वृषभ राशि

( ई , उ, ए, ओ, वा, वी , वु , वे , वो )

व्यवसाय :

व्यापारिक दृष्टि से यह वर्ष लाभदायक रहेगा | इस वर्ष आप कोई भी नया व्यवसाय या उनमे कोई परिवर्तन करेंगे वह आपके लिए शुभ रहेगा | नौकरी कर रहे जातकों को इस वर्ष नौकरी नहीं बदलनी चाहिए क्योंकि किसी विशेष लाभ की सम्भावना नहीं है, आपको मन लगाकर पूरी निष्ठा से कार्य करना चाहिए जिससे वरिष्ठ अधिकारी आपके पक्ष में रहें | किसी भी प्रकार की लापरवाही घातक सिद्ध हो सकती है |

विद्यार्थियों के लिए भी यह वर्ष शुभ है गुरु की कृपा बनी रहेगी अत: अपने गुरु का सम्मान करें एवं आज्ञा का पालन करें |

धन -संपत्ति :

आर्थिक दृष्टि से यह वर्ष शुभ है, धन की प्राप्ति प्रचुर मात्रा में होती रहेगी | जमापूंजी में वृद्धि होगी , व्यय नियंत्रित होंगे | यदि आप कहीं निवेश कर रहें हैं तो अधिक से अधिक मात्रा में कर सकते हैं लाभप्रद होगा | किसी को ऋण देने से बचें , वापस आने की सम्भावना कम है |

घर-परिवार – समाज :

घर –  परिवार की ओर से आपका मन प्रसन्न रहेगा , परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य उत्तम रहेगा | कोई मंगलमय कार्य किसी का विवाह या संतान आदि का जन्म हो सकता है | परिवार का वातावरण शांत और सुखमय होगा |

स्वास्थ्य – स्वास्थ्य की दृष्टि से यह वर्ष उत्तम रहेगा | वर्ष के उत्तरार्द्ध में स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें | डाइबिटीज के रोगियों को नियमित व्यायाम व खानपान पर ध्यान देने की आवश्यकता है अन्यथा उनका स्वास्थ्य बिगड़ सकता है और गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं | प्रथम स्नानादि के पश्चात सूर्य को जल दें तथा गुरु मंत्र का जाप करें जिससे आपकी स्वास्थ्य को आने वाले कष्ट से कुछ निजात मिल सकती है |

कैरियर एवं प्रतियोगी परीक्षाएं :

विद्यार्थियों के लिए इस वर्ष अधिक मेहनत की आवश्यकता होगी | अधिक से अधिक मेहनत करें तथा टाइम-टेबल बनाएं और उस पर अम्ल करें क्योंकि यह वर्ष प्रतियोगी परीक्षा में सफलता के लिए विशेष शुभ नहीं है |

 जो जातक नौकरी की तलाश में हैं वर्ष के पूर्वार्द्ध में उनकी तलाश समाप्त होने की सम्भावना है | वर्ष के पूर्वार्द्ध में ही अधिक से अधिक मेहनत करें उत्तरार्ध में शुभ संकेत नहीं हैं |

 यात्रा -प्रवास -तबादला – धार्मिक कार्यों में आपकी व्यस्तता बनीं रहेगी |इस वर्ष तीर्थ यात्रा का संयोग है लेकिन ध्यान रखें,  छोटी-मोटी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है , भयभीत न हों |धर्म-कार्य-ग्रह-शांति : इस वर्ष आपकी धार्मिक कार्यों में अभिरुचि रहेगी मन शांत रहेगा | आपको बृहस्पतिवार के दिन पीली वस्तुओं जैसे हल्दी , केला , बेसन के लड़डू , चने की दाल , पीला वस्त्र आदि का सेवन करना चाहिए | जो आपके लिए शुभ रहेगा |

Share this post:

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *