विवाह के बाद किया जाने वाला परामर्श – Online Post marriage counselling

विवाह के बाद दिया जाने वाला परामर्श

अगर आपके वैवाहिक जीवन में समस्याएं हैं तो विवाह के बाद दिया जाने वाला परामर्श/POST MARRIAGE COUNSELING आपके वैवाहिक जीवन को बचाने के लिए एक शक्तिशाली उपकरण साबित हो सकता है| इसकी सहायता से आपके विवाह में होने वाले तलाक और कानूनी अड़चनों को रोका जा सकता है।

आइए आपका एक छोटा सा परीक्षण करते हैं और देखते हैं कि आपको विवाह के बाद दिया जाने वाला विवाह परामर्श/POST MARRIAGE COUNSELING की जरूरत है या नहीं?

जाने क्या आपको विवाह के बाद काउंसलिंग की जरूरत है या नहीं?

अभी गणना करें

विवाह के बाद दिए जाने वाले परामर्श या सलाह/Post Marriage counselling किस प्रकार से काम करते हैं?

वैवाहिक जीवन में बहुत सारी समस्याएं होती हैं | यदि आपके वैवाहिक जीवन में बढ़ती हुई समस्याओ के कारण तलाक की नौबत भी आ गयी है तो ज्योतिष/Astrology की सहायता से आपके तलाक को भी रोका जा सकता है| ज्योतिषी/Astrologer हमको बताते हैं कि आपकी जन्म कुंडली/Birth Chart में ऐसे कौन से ग्रह हैं जिनके कारण यह समस्याएं होती हैं। एक अनुभवी विवाह सलाहकार/marriage counsellor आपकी जन्म कुंडली/Birth Chart का अध्ययन करके आपके वैवाहिक जीवन की सभी समस्याओं का पता लगा सकते हैं और वह आपके कर्मों के सुधार/Karmic Correction इन समस्याओं का समाधान भी हो सकता है|

विवाह के बाद दिए जाने वाले परामर्श या सलाह/Post Marriage counselling किस प्रकार से काम करते हैं?

वैवाहिक जीवन में बहुत सारी समस्याएं होती हैं | यदि आपके वैवाहिक जीवन में बढ़ती हुई समस्याओ के कारण तलाक की नौबत भी आ गयी है तो ज्योतिष/Astrology की सहायता से आपके तलाक को भी रोका जा सकता है| ज्योतिषी/Astrologer हमको बताते हैं कि आपकी जन्म कुंडली/Birth Chart में ऐसे कौन से ग्रह हैं जिनके कारण यह समस्याएं होती हैं। एक अनुभवी विवाह सलाहकार/marriage counsellor आपकी जन्म कुंडली/Birth Chart का अध्ययन करके आपके वैवाहिक जीवन की सभी समस्याओं का पता लगा सकते हैं और वह आपके कर्मों के सुधार/Karmic Correction इन समस्याओं का समाधान भी हो सकता है|

विवाह के बाद परामर्श या सलाह/post marriage counselling किस प्रकार काम करता है? आइए इस बात को समझते हैं|

विवाह सलाहकार/marriage counsellor किस प्रकार काम करते हैं?

इस प्रक्रिया में उन कारणों का पता लगाया जाता है जिनकी वजह से आपके विवाह में संकट उत्पन्न होता है। इस लेख में आपको उन सभी कारणों के बारे में पता लगेगा जिसके कारण आपके विवाह में अड़चन आ रही है। साथ-साथ इस लेख से हम जानेंगे कि कैसे ज्योतिषी/Astrologer के द्वारा दिया जाने वाला विवाह परामर्श/marriage counselling आपके लिए सहायक साबित हो सकते हैं। 

वैवाहिक जीवन में दोनो साथियों का एक दूसरे से बातचीत नहीं करना या बातचीत का बहुत कम होना

जब दो लोग एक दूसरे से आपस में बात करना बंद कर देते हैं या फिर बहुत कम बात करते हैं तब विवाह में समस्याएं उत्पन्न होती हैं| बुध ग्रह हमारी बुद्धि का प्रतीक है वह इसमें एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। बुध ग्रह पीड़ित/Malefic हो या फिर उसकी स्थिति ठीक ना हो तो यह समस्या हो सकती है|

