व्यापार का विस्तार ज्योतिष के अनुसार | Best time for business expansion

व्यापार का विस्तार

यदि आप जन्म कुंडली के अनुसार बिजनेस का विस्तार/business growth as per birth chart करना चाहते हैं तो एक दम सही स्थान पर आए हैं।

ज्योतिष के अनुसार बिजनेस का विस्तार, आपको हर चरण में सहायता करता है। बिजनेस के विस्तार के लिए ज्योतिषीय रणनीतियाँ निम्नलिखित तरीकों से आपकी सहायता करती हैं:

  • यह आपको जन्म कुंडली के अनुसार बिजनेस के  विस्तार के लिए अनुकूलतम और सर्वाधिक उत्पादक समय जानने में सहायक होता है।

  • जन्म तिथि के अनुसार बिजनेस के  विस्तार के लिए सही समय के निर्धारण के अतिरिक्त, यह आपको उन वस्तुओं और क्षेत्र के विषय में जानकारी देता है जो आपकी जन्म कुंडली के अनुसार बिजनेस के विकास के लिए उपयुक्त होगा।

  • जन्म कुंडली में बिजनेस के विस्तार के लिए जिम्मेदार भावों के विषय में पढ़ने से आपको यह भी ज्ञात हो सकता है कि किसके साथ साझेदारी करनी है।

  • ज्योतिष के माध्यम से बिजनेस के विस्तार/business growth through astrology के विषय में अध्ययन करने से आप समझ सकते हैं कि कोइ व्यापार विस्तार आपके लिए उपयोगी है अथवा नहीं।

  • कभी-कभी स्थिति ऐसी होती है कि आपको दूसरे बिजनेस को अपने अधिकार में लाना पड़ता  है और उसका  विलय अपने बिजनेस में करना पड़ता है।

  • ज्योतिष के अनुसार बिजनेस के विस्तार का मूल्यांकन करने के लिए ग्रहों की स्थिति से अवगत होना व्यापार विस्तार में सहायक साबित हो सकती है।

इसी कारण, जब किसी बिजनेस के विस्तार की बात आती है, तो बिजनेस के विस्तार के लिए हमें ज्योतिषीय परामर्श के लिए किसी योग्य ज्योतिषी के पास जाना चाहिए।

जन्म तिथि के अनुसार व्यापार विस्तार के लिए ज्योतिषीय सुझाव

जन्म तिथि के अनुसार कंपनी के विकास के लिए ज्योतिषीय संयोजन के आंकलन करने से पूर्व, आपको कुछ चीज़ें समझनी होगी:

जन्म तिथि के अनुसार व्यापार विस्तार के लिए ज्योतिषीय सुझाव

जन्म तिथि के अनुसार कंपनी के विकास के लिए ज्योतिषीय संयोजन के आंकलन करने से पूर्व, आपको कुछ चीज़ें समझनी होगी:

  • बिजनेस करना और उसका विस्तार करना दो अलग अलग चीजें हैं, और ज्योतिष इन दोनों के लिए भिन्न नियमों को उल्लेखित करता है और इसे बिजनेस के विस्तार के लिए ज्योतिष/astrology for business growth के नाम से जाना जाता है।

  • अपने बिजनेस में बहुत अच्छा कर रहे लोगों को विस्तार का प्रयास करते समय अचानक धन हानि हो सकती है।

  • जन्म तिथि के अनुसार बिजनेस का विस्तार के लिए सही समय का आंकलन आवश्यक है

  • विभिन्न बिजनेस के लिए विस्तार का समय और ज्योतिषीय रणनीतियाँ/timing of business expansion as per birth chart भिन्न हो सकती हैं।

ज्योतिष व्यापार वृद्धि/विस्तार का निर्णय से अधिकांश पहेलियों को हल कर सकता है और आपको सटीक परिणाम दे सकता है परन्तु इसके लिए एक कुशल ज्योतिषी की आवश्यकता होती है:

  • जन्म कुंडली के अनुसार कंपनी की विकास के लिए रणनीति का सही समय।

  • बिजनेस वृद्धि/विस्तार में सहायक ग्रहों पर ध्यान दें, और परिणामों के फलीभूत होने के समय को जानें।

  • आपके आज के मुकाम की तुलना में जन्म कुंडली में व्यापार वृद्धि के संकेत।

  • क्या आपकी जन्म कुंडली के अनुसार बिजनेस का विस्तार आपके फैमिली बिजनेस से संबंधित है, या यह पूर्ण रूप से कुछ नया बिजनेस को लेकर कोई योग है?

  • आपकी कुंडली में 'धन योग' या लक्ष्मी योग कब है, अर्थाथ अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए जन्म कुंडली धन योग या लक्ष्मी योग को देखा जाता है

बिजनेस का विस्तार करने से पूर्व बिजनेस के विस्तार के लिए अपनी कुंडली और ज्योतिष को समझना आवश्यक है। सावधानी हटने पर धन, प्रतिष्ठा और समय का नुकसान हो सकता है और इससे आपके सपने अधूरे ही रहते हैं।

हिंदुस्तान टाइम्स में 'अपने व्यवसाय को पूर्ण रूप से किस प्रकार परिवर्तित करें ' और आउटलुक में 'बिजनेस की सफलता में ज्योतिष किस प्रकार सहायता करता है' पर लेख को पढ़ें। इन लेखों को हमारे समाचार विभाग से पढ़ सकते हैं।

ज्योतिष के माध्यम से बिजनेस का विस्तार

यदि आप कुंडली पढ़ने और बिजनेस के विस्तार के लिए उत्तरदायी विभिन्न संयोजनों को समझना चाहते हैं, तो इस लेख का यह भाग आपके लिए ही है। अब आइए सर्वप्रथम समझते हैं कि कौन से ग्रह व्यापार विस्तार में सहायता करते हैं :

बिजनेस के विस्तार में कौन से ग्रह सहायक होते हैं?

