Pre-Marriage Counselling | सुखी वैवाहिक जीवन के लिए विवाह पूर्व ज्योतिषीय परामर्श

विवाह से पूर्व ऑनलाइन परामर्श

क्या आप जानते हैं कि बदलते समय के साथ सुखी वैवाहिक जीवन के लिए विवाह पूर्व परामर्श/Pre-marriage counselling लेना जरूरी है।
बहुत से लोगों को ऐसे परामर्श की
आवश्यकता होती है लेकिन देखने की बात यह है कि क्या आपको इस परामर्श की जरूरत है या नहीं।

विवाह पूर्व परामर्श कैलकुलेटर

अभी गणना करें

विवाह पूर्व परामर्श  क्या है?

आप प्रेम विवाह/लव मैरिज कर रहे हों या अरेंज्ड मैरिज कर रहे हो, उसमें यह बिलकुल जरूरी नहीं है कि आप अपने होने वाले जीवनसाथी के बारे में सब कुछ जानते हों। चाहे आप अपना साथी खुद चुन रहे हों या माता-पिता आपके लिए साथी का चुनाव कर रहे हों, आपको यह ध्यान रखने की आवश्यकता है कि आप विवाह उपरांत अपनी वैवाहिक समस्याओं के बीच आपसी तालमेल को ना खो दें।

विवाह पूर्व परामर्श  क्या है?

आप प्रेम विवाह/लव मैरिज कर रहे हों या अरेंज्ड मैरिज कर रहे हो, उसमें यह बिलकुल जरूरी नहीं है कि आप अपने होने वाले जीवनसाथी के बारे में सब कुछ जानते हों। चाहे आप अपना साथी खुद चुन रहे हों या माता-पिता आपके लिए साथी का चुनाव कर रहे हों, आपको यह ध्यान रखने की आवश्यकता है कि आप विवाह उपरांत अपनी वैवाहिक समस्याओं के बीच आपसी तालमेल को ना खो दें।

आपको यह जानने की आवश्यकता है कि क्या आप दोनों मिलकर अपने वैवाहिक जीवन में आ रही परेशानियों को हल कर सकते हैं और यदि नहीं तो कैसे इस समस्या का समाधान किया जाए। ऐसी स्थिति में एक विवाह सलाहकार से सलाह और सहायता लेना आपके और आपके विवाह के लिए लाभकारी साबित हो सकता है। अब आप जरूर यह सोच रहे होंगे कि विवाह पूर्व परामर्श लेना का क्या अर्थ है और यह कैसे आपकी मदद करता है?

हमने आपके लिए इन सवालों के जवाब तैयार किए हैं। विवाह पूर्व परामर्श एक ऐसा प्रभावी तरीका है जहां विवाह के बाद होने वाली अप्रिय समस्याओं की पहचान की जाती है और चर्चा की जाती है कि ऐसी स्थितियों से कैसे निपटा जा सकता है। विश्वास कीजिए यही अप्रिय बातें बाद में वैवाहिक जीवन में अशांति के लिए जिम्मेदार बन जाती हैं। विवाह पूर्व परामर्श दूसरा विवाह यानी सेकंड मैरिज के मामले में और भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

विवाह पूर्व परामर्श सत्र आपको जीवन साथी के प्रति आपसी तालमेल बैठाने में मदद करता है। इस पेज पर एक  संबंध केलकुलेटर/Relationship calculator है  जिसके प्रयोग से आप जान सकते हैं कि आपको परामर्श लेने की जरूरत है या नहीं।

वैवाहिक परामर्शदाता/Marriage counsellor के साथ कुछ सत्र आपको अपने साथी को बेहतर समझने में मदद कर सकते हैं। आप सलाहकार के सामने उन बातों का भी जिक्र कर सकते हैं जिन्हें आप अपने जीवनसाथी के सामने व्यक्त करने से डरते हैं।
एक वैवाहिक सलाहकार सफल वैवाहिक जीवन के लिए आपको सही सलाह और मार्गदर्शन दे सकता है। अगर वैवाहिक जीवन में परेशानियां आ रही हैं, और आपने जल्द ही इसका समाधान नहीं निकाला तो हो सकता है इस संबंध के मायने आप दोनों के लिए जल्द ही खत्म हो जाएं। वैवाहिक परामर्श सत्र/Marriage counselling session एक ऐसा तरीका है जो आपको सही जीवनसाथी का चुनाव करने में मदद करता है।