विवाह सलाहकार/marriage counsellor आपको बताते हैं कि एक दूसरे के साथ किस प्रकार से बातचीत करनी चाहिए। आपके बातचीत करने का तरीका कैसा होना चाहिए? कभी-कभी आपके बातचीत करने का तरीका इतना खराब हो जाता है जिसकी वजह से लोग चाह कर भी एक दूसरे के साथ सही से बात नहीं कर पाते हैं। यदि एक वैवाहिक जोड़ा बुध ग्रह की इन कमियों के बारे में जान जाए तो वह जिंदगी भर के लिए एक दूसरे से बात करने की समस्या का हल ढूंढ सकते हैं।

हमेशा नकारात्मक तरीके से बात करने की आदत

कुछ लोग बहुत ही नकारात्मक तरीके से बात करते हैं जिसकी वजह से उनके साथी हमेशा अपने आप को शर्मिंदा, असुरक्षित, असम्मानित और ईर्ष्यालु सा महसूस करने लगते है और इसी वजह से वह आपसे बात करने में भी संकोच करने लगते हैं| कभी कभी आपके बोलने के गलत तरीकों की वजह से आपसे संबंधित लोग भावनात्मक तरीके से टूट जाते हैं| आपके वाणी वाले घर में शनि और राहु उपस्थित हो या उनका प्रभाव हो तो ऐसी परिस्थिति उत्पन्न हो सकती है।

क्या आपको किसी भी विषय पर अपने साथी से बात करने से डर लगता है? 

हो सकता है कि आप उनसे धन संबंधि या शारीरिक सम्बन्धो के बारे में बात करना चाहते हों, लेकिन डर की वजह से बात ना कर पा रहे हो। कभी-कभी आपके साथी की छोटी-छोटी आदतें भी आपको इतना परेशान करती है कि आपकी सहनशीलता जवाब देने लगती है। आपकी इस समस्या को समझने के लिए ज्योतिष सलाहकार/Marriage Counsellor आपकी काफी मदद कर सकते हैं वह आपको बातचीत करने के सही तरीके बताते हैं। ज्योतिष विवाह सलाहकार/Astro Marriage counsellor आपकी जन्म कुंडली/Birth Chart के नवमांश चार्ट में शुक्र के नकारात्मक प्रभाव को खत्म करने में आपकी मदद कर सकता है।

यदि आपके जीवनसाथी आपके साथ सही तरीके से व्यवहार नहीं करते हैं और वह छोटी-छोटी बातों के कारण आपके ऊपर क्रोधित होते हैं तो आपको किसी अच्छे ज्योतिष विवाह सलाहकार/Astro marriage counsellor की आवश्यकता पड़ सकती है। आपके जीवनसाथी का बदला हुआ व्यवहार बताता है कि आपके रिश्ते में कहीं ना कहीं समस्या आ रही है| आप दोनों के बीच लडाई या बहस आपके रिश्ते में संतुलन की कमी को दर्शाता है। कुंडली में पीड़ित/malefic सूर्य हो तो स्वाभिमान और अभिमान की ऐसी घटनाएं देखने को मिलती हैं। ज्योतिष विवाह सलाहकार Astro marriage counsellor पीड़ित सूर्य/Malefic sun को ठीक करके आपकी इस समस्या का समाधान निकालते हैं।

जीवनसाथी के द्वारा हमेशा विरोध करने की प्रवृत्ति

वैवाहिक जीवन में विचारों में मतभेद होना सामान्य बात है परन्तु यदि आपके जीवनसाथी किसी भी बात पर आपका समर्थन नहीं करते हैं और किसी परेशानी या ख़ुशी की बात पर भी हमेशा आपका विरोध करते हैं तो निश्चित रूप से आपको वैवाहिक जीवन में कुछ अलग थलग सा महसूस होने लगता है|

अगर आपको अपने रिश्ते में अकेलापन सा महसूस होता है तो आपको ज्योतिष सलाह/Astrology marriage counselling की जरूरत है। आप और आपके साथी एक दूसरे के दुश्मन नहीं है अपितु आप दोनों एक हैं। आपके लग्न और आपकी जन्म कुंडली/Birth Chart के सातवें भाव/seventh house को देखकर आप दोनों के बीच में विवाद के कारणों का पता लगाया जा सकता है।

