क्या आपकी जन्म कुंडली सट्टेबाजी और जुआ का समर्थन करता है?

सट्टेबाजी और जुआ धन कमाने के लिए सबसे आसान रास्ता माना जाता है। सट्टेबाजी और जुआ में शुरुआत में फायदा होना बहुत ज्यादा हानिकारक साबित हो सकता है। इससे आप जुआ और सट्टेबाजी की ओर ज्यादा आकर्षित हो जाएंगे और यह आपको लत की तरफ ले जाता है।

क्या आपकी जन्म कुंडली से सट्टेबाजी और जुए का संकेत मिलता है? Does your Horoscope support Betting and Gambling?

समय के साथ यह आदतें बढ़ सकती है, क्योंकि उन्हें यहां से ज्यादा धन आने की उम्मीद दिख रही होती है। यदि लोग कुछ एहतियातन कदम उठाते हैं और इस तरह की गतिविधियों से दूरी बना कर रखे तो वह बहुत बड़ी घटना से बच सकते हैं।

क्या आपकी जन्म कुंडली से सट्टेबाजी और जुए का संकेत मिलता है? Does your Horoscope support Betting and Gambling?

समय के साथ यह आदतें बढ़ सकती है, क्योंकि उन्हें यहां से ज्यादा धन आने की उम्मीद दिख रही होती है। यदि लोग कुछ एहतियातन कदम उठाते हैं और इस तरह की गतिविधियों से दूरी बना कर रखे तो वह बहुत बड़ी घटना से बच सकते हैं।

हर व्यक्ति की कुंडली/Birth Chart में कुछ विशिष्ट संकेत होते हैं जो इन सब के बारे में आपको पहले से ही बता सकते हैं।

  1.  यदि कोई जुआ खेलता है तो क्या वह इसमें सफल होगा?

  2. यदि इनका योग है, तो यह कब फलित होगा?

  3. क्या जुआ और सट्टेबाजी का योग जातक के लिए हानिकारक साबित हो सकता है?

  4. जुआ और सट्टेबाजी खेल है या कोई बीमारी?

  5. कब यह खेल बीमारी का रूप ले सकता है?

  6. जो व्यक्ति इस खेल की लत में फंस गया है, उसे कैसे बचाएं?

इस विषय को और गंभीरता से जानने से पहले मैं आपको बताना चाहता हूं कि आपकी कुंडली/Natal Chart में सट्टेबाजी और जुआ कितना मजबूत हो सकता है।

अपनी जन्म तिथि, समय और स्थान को यहां डालें:

इन प्रश्नों के आधार पर परिणाम

  1.  क्या आप जुआ खेलते हैं?

  2. आप कितने समय से जुआ खेल रहे हैं?

  3. क्या आप खेल में जुआ लगाते हैं? Do you bet in sports matches?

  4.  क्या आप इंट्राडे शेयर व्यापार में शामिल हैं?

  5. क्या आप वित्तीय घाटे का प्रबंधन कर सकते हैं?

  6. क्या आप वित्तीय घाटे को कम करने के लिए चोरी करते हैं?

  7. क्या आप ऑनलाइन सट्टेबाजी करते हैं?

परिणाम के लिए यहां क्लिक करें।

नोट – जल्द ही यह सुविधा हम आपके लिए लेकर आने वाले हैं।

क्या आपको पता है कि वैदिक ज्योतिष,Vedic Astrology की सहायता से किसी भी खेल, घटना, या शेयर की भविष्यवाणी करना संभव है। हां, आपने सही सुना।

क्या ज्योतिष की सहायता से क्रिकेट मैच के बारे में भविष्यवाणी हो सकती है? Can astrology predict about cricket matches?