एक शोध में पाया गया है कि 30% जोड़ों को विवाह पूर्व परामर्श लेने से उच्च स्तर की संतुष्टि का अनुभव हुआ है। इसके विपरीत 30% ने विवाह पूर्व परामर्श लेना जरूरी नहीं समझा और कुछ वर्षों बाद उन लोगों को तलाक जैसी भयावह स्थिति का सामना करना पड़ा। 

आपको एक समझनी होगी कि दोनों साथियों के जन्म कुंडली/Birth Chart के ज्योतिषीय आकलन के माध्यम से आप एक दूसरे को बेहतर समझ कर अपने नए जीवन की ठोस नींव रख सकते हैं। पूर्व वैवाहिक परामर्श से आप दोनों के बीच में आपसी सहमति की अनुभूति होती है। शायद अभी सब कुछ ठीक चल रहा हो लेकिन बाद में भी सब कुछ ठीक रहे इसलिए ज्योतिषी /Astrologer की सलाह आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है।

जैसा कि हम सब जानते हैं, बचाव हमेशा इलाज से बेहतर होता है, अतः पूर्व में ही उचित मार्गदर्शन और सलाह से सब कुछ हल करना ही बेहतर है जिससे आपका विवाह सफल हो सके।

विवाह पूर्व परामर्श ज्योतिष में कैसे सहायक है/How marriage counseling works in astrology?

आइए जानते हैं कि विवाह पूर्व परामर्श किस प्रकार कार्य करता है तथा ज्योतिष, विवाह पूर्व परामर्श में किस तरह मदद करता है। नीचे कुछ सुझाव दिए गए हैं जो आपके विवाह पूर्व परामर्श के समय सहायक साबित हो सकते हैं।

विवाह पूर्व परामर्श ज्योतिष में कैसे सहायक है/How marriage counseling works in astrology?

आइए जानते हैं कि विवाह पूर्व परामर्श किस प्रकार कार्य करता है तथा ज्योतिष, विवाह पूर्व परामर्श में किस तरह मदद करता है। नीचे कुछ सुझाव दिए गए हैं जो आपके विवाह पूर्व परामर्श के समय सहायक साबित हो सकते हैं।

विवाह से उम्मीदें -

रिश्ते को लेकर आपकी कुछ धारणाएं हो सकती हैं जिनके बारे में आप जानना चाहते होंगे। विवाह को लेकर आपकी कुछ उम्मीदें होती हैं जिनकी विवाह पूर्व चर्चा करने से विवाह को सफल बनाने में मदद मिलती है। कुछ व्यक्ति अपनी भावनाओं को व्यक्त नहीं कर पाते हैं लेकिन विवाह पूर्व सलाह लेकर एक दूसरे की उम्मीदों को पूरा करते हुए सफल वैवाहिक जीवन जी सकते हैं।

एक संबंध सलाहकार अच्छे परिणाम के लिए दोनों के लग्न कितने प्रबल हैं इसका अध्ययन करके अपना सुझाव देते हैं।

रिश्ते से उम्मीद-

  • आपके होने वाले जीवन साथी आपसे संपत्ति और पेशे से संबंधित क्या उम्मीद रखते हैं ?
  • आप उनसे क्या उम्मीद करते हो ?
  • क्या वह चाहते हैं कि आप उनके लिए नियमित रूप से खाना बनाएं ?
  • क्या आप उनसे घर के कामों में मदद की उम्मीद रखती हैं ?
  • क्या आप घर के कामों में मदद के लिए किसी को नियुक्त करेंगे या अपने साथी से मदद की उम्मीद करेंगे?
  • क्या आप अपने ससुराल पक्ष के साथ सुखी से  रहना पसंद करेंगे?

यदि आपको इन सभी प्रश्नों के उत्तर मिल जाए तो आपका वैवाहिक जीवन आनंदमय हो जाएगा।

आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि भविष्य में कई ऐसी बातें हो सकती है जिस पर आप दोनों को समझौता करना होगा ताकि आप एक नतीजे पर पहुंच सके और अपने विवाह में समस्या उत्पन्न ना होने दें। एक सलाहकार आपकी जन्म कुंडली का अध्ययन कर आपके आने वाले भविष्य की जानकारी देखकर आपकी इन विषयों पर मदद कर सकते हैं।

भूत, वर्तमान, और भविष्य:

हमारे आसपास की चीजें हम पर काफी प्रभाव डालते हैं और इसी कारण आपके वैवाहिक जीवन/Married life के आसपास की परिस्थितियां से आपका रिश्ता प्रभावित हो सकता है।

विवाह पूर्व सलाहकार आपकी  इन्हीं अवचेतनाऔं का समाधान करके आपके विवाह को सफल बनाने में  मदद करते हैं।