जब आप अपनी बातों को गुप्त रखते हैं

हर व्यक्ति को अपने जीवन में कुछ एकांत या गुप्तता (Privacy) की आवश्यकता होती है और यह उसका मौलिक अधिकार भी है। लेकिन अगर आप एक दूसरे से सभी बातों को छुपाने लगते हैं तब इसका अर्थ यह है कि आप अपने लिए खुद समस्या पैदा कर रहे हैं। एक ज्योतिष विवाह सलाहकार/Astro marriage counsellor आपकी जन्म कुंडली/Birth Chart में राहु की दशा को देखकर आपकी परेशानियों की जड़ को आसानी से जान लेते है और फिर आपको उसी अनुसार सलाह भी देते है|

विवाहेत्तर संबंध के कारण/Extramarital affair

यदि आप अपने विवाह के बाहर किसी रिश्ते की कल्पना कर रहे हैं तो इसका अर्थ है कि आपकी जन्मकुंडली/Birth Chart में जरूर कुछ अलग ग्रह दशा चल रही है। यदि आपका संबंध आपके विवाह के बाहर किसी और व्यक्ति के साथ है तो आपके रिश्ते के टूटने की संभावना सबसे अधिक बन जाएगी। इस अनचाही घटना को रोकने के लिए आपको किसी विवाह सलाहकार/Astro marriage counsellor की जरूरत होती है। आपकी जन्म कुंडली के ग्यारहवें भाव/eleventh house और शुक्र की स्थिति को देखकर इस समस्या का समाधान निकाला जा सकता है|

आर्थिक नुकसान

विवाहेत्तर संबंध की तरह रुपए-पैसे में किया गया धोखा भी संबंधों को हानि पहुंचाता है। यदि आप दोनों में से कोई एक भी अपने साथी से धन की बात को छुपाता है तो यह आपके रिश्ते के लिए काफी घातक सिद्ध हो सकता है। आप दोनों को घरेलू खर्चों के संबंध में बात करनी चाहिए। यहां इस बात का अर्थ यह नहीं है कि आप एक दूसरे के मासिक खर्च, बजट, कर्ज या फिर सेवानिवृत्त हो जाने के बाद की जाने वाली बचत के ऊपर निगाह रखना शुरु कर दें। यह सचमुच गलत होगा, परन्तु रोज़मर्रा के जीवन में होने वाले खर्चो के बारे में जरूर बात करनी चाहिए|

यदि आप किसी ज्योतिष विवाह सलाहकार/Astro marriage counsellor के साथ बात करते हैं तो आपको इस विवाद का हल निकालने में जरूर मदद मिलेगी। एक ज्योतिष विवाह सलाहकार/Astro marriage counsellor आपकी कुंडली के दूसरे भाव/second house को देखकर आप दोनों के बीच में एक सकारात्मक बदलाव को लाने में सक्षम है।

आपको लगता है कि आपके साथी कभी नहीं बदलेंगे

वैवाहिक जीवन में दोनों लोग एक दूसरे के व्यवहार से परेशान हो सकते हैं | हो सकता है कि आप दोनों लोग ही चाहते हो कि आपके जीवन साथी का व्यवहार बदल जाये जिसकी वजह से आपका और परिवार के दूसरे सदस्यों का जीवन सुगम हो जाये परन्तु यह इतना आसान भी नहीं है| 

अपने साथी को बदलने से अच्छा है कि आप स्वयं को बदलने का प्रयास करें| यदि आप इंतजार कर रहे हैं कि किसी दिन आपके जीवन साथी बदल जाएंगे तो फिर इसमें काफी समय लग सकता है। अपनी आत्मा को कष्ट देने से अच्छा है कि आप किसी ज्योतिष विवाह सलाहकार/Astro Marriage counsellor के साथ अपने साथी की इच्छाओं और अपेक्षाओं के बारे में बात करें। वह आपको ज्योतिष/Astrology के जरिए कुछ ना कुछ उपाय निकाल कर देंगे जिसकी वजह से आपका जीवन खुशहाल हो जाएगा।

क्या आप अकेले रह रहे हैं?

