12 साल बाद बनेगा मेष राशि में चतुर्ग्रही योग, ये राशियां रहें सावधान

मेष राशि में पूरे 12 साल बाद चार ग्रहों का दुर्लभ संयोग बन रहा है। इस चतुर्ग्रही संयोग में राहु, बुध, गुरु और सूर्य शामिल होंगे। ऐसे में शुभ योग के साथ अशुभ योग भी होगा। इसलिए जानें कि चतुर्ग्रही योग से कौन सी राशियों को मिलेगा लाभ और कौन सी राशियों को होगा नुकसान।
Read More

Importance of Budhaditya Yoga

According to Vedic astrology, whenever Sun and Mercury are jointly situated in a horoscope, they form Budhaditya Yoga. The position is given. There is a mutual friendship between these two planets, and together, they give very auspicious results to the native.
Read More

क्या होता है बुधादित्य योग और यह किस प्रकार बनता है?

वैदिक ज्योतिष के अनुसार जब भी किसी कुंडली में सूर्य और बुध संयुक्त रूप से स्थित होते है तो वे बुधादित्य योग का निर्माण करते हैंI बुध एक आंतरिक ग्रह है जो सूर्य के सबसे समीप रहता हैI ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सूर्य को राजा व बुध को राजकुमार का पद दिया गया हैI इन दोनों ग्रहों में परस्पर मित्रता है और ये दोनों साथ मिलकर जातक को अत्यंत शुभ फल प्रदान करते हैं I
Read More

Effect of Combination of Rahu and Jupiter in Different Houses

The relation between Rahu and Jupiter is considered very important. The position of these two planets in the birth chart is considered very special because one is a demon and the other is a teacher. Now the relation of these two is specially known as Guru Chandal Yoga.
Read More