धन संबंधी समस्या:

घर का बजट बनाते समय आप अपनी आय का स्त्रोत देखेंगे। कई बार दोनों साथी एक दूसरे के साथ योजनाएं बनाते हैं जैसे दोनों में से कौन कितनी जिम्मेदारियां उठाएगा और कैसे? आप की जीवन शैली और बचत कैसी रहेगी,  जिससे किसी एक पर धन संबंधी दबाव ना पड़े।

एक विवाह पूर्व सलाहकार आपकी वित्तीय स्थिति को ध्यान में रखकर धन संबंधी  मुद्दों पर आपको सलाह  दे सकते हैं। 

यौन और अंतरंगता :

भारत में बौद्धिक वातावरण में यौन शिक्षा के बारे में खुल कर बात करना निषेध समझा जाता है। यही कारण है कि आपने इस विषय पर कभी चर्चा नहीं की होगी और ना हि किसी से इस संबंध में कोई जानकारी आपको मिली होगी। हो सकता है कि आपने बहुत सी किताबों मैं इसके बारे में पढ़ा हो पर सबको अपने व्यक्तिगत जीवन में उतारा नहीं जा सकता।

एक ज्योतिष संबंध सलाहकार/Astrology relationship counselor आपके चतुर्थ/Fourth House , सप्तम/Seventh House, और द्वादश/Twelfth House घर का गहराई से अध्ययन करके विवाह के बाद एक खुशहाल यौन जीवन व्यतीत करने के लिए सलाह दे सकते हैं।

बच्चों की योजना :

बच्चे शादी का एक अहम हिस्सा होते हैं। आमतौर पर सवाल उठता है कि कितने बच्चों के लिए और किस समय आप माता-पिता बनने के लिए तैयार होंगे। क्या आप इस सवाल पर अपने परिवार की राय जानना चाहेंगे। अकसर परिवार के सदस्य दंपत्ति को बच्चों के लिए प्रेरित करते हैं और इसी दबाव के कारण दोनों साथियों के रिश्ते में समस्या उत्पन्न हो सकती है।

एक संबंध सलाहकार आपकी कुंडली का अध्ययन करके आपको सुखी वैवाहिक जीवन की  सलाह दे सकता है।

संचार और मतभेद समाधान :

जैसा कि हम सब जानते हैं कि बातचीत किसी भी रिश्ते का एक जरूरी भाग है विशेषकर किसी भी विवाह में। बिना किसी रूकावट के स्वस्थ वार्तालाप और एक दूसरे से अपनी भावनाएं जाहिर करना बहुत जरूरी होता है। दोनों की सोच हमेशा एक नहीं हो सकती,कभी-कभी कुछ तर्क और असहमति हो जाती है। कभी कभी कुछ तर्क आपके लिए लाभकारी साबित हो  सकते हैं, लेकिन किसी मतभेद या तर्क वितर्क के बाद आप दोनों के बात करने के तरीके में बदलाव हो तो आपको एक ज्योतिषीय सहायता की आवश्यकता पड़ती है।

यह कुछ सामान्य चीजें हैं जिन्हें कपल्स (जोडे) विवाह पूर्व परामर्श/Pre-marriage counselling लेकर विवाह के  अन्य  पहलुओं को भी  समझ सकते हैं । 

पूर्व वैवाहिक परामर्श का ज्योतिषीय लाभ/Astrological advantage of pre marriage counselling

विवाह पूर्व सलाह लेने के फायदे अपने आप में चमत्कार ही है और यह आपके संबंधों को बेहतर बनाने में मदद करता है। विवाह पूर्व सलाह लेने के कुछ लाभ को नीचे बताया गया है़:

पूर्व वैवाहिक परामर्श का ज्योतिषीय लाभ/Astrological advantage of pre marriage counselling

विवाह पूर्व सलाह लेने के फायदे अपने आप में चमत्कार ही है और यह आपके संबंधों को बेहतर बनाने में मदद करता है। विवाह पूर्व सलाह लेने के कुछ लाभ को नीचे बताया गया है़:

सकारात्मक समाधान :

विवाह पूर्व परामर्श से आवश्यक मार्गदर्शन और सलाह मिलती है जिससे आप और आपका साथी चर्चा करके सही समाधान तक पहुंच सकते हैं। जब आप अपने दिल की भावनाओं के बारे में एक बार बात करना शुरू कर देते हैं तो आप शायद भावुक भी हो सकते हैं।

मतभेदों के समाधान का कौशल :

