Government job indications in the birth chart

According to astrologer Dr. Vinay Bajrangi, the main planet for getting a government job is the Sun. It has friendly relations with Mars and Jupiter and neutral relations with Mercury. For this reason, people with Aries, Taurus, Gemini, Leo, Libra and Scorpio ascendants are usually successful to getting government job
Read More

Child Birth Predictions

Child astrology can predict when you might become a parent. But before that you should be ready to have a child. This is very significant in today’s time where the preference for professional life sometimes overpowers the desired to plan a baby. And that is probably one of the main reasons that the IVF has become a very common word. But never mind, If you're considering having kids, astrology can guide you on the best times to plan, like the lucky times and dates for having a healthy baby or even when to schedule a C-section if needed. It can tell you the chances of child in birth chart through natural birth or medical procedures.
Read More

Dussehra 2023: जानें दशहरा पूजा शुभ मुहूर्त और महत्व

दशहरा का पर्व संपूर्ण भारत में उत्साह व हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। इस पर्व को विजयादशमी, अपराजिता पर्व, आयुध पूजा, सीमोल्लंघन इत्यादि नामों से भी जाना जाता है। इसके प्रत्येक नाम का अपना एक अलग अर्थ है। दशहरा अर्थात दस सिर वाले रावण की पराजय का उत्सव
Read More

श्राद्ध पक्ष में क्या है कौए का महत्व

हिन्दू शास्त्रों के अनुसार पितृपक्ष में कौए को खाना खिलाना अत्यंत महत्वपूर्ण माना गया है। ऐसी मान्यता है कि पितृ पक्ष में कौएं को खाना खिलाने से पितृों को तृप्ति मिलती है। हिन्दू धर्म की मान्यता के अनुसार बिना कौए को भोजन कराए हमारे पितरों की आत्मा को संतुष्टि नही मिलती है।
Read More

Know Reasons of Pitra Dosha in Kundli

Pitru Dosha is created in many ways. The special combination of planets is responsible for creating this unfortunate Kundli Dosha. This dosha is created by Rahu in many ways. Pitra dosha can be understood on the basis of various positions or placement of Rahu in the horoscope.
Read More

क्यों नहीं चढ़ाई जाती है गणेश जी को तुलसी

आखिर क्यों गणेश भगवान के साथ तुलसी जी को स्थान प्राप्त नहीं होता है? क्यों दोनों एक दूसरे के लिए अनुकूल नहीं माना जाते हैं? इस प्रकार के रहस्य को समझने के लिए पौराणिक ग्रंथों में मौजूद कथाओं को समझने की अत्यंत आवश्यकता होती है। भगवान गणेश जी और तुलसी जी के मध्य संबंधों के बारे में और विस्तार से जानते हैं 
Read More

गणेश जी को दूर्वा और मोदक क्यों अर्पित किया जाता है

वैसे तो दूर्वा  का उपयोग अनेक पूजा कार्यों में किया जाता रहा है, लेकिन गणेश जी को यह अत्यंत ही प्रिय होती है, इसलिए दूर्वा द्वारा पूजन से गणपति जी जल्द प्रसन्न होते हैं। यदि दुर्वा द्वारा गणेश जी का पूजन कर दिया जाए, तो भी यह पूजन संपूर्ण होता है।
Read More

गणेश जी को स्थापित करने के बाद क्यों करते हैं विसर्जन

प्रत्येक माह में आने वाली शुक्ल पक्ष एवं कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को गणेश चतुर्थी के रूप में मनाया जाता है, लेकिन भाद्रपद माह में भगवान श्री गणेश के जन्म को चतुर्थी तिथि से संबंधित माना गया है। साथ ही इसे महाभारत ग्रंथ की उत्पति के साथ भी जोड़ा गया, जिसे श्री वेद व्यास जी भगवान श्री गणेश जी की सहायता से ही पूर्ण कर पाए थे। इसलिए इस समय पर आने वाली चतुर्थी का विशेष महत्व देखने को मिलता है। 
Read More

Why Lord Ganesha got the names Morya and Ekdanta

Lord Ganesha has special significance in Hindu traditions and religion. He is the first amongst Hindu pantheons to be invited or worshipped before performing any other required religious formalities. Lord Ganesha is called by several names. He is called “vighnharta” as a remover of all obstacles in life. Similarly, he is the lord of ganas and that’s why is called Ganpati. In the same way, there are interesting stories or legends behind different names of Lord Ganesha which narrates the applicability and importance of that specific name.
Read More

Importance Of Anant Chaturdashi And Why It’s Celebrated!

Anant Chaturdashi is celebrated on the Chaturdashi tithi of Shukla Paksha of Bhadrapada month. It is also known as Anant Chaturdarshi or Anant Chaudas. This day is believed bring infinite happiness to the devotees. Worshiping Lord Anant destroys all sufferings and removes sins out of life. Along with worshiping the infinite forms of Lord Vishnu, Ganesh Visarjan is also performed on this day.
Read More

गुरुवार का व्रत क्यों करना चाहिए और क्या है इसका महत्व?

गुरुवार अथवा बृहस्पतीवार का व्रत बहुत सारे फायदे देने वाला और शुभ फलकारी होता है। गुरुवार का व्रत मुख्यतः भगवान् विष्णु के लिए रखा जाता है। यदि कोई इंसान गुरुवार का व्रत पूरा करता है, तो उसे विवाह, सुख शांति, सद्बुद्धि, गृहस्थ जीवन का सुख प्राप्त होता है। 
Read More

जानिए पोला का त्योहार का महत्व | Bail Pola festival 2023

पोला त्यौहार में कृषक गाय और बैलों की पूजा करते हैं। यह त्यौहार विशेष रूप से छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, कर्नाटका, तेलंगाना एवं महाराष्ट्र में मनाया जाता है। इस दिन सभी लोग पशुओं की विशेष रूप से बैल की पूजा करते है और उन्हें सजाते है।
Read More