बनेगी। स्वयं में सकारात्मक पाएंगे तथा उसी के माध्यम से रचनात्मक एवं कला से जुड़े काम अच्छी सफलता दिलाने वाले होंगे। जो लोग रंगमंच से जुड़े हुए हैं उन्हें इस समय बेहतर परिणाम प्राप्त हो सकते हैं।

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Capricorn

इस समय आप दूसरों को आकर्षित कर पाने में भी सफल होंगे। आप का जोश व उत्साह दूसरों को प्रभावित करने वाला होगा, आपका संचार कौशल मजबूत रह सकता है। कुछ सामाजिक क्षेत्र में आपके काम की भूमिका को प्रशंसा भी प्राप्त हो सकती है। इस समय पर घर की साज-सज्जा पर भी ध्यान जा सकता है। कुछ नई वस्तुओं को खरीदने का मन बना सकते हैं। यह समय खर्च अधिक रहेगा लेकिन साथ ही काम में अतिरिक्त आय की प्राप्ति होने से स्थिति संतुलित रह सकती है। प्यार में साथी से दूरी रह सकती है काम की व्यस्तता व घरेलू जिम्मेदारियों के चलते स्वयं के लिए अधिक समय न मिल पाए। दांपत्य जीवन में जीवन साथी के स्वास्थ्य के चलते थोड़ी परेशानी हो सकती है।

 

मेष राशि में बुध के गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव/Third House को प्रभावित करने वाला होगा। बुध का तीसरे भाव पर प्रभाव होने के कारण उत्सुकता अधिक रह सकती है, घरेलू व काम के क्षेत्र में तेजी का समय रह सकता है। भागदौड़ अधिक रह सकती है। भाई बहनों के साथ कुछ झगड़ा हो सकता है लेकिन जल्दी सुलझ भी जाएगा। काम के क्षेत्र में इस समय दूसरों के साथ  सलाह मशवरा कर लेना अनुकूल होगा। यह समय कान से जुड़े रोग व कंधों की तकलीफ परेशान कर सकती है। इस समय वाहन का उपयोग करते समय तेजी का ध्यान रखें एवं वाहन की रखरखाव पर भी ध्यान देने की जरूरत है। माता की ओर से आपको प्रेम और सहयोग प्राप्त हो सकता है। बच्चों को लेकर घूमने फिरने का प्लान अभी शायद कुछ अधिक समय ले सकता है।  

 

मेष राशि में बुध के गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Aries on Pisces

मीन राशि वालों के लिए बुध का गोचर द्वितीय भाव को प्रभावित करने वाला होगा। धन भाव पर बुध का गोचर कई मामलों में प्रभावशाली रह सकता है। इस समय पर चुनौतियों का सामना करने की भी अच्छी कुशलता आप में हो सकती है। यह समय आप अपनी वाणी से दूसरों को प्रभावित करने में सक्षम हो सकते हैं। इस समय पर स्वास्थ्य कुछ प्रभावित रह सकता है। हार्मोनल बदलाव एवं सर्दी जुकाम बना रह सकता है। एलर्जी से होने वाले रोग भी परेशान कर सकते हैं। बैंक इत्यादि से जुड़े काम इस समय पर आप कर सकते हैं। कामकाज में अचानक से कुछ बदलाव भी रह सकता है, ऐसे में थोड़ी परेशानी होगी लेकिन जल्दी ही स्थिति नियंत्रण में आने लगेगी। धन लाभ के अवसर भी मिल सकते है, किसी को दिया हुआ धन भी प्राप्त हो सकता है।

बुध का वृषभ राशि में गोचर/Mercury transit in Taurus
25 Apr,2022
से
01 Jul,2022

वैदिक ज्योतिष के अनुसार बुध ग्रह व्यक्ति की बुद्धि, वाणी, संचार, निर्णय लेने की क्षमता एवं व्यवहार को प्रभावित करता है। राशि चक्र में दूसरी राशि वृषभ है और इसका स्वामी ग्रह शुक्र है, जिसका बुध के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध माना गया है। इसके साथ ही, यह राशि किसी की इच्छा शक्ति, कठोरता, आय, लक्ष्यों, महत्वाकांक्षाओं, परिवार और दोस्तों आदि का प्रतीक होता है। बुध ग्रह, वृषभ के दूसरे और पांचवें भाव का स्वामी होता है। वृषभ राशि पर बुध का प्रभाव वृषभ राशि के लिए अनुकूल प्रभाव देने वाला माना गया है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार, आपका दूसरा भाव किसी के पारिवारिक संबंधों, व्यावसायिक परिस्थितियों, नौकरी, प्रतिभा और भौतिकवादी चीजों जैसे संपत्ति, खाद्य पदार्थ, संपत्ति, संसाधन आदि को दर्शाता है। वहीं, आपका पंचम भाव रचनात्मक प्रतिभा, शैक्षणिक योग्यता, मनोरंजन, ऊर्जा और उत्साह, नई चीजों में रुचि, प्रतियोगिता आदि का प्रतिनिधित्व करता है। इसलिए इन सभी क्षेत्रों में बुध के गोचर/Mercury transit in Taurus का कुछ न कुछ प्रभाव अवश्य देखने को मिल सकता है।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का मेष राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Aries

मेष राशि के लिए बुध का गोचर दूसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। आपकी राशि के दूसरे भाव में बुध ग्रह का गोचर होने से वाणी एवं ज्ञान पर अनुकूल प्रभाव देखने को मिल सकता है। आप अपने विचारों को धाराप्रवाह रूप से व्यक्त करने में सक्षम होंगे। लोग आपके अच्छे इरादों को समझेंगे और आपको उनका पूरा सहयोग मिल सकता है। कार्यक्षेत्र में सहकर्मियों का सहयोग भी प्राप्त हो सकता है। आपके विचारों की उत्कृष्टता एवं आपका आत्मविश्वास आपको सफलता दिलाने में सहायक सिद्ध हो सकता है। हालाँकि कुछ मामलों में आपके आत्मविश्वास और वाणी के प्रभाव से दूसरे लोग आपसे ईर्ष्या भी कर सकते हैं, साथ ही कुछ मामलों में तर्क-वितर्क विवाद की स्थिति में भी पहुंच सकता है इसलिए आवश्यकता होगी स्वयं को शांत बना कर रखने की ओर व्यर्थ के विवाद से खुद को बचाने की कोशिश करें। संपत्ति या निवेश के माध्यम से लाभ कमाने की अच्छी संभावना देखने को मिल सकती है। प्रेम संबंधों में थोड़ा कमी देखने को मिल सकती है। खानपान में ध्यान रखने और नियमित रुप से व्यायाम इत्यादि क्रियाओं को जीवन शैली में शामिल करने से आपका स्वास्थ्य अच्छा बना रह सकता है। आप कुछ खेल गतिविधियों में भी शामिल हो सकते हैं जो आपको फिट रखने में सहायक होंगी।

वृषभ राशि में बुध के गोचर का वृषभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Taurus

वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर इनके लग्न भाव/Ascendant को प्रभावित करने वाला है अर्थात इनकी ही राशि पर होने वाले बुध के गोचर के कारण इनका व्यक्तित्व और विचारधारा में बदलाव और स्थिरता देखने को मिल सकती है। इसके प्रभाव से आप अपनी वाक कौशल में सुधार एवं बदलाव को देख पाएंगे। आपके बोलने का प्रभावशाली तरीका कई लोगों को आकर्षित करने में सक्षम होगा। आपको एक मजबूत व्यक्तित्व प्राप्त हो सकता है। इस समय के दौरान आप मृदुभाषी और विनम्र व्यवहार से युक्त होंगे जो सभी के दिलों को छू लेने वाला होगा। इस समय संबंधों में आपको कुछ सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है। आपसी समझ और प्रेम में वृद्धि होगी। इस समय को वृषभ राशि के लोग शांति और सद्भाव से व्यतीत करने में सक्षम होंगे। कार्यक्षेत्र में आपको अपनी मेहनत और लगन के कारण सफलता भी प्राप्त हो सकती है। यह समय जरूरी है कि कार्यालय की राजनीति से दूर रहें। अपने काम को समय रहते पूरा करने का प्रयास करें। स्वास्थ्य सामान्य रह सकता है, उचित आहार शैली और नियमित व्यायाम द्वारा आप अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रख सकते हैं।

वृषभ राशि पर बुध के गोचर का मिथुन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Gemini

मिथुन राशि के लिए बुध का गोचर द्वादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस गोचर के प्रभाव से आपकी आर्थिक स्थिति पर असर पड़ सकता है, क्योंकि द्वादश भाव व्यय का भाव भी होता है। ऐसे में खर्चों की अधिकता बनी रहने से बचत प्रभावित हो सकती है। बुध ग्रह आपकी राशि के बारहवें भाव/Twelfth house में होगा, जो मानसिक तनाव और काम की क्षमता को दर्शाने वाला होगा। इस समय के दौरान, मानसिक और शारीरिक रूप से कुछ तनावपूर्ण स्थिति से गुजरना पड़ सकता है। इसलिए, बहुत अधिक कार्य करके अपने आप को तनाव में न डालें और काम में संतुलन बनाए रखने का प्रयास करें।  व्यावसायिक गतिविधियों में भाग्य का सहयोग मिल सकता है और लाभ के अवसर प्राप्त हो सकते हैं। इस समय पर खर्चों पर नज़र बनाए रखना आवश्यक होगी अन्यथा अनावश्यक खर्च करना आपको परेशानी में भी डाल सकते हैं। अपने साथी के साथ लम्बी दूरी की यात्रा पर जाने का अवसर मिल सकता है। प्रेम संबंधों में बनी दूरी को समाप्त करने के लिए किए गए आपके प्रयास ही आपको बेहतर फल दे सकते हैं। कार्यक्षेत्र अथवा किसी भी काम में विलम्ब की स्थिति से बचें। समय पर काम पूरा करने से आपको अच्छे लाभ की प्राप्ति भी हो सकती है। 

वृषभ राशि में बुध के गोचर का कर्क राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Cancer

कर्क राशि के लिए बुध का गोचर एकादश भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के लाभ भाव पर गोचर के कारण आपको आर्थिक रूप से कुछ अच्छे संकेत देखने को मिल सकते हैं। इस समय पर आपको अपने वित्त, रिश्ते, परिवार, काम-काज, बौद्धिकता आदि के मामले में कुछ लाभ प्राप्त करने के अवसर मिल सकते हैं। विदेश व्यापार के माध्यम से काम में वृद्धि, नए संबंध बनाने और अपने वित्तीय क्षेत्रों में  लाभ प्राप्ति के मौके मिल सकते हैं। इस समय दांपत्य जीवन/Married life में साथी की ओर से सहयोग की प्राप्त होती दिखाई देती है। रिश्तों में मजबूती देखने को मिल सकती है। प्रेम संबंधों में स्थिति अनुकूल होगी और साथी के साथ आपसी समझ में भी मजबूती मिलेगी। कुछ बातों को लेकर नोकझोंक की स्थिति उभर सकती है, लेकिन अपने स्नेह और प्रेम द्वार आप उन्हें दूर कर सकते हैं। इस समय पर अपने अधिकारियों की ओर से सहयोग मिल सकता है और किसी वरिष्ठ सदस्य का सहयोग काम आ सकता है। अपने बौद्धिक विचारों से अलग अच्छी छवि बनाने में भी सफल हो सकते हैं। इस समय पर स्वास्थ्य को नजरअंदाज न करें, इस समय पर धूल-हवा और साफ सफाई में कमी के चलते स्वास्थ्य प्रभावित हो सकती है, इसलिए अपना और अपने आस-पास की साफ सफाई एवं सुरक्षा का उचित ख्याल रखने की आवश्यकता होगी। 

