करियर के लिए ज्योतिष भविष्यवाणियां - Career Astrology

क्या आप ज्योतिष पर आधारित करियर परामर्श/ career counselling based on astrology के बारे में जानते हैं ? आपको एक बात समझनी पड़गी कि "कम निवेश से अधिक लाभ " कभी नहीं होता है। जन्मतिथि के आधार पर सुझाए गए करियर विकल्प जन्म कुंडली के अनुसार उन विकल्पों के विषय में बताते हैं जो आपको लाभान्वित करते रहते हैं।

इसलिए, यदि आप कभी भी करियर विकल्प  चुनने में उलझ जाते हैं, तो मेरा सुझाव है कि इससे बाहर निकलने के लिए आप मुझसे संपर्क कर सकते हैं ।

एक करियर ज्योतिषी/career astrologer होने के नाते मैं निम्नलिखित स्थितियों को हल करने में आपकी सहायता  कर सकता हूं:

  • पढाई के लिए विषय का चुनाव (10 वीं, 12 वीं के बाद, स्नातक के लिए, ग्रेजुएशन के लिए, पीएचडी और प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए परामर्श)।
  • आपकी राशि के अनुसार आपके लिए सबसे बेहतर करियर।
  • अपनी सबसे बड़ी दुविधा को हल करें: नौकरी या बिजनेस।
  • अपनी कुंडली में सरकारी नौकरी की संभावनाओं को तलाशें। गलत दिशा में जाकर अपना समय बर्बाद ना करें।
  • नौकरी से संबंधित सभी समस्याएँ जैसे नौकरी न होना, ऑफिस में अप्रिय माहौल, नौकरी जाने का डर और वर्तमान नौकरी का भविष्य।
  • नौकरी बदलने और पदोन्नति से सम्बंधित प्रश्नों के उत्तर जानें।
  • आपकी राजनीतिक आकांक्षाएं और उन्हें पूर्ण करने के तरीके।
  • विदेश में आपके लिए अवसर और इन्हें पाने के तरीके।

सावधान: करियर एक महत्वपूर्ण विषय है, करियर के लिए ऑनलाइन ज्योतिष भविष्यवाणियों पर विश्वास ना करें। करियर परामर्श कभी भी किसी भी अंजान गणनाओं पर आधारित नहीं होती है, और इसलिए, करियर के लिए मुफ्त ज्योतिष भविष्यवाणियां/free astrological predictions for career निश्चित रूप से आपको भ्रमित कर सकती हैं।

महत्वपूर्ण बिंदु: करियर के लिए ज्योतिषीय उपाय तब तक न करें जब तक कि आपकी कुंडली का विश्लेषण किसी विशेषज्ञ ज्योतिषी द्वारा न किया जाए।

जन्म तिथि के अनुसार करियर चुनाव के लाभ 

अब मैं एक छोटी परन्तु वास्तविक कहानी के माध्यम से सही करियर चयन के ज्योतिषीय रहस्यों को उजागर करने का प्रयास करूंगा जो सही समय पर सही ज्योतिषीय मार्गदर्शन के लाभों को आपको बताएगी।

जन्म तिथि के अनुसार करियर चुनाव के लाभ 

अब मैं एक छोटी परन्तु वास्तविक कहानी के माध्यम से सही करियर चयन के ज्योतिषीय रहस्यों को उजागर करने का प्रयास करूंगा जो सही समय पर सही ज्योतिषीय मार्गदर्शन के लाभों को आपको बताएगी।

एक लड़की है जिसका नाम अवनि ठाकुर है। उसने 10वीं की परीक्षा में 86 फीसदी अंक हासिल किए। करियर परामर्श/ career counseling में उसको  विज्ञान विषयों के चयन की सलाह दी गयी गई ताकि वह चिकित्सा क्षेत्र  में करियर बना सके। अवनी ने अपनी 12 वीं की बोर्ड परीक्षा में 90% अंक प्राप्त किए। यह अंक भारत में कहीं भी चिकित्सा क्षेत्र में पढ़ने के लिए पर्याप्त नहीं थे। इसके बाद वह किसी भी प्रतियोगी परीक्षा के माध्यम से मेडिकल की शिक्षा के लिए कहीं भी अपना स्थान सुरक्षित नहीं कर सकी, इसलिए उसने एक वर्ष पूर्ण समर्पण के साथ तैयारी कर एक और प्रयास करने का निर्णय किया।

इस बीच, उसके माता-पिता ने उसे बीएससी में एडमिशन लेने के लिए कहा। उन्होने ऐसा करने के लिए इसलिए कहा क्योंकि यदि वह चिकित्सा क्षेत्र में दाखिला लेने में असफल होती तो उसका वर्ष बर्बाद हो जाता। यह सच साबित हुआ और वह अगले तीन वर्षों तक मेडिकल सीट सुनिश्चित नहीं कर सकी। उसने अपनी बी.एससी की पढ़ाई पूर्ण की, परन्तु एमबीबीएस की पढ़ाई के प्रति उसका आकर्षण हर बीतते साल प्रबल मजबूत होता जाता। अंत में, वह 12वीं कक्षा पास करने के चार साल बाद प्रतिष्ठित एमबीबीएस कॉलेज में एडमिशन ले पाई। उसने कोई करियर मार्गदर्शन/Career guidance नहीं लिया और जो कुछ भी उसके सामने आया, वह करती गई।