हां, ज्योतिष से क्रिकेट मैच की भविष्यवाणी की जा सकती है और एक ज्ञानी ज्योतिषी मैच के परिणाम की भविष्यवाणी कर सकता है। क्रिकेट मैच की भविष्यवाणी करने में वह ज्योतिष सक्षम होगा जिसको वैदिक ज्योतिष का अच्छा ज्ञान हो। वह सरल तरीके से आपके मैच, घटना और शेयर बाजार की भविष्यवाणी कर सकते हैं। व्यक्तिगत तौर पर मैं यह ना ही करता हूं और ना ही इसकी सलाह देता हूं क्योंकि सट्टेबाजी और जुआ आठवें भाव/Eighth House को सक्रिय करता है, और इस भाव का सक्रिय होना सबसे खराब त्रिक भाव होता है। लेकिन इसे मनोरंजन के उद्देश्य के लिए करना चाहिए।

क्या ज्योतिष की सहायता से क्रिकेट मैच के बारे में भविष्यवाणी हो सकती है? Can astrology predict about cricket matches?

हां, ज्योतिष से क्रिकेट मैच की भविष्यवाणी की जा सकती है और एक ज्ञानी ज्योतिषी मैच के परिणाम की भविष्यवाणी कर सकता है। क्रिकेट मैच की भविष्यवाणी करने में वह ज्योतिष सक्षम होगा जिसको वैदिक ज्योतिष का अच्छा ज्ञान हो। वह सरल तरीके से आपके मैच, घटना और शेयर बाजार की भविष्यवाणी कर सकते हैं। व्यक्तिगत तौर पर मैं यह ना ही करता हूं और ना ही इसकी सलाह देता हूं क्योंकि सट्टेबाजी और जुआ आठवें भाव/Eighth House को सक्रिय करता है, और इस भाव का सक्रिय होना सबसे खराब त्रिक भाव होता है। लेकिन इसे मनोरंजन के उद्देश्य के लिए करना चाहिए।

चलिए मान लेते हैं कि भारत और चीन के बीच में युद्ध हो रहा है, तो सवाल यह उठता है कि सबसे ज्यादा नुकसान किसका होगा। मैं यहां एक छोटी सी ट्रिक बताऊंगा, जिससे आप 80 % शुद्धता के साथ भविष्यवाणी कर सकते हैं। बचे हुए बीस प्रतिशत की भविष्यवाणी करने के लिए किसी वैदिक ज्योतिषी से मिल सकते हैं।

ट्रिक: विजेता के लिए ट्रिक

चरण 1 – उस समय को अपने दिमाग में रखें जिस समय मैच तथ्यात्मक रूप से शुरू होता है, फुटबॉल मैच की स्थिति में इस समय को किक-ऑफ समय भी कहा जाता है। आप उस समय का भी ध्यान दें जब क्रिकेट मैच में कोई व्यक्ति अपनी पहली गेंद फेंकने के लिए दौड़ लगाता है।

चरण 2 – लग्न आपकी पसंद की टीम को बताती है, और सातवां भाव/Seventh House प्रतिद्वंद्वी का संकेत देता है। यदि लग्न भाव मजबूत होगा तो आपकी पसंदीदा टीम जीत सकती है और यदि सातवां भाव मजबूत होता है तो आपके विपक्ष की जीत हो सकती है।

चरण 3 लग्न के लिए विजय वाला भाव (पसंदीदा): सातवें भाव (विपक्ष) के लिए विजय वाला भाव – सातवां भाव/Seventh House, नौंवा भाव/Ninth House, बारहवां भाव/Twelfth House, चौथा भाव/Fourth House और पांचवां भाव/Fifth House। कुंडली/Birth Chart में पीड़ित ग्रह शनि, मंगल, सूर्य, राहु और केतु होते हैं।

चरण 4 – अपनी कुंडली/Kundali में हानिकारक ग्रहों की संख्या को देखें जिससे परिणाम का पता चल सकता है। जीतने वाले भावों में पीड़ित भावों की जीत की अधिक महत्वपूर्ण मात्रा होती है।

इस तरीके से आप किसी भी खेल को जीतने की भविष्यवाणी कर सकते हैं, जो 80 प्रतिशत तक सही साबित हो सकती है।