वृषभ राशि में बुध के गोचर का सिंह पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Leo

सिंह राशि के लिए बुध का प्रभाव इनके दशम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के कर्म भाव पर होने से आपके काम काज का क्षेत्र प्रभावित होगा। बुध के इस गोचर का आपके जीवन पर महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ सकता है। ऑफिस में आप अधिक केन्द्रित दिखाई दे सकते हैं।  इस समय आपके काम की सहयोगियों और वरिष्ठों द्वारा प्रशंसा भी की जा सकती है। आपके काम में आपकी उत्कृष्टता और समर्पण शैली ही आपकी सफलता का मुख्य आधार होगी। कुछ वरिष्ठ अधिकारी आपके पक्ष में फैसले भी ले सकते हैं। परिवार में सुख समृद्धि का योग बनता है, प्रेम संबंधों में सकारात्मकता बनी रहने से स्थिति अनुकूल होगी। आपको अपने जीवनसाथी/Life partner और प्रेमी की ओर से भरपूर सहयोग प्राप्त हो सकता है। आपको अपने लोगों का साथ हर कदम पर मिल सकता है। स्वास्थ्य सामान्य रह सकता है, इस समय पर स्पोर्ट्स या योग इत्यादि शारीरिक गतिविधियों में शामिल होने से मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूती प्राप्त होगी। यदि स्वास्थ्य को नजरअंदाज करते हैं तो लंबे समय तक नकारात्मक रूप से प्रभावित हो सकते हैं। आर्थिक स्थिति सामान्य रह सकती है और संपत्ति इत्यादि में निवेश करने से लाभ के अच्छे अवसर प्राप्त हो सकते हैं।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का कन्या राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Virgo

कन्या राशि के लिए बुध का गोचर नवम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के गोचर द्वारा भाग्य का सहयोग मिलना संभव होगा। कामकाज में तेजी और कुछ उन्नति के अवसर भी मिल सकते हैं। काम के सिलसिले में अथवा अन्य कारणों से यात्राओं का भी समय बना हुआ है। किसी लम्बी दूरी की यात्रा पर भी जा सकते हैं। यदि आप अपनी नौकरी बदलने की कोशिश में हैं या नए काम की तलाश में तो इस समय पर कुछ अनुकूल परिणाम मिल सकते हैं। सामाजिक क्षेत्र में व्यस्त रह सकते हैं, तथा अच्छे कार्यों के कारण आपको लोगों के मध्य पहचान बनाने का अवसर भी प्राप्त हो सकता है। समाज में एक विशेष स्थान भी अर्जित करने सक्षम होंगे। प्रेम संबंधों/Love relationship के लिए स्थिति अनुकूल दिखाई देती है। अपने जीवन साथी के साथ कुछ अच्छा समय व्यतीत कर पाएंगे। इस समय पर स्वास्थ्य के लिहाज से बाहरी खान पान पर थोड़ा नियंत्रण बनाए रखने की आवश्यकता है। कुछ छोटी-मोटी स्वास्थ्य समस्याएं उभर सकती हैं, लेकिन इनसे जल्द ही निजात भी प्राप्त होगी। 

बुध के वृषभ राशि में गोचर का तुला राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Libra