यदि आप अपने निजी कमरे में अकेले सोते हैं तो इसका अर्थ यह है कि आपको किसी ज्योतिष विवाह सलाहकार/Astro Marriage counsellor की जरूरत है। यदि आप दोनों के बीच में निजी संबंधों में कमी है, आप एक दूसरे के साथ कोई बात साझा नहीं करते या आप दोनों की शारीरिक संबंधों को लेकर भी कोई बात नहीं होती है तो आपको किसी अनुभवी ज्योतिष सलाहकार/Experienced Astro Counsellor की जरूरत है जिसके साथ आपको यह सब बातें साझा करें। वह आपको इस संबंध में बहुत सहायता दे सकता है। इससे पहले कि समस्या बहुत ज्यादा गंभीर हो जाए आपको उस खोई हुई चीज को वापस प्राप्त करने की जरूरत है जो आप दोनों को जोड़ने के लिए एक कड़ी का काम करती थी। एक ज्योतिष सलाहकार/Astro Counsellor आपकी जन्म कुंडली/Birth Chart में लग्न और सातवें भाव/Seventh House को देखकर इन समस्याओं के कारणों का पता लगाते हैं और आप के जीवन को खुशहाल बनाने की कोशिश करते हैं।

शारीरिक संबंधों की आदतों में बदलाव

हर बात की एक सीमा होती है। शारीरिक संबंधों में कमी होना ही आपके रिश्ते में तनाव का अकेला मुख्य कारण नहीं है। इसके अलावा आप अपने निजी शयन कक्ष में ऐसे बहुत सारे बदलाव महसूस कर सकते हैं जो आपको सामान्य नहीं लगेंगे। कभी-कभी यौन संबंधो में आपकी शारीरिक क्रियाएं कुछ ऐसी होती हैं जिनमें आपके साथी असहज महसूस करते हैं। इस दशा में एक ज्योतिष परामर्श/Astro Counsellor या सलाहकार आप को सही रास्ता चुनने में मदद करते हैं और आपकी आदतों को सुधारने में आपकी सहायता कर सकते हैं।

एक ही बात पर बार-बार बहस करने की आदत

रोज-रोज किसी एक ही मुद्दे पर बार-बार लड़ाई झगड़ा या बहस वैवाहिक जीवन में गंभीर समस्या  का संकेत देता है| छोटी छोटी बातों जैसे कपड़े धोना, बर्तन धोना, आपके खाने पीने की आदत आदि के कारण आपके जीवन साथी कभी-कभी बहुत अपमानित महसूस कर सकते हैं।

एक ज्योतिष विवाह सलाहकार/Astro Marriage counsellor के पास इन सभी समस्याओं का हल होता है वह इन समस्याओं के कारणों का पता लगाकर उन समस्याओं को दूर करने में आपकी मदद करते हैं।

संबंध समस्याएं/Relationship Issues

हर संबंध में कुछ ऐसे तर्क वितर्क और लड़ाई झगड़े होते हैं जो महीनों और सालों तक चलते रहते हैं, जिन्हे कुछ लोग कभी हल करने का प्रयास ही नहीं करते हैं। और सोचते हैं कि जैसे चीजें अभी चल रही है वैसे ही चलते रहे। उदहारण के लिए घर का बजट और शारीरिक संबंधों के ऊपर यदि आपके विचार आपस में नहीं मिलते हैं तो यह स्थिति आपके सामने भी खड़ी हो सकती है। ज्योतिष/Astrology में ऐसे बहुत सारे उपाय है जिसे करने के बाद आप अपने जीवन में शांति और खुशियों का संचार कर सकते हैं। एक ज्योतिष सलाहकार/Astro Counsellor आप दोनों को एक दूसरे के विचारों से सहमत होना और समझना सिखाते हैं।

आउटलुक इंडिया पत्रिका/Out Look India में प्रकाशित मेरे नवीनतम साक्षात्कार/Interview को पढ़िए |

कुंडली मिलान/Kundli Milan असफल क्यों होते हैं? इस लेख को आप हमारे न्यूज़ सेक्शन/News Section में नीचे पढ़ सकते हैं।

विवाह के उपरांत किए गए परामर्श या सलाह के लाभ/Benefits of Post Marriage counselling