लेकिन आपको इस बात का खासा ख्याल रखना चाहिए कि यह आदत हमेशा नियंत्रण में रखना चाहिए नहीं तो सट्टेबाजी की लत जीवन में बढ़ती ही है जो आपके जीवन में नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है जो आपके जीवन में मनोवैज्ञानिक, शारीरिक और सामाजिक प्रभाव डालते हैं। इसे आठवें भाव/Eighth House के माध्यम से देखे जाने वाले वांछित नियंत्रण विकार के रूप में देखा जाता है।

आप इस पेज के समाचार विभाग में मौजूद मेरा नवीनतम साक्षात्कार पढ़ सकते हैं। वह साक्षात्कार आउटलुक इंडिया / द वीक्स / हिंदुस्तान टाइम्स में प्रकाशित है। इसे पढ़ कर आप सट्टेबाजी और जुआ के बारे में पढ़ सकते हैं।

सट्टेबाजी के नफा और नुकसान/Pros and cons of Betting

सट्टेबाजी की लत को वित्तीय समस्या की सूची में नहीं डाला जा सकता, लेकिन इस विषय में भावनात्मक समस्या आर्थिक परेशानी का कारण बन सकती है। यह बताता है कि कैसे एक व्यक्ति जो इस विकार से पीड़ित है वह आपके और आपके परिवार को परेशान कर सकता है। उदाहरण के तौर पर देखें, तो जिन्हें जुए और सट्टेबाजी की लत लगती है वह अपने परिवार के साथ जरूरी कार्यों में शामिल नहीं हो पाते हैं। जो व्यक्ति सट्टेबाजी की लत से ग्रस्त होता है उसके मन में यह सवाल जरूर उठेगा कि “क्या मैं इस लत से खुद बाहर निकल सकता हूं?” अब मान लेते हैं, इस सवाल का जवाब नहीं है, तो इस स्थिति में आपको किसी ज्ञानी व्यक्ति से सहायता लेने की आवश्यकता पड़ सकती है।

सट्टेबाजी के नफा और नुकसान/Pros and cons of Betting

सट्टेबाजी की लत को वित्तीय समस्या की सूची में नहीं डाला जा सकता, लेकिन इस विषय में भावनात्मक समस्या आर्थिक परेशानी का कारण बन सकती है। यह बताता है कि कैसे एक व्यक्ति जो इस विकार से पीड़ित है वह आपके और आपके परिवार को परेशान कर सकता है। उदाहरण के तौर पर देखें, तो जिन्हें जुए और सट्टेबाजी की लत लगती है वह अपने परिवार के साथ जरूरी कार्यों में शामिल नहीं हो पाते हैं। जो व्यक्ति सट्टेबाजी की लत से ग्रस्त होता है उसके मन में यह सवाल जरूर उठेगा कि “क्या मैं इस लत से खुद बाहर निकल सकता हूं?” अब मान लेते हैं, इस सवाल का जवाब नहीं है, तो इस स्थिति में आपको किसी ज्ञानी व्यक्ति से सहायता लेने की आवश्यकता पड़ सकती है।

ज्योतिष में आपके पास पर्याप्त उपकरण होते हैं जिससे आपकी कुंडली/Kundli में सट्टेबाजी और जुए की आदत का पता लगाया जा सकता है। ज्योतिष के अनुसार कुछ राशियां होती है जिसमें साफ साफ लिखा होता है कि वह किसी लत में शामिल होगा कि नहीं। 

ज्योतिष के अनुसार, कुछ राशियां विशेष रूप से सट्टे और जुए से धन कमाने का संकेत देता है। उसके बाद, कुछ ग्रह और भाव होते हैं जो जातक को इन सभी चीजों से दूर रखती है। उन्हें जानने से पहले सट्टे और जुए के नफा और नुकसान जान लेना चाहिए।

  1. सट्टे और जुए की तरफ व्यक्ति क्यों जाता है?