जब वह एक स्नातक चिकित्सक (undergrad Doctor) बनीं, तब वह 28 साल की थीं। अब, या तो वह नौकरी कर सकती थी या आगे की पढ़ाई। हालाँकि उसने स्नातकोत्तर (post-graduation) कोर्स में एडमिशन ले लिया था, परन्तु दो कारणों से उसमें दाखिला नहीं लिया । पहला, स्नातकोत्तर की विशेषज्ञता उसकी रुचिनुसार नहीं थी। दूसरी यह कि उस महाविद्यालय की प्रतिष्ठा अपेक्षा के अनुरूप नहीं थी। उसने अपना प्रवेश त्यागने और नौकरी करने का निर्णय किया। उसे अपने शहर के एक छोटे से अस्पताल में कम वेतन वाली नौकरी मिल गई थी, जो उसके लिए संतोषजनक नहीं थी और शायद किसी के लिए भी नहीं होता। अब तक उसने करियर के लिए कोइ भी ज्योतिषय परामर्श/Astrology consultation नहीं लिया था।

जन्म तिथि के अनुसार करियर चुनाव/Career selection as per birth date के बिना उसने लगातार तीन वर्षों तक सरकारी नौकरी की प्रवेश परीक्षा दी, लेकिन सरकारी नौकरी पाने में सफल नहीं हो सकी। 31 साल की उम्र में उसके माता-पिता ने उसका विवाह करने का फैसला किया। चूंकि उसने आगे पढ़ने का फैसला नहीं किया था और नौकरी की थी, इसलिए उसने अपने सभी पुराने दोस्तों से संपर्क खो दिया था। इसी कारणवश वह लव मैरिज की तरफ नहीं देख सकती थी।

चूंकि वह एक डॉक्टर थी, इसलिए उसके माता-पिता को विवाह के लिए कई उचित प्रस्ताव मिले। आखिरकार, उनको एक एक प्रवासी भारतीय लड़का पसंद आया, और अवानी का विवाह 32 वर्ष  की आयु में हुआ। वह अपने पति के साथ तुरंत अमेरिका चली गई। उसने अब तक भी कोई ज्योतिष परामर्श नहीं लिया था।

वह विदेश तो चली गई, लेकिन वहां के किसी प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय ने उनकी योग्यता को मान्यता नहीं दी थी क्योंकि वहां की सरकार ने भारत के कोर्स को मान्यता नहीं दी थी। अपनी डिग्री को मान्य करने से पूर्व उसको  तीन वर्ष का ब्रिज कोर्स करना पड़ा।

उसी दौरान वह गर्भवती  हो गई और वह ब्रिज कोर्स भी नहीं कर पाई। अपने विवाह के चारवर्ष पश्चात, वह अमेरिका के उत्तरी कैरोलिना में प्राथमिक विद्यालय की शिक्षिका बन गई, परन्तु यह पेशा उसकी जन्म कुंडली के अनुसार नहीं है ।

वह विदेश तो चली गई, लेकिन वहां के किसी प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय ने उनकी योग्यता को मान्यता नहीं दी थी क्योंकि वहां की सरकार ने भारत के कोर्स को मान्यता नहीं दी थी। अपनी डिग्री को मान्य करने से पूर्व उसको  तीन वर्ष का ब्रिज कोर्स करना पड़ा।

उसी दौरान वह गर्भवती  हो गई और वह ब्रिज कोर्स भी नहीं कर पाई। अपने विवाह के चारवर्ष पश्चात, वह अमेरिका के उत्तरी कैरोलिना में प्राथमिक विद्यालय की शिक्षिका बन गई, परन्तु यह पेशा उसकी जन्म कुंडली के अनुसार नहीं है ।

यदि उसने वैदिक ज्योतिष में करियर की भविष्यवाणियों/ career predictions in Vedic Jyotish  पर विचार किया होता या परामर्श लिया होता, तो मैं उसे कुछ ऐसे विषय लेने का सुझाव  देता जिससे उसका करियर बन सकता था जैसे इंजीनियरिंग। यदि उसने अभियांत्री या इंजीनियरिंग की पढ़ाई की होती, तो उसकी जन्म तिथि के अनुसार वह एक आशाजनक करियर बना सकती थी, क्योंकि उसकी कुंडली में सरकारी नौकरी का कोई योग नहीं था। वह विदेश से एमएस कर सकती थी।

अवनि ने करियर के लिए कुंडली का आकलन का सहारा नहीं लिया। यही कारण था कि वह अपने अधिकांश प्रयासों में सफल नहीं हो सकी। यदि उसने करियर के लिए अपनी स्वतंत्र इच्छा, यानी करियर के लिए ज्योतिषीय उपायों का सहारा लिया होता तो वह भाग्य के समक्ष विवश नहीं होती और उसका करियर खराब नहीं होता।