तुला राशि के लिए बुध का गोचर आपके आठवें भाव पर होने से इस समय के दौरान मिले जुले परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। अचानक से कुछ नुकसान अथवा आर्थिक क्षेत्र में खर्चों की अधिकता परेशान कर सकती है। इस समय अप्रत्याशित रूप से चीजें आप पर असर डालने वाली रह सकती हैं।  इस समय पर आप कुछ नई चीजों को सीखने के प्रति अधिक इच्छुक रह सकते हैं। आपका झुकाव आध्यात्मिक क्षेत्र की ओर भी अधिक रह सकता है। इस समय पर पुराने निवेश कुछ फायदे का सौदा भी सिद्ध हो सकते हैं, साथ है पैतृक संपत्ति/Ancestral property से कुछ लाभ मिल सकता है। दांपत्य जीवन/Married life में साथी के साथ कुछ अनबन रह सकती है, और आपकी वाणी में कुछ कठोरता देखने को मिल सकती है, इसलिए आपको शांति और सावधानी से काम करने की आवश्यकता होगी तभी आप स्थिति को बेहतर ढंग से संभाल पाएंगे। इस समय पर किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य समस्या को नजरअंदाज करने से आपके शरीर पर नकारात्मक प्रभाव भी पड़ सकता है इसलिए चिकित्सक की सलाह अवश्य लीजिए। कार्यक्षेत्र में आपकी कड़ी मेहनत से सफलता की राह आसान हो सकती है। इस समय पर किसी भी प्रकार के शॉर्टकट से बचना ही उचित होगा तथा समझदारी व ईमानदारी से किया हुआ काम फायदा देगा। 

बुध के वृषभ राशि में गोचर का वृश्चिक राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Scorpio

वृश्चिक राशि के लिए बुध गोचर/Mercury transit सप्तम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव से आपको कुछ अनुकूल फलों की प्राप्ति हो सकती है, लेकिन साथ ही कुछ चुनौतियों का सामना भी करना पड़ सकता है। आप की वाणी में बदलाव दिखाई देगा जो सकारात्मक और नकारात्मक दोनों तरह से प्रभाव दिखा सकता है। आपको अपने वैवाहिक जीवन में भी कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। अपने रिश्ते को मजबूत करने के लिए बेहतर संचार की आवश्यकता होगी और इसे अच्छा भी बनाया जा सकता है। इस समय खर्चों पर नियंत्रण रखने की सलाह दी जाती है; अन्यथा, आपके व्यर्थ के खर्चों के चलते वित्तीय स्थिति कमजोर हो सकती है। कारोबार से जुड़े लोगों को अभी अपने काम में आगे बढ़ने के लिए सोच समझ कर ही फैसले लेने होंगे जल्दबाजी से बचना ही बेहतर होगा। आप अपने काम में कुछ लाभ की स्थिति भी देख सकते हैं।  अपनी सेहत पर ध्यान बनाए रखें और लापरवाही से बचें अन्यथा परेशानी हो सकती है, इसलिए उचित डाइट का पालन करें। स्वयं को फिट रखने के लिए आप व्यायाम एवं योग इत्यादि का सहारा ले सकते हैं यह आपके लिए फायदेमंद होगा।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का धनु राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Sagittarius

धनु राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर छठे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के गोचर का प्रभाव आपके आय और व्यय के घर को सीधे प्रभावित करने वाला है। इस समय के दौरान आप किसी विवाद इत्यादि में फंस सकते हैं। खर्च में वृद्धि देखने को मिल सकती है, जो आपकी बचत को प्रभावित कर सकती। कमाई से अधिक खर्च होने से आप परेशान भी हो सकते हैं। कार्यस्थल पर कुछ प्रतिस्पर्धा अधिक रह सकती है लेकिन मान-सम्मान भी प्राप्त हो सकता है। ईमानदारी और बुद्धिमता द्वारा आप दूसरों पर अपना प्रभाव जमाने में कामयाब हो सकते हैं।  इस समय पर आपको अपने प्रतिद्वंद्वियों से उचित दूरी बनाए रखने की कोशिश करनी चाहिए, क्योंकि वह आपकी छवि को खराब करने की कोशिश कर सकते हैं। कुछ यात्राएं कर सकते हैं, जीवनसाथी के साथ आपके संबंधों उतार-चढ़ाव बना रह सकता है। इस समय अपने स्वास्थ्य में किसी भी प्रकार की समस्या को नजरअंदाज करने से बचना ही उचित होगा क्योंकि इस समय स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का मकर राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Capricorn