  2. जब व्यक्ति को ज्यादा धन कमाने की लालसा होती है तो वह सट्टे की तरफ रूख कर सकता है।

  3.  यदि आप जुआ खेलना बंद कर देते हैं, तो हो सकता है कि आपको बेचैनी, या चिड़चिड़ापन हो सकता है।

  4.  एक दोहराया, असफल प्रयास जुआ को रोकने, नियंत्रित करने और कम करना में कारगर साबित हो सकती है।

  5. आप कभी कभी सट्टेबाजी की तरफ अपना रुख कर सकते हैं, या फिर आपके जेहन में सट्टे का ख्याल बार बार आए।

  6. जुआ खेलते समय व्यथित भावना का होना।

  7. धन के वापसी के बाद फिर से सट्टेबाजी की तरफ रुख कर लेना।

  8. वह जुआ से जुड़ी गतिविधियों को छिपाने के बारे में हमेशा झूठ बोलते हैं।

  9. आपके कार्य व्यवसाय में सट्टे के कारण समस्या खड़ी हो जाना।

  10. जुआ पर धन खर्च करने के लिए दूसरों पर निर्भर हो।

जुआ और सट्टेबाजी के लिए विशिष्ट परिस्थितियों

कुछ लोग जो जुआ की लत को विकसित करते हैं, उन्हें बहुत ज्यादा जिम्मेदार माना जाता हैं और वह भरोसेमंद लोग होते हैं, लेकिन कुछ कारक उनके व्यवहार में बदलाव ला सकते हैं।

  1.  निवृत्ति

  2. दर्दनाक परिस्थितियाँ

  3. नौकरी से जुड़े हुए तनाव

  4. भावनात्मक आपदाएं, जैसे अवसाद या चिंता

  5. अकेलापन

  6. अन्य खराब लत का होना

  7.  कुछ पर्यावरणीय कारक, जैसे मित्र या कोई अन्य अवसर

सट्टेबाजी और जुए के नकारात्मक प्रभाव

  1. अवसाद, चिंता की स्थिति या कुछ व्यक्तित्व विकार

  2. कुछ अन्य चीजों जैसे मादक पदार्थ और शराब की लत का होना।

  3. कुछ विशेष दवाओं का प्रयोग, जैसे एंटीसाइकोटिक दवाएं का प्रयोग जिसके कारण सट्टे की लत भी लग सकती है।

  4. यौन संबंध, जिसका पुरुषों पर प्रभाव महिलाओं से ज्यादा पड़ता है।

  5. सट्टे की लत मादक पदार्थ और शराब की लत के बराबर होता है। यदि किसी व्यक्ति को एक लत लग जाए तो उसे दूसरी लत भी हो सकती है।

  6. सट्टेबाजी की आदत किसी भी व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य पर असर डालता है।

  7. यदि किसी को इससे आनंद मिलता है तो वह इसका आदी हो जाएगा, और वह बार बार इस आनंद की प्राप्त करने के लिए इस क्रिया को दोहराएगा।

  8. दूसरी लत जैसे, शराब एक व्यक्ति के अंदर सहिष्णुता विकसित करना शुरू कर देता है।

  9. यदि किसी व्यक्ति को किसी चीज की लत हो, तो उसे सट्टे की लत का सहारा लेना पड़ता था। यह कुछ लोगों की आदत होती है, और इससे कभी कभी व्यक्ति को वित्तीय घाटा भी सहना पड़ सकता है। अपने घाटे को मुनाफे में तब्दील करने के लिए वह सट्टे की तरफ रूख करते हैं।

  10. यदि आपके आस पास ऐसे लोग रहते हैं जो सट्टे की गतिविधियों में शामिल है, तो यह आपको यह समस्या में डाल सकता है। जो भी व्यक्ति एक बार इस लत में घुस जाए तो उसे उससे बाहर निकलने में बहुत समस्या हो सकती है। यह जातक के तीव्रता और आवृत्ति को बढ़ाता है जिससे जातक के इस लत को कम करने की क्षमता प्रभावित होती है।

  11. इस लत का मनोवैज्ञानिक, व्यक्तिगत, शारीरिक, सामाजिक या व्यावसायिक प्रभाव हो सकता है।

  12. ना ही जुए की आवृत्ति और ना ही जुए में हारे हुए धन नहीं बता सकते कि सट्टेबाजी उस व्यक्ति के लिए समस्या है कि नहीं।

