Horoscope Matching | कुंडली मिलान | Kundli matching in hindi

आपको यहां से विवाह मिलान या कुंडली मिलान के बारे में पता चलेगा और यदि आप यहां पर मौजूद हर बात के प्रत्येक चरण का अनुसरण करते हुए पालन करते हैं, तो आपका रिश्ता हमेशा मजबूत होता जाएगा। इस विषय में पहला कदम अष्टकूट मिलान/ Ashtakoot Milan है, जिसे आप यहां पर मौजूद निःशुल्क कुंडली मिलान कैलकुलेटर/ free Kundali matching calculator का प्रयोग करके जान सकते हैं।

विवाह के लिए राशि अनुकूलता कैलकुलेटर/ zodiac compatibility calculator for marriage पर आपके कितने गुण मिलते हैं? संगतता राशि कैलकुलेटर/ compatibility zodiac calculator के माध्यम से कम से कम अंक अठारह (18) माना जाता है।

यदि आपका परिणाम 18 से कम आता है तो आपको घबराने की आवश्यकता नहीं है। मैं आपको ऐसा इसलिए कह रहा हूं क्योंकि ज्योतिष में कुछ ऐसे समाधान हैं जिनके कम अंक होने के बावजूद भी आप विवाह कर सकते हैं और आपका विवाह सफल भी होगा।

आपको यहां से विवाह मिलान या कुंडली मिलान के बारे में पता चलेगा और यदि आप यहां पर मौजूद हर बात के प्रत्येक चरण का अनुसरण करते हुए पालन करते हैं, तो आपका रिश्ता हमेशा मजबूत होता जाएगा। इस विषय में पहला कदम अष्टकूट मिलान/ Ashtakoot Milan है, जिसे आप यहां पर मौजूद निःशुल्क कुंडली मिलान कैलकुलेटर/ free Kundali matching calculator का प्रयोग करके जान सकते हैं।

विवाह के लिए राशि अनुकूलता कैलकुलेटर/ zodiac compatibility calculator for marriage पर आपके कितने गुण मिलते हैं? संगतता राशि कैलकुलेटर/ compatibility zodiac calculator के माध्यम से कम से कम अंक अठारह (18) माना जाता है।

यदि आपका परिणाम 18 से कम आता है तो आपको घबराने की आवश्यकता नहीं है। मैं आपको ऐसा इसलिए कह रहा हूं क्योंकि ज्योतिष में कुछ ऐसे समाधान हैं जिनके कम अंक होने के बावजूद भी आप विवाह कर सकते हैं और आपका विवाह सफल भी होगा।

यदि आपका अंक 18 से अधिक है तो भी आपको ज्यादा खुश होने की आवश्यकता नहीं है। ऐसा इसलिए होता है कि कुंडली मिलान गुण मिलान से बहुत विशाल होता है। आप यह भी समझ सकते हैं कि गुण मिलान कुंडली मिलान का पहला चरण होता है।

गुण मिलान या विवाह के लिए राशि अनुकूलता कैलकुलेटर/ Guna Milan or the zodiac compatibility calculator for marriage कुंडली मिलान का पहला कदम होता है। तकनीकी बातों में ज्यादा उलझे बिना, मैं संपूर्ण कुंडली मिलान के लिए दूसरे आवश्यक चरणों की बात करने का प्रयास करूंगा जो एक सुखी वैवाहिक जीवन की पुष्टि कर सकता है।

लेकिन इससे पहले, अष्टकूट और ऑनलाइन राशिफल मिलान/ online horoscope matching करने वाले लोगों के लिए, विभिन्न अष्टकूट दोषों को रद्द करने के बारे में बात करनी चाहिए।

अष्टकूट दोष रद्द करें/Cancellation for the ashtakoot dosh

यदि आप भी अपने साथी के साथ भी विवाह के लिए ऑनलाइन कुंडली मिलान/ online horoscope matching करेंगे तो आपका भी अंक 0 से 36 के बीच में ही आएगा। यह अनुकूलता राशि कैलकुलेटर आठ उपशीर्षक में बंटा हुआ है (इसलिए अष्टकूट कहा जाता है) अर्थात्:

अष्टकूट दोष रद्द करें/Cancellation for the ashtakoot dosh

यदि आप भी अपने साथी के साथ भी विवाह के लिए ऑनलाइन कुंडली मिलान/ online horoscope matching करेंगे तो आपका भी अंक 0 से 36 के बीच में ही आएगा। यह अनुकूलता राशि कैलकुलेटर आठ उपशीर्षक में बंटा हुआ है (इसलिए अष्टकूट कहा जाता है) अर्थात्:

  1. वर्ण कूट - प्रकृति और व्यावहारिकता के प्रति अनुकूलता। इस मिलान का एक अंक मिलता है।
  2. वश्य कूट – यह आपसी संबंध और आकर्षण के प्रति अनुकूलता को दर्शाता है। इस मिलान को दो अंक मिलते हैं।
  3. तारा कूट अनुकूलता – आपसी व्यवहार और भरोसा को दर्शाता है। इस मिलान से तीन अंक प्राप्त होते हैं।
  4. योनी कूट अनुकूलता – यह यौन संबंध और शारीरिक आकर्षण को दर्शाता है। इसके मिलान से 4 अंक प्राप्त होते हैं।
  5. राशि कूट मिलान - यह मानसिक अनुकूलता को दर्शाती है। इस मिलान के 5 अंक मिलते है।
  6. गन कूट अनुकूलता – यह जीवन शैली अनुकूलता से संबंधित है। इसके मिलान से 6 अंक की प्राप्ति होती है।
  7. भकूत अनुकूलता नक्षत्र अनुकूलता को दर्शाती है। इसके मिलान से 7 अंक की प्राप्ति होती है।
  8. नाड़ी कूट मिलान आंतरिक ऊर्जा और भावी जीवन साथी की संतान क्षमता के बारे में बताता है। इसके मिलान से 8 अंकों की प्राप्ति होती है।

सामान्य तौर पर गणकूट, भकूत, नाडी कूट या नदी दोष व्यक्ति को सबसे ज्यादा डराते हैं क्योंकि यह पूरी गणना को बदल सकते हैं। हालांकि, इनमें से कुछ को निष्क्रिय भी किया जा सकता है, जिन्हें एक ज्योतिषी उचित रूप से आंक सकता है। यदि आप अपने आप को इस संदर्भ में जाँचना चाहते हैं, तो आपको इसी वेबसाइट पर एक लेख मिल जाएगा जिसे पढ़ कर आप जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

आपको विवाह के लिए ऑनलाइन कुंडली मिलान तो मिल जाता है लेकिन वह पूर्ण कुंडली मिलान का केवल बीस प्रतिशत होता है। बाकी, अस्सी प्रतिशत को नीचे समझाया गया है।

सर्वश्रेष्ठ कुंडली मिलान: ज्योतिषीय नियम/ Best kundli matching: astrological rules

इसे समझना उनके लिए और भी ज्यादा गंभीर हो सकता है जिन्हें वैदिक ज्योतिष का बहुत कम ज्ञान है या वह इस विषय से बिल्कुल अनजान है। मैं आपको इस लेख के जरिए कुछ नियमों के बारे में बताउंगा जिससे आपको सर्वश्रेष्ठ कुंडली मिलान/ best Kundli matching के लिए देखना अनिवार्य हो जाएगा है। जिन लोगों को भी यह विषय ज्योतिष के नजरिए से नहीं जानना है, वह इसे छोड़ आगे बढ़ सकते हैं। लेकिन यदि आप इन बिंदुओं को पढ़ते हैं और समझते हैं तो यह आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है।

सर्वश्रेष्ठ कुंडली मिलान: ज्योतिषीय नियम/ Best kundli matching: astrological rules

इसे समझना उनके लिए और भी ज्यादा गंभीर हो सकता है जिन्हें वैदिक ज्योतिष का बहुत कम ज्ञान है या वह इस विषय से बिल्कुल अनजान है। मैं आपको इस लेख के जरिए कुछ नियमों के बारे में बताउंगा जिससे आपको सर्वश्रेष्ठ कुंडली मिलान/ best Kundli matching के लिए देखना अनिवार्य हो जाएगा है। जिन लोगों को भी यह विषय ज्योतिष के नजरिए से नहीं जानना है, वह इसे छोड़ आगे बढ़ सकते हैं। लेकिन यदि आप इन बिंदुओं को पढ़ते हैं और समझते हैं तो यह आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है।

1. कुंडली मिलान में ग्रहों की अनुकूलता/ Planetary compatibility in Horoscope matching:-

मूल्यांकन के लिए महत्वपूर्ण ग्रह

  • दोनों कुंडली में लग्नेश और चंद्रमा।

  • दोनों कुंडली में सप्तम भाव के स्वामी।

  • फिर शुक्र और बृहस्पति को जांचा जाता है।

  • दोनों साथियों का एक दूसरे के संबंध में ग्रहों की स्थिति का मूल्यांकन करने के लिए दोनों विवाह के उम्मीदवारों की कुंडली का पूर्ण आकलन किया जाता है। कुछ स्थितियां जैसे 6/8, 1/13 और 2/12 विवाह के लिए अच्छे ग्रह संयोजन नहीं माने जाते। इसी प्रकार यदि किसी संवेदनशील भाव में आंतरिक रूप से खराब ग्रह हो तो यह कुंडली मिलान के लिए अच्छा नहीं माना जाता है।