करियर विकल्प चुनते समय आप क्या गलतियाँ करते हैं

क्या आपने कभी करियर ज्योतिष भविष्यवाणियों / career predictions in astrology के विषय में विचार किया है, जो आपके जीवन को हमेशा के लिए बदलने की क्षमता रखता है। चलिए आपको एक विद्वान ज्योतिषी द्वारा पालन करने वाले चरणों के बारे में बताते हैं:

करियर विकल्प चुनते समय आप क्या गलतियाँ करते हैं

क्या आपने कभी करियर ज्योतिष भविष्यवाणियों / career predictions in astrology के विषय में विचार किया है, जो आपके जीवन को हमेशा के लिए बदलने की क्षमता रखता है। चलिए आपको एक विद्वान ज्योतिषी द्वारा पालन करने वाले चरणों के बारे में बताते हैं:

  • पहला कदम व्यक्ति की बुद्धि और क्षमता का आकलन करने के लिए बृहस्पति की स्थिति का मूल्यांकन है।
  • फिर ज्ञान ग्रहण करने की क्षमता का आकलन करने के लिए बुध की प्रबलता का परीक्षण किया जाना चाहिए।
  • प्रारंभिक शिक्षा और भाषा का आकलन द्वितीय भाव/Second house से होता है ।
  • इसके बाद, पंचम भाव की प्रबलता देखी जाती है।
  • लग्न कुंडली के साथ-साथ-डी -7, डी -9 चार्ट का अध्ययन किया जाना चाहिए ।

ऐसा करने के बाद ही सही विषय का चयन किया जा सकता है।

आप नीचे दिए गए हमारे समाचार अनुभाग में 'आउटलुक इंडिया में करियर कुंडली के अनुसार विषयों का चयन' पर मेरा नवीनतम साक्षात्कार भी पढ़ सकते हैं। अब, मैं आपके करियर राशिफल को पढ़कर सही करियर के चयन के विषय में बताऊंगा।

वैदिक ज्योतिष में करियर की भविष्यवाणी

वैदिक ज्योतिष में करियर की भविष्यवाणी आपको ऐसा करियर के चुनाव में सक्षम बनाती है जिससे आप सर्वाधिक लाभान्वित होंगे। मैं आपके सफल करियर के लिए आपकी कुंडली की जांच के माध्यम से आपको बिजनेस, इंजीनियरिंग, डॉक्टर, राजनीति आदि में से सर्वथा उपयुक्त करियर के विषय में बता सकता हूं।

वैदिक ज्योतिष में करियर की भविष्यवाणी

वैदिक ज्योतिष में करियर की भविष्यवाणी आपको ऐसा करियर के चुनाव में सक्षम बनाती है जिससे आप सर्वाधिक लाभान्वित होंगे। मैं आपके सफल करियर के लिए आपकी कुंडली की जांच के माध्यम से आपको बिजनेस, इंजीनियरिंग, डॉक्टर, राजनीति आदि में से सर्वथा उपयुक्त करियर के विषय में बता सकता हूं।

यदि आप ज्योतिष के विषय में जानना चाहते हैं तो मेरे द्वारा की जाने वाली संक्षिप्त प्रक्रिया को जानें:

  • मैं जन्म कुंडली में दशम भाव/Tenth house तथा उसके स्वामी की जांच करता हूं।
  • दशम भाव भाव में विराजमान तथा इस भाव दृष्टि वाले ग्रह की जांच करता हूं।
  • मैं लग्न चार्ट का विश्लेषण करता हूं।
  • मैं करियर विकल्पों पर सुझाव देने के लिए डी-9, डी-10 का अधयन्न करता हूँ।
  • सर्वश्रेष्ठ करियर के चुनाव के लिए जामिनी सूत्र और चंद्र कला नाड़ी के नियम का पालन करता हूं।

मैंने कई लोगों को करियर के लिए फ्री ज्योतिष भविष्यवाणी के झांसे में फंसते हुए देखा है जो निश्चित रूप से त्रुटिपूर्ण परिणाम देता है। इसके बजाय आपको अपने करियर राशिफल/Career horoscope का मूल्यांकन किसी विशेषज्ञ ज्योतिषी से करवाना चाहिए ताकि निश्चित करियर ज्योतिष भविष्यवाणियां / career astrology predictions हो सकें।

जन्म तिथि के अनुसार करियर चयन के लिए वैदिक ज्योतिषीय मार्गदर्शन के लिए, आप मुझसे परामर्श ले सकते हैं ।

नीचे हमारे समाचार अनुभाग में 'अपनी  करियर कुंडली के अनुसार सही करियर के चयन' पर हिंदुस्तान टाइम्स में एक प्रासंगिक कहानी पढ़ें।

online report on careeror

consult me for an astrological session.

Latest astrology news: Dr. Vinay Bajrangi

Free calculators