  13. कुछ लोगों के लिए, जो आवधिक जुआ खेलते हैं, उनके लिए भावनात्मक और वित्तीय परिणाम समान होंगे।

  14. कुछ लोगों के लिए यह समस्या बन सकता है खासकर तब जब कोई व्यक्ति इस लत से बचने में नाकाम हो।

  15. कैसीनो और लॉटरी वह जगह जहां पर लोग सट्टेबाजी करते हैं। व्यक्ति में लत बढ़ती जाती है यदि वह अपने व्यवहार को रोक नहीं पाता।

  16. जुआ के लिए विभिन्न खेल – रेसिंग, बिंगो, ताश का खेल, पासा खेल, लॉटरी, स्लॉट और खेल सट्टेबाजी जातक के लिए समस्या पैदा कर सकती है। हालांकि, कुछ प्रकार के जुए में ऐसी विशेषताएं होती हैं जो समस्या और परिणामों को बदल सकती हैं।

आप हमारे निःशुल्क कैलकुलेटर का प्रयोग करके इस विषय में और जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

सट्टबाजी और जुए की फायदे/Benefits of Betting and Gambling

जैसे की मैंने पहले आपको बताया है कि मैं सट्टेबाजी और जुए से निरंतर दूरी बना कर रखता हूं, क्योंकि वह आठवें भाव/Eighth House को सक्रिय कर सकता है। यही बात सभी पर लागू होती है। लेकिन मेरे पास किसी भी मैच की भविष्यवाणी करने की क्षमता है, और इससे मैं बहुत सारा धन भी कमा सकता हूं। लेकिन बाद में यह लत बन कर मुझे किसी बड़ी समस्या में डाल सकती है। इसमें कोई दो राय नहीं है कि सट्टेबाजी और जुए में बहुत फायदा है, लेकिन अंत में यह उस व्यक्ति को सिर्फ मुसीबत में ही डालेगा।

सट्टबाजी और जुए की फायदे/Benefits of Betting and Gambling

जैसे की मैंने पहले आपको बताया है कि मैं सट्टेबाजी और जुए से निरंतर दूरी बना कर रखता हूं, क्योंकि वह आठवें भाव/Eighth House को सक्रिय कर सकता है। यही बात सभी पर लागू होती है। लेकिन मेरे पास किसी भी मैच की भविष्यवाणी करने की क्षमता है, और इससे मैं बहुत सारा धन भी कमा सकता हूं। लेकिन बाद में यह लत बन कर मुझे किसी बड़ी समस्या में डाल सकती है। इसमें कोई दो राय नहीं है कि सट्टेबाजी और जुए में बहुत फायदा है, लेकिन अंत में यह उस व्यक्ति को सिर्फ मुसीबत में ही डालेगा।

जो भी ज्योतिष के छात्र सट्टेबाजी के लिए योग के संयोजन को पढ़ते है, उन्हें इसके योग को देखकर अचंभा होता है।

जन्म कुंडली में जुए की लत – ज्योतिष में जुए के योग/Betting addictions in the birth chart - Gambling yoga in astrology

हर ग्रह और भाव के कुछ विशिष्ट संकेत होते है। यह सभी जातक के समर्थन में या इसके विपरीत कार्य करता है। वहीं जातक की राशी के भी अपनी कुछ विशेषता, कमजोरी और ताकत होती है जो इसके मूल तत्व (हवा, पानी, पृथ्वी और अग्नी) के आधार पर होता है। यह सभी कारक मिल कर आपकी कुंडली/Horoscope में अलग अलग योग बनाते हैं।

कभी कभी कुछ पीडित ग्रह और भाव मिल कर सट्टेबाजी का योग बनाते हैं। नकारात्मक ग्रहों का पीडित भावों में संयोजन जुए का योग बनाता है। जुए का योग, राशि चिन्हों में अधिक विवेकपूर्ण होता है जो सट्टेबाजी, जुआ और सरल तरीके से धन कमाने की तरफ इशारा करता है। इसके लिए सबसे पहले आपको समझना होगा कि कौन से राशि, ग्रह और भाव सट्टेबाजी और जुए समर्थन या घृणा करते हैं। इन सभी के बारे में मैं आपको अलग अलग बताने वाला हूं।