मकर राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर पंचम भाव को प्रभावित करने वाला होगा। पंचम भाव बुद्धि और ज्ञान के भाव का प्रतिनिधित्व करते हैं, ऐसे में बुध की इस स्थान पर स्थिति ज्ञान में वृद्धि करने वाली होती है। विभिन्न क्षेत्रों में काम का मौका मिल सकता है। कला एवं रचनात्मक कामों में लाभ की अच्छी संभावना भी देखने को मिल सकती है। छात्रों के लिए यह समय अपनी सफलता के लिए अच्छे रास्ते चुनने की संभावना को दिखाने वाला होगा। आपको अपने प्रेमी को प्रपोज करने का मौका मिल सकता है और नए संबंधों की शुरुआत भी हो सकती है। इस समय अपने साथी के साथ कुछ अच्छे पलों का आनंद ले सकते हैं। कुछ लम्बी दूरी अथवा विदेश यात्राएं भी है सकती हैं, रोमांचकारी समय हो सकता है और आप कुछ नई चीजों को खोज भी पाएंगे। अपनी वाक कुशलता द्वारा लोगों के मध्य उत्तम स्थान प्राप्त कर सकते हैं, आपके विचार कई लोगों को आकर्षित कर सकते हैं और सामाजिक क्षेत्र में स्थिति आपके लिए अनुकूल बनी रह सकती है।

बुध के वृषभ राशि में गोचर का कुंभ राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Aquarius

कुंभ राशि के लिए बुध का गोचर इनके चतुर्थ भाव को प्रभावित करने वाला होगा। बुध के प्रभाव स्वरूप आपको परिवार का सहयोग और लाभ को प्राप्त कर सकते हैं। इस समय यदि आप किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहे हैं, तो इसे अनदेखा करना आपके लिए सही नहीं होगा इसलिए, उचित सावधानी बरतें और डॉक्टरी सलाह का पालन करें। नौकरी के क्षेत्र में प्रतिस्पर्धा रह सकती है और कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। इस समय पर आपके प्रतिद्वंद्वी रास्ते में बाधाएं पैदा करने का प्रयास कर सकते हैं, लेकिन आप उन्हें परास्त करने में भी सक्षम होंगे इसलिए सकारात्मक रहें। कार्यक्षेत्र में अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करें। जीवनसाथी के साथ आपके संबंध अच्छे रह सकते हैं, परिवार के साथ समय बिताने का भी मौका मिल सकता है। इस समय पर अधिक निवेश करने से बचना चाहिए, तथा सोच समझ कर ही किसी कार्य में आगे बढ़ना उचित होगा। 

बुध के वृषभ राशि में गोचर का मीन राशि पर प्रभाव/Effect of Mercury transit in Taurus on Pisces

मीन राशि के लिए बुध का गोचर तीसरे भाव को प्रभावित करने वाला होगा। इस स्थान पर बुध के गोचर स्वरुप आपके पराक्रम और साहस में वृद्धि देखने को मिल सकती है। आपके आत्मविश्वास और इच्छाशक्ति में भी  वृद्धि होगी। आप अपने संचार कौशल/Communication skills में सुधार देखेंगे जो आपको लाभ दे सकता है। संचार से जुड़े काम भी आपके लिए अच्छे रह सकते हैं। इस समय पर किसी काम में आपके द्वारा दिया गया वक्तव्य प्रभावशाली सिद्ध हो सकता है। व्यापार के क्षेत्र में अच्छे अवसर मिल सकते हैं। दोस्तों, परिवार और समाज के लिए आप सहायक सिद्ध हो सकते हैं।  कुछ कम छोटी यात्राएं बनी रह सकती हैं और भागदौड़ भी अधिक हो सकती है। वैवाहिक जीवन में थोड़ा तनाव परेशान कर सकता है इसलिए अपनी ओर से साथी को समय देने की पूरी कोशिश कीजिए। कार्यक्षेत्र में कुशलता का परिचय दे सकते हैं, कड़ी मेहनत और ईमानदारी आपकी एक अच्छी छवि बनाने में सहायक सिद्ध हो सकती है।