बिजनेस के विस्तार में शनि की भूमिका

नवग्रहों में शनि कर्मयोगी ग्रह है। यह मकर और कुम्भ राशि का स्वामी है, तुला राशि में इसकी स्थिति उच्च होती है, और मेष राशि में नीचे होती है। कुंभ राशि के लिए चंद्र त्रिकोण राशि है, अर्थाथ यह वह राशि है जहां सबसे जल्दी परिणाम मिलते हैं।

बिजनेस के विस्तार में कौन से ग्रह सहायक होते हैं?

बिजनेस के विस्तार में शनि की भूमिका

नवग्रहों में शनि कर्मयोगी ग्रह है। यह मकर और कुम्भ राशि का स्वामी है, तुला राशि में इसकी स्थिति उच्च होती है, और मेष राशि में नीचे होती है। कुंभ राशि के लिए चंद्र त्रिकोण राशि है, अर्थाथ यह वह राशि है जहां सबसे जल्दी परिणाम मिलते हैं।

ज्योतिष के अनुसार बिजनेस के विस्तार का अनुमान लगाने में शनि एक  महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शनि का विश्लेषण, जन्म कुंडली में उसका नक्षत्र, नवांश कुंडली और राशि आदि जन्म कुंडली के अनुसार कंपनी और बिजनेस की वृद्धि की दिशा को उल्लेखित करने में सहायता करते हैं।

बिजनेस के विस्तार में विस्तार में सूर्य और चंद्रमा की भूमिका

सूर्य और चंद्रमा को कुंडली का सबसे महत्वपूर्ण अंग मानते हैं जिनका व्यापार विस्तार में अवश्य प्रयोग होता है।

बिजनेस के विस्तार में बुध की भूमिका

बुध की प्रबल स्थिति बिजनेस के सफल विस्तार की ओर इशारा करती  है। इसी कारणवश बहुत सारे ज्योतिषी बिजनेस के आंकलन के लिए बुध की स्थिति का भी आंकलन करते हैं।

बिजनेस के विस्तार के लिए जिम्मेदार भाव :

बिजनेस के विस्तार के लिए निम्नलिखित भाव जिम्मेदार होते हैं। किसी विशेषज्ञ द्वारा इन भावों के आंकलन से बिजनेस  के विस्तार के बारे में सटीक जानकारी प्राप्त हो सकती है।

बिजनेस के विस्तार के लिए जिम्मेदार भाव :

बिजनेस के विस्तार के लिए निम्नलिखित भाव जिम्मेदार होते हैं। किसी विशेषज्ञ द्वारा इन भावों के आंकलन से बिजनेस  के विस्तार के बारे में सटीक जानकारी प्राप्त हो सकती है।

  • दशम भाव

  • द्वितीय भाव  

  • प्रथम भाव 

  • शनि से दशम भाव

  • नवमांश कुंडली 

  • दसमांश कुंडली 

बिजनेस का विस्तार और ज्योतिष एक साथ चलते हैं। बिजनेस के विस्तार के लिए उत्तरदायी उपरोक्त भावों का अध्ययन किया जाता है:

  • भाव के स्वामी की शक्ति

  • भावों की प्रबलता

  • भाव और उसके स्वामी की दृष्टि वाले ग्रह

  • दशा

  • गोचर

इस लेख को दो तरह के लोग पढ़ सकते हैं। सर्वप्रथम ज्योतिष के शौकीन जो इस विषय में ज्ञान प्राप्त करना चाहते हैं। दूसरे जो शायद आप हैं, जिन्हें बिजनेस के विस्तार के विषय में जानने की इच्छा है।

यदि आप दूसरी श्रेणी में हैं, तो मैं निवेदन करता हूं कि आप स्वयं अपनी कुंडली के आंकलन करने का प्रयास ना करें। आपके बिजनेस में बहुत कुछ दांव पर लगा है और आप कुंडली के  गलत और अनिर्णायक पठन से गुमराह हो सकते हैं । जन्म तिथि के अनुसार कंपनी के विकास का अध्ययन करना किसी  नौसिखिए का काम नहीं है। आपको किसी विशेषज्ञ और अनुभवी ज्योतिषी द्वारा बिजनेस के विस्तार के लिए ज्योतिषीय परामर्श के लेना/astrological consultation for business expansion चाहिए क्योंकि वह जन्म कुंडली के अनुसार बिजनेस के विस्तार के लिए उत्तम सुझाव देता है


You can also read how astrology helps you on business failure reasonslucky business name suggestionsnew business ideas on your birth chartbusiness partner selectionright business selection as per date of birth and parental and family owned business.