विवाह के उपरांत किए गए परामर्श या सलाह का सबसे बड़ा लाभ तो यह है कि इससे आप दोनों के बीच में तलाक और अलगाव नहीं होता है। यह इसलिए जरूरी है क्योंकि यदि आप तलाक लेते हैं या वर्तमान विवाह से अलग होने का प्रयास करते हैं तो आपको नहीं पता कि आने वाले समय में दूसरे विवाह के बाद आप किस प्रकार नए साथी के साथ रहेंगे? उनके साथ आपके संबंध कैसे होंगे? यह सभी बातें आपको विवाह के उपरांत परामर्श से पता चल सकती है। इसके अलावा इस परामर्श के और भी फायदे होते हैं। इस परामर्श के जरिए आप अपने रिश्तों को सुधारा सकते हैं और वैवाहिक जीवन को सुखद बना सकते हैं। यह परामर्श/Marriage counselling ऐसे कई परेशानियों को हल करने में भी आपकी सहायता करता है|

विवाह के उपरांत किए गए परामर्श या सलाह के लाभ/Benefits of Post Marriage counselling

विवाह के उपरांत किए गए परामर्श या सलाह का सबसे बड़ा लाभ तो यह है कि इससे आप दोनों के बीच में तलाक और अलगाव नहीं होता है। यह इसलिए जरूरी है क्योंकि यदि आप तलाक लेते हैं या वर्तमान विवाह से अलग होने का प्रयास करते हैं तो आपको नहीं पता कि आने वाले समय में दूसरे विवाह के बाद आप किस प्रकार नए साथी के साथ रहेंगे? उनके साथ आपके संबंध कैसे होंगे? यह सभी बातें आपको विवाह के उपरांत परामर्श से पता चल सकती है। इसके अलावा इस परामर्श के और भी फायदे होते हैं। इस परामर्श के जरिए आप अपने रिश्तों को सुधारा सकते हैं और वैवाहिक जीवन को सुखद बना सकते हैं। यह परामर्श/Marriage counselling ऐसे कई परेशानियों को हल करने में भी आपकी सहायता करता है|

आइए देखते हैं कि वैवाहिक जीवन को सफल बनने के लिए कौन से तथ्य/Element/Factors  हैं?

विश्वास और खुलापन

विवाह के उपरांत किए गए परामर्श या सलाह/Post Marriage counselling के बाद जैसे ही आपके संबंधों में एक आधार बनना शुरू होता है वैसे ही आप दोनों के बीच में विश्वास पनपने लगता है और आपका रिश्ता धीरे-धीरे और मजबूत होता जाता है। आप एक दूसरे को अच्छी तरह से समझने का प्रयास शुरू करते हैं और आपके बीच में समस्याओं का समाधान भी निकलना शुरू हो जाता है| यदि आपके वैवाहिक जीवन में विश्वास और खुलापन नहीं है तो आप दोनों के बीच में अलगाव की स्थिति और दूरियां बन जाती हैं। जो समय के साथ एक बड़ी समस्या बन जाती है। विवाह के उपरांत दी जाने वाली सलाह या परामर्श/Post Marriage counselling की सहायता से आप अपने रिश्ते को और भी ज्यादा मजबूत बना सकते हैं। आप फिर से वही प्यार और विश्वास महसूस कर सकते हैं जो विवाह के समय आप महसूस किया करते थे।

विभिन्न प्रकार की वैवाहिक समस्याएं होने के कारण दो लोग एक दूसरे के साथ अपने मन की बात साझा नहीं करते हैं। किसी भी रिश्ते में विचार और एहसास दो ऐसी चीजें होती हैं जिसके द्वारा कोई भी रिश्ता मजबूत हो सकता है। एक ज्योतिष सलाहकार/Astro Counsellor आपको वैवाहिक परामर्श/marriage counselling के द्वारा एक सफल वैवाहिक जीवन जीने में आपकी मदद करते हैं।

संबंध सलाहकार/Relationship counsellor आप दोनों के बीच में खुली और ईमानदार बातचीत शुरू करवाने में आप दोनों की मदद करते हैं। यह परामर्श एक दूसरे को बेहतर तरीके से समझने के लिए भी जरूरी होता है। जब दोनों साथी आपस में साफ मन से बातचीत करते हैं तो दोनों के बीच में खामोशी की दीवार टूट जाती है। जिसकी वजह से दोनों व्यक्ति एक दूसरे के साथ बेहतर समझ और सकारात्मक सोच के साथ वैवाहिक जीवन की समस्याओं को दूर करने का प्रयास करते हैं।

