बृहस्पति का मीन राशि में गोचर इन राशियों के लिए होंगे अच्छे दिन

Jupiter Transit 2022

ज्योतिष के सबसे सकरात्मक व सौभाग्य वर्धक ग्रह, बृहस्पति को माना गया है, और इस साल यानि 2022 में मीन राशि में गोचर करेंगे देवगुरु बृहस्पति/Jupiter Transit in Pisces बृस्पति 13 अप्रैल 2022 को शाम 4 बजकर 57 मिनट पर अपनी ही राशि मीन में गोचर करेंगे। यह समय सभी राशियों के लिए अत्यंत शुभ समय है। देव गुरु बृहस्पति का राशि परिवर्तन  ज्योतिष में सबसे महत्वपूर्ण फल देने वाला माना गया है क्योंकि यही गोचर साल भर मिलने वाले शुभ व अशुभ फलो को सुनिश्चित करता है। गुरु शुभ प्रभाव देने के साथ साथ दुसरे ग्रहों के बुरे फलों को भी समाप्त करने में सक्षम होता है। इसलिए गुरु का गोचर प्रत्येक राशि के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। कुछ राशियों के लिए यह समय अत्यंत लाभकारी रहेगा और उनके सभी दुःख समाप्त हो जाएगें। गुरु के राशि परिवर्तन से किन राशि वालों को लाभ मिलेगा? किन राशियों की चमकेगी किस्मत?

मीन राशि

गुरु का राशि परिवर्तन आपके लिए भाग्य परिवर्तन ले कर आएगा। यह समय आपके लिए अत्यंत शुभ है। आप इस समय जो सोचेंगे वह पाएंगे। पिछले सालों में बृहस्पति का गोचर आपके लिए इतने अच्छे परिणाम नहीं दे रहा था और आपके जीवन में उठा पाठक लगी हुई थी।  परन्तु अब बृहस्पति आपके बारहवें घर से निकल कर आपके लगन में गोचर करने जा रहे है जो की उनकी स्वराशि है। इससे शुभ समय आपके लिए हो ही नहीं सकता है।  

प्रभाव:

पिछले लम्बे समय से चली आ रही बीमारियों का अंत होगा। यदि आप अनदेखे खर्चों से परेशान थे तो अब आप अपने खर्चों पर लगाम लगा पाएंगे। आपको सोने के व्यापार, फर्नीचर, शिक्षा, वाणी, धर्म-कर्म के क्षेत्र से विशेष तौर पर लाभ होगा। वे लोग जो नौकरी के इंतज़ार में थे, वे बहुत अच्छी नौकरी पा पाएंगे। आप जिस भी क्षेत्र में काम करते हो, आपको सभी क्षेत्रो से लाभ होगा। यह समय आर्थिक व मानसिक उन्नति का है। आपके परिवार में मांगलिक कार्य होंगे। एक सुखमय वातावरण बना रहेगा। परिवार के सभी लोगों का सहयोग मिलेगा और आपके बड़े व आपके गुरु आप पर विशेष कृपा बनाये रखेंगे। बृहस्पति आपके त्रिकोण के घरों पर अमृत बरसायेंगे जिससे आपके जीवन में सुखों की अमृत वर्षा होगी। केवल इस वर्ष ही नहीं बल्कि बृहस्पति का गोचर आपके आने वाले ४-५ सालों को अत्यंत लाभप्रद व सुखमयी बनाएगा।

वृषभ राशि 

गुरु का राशि परिवर्तन 2022 आपकी राशि के लिए अत्यंत शुभ परिणाम लेकर आएगा।  यह समय आपके लिए हर दिशा से सुख व समृद्धि ले कर आएगा। 

प्रभाव:

गुरु का गोचर आपके लाभ भाव में हो रहा है जो अत्यंत शुभ समाचार है। बृस्पति देव आपको अनेक दिशाओं से लाभ के अवसर प्रदान करेंगे। आपके सामाजिक सम्बन्ध मजबूत होंगें। आपको किसी सम्मान की प्राप्ति होगी, बड़े भाई बहनो से भी लाभ होगा। छोटी यात्राओं के योग बनेंगे और आपके सभी सेज सम्बन्धी आपका हर तरह से साथ देंगे। यदि आप पत्रकारिता, वाणी, लेखन, मीडिया या टूर और ट्रेवल के क्षेत्र में कार्यरत है तो यह समय आप पर धन वर्षा करने का है। प्रेम सम्बन्ध बनेंगे जो आगे जाकर आपको सुख व समृद्धि प्रदान करेंगे। विद्यार्थियों के लिए भी यह समय अत्यंत शुभ है। आप अपनी कलात्मक क्षमता से धनोपार्जन करने में अत्यंत सफल होंगें। धर्म में रूचि बढ़ेगी और बीमारियों का नाश होगा।  हर तरीके से लाभ ही लाभ होगा। आपके जीवन में संतान सुख बढ़ेगा और नव दंपत्ति भी संतान सुख की आशा कर सकते हैं।  

मिथुन राशि

देवगुरु बृहस्पति आपके कर्मभाव में गोचर करेंगे जो आपके कर्म यानि बिज़नेस नौकरी/Job or Business as per birth chart को अत्यंत मजबूती प्रदान करेगा। यह समय पिछले वर्षों से चली आ रही व्यापार की रुकावटों को एकदम से समाप्त कर नए अवसर प्रदान करेगा। आपकी राशि का पूरा ध्यान अपने कर्म को मजबूत कर धन उपार्जन में लगा रहेगा।  

प्रभाव:

यह समय व्यापार, करियर व नौकरी के लिए अत्यंत शुभ समय है। आपके मन में ऊर्जा का संचार होगा और आप अपने सभी कार्यों को सुचारु रूप से चला पाएंगे। साल भर आपको आपके कार्यों में समृद्धि प्राप्त होंगे। आपके धन भाव पर बृहस्पति की दृष्टि आपके धन को बढ़ाएगी और परिवार में समृद्धि लाएगी। आप कोई दीर्घ कालिक निवेश भी कर सकते हैं या प्रॉपर्टी वाहन खरीदने के भी प्रबल योग/Property Yoga in Kundli बन रहे हैं। आपका रुका पैसा वापस आएगा। मांगलिक कार्यों की पूर्ण संभावना है। शिक्षा व सोने के व्यापार से अत्यधिक लाभ होगा। वाद विवादों का अंत होगा। छठे भाव पर दृष्टि रोगों में वृद्धि कर सकती है तो स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखेंगे तो समय विशेष लाभप्रदायी साबित होगा। लोन ले सकते है व नयी नौकरी भी मिलेगी। यदि कोई कोर्ट केस चल रहा है तो उसमे जीत आपकी ही होगी।

कर्क राशि

आपकी राशि के लिए भी गुरु का गोचर अत्यंत महत्वपूर्ण व लाभदायक है। आपका धर्म के प्रति झुकाव बढ़ेगा व आप अपने जीवन में एक ऊर्जा का प्रभाव महसूस करेंगे। बृहस्पति अपनी स्वयं की राशि मीन में आपकी राशि पर अमृत वर्षा करेगा। १२ साल बाद देवगुरु बृस्पति आपके जीवन को सौभाग्य से भरने के लिए तत्पर है। 

प्रभाव:

बृहस्पति आपके भाग्य भाव के मालिक है और भाग्य के स्वामी का भाग्य में ही बैठना आपके लिए अत्यंतसौभग्य वर्धक है। पिछले एक साल से गुरु आपके आठवे भाव में गोचर कर रहे थे जिसकी वजह से आपके वैवाहिक जीवन, शिक्षा व व्यापार में रूकावट आ रही थी परन्तु अब जब गुरु आपके भाग्य भाव में गोचर करेंगे तो आपको हर तरह से भाग्य का साथ मिलेगा और आपके सभी रुके हुए काम बन जायेंगे। लाटरी के योग बनेगे, विवाह के योग बनेंगे व वे दम्पति जो अपनी संतति चाहते है, वे सफल होंगे। विदेश यात्रा के योग/Foreign Travel Yoga in Kundli बनेंगे, पिता का व्यापर बढ़ेगा, आपका व्यापार बढ़ेगा, धार्मिक रूचि में वृद्धि, शिक्षा व कंसल्टेंसी से लाभ होगा व सोने के व्यापार से भी लाभ होगा। हर प्रकार से आप लाभ अर्जन करेंगे। लगन पर गुरु की दृष्टि आपको ऊर्जा से भर देगा व आप को जीवन में कुछ नया करने के लिए प्रेरित करेगी।  आपका अपने छोटे भाई बहनो से प्रेम बढ़ेग। वाणी, पत्रकारिता, लेखन व कला के माध्यम से आप धन अर्जित कर पाएंगे। संतान सुख की प्राप्ति होगी व प्रेम सम्बन्ध बेहतर होंगे। आपकी कलात्मक शक्ति भी बेहतर बनेगी। कुल मिला कर बृहस्पति का मीन में गोचर आपके जीवन को सुख व समृद्धि से भर देगा।

वृश्चिक

आपकी राशि के लिए गुरु का गोचर अत्यंत शुभ परिणाम ले कर आएगा। आपके जीवन में लाभ ही लाभ के स्थिति बन रही है।  

परिणाम: 

बृहस्पति का गोचर आपके संतान भाव में अपनी ही राशि में हो रहा है जो आपके लिए व आपकी संतान के लिए अत्यंत सौभाग्य वर्धक है। आपकी कलात्मकता में वृद्धि होगी। यदि आप स्टॉक में निवेश करते हैं तो यह समय अत्यंत लाभदायक है। विद्यार्थियों के जीवन में अत्यंत शुभ समाचार मिलेंगें। विवाह के योग बनेंगे/Marriage Yoga in Kundli सोने के व्यापार से लाभ होगा, गुप्त धन की प्राप्ति होगी, रुका हुआ हुआ धन प्राप्त होगा, मांगलिक कार्य होंगे, धन वृद्धि के पूरे योग बने हुए हैं। विदेश यात्रा, लाटरी, धर्म, नए रिश्ते, नए व्यापार सम्बन्ध आदि सभी में वृद्धि होगी। यह समय दोनों हाथों से खुशियां समेटने का है।  

धनु राशि

गुरु आपके लग्नेश है और लग्नेश का केंद्र के चौथे भाव में गोचर आपको धन धान्य से परिपूर्ण कर देगा।

प्रभाव:बृहस्पति आपके चौथे भाव में गोचर करेंगे जो आपको संपत्ति, वाहन, गृहस्थ सुख, आराम व माता का सुख प्रदान करेगा। आप पैतृक संपत्ति/Ancestral Property in Horoscope भी पा सकते है और यदि कोई वाद विवाद चल रहा था तो अब उसका अंत होगा। आपको अचानक ही धन लाभ के योग बनेंगे। व्यापार व नौकरी में समृद्धि , मान सम्मान में वृद्धि, नए आय के स्रोत आपके जीवन को अत्यंत सुखद बनाएंगे। हर तरफ से लाभ ही लाभ होगा, यह वर्ष आपके सभी अधूरे सपनों को पूरा कर देगा।

Leave a Reply