जन्म तिथि से सट्टेबाजी की भविष्यवाणी/Prediction for Betting by the date of birth

अन्य ज्योतिष भविष्यवाणी की तरह ही जुए की भी भविष्यवाणी जन्मतिथि/Prediction for Betting by the date of birth के आधार पर मुमकिन है। इस तरह की भविष्यवाणी के लिए ज्योतिष को ग्रहों की नियुक्ति का अच्छा खासा ख्याल रखना चाहिए। उसके बाद कुंडली के राशि का आकलन होगा कि क्या वह जुए का समर्थन करते हैं। इस प्रक्रिया के बाद भाव का आकलन होता है जो जातक के जुए में हार या जीत का संकेत देता है। यह किसी व्यक्ति के जुए के प्राकृतिक झुकाव से बहुत अलग होता है। मैं उन सभी कारकों का यहां ज़िक्र करूंगा जो जातक के जीवन में सट्टेबाजी और जुए में सफलता या विफलता का संकेत देते हैं।

कौन से भाव जुए और सट्टेबाजी का संकेत देते हैं? Which houses support betting and gambling?

हर व्यक्ति की कुंडली में कुछ विशिष्ट भाव होते हैं जो सट्टेबाजी और जुए का समर्थन करते है। आम तौर पर यह भाव जातक के जीवन के सभी सपने पूरे करता है, और यह जातक की संपत्ति में भी वृद्धि की संभावना को दर्शाता है। लेकिन इन भावों का गलत आकलन आपके और आपके परिवार के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। मैं आपको बताने वाला हूं कि कौन से भाव सट्टेबाजी और जुए को दर्शाता है।

कौन से भाव जुए और सट्टेबाजी का संकेत देते हैं? Which houses support betting and gambling?

हर व्यक्ति की कुंडली में कुछ विशिष्ट भाव होते हैं जो सट्टेबाजी और जुए का समर्थन करते है। आम तौर पर यह भाव जातक के जीवन के सभी सपने पूरे करता है, और यह जातक की संपत्ति में भी वृद्धि की संभावना को दर्शाता है। लेकिन इन भावों का गलत आकलन आपके और आपके परिवार के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। मैं आपको बताने वाला हूं कि कौन से भाव सट्टेबाजी और जुए को दर्शाता है।

  1. व्यक्ति की संपत्ति के लिए दूसरे भाव/Second House की स्थिति – यदि कोई ग्रह इस भाव में रहे और प्रभावित हो; दूसरे भाव के स्वामी/Second House Lord और राशि का दशा, भाव और परिप्रेक्ष्य और राशि का दूसरे भाव/Second House के प्रति झुकाव।
  2. व्यक्ति की संपत्ति के लिए आठवें भाव/Eighth House की स्थिति जो साझेदारी और विवाह के माध्यम से संचित हो – कोई ग्रह जो इस भाव और पहलू में पाया जाए; आठवें भाव के स्वामी/Eighth House Lord और राशि द्वारा इसकी स्थिति, भाव और परिप्रेक्ष्य और आठवें भाव/Eighth House के पुच्छल स्थान पर राशि की दशा।
  3. व्यक्ति की संपत्ति के लिए ग्यारहवें भाव/Eleventh House की स्थिति जो व्यापार और करियर के माध्यम से संचित हो – ग्रह जो घर और पहलू के भीतर पाए जाते हैं; ग्यारहवें घर के शासक और संकेत, घर और परिप्रेक्ष्य द्वारा इसकी स्थिति; ग्यारहवें भाव की राशि की पुच्छ/Cusp पर राशि।
  4. शुक्र की स्थिति, जिसे दूसरे भाव के स्वामी/Second House Lord होते हैं, बृहस्पति, विस्तार का ग्रह। मैं आपकी कुंडली के उन जगहों को देखता हूं जहां पर वृषभ और धनु राशि की नियुक्ति होती है।
  5. कुंडली के स्वामी (लग्न के स्वामी) और दूसरे और आठवें भाव के स्वामी/Eighth House Lord के साथ संबंध। इसके अलावा, आपको दूसरे Second House और आठवें भावों/Eighth House में पाए जाने वाले किसी भी ग्रह का ध्यान रखना चाहिए।
  6. कुंडली/Kundali में शनि और मंगल की स्थिति जातक की इच्छाओं और महत्वाकांक्षा के बारे में बताता है। आपके लिए, यह कारक कोई क्षमता नहीं दिखाता है, लेकिन यह धन की जमा पूंजी के लिए तत्वों का योगदान कर सकता है।