दो लोगों के बीच में प्यार बढ़ाना और उनके रिश्ते को मजबूत करना

किसी भी रिश्ते में दो लोगों के बीच में प्यार होता है तो लड़ाई झगडे भी होते है| प्रतिदिन होने वाले झगड़ों के कारण आपके जीवन में निराशा भर जाती है और आप जीवन के प्रति निराश और उदासीन हो जाते हैं| कभी-कभी वैवाहिक जीवन की समस्याओं के कारण परिवार में एक दूसरे के प्रति जलन और अलगाव की भावना भी पनपने लगती है| यदि आप अपने जीवनसाथी से प्रेम करते हैं तो आपको इस तरह की सभी समस्याओं को दूर करना चाहिए। यदि आप सोचते हैं कि इसको ऐसे ही रहने दो तो ऐसी सोच के कारण आपके संबंध और अधिक ख़राब हो सकते हैं। यदि आप दोनों एक दूसरे से बस लड़ाई झगड़ा ही करते रहेंगे तो आपके बीच में प्यार के बहुत सारे एहसास बिना कहे और अनसुने ही रह जायेंगे |

विवाह सलाहकार/marriage counsellor आपको अपने एहसासों और भावनाओं को अपने जीवन साथी से साझा करना सिखाते हैं| इस सलाह की सहायता से आप दोनों एक दूसरे के करीब आकर अपने रिश्ते को मजबूत करते हैं। इस परामर्श/Counselling के बाद वैवाहिक जीवन में समस्यायों का सामना करने के लिए आपको सही मार्गदर्शन प्राप्त होता है।

आत्मसम्मान को मजबूत करना

यदि आप अपने साथी की भावनाओ को समझते हैं और कभी-कभी या अक्सर उनकी प्रशंसा करते हैं तो आप के साथी के दिल में भी आप के प्रति कोमल और प्यारी भावनाएं उभरनी शुरू हो जाएंगी। विवाह के बाद परामर्श या सलाह/post marriage counselling से आप दोनों के दिल में आत्मसम्मान की भावना बढ़ने लगती है। यह आत्मविश्वास आपको वैवाहिक जीवन में विभिन्न प्रकार की समस्याओं को हल करना सिखाता है जिसके कारण आपके और आपके साथी के दिल में प्यार की भावनाएं पनपने लगती है। विवाह सलाहकार/Marriage counsellor  आप दोनों को अपने रिश्ते में एक दूसरे के प्रति आपसी समझ और प्यार की भावना को फलने फूलने में आपकी मदद करते हैं| यह परामर्श या सलाह/post marriage counselling आपको अपने रिश्ते का आदर और सम्मान करना  सिखाते हैं। एक दूसरे को सम्मान देने की वजह से आप दोनों के बीच में प्यार गहराने लगता है आपका रिश्ता महकने लगता है और उसकी खुशबू से आप दोनों का जीवन ख़ुशी से चहकने लगता है |

विवाह के उपरांत परामर्श या सलाह/Post Marriage counselling आपको खुश रहना सिखाता है।

वर्तमान समय में तकनीकी वस्तुओं के उपयोग की अधिकता के कारण मनुष्यों के जीवन में तनाव बढ़ रहा है| सभी लोग सोशल मीडिया पर वेब सीरीज आदि देखने में ही व्यस्त रहते है| इस वजह से आपका व्यक्तिगत जीवन भी प्रभावित होता है। आपको अपनी व्यक्तिगत खुशी को पीछे छोड़ कर सामाजिक जीवन जीने के पीछे भागने की आदत पड़ चुकी है। आप बाहर से तो खुश दिखते हैं परंतु यह आपके जीवन की सच्ची खुशियों को आपसे दूर ले गया है। आजकल सभी लोग मोबाइल आदि में व्यस्त रहते हैं और अपने घर के सदस्यों से कम ही बात करते हैं| जाहिर है कि इसी कारण आपके वैवाहिक जीवन में भी बहुत सारी समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं। बातचीत और विचारों के आदान प्रदान में कमी होने के कारण आपके वैवाहिक जीवन के तालमेल में भी विरोधाभास उत्पन्न होने लगा है। एक विवाह सलाहकार आपको सिखाते हैं कि जीवन की समस्याओं को तकनीकी जीवन के साथ किस तरह से सुलझाएं। आपका वैवाहिक जीवन तभी सफल होता है जब आप एक दूसरे को अपनी भावनाओं का अहसास करवाते हैं।