हर समय हर चीज हमारे अनुसार नहीं होती। हो सकता है कि आप अपने  मतभेद  हर समय ना सुलझा पाए। इसमें विवाह पूर्व परामर्श आपकी सहायता कर सकता है जिससे आप अपने  मतभेद  सरलता से  सुलझा सकें ।

यथार्थवादी उम्मीदों को स्थापित करना :

पूर्व विवाह परामर्श आपकी उम्मीदों के अनुसार वास्तविक लक्ष्यों को निर्धारित करने में मदद करता है। 

भविष्य में मतभेदों को पहचानना :

आपको भले ही वर्तमान में एक दूसरे से कोई परेशानी ना हो लेकिन समय हमेशा एक सा नहीं रहता। यदि भविष्य में आने वाली समस्याओं का समाधान समय पर नहीं किया गया तो हालात खराब हो सकती है। संबंध सलाहकार की औपचारिक सलाह लेकर आप यह सब निर्धारित कर सकते हैं।

बेहतर भविष्य के लिए अतीत को समझना :

पूर्व वैवाहिक सलाहकार आपके बीते हुए कल तथा विवाह से जुड़ी पारिवारिक समस्याओं को दूर कर आपको एक नई दिशा दिखा सकते हैं।

एक संबंध सलाहकार आप लोगों से अलग-अलग विषयों पर आवश्यकतानुसार चर्चा करके बेहतर सलाह देंगे। कुछ बुनियादी सवालों को नीचे बताया गया है, जिन को समझ कर आप विवाह के बाद एक दूसरे के साथ सुखी वैवाहित जीवन व्यतीत कर सकते हैं।

पूर्व वैवाहिक परामर्शदाता क्या करता है/What a Pre marriage counselor as per astrology?

एक ज्योतिषीय वैवाहिक सलाहकार आपकी जन्मकुंडली/Natal chart का विश्लेषण करके उन सभी सवालों का पहले से ही समाधान दे सकता है जो भविष्य में संकट में बदल सकता है। चलिए उनमें से कुछ प्रश्नों को बताते हैं।

पूर्व वैवाहिक परामर्शदाता क्या करता है/What a Pre marriage counselor as per astrology?

एक ज्योतिषीय वैवाहिक सलाहकार आपकी जन्मकुंडली/Natal chart का विश्लेषण करके उन सभी सवालों का पहले से ही समाधान दे सकता है जो भविष्य में संकट में बदल सकता है। चलिए उनमें से कुछ प्रश्नों को बताते हैं।

  • क्या आप दोनों के बीच वेतन के अंतर को लेकर परेशानी है?
  • क्या आप दोनों परिवार को आर्थिक रूप से मदद करेंगे, या बच्चों के हो जाने के बाद चीजें बदल जाएंगी ? 
  • आपकी  अपने परिवार के साथ  रहने की  क्या योजना है? 
  • बच्चों की आने के बाद आप कहां रहेंगे?
  • आप दोनों एक नया करियर या नौकरी में ट्रांसफर को कैसे निर्धारित करेंगे?
  • क्या आपकी लंबे समय तक वर्तमान स्थान पर रहने की योजना है?
  • क्या आप अपने बुजुर्ग माता-पिता के साथ रहने का विचार कर रहे हैं?
  • आप परिवार कब शुरू करेंगे और कितने बच्चों की आप चाह रखते हैं? 

क्या गर्भपात विवाह से पहले या बाद में स्वीकार्य होगा?

  • आपके माता-पिता के बच्चों को पालने के बारे में क्या विचार हैं, क्या आप इससे सहमत होंगे या असहमत होंगे? आप अपने बच्चों में अच्छे मूल्यों को कैसे आकार देंगे?
  • क्या आप दोनों के अलग या संयुक्त बैंक खाते होंगे?
  • अगर आपके खाते अलग हैं, तो खर्चों की जिम्मेदारी किसकी है? और कौन सा बिल कौन भरेगा?
  • क्या आप दोनों अपनी व्यक्तिगत आर्थिक स्थिति को एक दूसरे के सामने रखेंगे?
  • धन खर्च के मामले में आपसी असहमति
  • क्या आपके ऊपर विवाह से पहले किसी भी तरह का कोई कर्ज था (उदाहरण के लिए एजुकेशन ऋण या क्रेडिट कार्ड ऋण)?
  • आप दोनों के पास अपने वैवाहिक जीवन को व्यतीत करने के लिए कितना धन उपलब्ध है?
  • क्या आपके पास अपना घर लेने के लिए कोई बचत योजना है?
  • क्या आपकी घर खरीदने और बेचने की कोई योजना है? यह प्रश्न और भी महत्वपूर्ण हो जाता है जब तक आप अपने सपनों का घर नहीं बना लेते?
  • आप दोनों में कौन कितना कर्ज लेगा?
  • क्या आप दोनों माता-पिता की वित्तीय जरूरतों को पूरा करने के लिए सहमत हैं?