दूसरा भाव के पास धन के प्रति नियम और दृष्टिकोण होता है। आठवें भाव उस धन को दर्शाता है जो साझेदारी और विवाह के द्वारा जमा होता है। ग्यारहवां भाव धन को दर्शाता है, और वह धन व्यापार और नौकरी से जमा हो सकता है। यह वही भाव है जो सट्टेबाजी और जुए के परिणाम को आपको बताता है।

कौन से भाव सरल तरीके से धन और सट्टेबाजी और जुए का संकेत देते हैं? Which planets support easy money and betting/gambling?

भावों के साथ साथ कुछ विशिष्ट ग्रह भी होते हैं जो जुए और सट्टेबाजी को आपकी कुंडली/Horoscope में दर्शाता है। चंद्रमा, शुक्र, राहु और बुध ही वह ग्रह होते हैं।

कौन से भाव सरल तरीके से धन और सट्टेबाजी और जुए का संकेत देते हैं? Which planets support easy money and betting/gambling?

भावों के साथ साथ कुछ विशिष्ट ग्रह भी होते हैं जो जुए और सट्टेबाजी को आपकी कुंडली/Horoscope में दर्शाता है। चंद्रमा, शुक्र, राहु और बुध ही वह ग्रह होते हैं।

कौन सी राशि जुए को सहयोग करती है? Which Zodiac signs support Betting?

कुछ विशिष्ट ग्रह और भाव के साथ कुछ राशियां होती है जो जातक को जुए के लिए समर्थन करती है। इन राशियों वाले जातक जुए और सट्टेबाजी जैसी गतिविधियों में शामिल रह सकते हैं। वृषभ, कर्क, मिथुन, कन्या, तुला, और मीन राशि सट्टेबाजी की आदतों का समर्थन करते हैं।

सट्टेबाजी का पांचवें भाव में भूमिका/Role of the Fifth house in Gambling

पांचवा भाव/Fifth House इस तरह के खेल का शासक होता है। ज्योतिष में ग्रह जैसे चंद्रमा, बुध, शुक्र और राहु जातक को सरल तरीके से धन कमाने का योग बनाते हैं। इन ग्रहों का पांचवें भाव में नियुक्ती सरल तरीके से धन कमाने की संभावना को बहुत ज्यादा बढ़ता है। वृषभ, कर्क, मिथुन, कन्या, तुला, और मीन राशियों कुछ ग्रहों के लिए अनुकूल स्थान है जो जातक को सट्टेबाजी और जुए में जीत दिला सकता है।

जो लोग लगातार सट्टेबाजी में जीत रहे हैं, उनका चंद्रमा मजबूत होगा और वह पांचवें भाव में होगा और साथ में उनका बारहवें भाव/Twelfth House पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। कुछ और ग्रह होते हैं जैसे शुक्र और बुध जो जातक को कभी कभी सट्टेबाजी और जुए में जीत दिला सकते हैं। यदि राहु किसी गलत स्थान में हो तो उस जातक को बहुत करोड़ों रुपयों का नुकसान हो सकता है। लेकिन मजबूत राहु का पांचवें भाव में नियुक्ती जातक के लिए शुभ साबित होगा और वह इस विषय में परिकलित खतरे के साथ कुछ धन जमा कर पाएगा।

कौन से ग्रह सट्टेबाजी और उससे उत्पन्न धन से नफरत करता है? Planets that hate betting and easy money