तलाक की स्थिति को दूर भगाएं

आपके बीच के छोटे-छोटे झगड़े भी आपके रिश्ते को तोड़ सकते हैं और यह आपको तलाक की ओर ले जा सकते हैं। एक विवाह सलाहकार/marriage counsellor और संबंध सलाहकार/Relationship Counsellor के लिए भी यह काफी दर्दनाक स्थिति होती है। विवाह सलाहकार/marriage counsellor आपके रिश्ते को मजबूत करने के लिए भरसक प्रयत्न करते हैं परंतु कभी-कभी कुछ जोड़ें अपने रिश्ते को तोड़ने में ही भलाई समझते हैं। उनको लगता है कि बस इससे ज्यादा और कुछ नहीं हो सकता| परन्तु वह यह नहीं समझते कि उनकी थोड़ी सी समझ बूझ के कारण इस समस्या का समाधान निकाला जा सकता है। एक विवाह सलाहकार/marriage counsellor आपके रिश्ते को टूटने से बचाने में मदद कर सकता है। वह विवाहित जोड़ों के साथ बात करते हैं और उनकी समस्याओं को समझकर सुलझाने का प्रयत्न करते हैं। कभी-कभी कुछ परिवारों को तलाक ही सबसे सही फैसला लगता है| उस परिस्थिति में विवाह सलाहकार/Marriage Counsellor दोनों परिवारों में आपसी समझ के साथ समस्या को हल करने में आपकी मदद करते हैं।

बातचीत से एक दूसरे के बीच प्रतिबद्धता/commitment को दोबारा से स्थापित करना

अक्सर सामाजिक मान्यताओं, बच्चो, और आर्थिक कारणों की वजह से वैवाहिक जोड़े एक दूसरे के साथ बंधे होते हैं| परन्तु इन बंधनो से भी आपसी संबंधों में समस्याएं उत्पन्न होती हैं। कभी कभी यह समस्याएं बहुत ज्यादा विकराल हो जाती हैं। दोनों लोग अपने फायदे को ज्यादा महत्व देने लगते है जिस कारण उनकी प्रतिबद्धता गलत दिशा में जाने लगती है। विवाह सलाहकार/Marriage counsellor की मदद से आप एक दूसरे की भावनाओं को सुनना और समझना सीखते हैं।

यदि आप किसी भी बात पर एक दूसरे के साथ सहमत नहीं है तो यह आपके रिश्ते को बर्बाद कर सकता है| इस प्रकार के साक्षातकारों के दौरान संबंध सलाहकार/relationship counsellor आपके भीतर के डर चिंता और इच्छाओं को बाहर लाने का प्रयत्न करते हैं| वह विवाह की समस्याओं के ऊपर बात करते हैं और किसी ना किसी तरीके से उस समस्या का हल निकालते हैं| 

आपके वैवाहिक जीवन के लिए विवाह सलाहकार कैसे कार्य करते हैं?

दिमागी और शारीरिक स्वास्थ्य

किसी भी मनुष्य के लिए दिमागी और शारीरिक दोनों प्रकार से स्वस्थ होना सबसे ज्यादा जरूरी है। यदि किसी व्यक्ति में शारीरिक समस्याएं हैं तो वह विवाह के बाद शारीरिक रूप से सक्रिय नहीं रह पाता, जिसकी वजह से ऐसे लोग अक्सर जीवन में शांति खो देते हैं। यही दो लोगों के रिश्ते के बीच परेशानी का मूल कारण बन सकता है।