इसके साथ साथ, परिवार भाव (दूसरा, चौथा, सातवां, आठवां और बारहवां भाव) में सूर्य और मंगल ग्रह का होना, सूर्य के साथ राहु या केतु का संयोजन कुंडली मिलान में शुभ नहीं माना जाता है। इसी प्रकार इस परिवार भाव में शनि और मंगल भी विवाह-मिलान/ marriage-matching के लिए अच्छे नहीं माने जाते हैं।

2. कुंडली मिलान में भाव अनुकूलता/ Bhav compatibility in Horoscope matching

चलिए आपको भाव अनुकूलता के बारे में बताते हैं। यदि दोनों कुंडली में लग्न एक ही होते हैं, तो यह मिलान में शुभ माना जाता है। यदि लग्न राशियाँ एक-दूसरे से त्रिनेत्र या केंद्र हों तो यह एक अच्छा मिलान माना जाता है। इसके सिवाय कोई भी कुंडली मिलान शुभ नहीं माना जाता है।

3. विवाह के लिए कुंडली मिलान में नवमांश अनुकूलता/ Navamsa compatibility in Horoscope matching for marriage

वास्तव में, नवमांश अनुकूलता जांच ऊपर बताए गए लग्न या लग्न चार्ट में किए गए ग्रहों और भाव अनुकूलता की पुनरावृत्ति है। नवांश अनुकूलता मिलान से पता चल सकता है कि कुंडली में पिछले जन्म से आत्मा की अनुकूलता है कि नहीं। यह अनुकूलता इस बात का संकेत देता है कि दोनों साथियों का पिछले जीवन से कोई नाता है।

4. कुंडली मिलान में मंगल या कुजा अनुकूलता/ Mangal or Kuja compatibility in horoscope matching

हर विवाह में दोनों साथियों की कुंडली में मंगल ग्रह की नियुक्ति वैवाहिक जीवन का संकेत देती है। आपको सलाह दी जाती है कि आप किसी अच्छे और ज्ञानी ज्योतिष से मिलें जो वैदिक ज्योतिष का पालन करते हो। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि मंगल दोष को लेकर बहुत सारे गलत धारणा बनी हुई है। आप हमारे पेज पर मौजूद निःशुल्क कुंडली मिलान कैलकुलेटर/ free horoscope matching calculator का प्रयोग करके खुद अपनी कुंडली में मंगल दोष की स्थिति के बारे में जान सकते हैं।

5. दूसरे भाव का प्रभावित होना/ Affliction to 2nd house

दूसरा भाव/Second House कुटुंब स्थान होता है। यह समृद्धि और पैतृक वंश को दर्शाता है। यदि दोनों ही साथियों की कुंडली का दूसरा भाव/Second house किसी भी ग्रह से प्रभावित होगा तो यह उन दोनों के वैवाहिक जीवन के लिए लाभकारी साबित नहीं होगा। इसलिए आपको किसी अच्छे ज्योतिषी से सलाह लेनी चाहिए।

6. चौथे भाव का प्रभावित होना/ Affliction to 4th house

चौथा भाव/Fourth House सुख स्थान होता है। यदि इस भाव को कोई भी ग्रह प्रभावित करता है तो यह वैवाहिक जीवन को पूर्ण रूप से नष्ट कर सकता है। यदि आपकी कुंडली में यह ज्योतिषीय संयोजन है तो आपको किसी अच्छे ज्योतिषी से अपने विवाह के लिए कुंडली मिलान करवाना चाहिए। यदि उन्हें ऐसा कुछ दिखता है तो वह आपको अच्छी सलाह दे सकते हैं।

7. विवाह मिलान में कलात्रा भव/ Kalatra Bhav in marriage matching

कलत्र भाव कुंडली का सातवां भाव/Seventh house होता है। ज्योतिष को यह अवश्य जांचना चाहिए कि विवाह के लिए मिलान की जा रही किसी भी कुंडली के सातवें भाव में कोई समस्या ना हो।

8. शैया सुख स्थान/ Shaiya Sukh Sthana

हर व्यक्ति की कुंडली में यौन सुख का आकलन करने के लिए बारहवें भाव को देखा जाता है। वर्तमान समय में, चीजें बदल रही है और लोगों की यौन आदतें भी उसी अनुसार बदलती जा रही हैं। अब लोग बहुत सारी चीजों को देख कर अपनी इन आदतों को बदल रहा है, इसलिए किसी भी व्यक्ति के विवाह करने से पहले यौन इच्छाओं की वैधता की जांच कराना आवश्यक होता है।