जैसे ज्योतिष के अनुसार कुछ भाव, ग्रह और राशि इस विषय में जातक के पक्ष में काम करते हैं वैसे ही कुछ ग्रह हैं जो सट्टेबाजी और जुए का समर्थन नहीं करते। बृहस्पति, शनि और केतु वह ग्रह होते हैं जिन्हें सट्टेबाजी पसंद नहीं होता है। शनि, केतु और बृहस्पति को जुए की लत पसंद नहीं होता है। शनि को मेहनत और ठहराव पसंद होता है; इसलिए वह किसी भी तरह से छोटे तरीके से पैसा कमाने को बढ़ावा नहीं देता है।

सट्टेबाजी और जुए के लिए ज्योतिष के अनुसार, बृहस्पति को ठहराव पसंद होता है और वह धार्मिक होते हैं। बृहस्पति के पास सही और गलत के बीच निर्णय करने की क्षमता होती है। केतु भी धार्मिक ग्रह है जिसे धन की बात करना पसंद नहीं होता है।

राशि जो धन और सट्टेबाजी से नफरत करते हैं/Signs which hate easy money and betting

पांचवें भाव में मकर और कुंभ राशि पर वह राशि सरल तरीके से धन कमाने को दर्शाता है जिसका स्वामी शनि हो। धनु राशि में बृहस्पति भी सट्टेबाजी से नफरत करता है। यह सभी राशियां जातक के जीवन में सरल तरीके से धन कमाने और सट्टेबाजी का समर्थन नहीं करता है। यह सभी राशियां जातक को अपने जीवन में किसी भी ऐसे रास्ते पर जाने से रोकता है जो उसे किसी भी बड़ी समस्या में डाल सकता है। यदि इस स्थिति में जातक सट्टेबाजी जैसी गतिविधि में शामिल होता है तो वह उसमें असफल हो सकता है। राशियां जैसे धनु, मकर और कुंभ राशि सट्टेबाजी और जुए का समर्थन नहीं करते हैं।

राशि जो धन और सट्टेबाजी से नफरत करते हैं/Signs which hate easy money and betting

पांचवें भाव में मकर और कुंभ राशि पर वह राशि सरल तरीके से धन कमाने को दर्शाता है जिसका स्वामी शनि हो। धनु राशि में बृहस्पति भी सट्टेबाजी से नफरत करता है। यह सभी राशियां जातक के जीवन में सरल तरीके से धन कमाने और सट्टेबाजी का समर्थन नहीं करता है। यह सभी राशियां जातक को अपने जीवन में किसी भी ऐसे रास्ते पर जाने से रोकता है जो उसे किसी भी बड़ी समस्या में डाल सकता है। यदि इस स्थिति में जातक सट्टेबाजी जैसी गतिविधि में शामिल होता है तो वह उसमें असफल हो सकता है। राशियां जैसे धनु, मकर और कुंभ राशि सट्टेबाजी और जुए का समर्थन नहीं करते हैं।

आम तौर पर यह नहीं कहा जाता है कि धन कमाने के लिए कोई अवैध रास्ता ना अपनाएं। हर व्यक्ति को अपने जीवन में सट्टेबाजी और जुए से दूर रहना चाहिए। यह बातें सभी को पता होती है, लेकिन फिर भी कुछ लोग धन कमाने के आसान तरीके को खोजते हैं। इस स्थिति में उन्हें अपने पांचवें भाव का आकलन करना चाहिए जो इस विषय में जातक को संकेत दे सकता है। उन्हें कुंडली/Kundali के आकलन करवा कर यह देखना चाहिए कि बारहवें भाव/Twelfth House पर कोई नकारात्मक प्रभाव तो नहीं पड़ रहा है।

किसी भी विशिष्ट मार्गदर्शन के लिए आप नीचे मौजूद किसी भी तरीके से मदद ले सकते हैं:

  1. जुए और सट्टेबाजी के लिए ऑनलाइन रिपोर्ट
  2. ज्योतिषी सत्र के लिए मुझसे संपर्क करें।

नवीनतम ज्योतिष समाचार: डॉ विनय बजरंगी

निःशुल्क कैलकुलेटर