विवाह सलाहकार/marriage counsellor वैवाहिक जोड़ों को एक दूसरे से बात करना, एक दूसरे की भावनाओ को महत्त्व देना सिखाता है। इस प्रकार आपसी समझ बूझ के आधार पर वैवाहिक जोड़े अपनी समस्याओं को शांति से सुलझाने का प्रयास करना सीखते हैं जो वैवाहिक जीवन के लिए बहुत जरूरी है।

अपनी शादी और अपने परिवार को सफल बनाना

आपके घर में आपके लड़ाई झगड़ो की वजह से आपके बच्चे सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं| आपसी झगड़ो के कारण आपका व्यवहार अपने बच्चो के साथ भी गलत हो सकता है| परन्तु अपनी परेशानियों में आप यह बात भूल जाते हैं कि जैसा व्यवहार आप अपने बच्चों के साथ करेंगे, वह वैसे ही बन जाएंगे। माता पिता के बीच झगड़ों के कारण बच्चे बहुत निराश हो जाते हैं और  उनकी सोच पर भी गलत असर पड़ता है।

विवाह सलाहकार/marriage counsellor आपके साथ परामर्श/counselling में एक दूसरे के प्रति अपने व्यवहार को सही करना सिखाते हैं। जैसे ही आपके परिवार में एक शांतिपूर्ण और स्वस्थ वातावरण का संचार होता है,वैसे ही आपका परिवार अपने आप को सुरक्षित और खुशहाल महसूस करने लगता है।

किसी भी परिवार में लोगों को विभिन्न प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है और यह समस्याएं तब और भी ज्यादा विकट हो जाती हैं जब उनको ठीक प्रकार से समझा नहीं जाता है| विवाह सलाहकार/marriage counsellor जीवन के हर मार्ग में समस्याओं को सुलझाने के लिए आपका मार्गदर्शन करते हैं। विवाह सलाहकार/Marriage counsellor आपको आपके बच्चों पर असर डालने वाली परेशानियों को भी सुलझाने में मदद करते हैं। 

निष्कर्ष:

निष्कर्ष:

वैवाहिक सलाह/marriage counselling विवाह से पूर्व हो या विवाह के बाद हो, वैवाहिक सलाहकार/marriage counsellor दोनों स्थिति में जन्म कुंडली/Natal Chart का पूरा अध्ययन करते हैं| विवाह के बाद उनके वैवाहिक जीवन में समस्या के क्या-क्या कारण है इस बात पर ज्यादा ध्यान रखा जाता है। दोनों लोगों से बात करके यह जाना जाता है कि कौन ज्यादा गलत है? उनको विवाह के लाभ बताए जाते हैं फिर उनको जीवन में किए जाने वाले बलिदान और कुछ समझौतों के बारे में भी समझाया जाता है |

आपके गलत व्यवहार और आपकी आदतों के कारण भी काफी परेशानियां हो सकती हैं। इसीलिए उनको बताया जाता है कि अगर वह समझौते नहीं करते हैं तो यही समस्याएं दोबारा विवाह करने पर भी उत्पन्न हो सकती हैं।

यह बात दोनों को अलग-अलग समझाई जाती है और ज़रूरत पडने पर यही साक्षात्कार/परामर्श/Counselling उनके परिवार के साथ भी किया जाता है|

विवाह परामर्श/marriage counselling कर्म सुधार/Karmic Correction पर विशेष ध्यान देता है| जिसमें अनुष्ठान/Rituals और ज्योतिष उपायों/Astrological Remedies के फायदों के बारे में भी बताया जाता है | इन उपायों और अनुष्ठानों के द्वारा आप अपने वैवाहिक जीवन को ज्यादा सफल बना सकते हैं|

विवाह के बाद की समस्याओं/conflicts in married life के लिए एक बार ज्योतिष उपायों/Astrological Remedies पर भी क्लिक/Click कीजिए| 

ज्योतिष/Astrology आपके वैवाहिक जीवन की समस्याओं/Conflicts in married life को सुलझाने में किस प्रकार मदद करते हैं। यह जानने के लिए यहाँ क्लिक/Click करिए और इस बारे में पढिए।

डॉ विनय बजरंगी: नवीन समाचार/Dr. Vinay Bajrangi: Latest news

तलाक/Divorce रूकवाने के लिए ज्योतिष/Astrology किस प्रकार आपकी मदद करता है? आप यह भी पढ़ सकते हैं|