9. विवाह के मिलान के लिए त्रिशमसा चेक-इन चार्ट/ Trishamsa check-in charts matching for marriage

यह कुंडली मिलान का अंतिम चरण होता है। डी-30 की एक गहन विश्लेषण को त्रिशमसा मिलान भी कहा जाता है। यह महिला के चरित्र को दर्शाता है और विवाहेतर संबंध, विधवा योग, व्यभिचार और महिला के परिवार की प्रतिष्ठा जैसे कुछ बिंदुओं का संकेत दे सकता है। ज्यादा बेहतर परिणाम के लिए हम यौन अनुकूलता, पारिवारिक और आपसी संबंध अनुकूलता और विभिन्न स्थितियों में समायोजन की अनुकूलता को देखते हैं।

अष्टकूट अंक (नक्षत्र मिलान) के साथ उपरोक्त नौ बिंदु ऐसे कारक हैं जो पूर्ण कुंडली मिलान का हिस्सा है। साथ ही साथ आप इन सभी सुविधाओं को हमारे निःशुल्क कैलकुलेटर से नहीं जान पाएंगे। आप किसी अन्य कैलकुलेटर से भी इन बातों को नहीं जान सकते हैं।

उपरोक्त ज्योतिषीय नियमों का पालन करने का परिणाम/ Result of following the above astrological rules

यदि आपने अपने विवाह के लिए कुंडली मिलान कर लिया है तो आपको कुछ अन्य तथ्यों के लिए किसी अच्छे और ज्ञानी ज्योतिषी से संपर्क करना चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपकी वैसा जीवन साथी मिल सकता है जिसकी कामना आपने की थी। यदि आप सही तरीके से कुंडली मिलान के लिए प्रक्रिया को अपनाते हैं तो आपको –

उपरोक्त ज्योतिषीय नियमों का पालन करने का परिणाम/ Result of following the above astrological rules

यदि आपने अपने विवाह के लिए कुंडली मिलान कर लिया है तो आपको कुछ अन्य तथ्यों के लिए किसी अच्छे और ज्ञानी ज्योतिषी से संपर्क करना चाहिए। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपकी वैसा जीवन साथी मिल सकता है जिसकी कामना आपने की थी। यदि आप सही तरीके से कुंडली मिलान के लिए प्रक्रिया को अपनाते हैं तो आपको –

  1. यौन अनुकूल साथी मिलेगा
  2. वित्तीय अनुकूल साथी मिलेगा
  3. अच्छे रिश्तेदार मिल सकते हैं
  4. मानसिक रूप से स्वस्थ जीवनसाथी मिलेगा
  5. ऐसा साथी मिलेगा जिसमें दोनों साथियों के बीच परस्पर आदर की भावना रहेगी।
  6. विनम्र साथी मिलेगा
  7. आपको ऐसा साथी मिलेगा जो आपके साथ लंबे समय या सारी उम्र साथ रहेगा।
  8. इसके जरिए आपका विवाह लंबे समय तक टिकेगा
  9. विवाहेत्तर सम्बन्ध की भावना खत्म हो जाएगी।

मैंने बहुत सारे प्रमाणन देखें हैं जो बोलते हैं यह जन्मतिथि के अनुसार सबसे उत्तम वेबसाइट है। लेकिन वह सभी वेबसाइट आपको इस विषय में व्यक्तिगत सहायता नहीं दे सकते हैं। यदि आपके मन में इस विषय में कोई भ्रम है तो आप हमसे ऑनलाइन रिपोर्ट भी ले सकते हैं। यह रिपोर्ट आपके लिए लाभदायक साबित हो सकती है।

आप परामर्श सत्र के लिए हमारे ऑफिस बजरंगी धाम, नोएडा भी आ सकते हैं। लेकिन आपको एक बात समझना होगा कि निशुल्क कुंडली मिलान/ Free Kundli matching विवाह करने के लिए पर्याप्त जानकारी नहीं दे सकता है। यह सिर्फ आपको संकेत देता है कि आप विवाह कर सकते हैं या नहीं। इसके आगे जानने के लिए आपको व्यापक कुंडली मिलान/ comprehensive Kundli matching की आवश्यकता पड़ सकती है। आप इंटरनेट पर जो भी कैलकुलेटर का प्रयोग करते हैं वह सिर्फ आपको संकेत देता है।

कुंडली मिलान पर विशेष मार्गदर्शन के लिए, आप नीचे दिए गए तरीकों से हमसे सहायता प्राप्त कर सकते हैं:

ऑनलाइन रिपोर्ट या मेरे साथ सीधे परामर्श सत्र का विकल्प चुनें।

नवीनतम ज्योतिष समाचार: डॉ विनय बजरंगी