जन्म तिथि के अनुसार ज्योतिष आपके बिजनेस के बारे में क्या बताता है - Business Astrology



पूछे जाने वाले प्रश्न

किसी भी व्यक्ति की कुंडली में व्यापार हेतु कई ग्रह महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। मुख्य रुप से बुध और बृहस्पति को व्यापार हेतु अनुकूल ग्रह माने गए हैं। तो कुंडली में इन ग्रहों की स्थिति आपके व्यापार हेतु महत्वपूर्ण रह सकती है।

कुंडली में दशम भाव का संबंध आपके कर्म क्षेत्र को दर्शाता है और आपके व्यापार के लिए दशम भाव दशमेश और लाभ भाव लाभेश की स्थिति काफी महत्वपूर्ण होती है जो आपको व्यवसाय में सफलता दिला सकती है आईये जानते हैं कैसे समझे इस तथ्य को।

ज्योतिष शास्त्र द्वारा किसी भी व्यक्ति के व्यवसाय को आसानी से समझा जा सकता है। व्यक्ति नौकरी या व्यवसाय करेगा यह राज़ आपकी कुंडली में ही छिपा है। तो आईये जानते हैं की कैसे आपकी कुंडली बताती है आपको कौन से कार्यक्षेत्र में होंगे सफल।

ज्योतिष जीवन के प्रत्येक पहलू को दर्शाता है। किसी भी जातक का कार्यक्षेत्र भी ज्योतिष की सीमा में आता है।. आपकी कुंडली का दशम, एकादश, द्वितीय भाव का संबंध आपके व्यवसाय की सटीक भविष्यवाणी कर सकता है।

व्यापार में सफलता पाने के लिए कुंडली में व्यापार से संबंधित ग्रहों को समझने की आवश्यकता होती है. जहां शनि हमें नौकरी कराता है सेवा करने को आगे रखता है वहीं व्यापार में हम बॉस बनते हैं तो उस स्थिति में बुध, बृहस्पति, चंद्रमा इन सभी का महत्वपूर्ण रोल होता है। आईये जाने क्या कहते हैं आपकी कुंडली के ग्रह