आपकी बच्चों के लिए शिक्षा योजना क्या होगी?

  • आप सेवानिवृत्त बचत कब शुरू करेंगे? 
  • आप दोनों कितना समय अपने माता पिता के साथ बिताएंगे,और अपने साथी को कैसे समय देना चाहेंगे?
  • छुट्टियों पर आप कितना धन खर्च करने की योजना बनाएंगे?
  • छुट्टियों से आपकी और आपके माता पिता की उम्मीदें रहेंगी और आप कितनी कुशलता से उन्हें पूरा करेंगे ? 
  • जब माता-पिता आप पर दबाव बना रहे हो तब आप अपने साथी से क्या उम्मीद करते हो?
  • क्या आपको परेशानी होगी जब आपका साथी अपने माता-पिता से आप दोनों के विवाहित जीवन के विषयों पर बात करें ? 
  • आप अपने माता पिता से अपने बच्चे को लेकर कैसे व्यवहार की उम्मीद करते हैं?
  • आप दोनों की उम्र बढ़ने पर भी क्या आपके माता-पिता आपके साथ रहेंगे?
  • क्या आप उन्हें सही समझते हैं या कुछ और उम्मीदें रखते हैं?
  • क्या आप दोनों की कुछ प्राथमिकताएं हैं?
  • आप घरेलू रखरखाव से कैसे निपटेंगे? आप जिम्मेदारियों का बंटवारा कैसे करेंगे, या आपको कुछ मदद की जरूरत होगी?
  • क्या आप दोनों संतान होने के बाद भी काम करते रहेंगे?
  • जब आपका बच्चा बीमार हो जाए, तो आप आप दोनों उस स्थिति को कैसे संभालेंगे?
  • क्या आप दोनों अंतरंग या यौन संबंधित समस्याओं से सहमत हैं?
  • आप रोमैंटिक शाम का आनंद कैसे लेना चाहेंगे? 
  • क्या आपकी कोई पहले से अलग यौन प्राथमिकताएं हैं और आप इनसे कैसे निपटेंगें?
  • क्या आप यौन इच्छा के अंतर को समझने के लिए और इसे हल करने के लिए सहमत होंगे?
  • क्या कुछ चीजें आपकी सीमा से बाहर हैं?
  • क्या आप दोनों उस समय तक अपने यौन समस्याओं के बारे में बात नहीं करेंगे जब तक यह आपके रिश्ते को प्रभावित ना करें? 
  • आप अपने तर्क वितर्क की समस्याओं को कैसे हल करेंगे?
  • पारिवारिक अनुभव के आधार पर क्या आप अपने साथी से  समस्याओं से निपटना सीख सकते हैं ?
  • आप दोनों में से कोई भी कुछ समय निकालकर समस्या को शांति से हल करने का प्रयास करेगा? 
  • एक बड़ी बहस के बाद आप बात करने के लिए क्या समाधान निकालेंगे?

आप दोनों के लिए आध्यात्मिकता का क्या अर्थ है?

क्या आप एक दूसरे से किसी भी आध्यात्मिक या धार्मिक समुदाय में भागीदारी की उम्मीद करते हैं?

आप महत्वपूर्ण मामलों को कैसे बाटेंगे? 

  • क्या आपके बच्चे किसी धार्मिक समुदाय या शिक्षा को ग्रहण करेंगे?
  • क्या आपके बच्चे को किसी धार्मिक संस्कार को निभाना होगा?

एक संबंध सलाहकार के रूप में  इन सभी समस्याओं को  समझते हुए  मैंने  इन सभी बातों को बताने की कोशिश की है। बहुत से लोगों के लिए यह  काउंसलिंग या परामर्श/Pre-marriage counselling  लाभकारी  रही है । 
आप यह भी जान सकते हैं कि ज्योतिषी आपके जीवनसाथी के बारे में भविष्यवाणी/Astrology prediction for life partner कर आपकी कैसे मदद करेगा?
एक सफल वैवाहिक जीवन के लिए मुख्य कारक - वैवाहिक जीवन की समस्या के कारण।

आप यह भी पढ़ सकते हैं कि ज्योतिष विज्ञान कैसे बाल ज्योतिष पर आपकी मदद  कर सकता है।